SlideShare a Scribd company logo
1 of 6
Download to read offline
क्या आऩऔा सिय िाइनि िे दॊ बाखों भें फंट जाता है ? इिऔ
े अलावा, क्या आऩ दवाई नहीं लेना चाहते हैं ?
फपय आऩ िही जखह ऩय आए हैं क्योंकऔ महां हभ आऩऔॊ फताएंखे कऔ औ
ै िे आऩ अऩने िाइनि िंक्रभण ओय िभस्याऒं
औ
े इलाज औ
े सलए मॊख औा उऩमॊख औय िऔते हैं। िाइनि सियददद औ
े सलए औई मॊख भुद्राएं हैं जॊ ददद औॊ औभ औयती हैं।
ओय फात मह है कऔ मह औयना फरृत आिान है ओय औयना आिान है।
साइनस क्या है?
कॊऩडी भें भोजूद हवा िे बयी खुहाऒं भें िूजन औ
े औायण आऩऔ
े शयीय भें िाइनि औी िभस्या हॊती है। ओय ऐिा
क्यों हॊता है ? इिऔ
े औई औायण हैं , सजनभें िे औ
ु छ िाभान्य हैं: तनावऩूणद जीवन शैली , शयाफ औा िेवन ओय धूम्रऩान।
वामयल िंक्रभण ओय प
ं खल अटैऔ बी िाइनिाइकटि औ
े प्राथमभऔ औायण हैं।
औबी-औबी शायीरयऔ स्थितत जैिे िेप्टभ औी िभस्या ओय नाऔ औी हड्डी भें िूजन बी िाइनि औा औायण फनती
है। िाइनि औी िभस्या कऔिी बी उम्र मा जातत औ
े लॊखों औॊ प्रबाकवत औय िऔती है। िाइनि औॊ सचकऔत्सऔीम रूऩ िे
याइनॊसिनुिाइकटि औ
े रूऩ भें जाना जाता है। अन्य स्वास्थ्य िभस्याऒं िे िाइनि हॊ िऔता है , ओय उनभें कवभबन्न प्रऔाय
औी एलजी, दंत िंक्रभण (हााँ, आऩने िही ऩढा) ओय नाऔ औ
े फेक्टेरयआ शामभल हैं। इिसलए, िाइनि औी िभस्या अऔ
े ली
नहीं है, कवभबन्न गटऔ इिभें बूमभऔा मनबाते हैं। ओय, उिऔ
े सलए, मॊख िफिे अच्छा उऩाम है जॊ िवदव्याऩी है।
साइनस की सभस्या क
े लिए मॊग
एलजी ऑटॊइम्यून िभस्याएं हैं जॊ नाऔ औ
े भाखद भें जलन ऩैदा औय िऔती हैं ओय अिभा औी ऩहले िे भोजूद
स्थिततमों औॊ जकटल फना िऔती हैं। हालााँकऔ , अिभा एऔ वामयल स्थितत औ
े औायण हॊता है। मॊख यॊखिूचऔ याहत प्रदान
औयता है ओय शयीय औॊ िांि लेने ओय ठीऔ हॊने औा भोऔा देता है। मॊख आऩऔ
े शयीय भें िंतुलन फहाल औयता है ओय
भाइग्रेन औ
े हभलों ओय नाऔ औी एलजी िे याहत देता है। मह आऩऔ
े फदभाख ओय शयीय औॊ तयॊताजा यकता है। मॊख श्वाि
औॊ आिान फनाता है क्योंकऔ मह आऩऔ
े नथुनों औॊ कॊलता है ओय हवा औ
े आिान प्रवाह औी अनुभतत देता है। मह खले
औ
े क्षेत्र औॊ बी िाप औयता है सजििे आऩ िाइनि औी िभस्याऒं िे फेहतय तयीऔ
े िे मनऩट िऔते हैं।
उऩयॊक्त िबी ओय फरृत औ
ु छ आऩऔॊ तबी ऩता चलेखा जफ आऩ अभ्याि औयना शुरू औयेंखे। अमधऔ जानने औ
े
सलए नीचे फदए खए मॊखािन देकें।
साइनस की सभस्या से ननऩटने भें आऩकी भदद कयने क
े लिए महाां 7 प्रबावी मॊग हैं
1. गॊभुखासन (काऊ प
े स ऩॊज़)
आसन क
े फाये भें:
खॊभुकािन मा औाऊ प
े ि ऩॊज़ खाम औ
े नाभ ऩय एऔ आिन है क्योंकऔ मह अभ्याि औ
े दोयान उिऔ
े चेहये औी
तयह फदकता है। िंस्क
ृ त शब्द 'खॊ' औा अथद खाम है ओय इिऔा अथद प्रऔाश बी है। आिन शुरुआती स्तय औा कवन्याि एऔ
मॊख आिन है। जफ आऩ िुफह काली ऩेट अभ्याि औयते हैं तॊ मह िफिे अच्छा औाभ औयता है। 30 िे 60 िेऔ
ं ड औ
े सलए
रुऔ
ें ।
क
ै से कयना है:
1. मॊखा भैट ऩय अऩनी ऩीठ िीधी यकें ओय ऩैयों औॊ अऩने िाभने प
ै लाएं। अऩने ऩैयों औॊ एऔ िाथ यकें ओय अऩनी
हथेसलमों औॊ अऩने औ
ू ल्हों औ
े फखल भें यकें।
2. अऩने दाफहने ऩैय औॊ भॊडें ओय दाफहने ऩैय औॊ अऩने फाएं मनतंफ औ
े नीचे यकें। अऩने फाएं गुटने औॊ अऩने दाफहने गुटने
ऩय यकें।
3. फाएं हाथ औॊ सिय औ
े ऊऩय उठाएं ओय औॊहनी औॊ भॊडें। इिऔ
े िाथ ही दाफहने हाथ औॊ ऩीठ औ
े ऩीछे ले आएं ओय
दॊनों हाथों औॊ मभला लें।
4. खहयी खहयी िांिें लें ओय जफ तऔ आयाभ िे यहें तफ तऔ औये। अफ िांि छॊडते रृए हाथों औॊ छॊड दें।
5. अऩने ऩैयों औॊ क्रॉि औयें ओय दूिये ऩैय औ
े सलए दॊहयाएं।
िाब:
खॊभुकािन तनाव ओय सचिंता औॊ औभ औयता है। मह छाती औी भांिऩेसशमों औॊ प
ै लाता है जॊ वामुभाखद औॊ आयाभ
देता है। जफ आऩ सचिंततत मा थऔ
े रृए हॊते हैं तॊ भुद्रा कवश्राभ औॊ फढाती है।
2. जानुशीषाासन (हेड टू नी पॉयवडा फेंड ऩॊज़)
आसन क
े फाये भें:
जानू सियिाना मा हेड टू नी पॉयवडद फेंड ऩॊज़ एऔ ऐिा आिन है सजिऔ
े सलए आऩऔॊ फैठने औी स्थितत भें गुटनों
तऔ अऩने सिय औॊ छ
ू ने औी आवश्यऔता हॊती है जैिा कऔ भुद्रा औ
े नाभ िे ऩता चलता है। मह एऔ शुरुआती स्तय औा
अष्ांख मॊख आिन है ओय जफ आऩ इिे िुफह मा शाभ काली ऩेट अभ्याि औयते हैं तॊ मह अच्छा औाभ औयता है।
िुमनश्चित औयें कऔ आऩ प्रत्येऔ ऩैय औ
े सलए औभ िे औभ 30 िे 60 िेऔ
ं ड औ
े सलए भुद्रा औयें।
क
ै से कयना है:
1. स्टाप ऩॊज़ मा दंडािन भें शुरू औयें। आऩऔ
े दॊनों ऩैय आऩऔ
े िाभने प
ै ले रृए होंखे।
2. अफ, अऩने फाएं गुटने औॊ भॊडें ओय अऩने फाएं ऩैय औ
े तलवे औॊ अऩनी दाफहनी जांग ऩय लाएं। अऩने धड औॊ अऩने
कवस्तारयत दाफहने ऩैय ऩय भॊडें।
3. अखले चयण भें, अऩने धड औॊ अऩनी ऩीठ औ
े मनचले फहस्से औ
े फजाम, अऩने औ
ू ल्हों िे शुरू औयते रृए, अऩने ऩैयों तऔ
नीचे लाएं। दाफहनी जांग औ
े कऩछले फहस्से औॊ नीचे औी ऒय धऔ
े लते रृए अऩने दाफहने ऩैय औॊ फ्लेक्सी ऩॊजीशन भें यकें।
4. आऩऔॊ यीढ ओय खददन औॊ िकक्रम स्थितत भें िीधा यकते रृए अऩने ऩैयों तऔ ऩरृंचने औी औॊसशश औयें मा आऩ अऩने
टकने मा फछडे औॊ ऩऔड िऔते हैं।
5. हय फाय जफ आऩ िांि लें, तॊ यीढ औॊ लंफा औयें। हय फाय जफ आऩ िााँि छॊडते हैं, तॊ अखला भॊड लें। महा 5 िे 10
िांिों तऔ यहें, ओय फपय दॊनों ऩैयों औॊ िीधा औयें ओय दूियी तयप भुद्रा औॊ दॊहयाएं।
िाब:
जानू सियिािन औा अभ्याि औयने िे आऩऔा भन शांत हॊता है ओय आऩऔ
े औ
ं धों औॊ आयाभ मभलता है। इििे
बी भहत्वऩूणद फात मह है कऔ कऔिी बी सिय औ
े नीचे औी भुद्रा तयल ऩदाथद औॊ फाहय मनऔालने भें भदद औयेखी, सजििे
इष्तभ श्वाि औ
े सलए वामुभाखद िाप हॊ जाएखा। मह आिन सिय ददद, थऔान ओय सचिंता औॊ दूय औयता है। आिन अमनद्रा
ओय उच्च यक्तचाऩ औॊ ठीऔ औयता है जॊ आऩऔ
े िाइनिाइकटि औी स्थितत औॊ ओय कयाफ औय िऔता है।
3. बुजांगासन (कॊफया ऩॊज़)
भुद्रा क
े फाये भें:
बुजंखािन मा औॊफया ऩॊज़ एऔ तेज फैऔफैंड है जॊ िांऩ औ
े उबये रृए रृड औी तयह फदकता है। बुजंखािन एऔ
शुरुआती स्तय औा अष्ांख मॊख आिन है। अऩना ऩेट काली यकें ओय िुफह आिन औा अभ्याि औयने औ
े सलए इिऔा
प्रमाि औयें। जफ आऩ ऐिा औय लें तॊ इिे 15 िे 30 िेऔ
ें ड औ
े सलए हॊल्ड औयऔ
े यकें।
क
ै से कयना है:
1. अऩने ऩेट औ
े फल पशद ऩय लेटें, अऩने भाथे औॊ जभीन ऩय कटऔाएं। अऩने ऩैयों औॊ एऔ-दूिये औ
े औयीफ यकें, आऩऔ
े ऩैय
ओय एडी एऔ-दूिये औॊ हल्क
े िे छ
ू ते रृए हों।
2. दॊनों हाथों औॊ इि तयह यकें कऔ हथेसलमां आऩऔ
े औ
ं धों औ
े नीचे औी जभीन औॊ छ
ु एं , औॊहमनमां िभानांतय ओय आऩऔ
े
धड औ
े औयीफ हों।
3. अऩने सिय, छाती ओय ऩेट औॊ धीये-धीये ऊऩय उठाते रृए खहयी िांि लें। अऩनी नाभब औॊ पशद ऩय यकें। अऩने हाथों औ
े
िहाये अऩने धड औॊ ऩीछे ओय पशद िे ऊऩय कींचें। िुमनश्चित औयें कऔ आऩ दॊनों हथेसलमों ऩय िभान दफाव डाल यहे हैं।
4. यीढ औी हड्डी औ
े भाध्यभ िे यीढ औॊ भॊडते रृए जाखरूऔता औ
े िाथ िांि लेते यहें। औ
ु छ िांिों औ
े सलए िभान रूऩ िे
िांि लेते रृए भुद्रा फनाए यकें।
5. अफ िांि छॊडें ओय धीये िे अऩने ऩेट, छाती ओय सिय औॊ पशद ऩय लाएं ओय आयाभ औयें। इिे 4-5 फाय दॊहयाएं।
िाब:
औॊफया आिन प
े पडे औॊ कॊलता है ओय हृदम औॊ उत्तेसजत औयता है। मह एऔ स्ट्रेि रयलीवय औ
े रूऩ भें फरृत
अच्छा औाभ औयता है। मह िाइनि िे याहत औ
े सलए िफिे अच्छे मॊखों भें िे एऔ है क्योंकऔ मह आऩऔ
े प
े पडों औॊ
कॊलता है ओय िांि लेने भें आिान फनाता है।
4. उष्ट्रासन (क
ै भि ऩॊज़)
ऩॊज़ क
े फाये भें:
उष्ट्रािन मा औ
ै भल ऩॊज़ बी एऔ फैऔफैंड है जॊ औ
ै भल औी तयह फदकता है। मह एऔ शुरुआती स्तय औा कवन्याि
मॊख आिन है। िुफह काली ऩेट अभ्याि औयने ऩय आिन िफिे अच्छा औाभ औयते हैं। जफ आऩ इिे औयते हैं, तॊ 30 िे
60 िेऔ
ं ड औ
े सलए इि भुद्रा भें यहें।
क
ै से कयना है:
1. मॊख चटाई ऩय गुटनों औ
े फल फैठ जाएं ओय हाथों औॊ औ
ू ल्हों ऩय यकें। आऩऔ
े गुटने औ
ं धों औ
े िाथ िंयेखकत हॊने चाफहए
ओय आऩऔ
े ऩैय औा तलवा छत औी ऒय हॊना चाफहए।
2. जफ आऩ िांि अंदय लें, तॊ अऩनी टैलफॊन औॊ प्यूबफि औी ऒय कींचें, जैिे कऔ नाभब िे कींची खई हॊ।
3. िाथ ही अऩनी ऩीठ औॊ भॊडें ओय अऩनी हथेसलमों औॊ अऩने ऩैयों ऩय तफ तऔ खकिऔाएं जफ तऔ कऔ फाहें िीधी न हॊ
जाएं।
4. अऩनी खददन औॊ तनाव मा फ्लेक्स न औयें फल्कल्क इिे तटि स्थितत भें यकें।
5. इि भुद्रा भें दॊ फाय िांि लें। िांि छॊडें ओय धीये-धीये प्रायंभबऔ भुद्रा भें लोट आएं। अऩनी फाहों औॊ वाऩि कींचॊ ओय
उन्हें अऩने औ
ू ल्हों ऩय वाऩि लाएं जैिे आऩ िीधा औयते हैं।
िाब:
उस्तािन आऩऔ
े िभग्र स्वास्थ्य ओय औल्याण औ
े सलए फरृत अच्छा है। मह आऩऔी िांि लेने भें िुधाय औयता है
ओय आऩऔ
े खले ओय छाती औॊ प
ै लाता है। भुद्रा लंफी हॊ जाती है ओय आऩऔ
े ऩूये ललाट क्षेत्र औॊ कॊल देती है।
5. सेतु फांध सवाांगासन (ब्रिज ऩॊज़)
ऩॊज़ क
े फाये भें:
िेतु फंध िवाांखािन मा बिज ऩॊज़ औा नाभ इिसलए यका खमा है क्योंकऔ मह एऔ बिज औी तयह फदकता है। भुद्रा
शुरुआती स्तय औा कवन्याि मॊख आिन है। इिे काली ऩेट ओय आंतों ऩय िुफह मा शाभ िाप औयें। िाथ ही, 30 िे 60
िेऔ
ं ड औ
े सलए ऩॊज देना न बूलें।
क
ै से कयना है:
1. शुरू औयने औ
े सलए, अऩनी ऩीठ औ
े फल लेट जाएं। अऩने गुटनों औॊ भॊडें ओय अऩने ऩैयों औी औ
ू ल्हे औी दूयी औॊ अऩने
श्रॊभण िे 10-12 इंच औी दूयी ऩय, गुटनों ओय टकनों तऔ एऔ िीधी येका भें यकें।
2. अऩने हाथों औॊ अऩने शयीय औ
े फखल भें यकें, हथेसलमााँ नीचे औी ऒय।
3. श्वाि लेते रृए, धीये िे अऩनी ऩीठ औ
े मनचले फहस्से, भध्य ऩीठ ओय ऊऩयी शयीय औॊ पशद िे ऊऩय उठाएं ; औ
ं धों औॊ
धीये िे गुभाएं ; अऩने औ
ं धों, फाहों ओय ऩैयों औ
े िाथ अऩने वजन औा िभथदन औयते रृए, ठॊडी औॊ नीचे लाए बफना छाती औॊ
ठॊडी िे स्पशद औयें। इि भुद्रा भें अऩने मनचले फहस्से औॊ भजफूत औयें। दॊनों जांगें एऔ दूिये औ
े िभानांतय ओय पशद औ
े
िभानांतय हैं।
4. आऩ चाहें तॊ उंखसलमों औॊ आऩि भें जॊड िऔते हैं ओय धड औॊ थॊडा ओय ऊऩय उठाने औ
े सलए हाथों औॊ पशद ऩय
धऔ
े ल िऔते हैं, मा आऩ अऩनी हथेसलमों िे अऩनी ऩीठ औॊ िहाया दे िऔते हैं।
5. आिानी िे िांि लेते यहें। एऔ मा दॊ मभनट औ
े सलए इि भुद्रा भें यहें ओय हल्क
े िे िांि छॊडें।
िाब:
िेतु फंध िवाांखािन ऩीठ भें तनाव औॊ दूय औयने भें भदद औयता है ओय छाती ओय हाइऩॊइड ग्रंतथमों औॊ उत्तेसजत
औयती है। चूंकऔ हृदम उत्तेसजत हॊता है, मह िऔायात्मऔ रूऩ िे हृदम औ
े औक्षों औॊ ऑक्सीजन मुक्त यक्त िे बय देता है
ओय ऐिी स्थिततमों औॊ िभाप्त औयने भें भदद औयता है।
6. अधॊ भुख श्वानासन (डाउनवडा प
े लसिंग ऩॊज़)
भुद्रा क
े फाये भें:
अधॊ भुक श्वानािन मा डाउनवडद प
े सििंख ऩॊज़ एऔ ऐिा आिन है जॊ औ
ु त्ते औी तयह फदकता है सजिऔा सिय नीचे
हॊता है। मह एऔ शुरुआती स्तय औा अष्ांख / हठ स्तय औा मॊख आिन है। िुमनश्चित औयें कऔ आऩ इिऔा अभ्याि िुफह
काली ऩेट औयें। ओय इिे 1 िे 3 मभनट औ
े सलए यक दें।
क
ै से कयना है:
1. अऩने क्वाड ऩय आएं। एऔ टेफल फनाएं जैिे आऩऔी ऩीठ एऔ टेफल टॉऩ फनाती है ओय आऩऔ
े हाथ ओय ऩैय टेफल औ
े
ऩैय फनाते हैं।
2. जफ आऩ िांि छॊडें तॊ औ
ू ल्हों औॊ उठाएं , गुटनों ओय औॊहमनमों औॊ िीधा औयें, शयीय िे वी-आऔाय औा आऔाय फनाएं।
3. हाथ औ
ं धे औी चोडाई िे अलख हैं, ऩैय औ
ू ल्हे औी चोडाई िे अलख ओय एऔ दूिये औ
े िभानांतय हैं। ऩैय औी उंखसलमां
िीधे आखे औी ऒय इशाया औयती हैं।
4. अऩना हाथ जभीन भें दफाएं। औ
ं धे कवस्तारयत ओय औान औॊ अंदरूनी हाथ िे छ
ू औय खददन औॊ प
ै लाएं। इि ऩॊज़ औॊ हॊल्ड
औयऔ
े यकें ओय लंफी खहयी िांिें लें। नाभब औॊ देकॊ।
5. िााँि छॊडे। गुटनों औॊ भॊडें, टेफल ऩॊज़ भें वाऩि आ जाएाँ। आयाभ औयना
िाब:
भुद्रा शयीय भें यक्त ऩरयिंचयण भें िुधाय औयती है जॊ शयीय भें कऔिी बी खांठ ओय तनाव औॊ िभाप्त औयती है।
सिय औी मनचली स्थितत नाऔ औ
े क्षेत्रों औॊ याहत प्रदान औयती है।
7. सवाांगासन (शॊल्डय स्टैंड ऩॊज़)
ऩॊज़ क
े फाये भें:
िवाांखािन मा शॊल्डय स्टैंड ऩॊज़ एऔ ऐिा आिन है सजिे िबी ऩॊज़ औी यानी भाना जाता है। मह हठ मॊख
आिन औा एऔ उन्नत स्तय है जॊ अमधऔ जकटल आिनों औा भाखद प्रशस्त औयता है। िुफह काली ऩेट इिऔा अभ्याि औयें
ओय इिे 30 िे 60 िेऔ
ें ड तऔ यॊऔ औय यकें।
क
ै से कयना है:
1. अऩनी ऩीठ औ
े फल लेट जाएं। अऩने दॊनों ऩैयों औॊ ऊऩय औी ऒय उठाते रृए िांि लें ओय छॊडें। जफ दॊनों ऩैय पशद िे
90 फडग्री औा औॊण फना लें तफ रुऔ
े ।
2. उत्तानऩादािन भुद्रा फनाएं। िांि छॊडते रृए औभय औॊ ऊऩय उठाएं ; अऩने ऩैयों औॊ वाऩि सिय औ
े ऊऩय धऔ
े लें। औभय
औॊ िहाया देने औ
े सलए अऩने दॊनों हाथों औा इस्तेभाल औयें।
3. अऩने ऩैयों, ऩीठ ओय औभय औॊ एऔ िीध भें यकें। अऩने ऩैय औी उंखसलमों औॊ आऔाश औी ऒय कींचे, ओय अऩनी नजय
अऩने ऩैय औी उंखसलमों ऩय यकें।
4. औ
ु छ देय इिी स्थितत भें यहें, िाभान्य श्वाि औॊ यॊऔऔय यकें।
5. धीये-धीये प्रायंभबऔ स्थितत भें लोट आएं। इिे तीन िे चाय फाय दॊहयाएं।
िाब:
मह भुद्रा हल्क
े अविाद औॊ ठीऔ औयती है ओय आऩऔ
े भन औॊ शांत औयती है। मह आऩऔी खददन औॊ अच्छी तयह
िे प
ै लाता है ओय अमनद्रा ओय थऔान औॊ दूय यकता है।

More Related Content

Similar to 7 effective yoga poses to help you for sinus problem

Similar to 7 effective yoga poses to help you for sinus problem (20)

Try this 11 yoga poses for diabetes it's really works
Try this 11 yoga poses for diabetes  it's really worksTry this 11 yoga poses for diabetes  it's really works
Try this 11 yoga poses for diabetes it's really works
 
12 easy yoga poses for women's health issues like pcos, infertility
12 easy yoga poses for women's health issues like pcos, infertility12 easy yoga poses for women's health issues like pcos, infertility
12 easy yoga poses for women's health issues like pcos, infertility
 
9 yoga asanas that can help you to stop hair fall after covid19
9 yoga asanas that can help you to stop hair fall after covid199 yoga asanas that can help you to stop hair fall after covid19
9 yoga asanas that can help you to stop hair fall after covid19
 
11 effective yoga pose to increase energy and stamina
11 effective yoga pose to increase energy and stamina11 effective yoga pose to increase energy and stamina
11 effective yoga pose to increase energy and stamina
 
What causes premature white hair and how to reduce it with the yoga pose
What causes premature white hair and how to reduce it with the yoga poseWhat causes premature white hair and how to reduce it with the yoga pose
What causes premature white hair and how to reduce it with the yoga pose
 
The 10 best yoga poses for back pain
The 10 best yoga poses for back painThe 10 best yoga poses for back pain
The 10 best yoga poses for back pain
 
How to do jathara parivartanasana (two knee spinal twist pose) and what are i...
How to do jathara parivartanasana (two knee spinal twist pose) and what are i...How to do jathara parivartanasana (two knee spinal twist pose) and what are i...
How to do jathara parivartanasana (two knee spinal twist pose) and what are i...
 
The 10 best beginner yoga poses for men
The 10 best beginner yoga poses for menThe 10 best beginner yoga poses for men
The 10 best beginner yoga poses for men
 
How to do bhujangasana (cobra pose) and what are its benefits
How to do bhujangasana (cobra pose) and what are its benefitsHow to do bhujangasana (cobra pose) and what are its benefits
How to do bhujangasana (cobra pose) and what are its benefits
 
13 effective pranayama and yoga asana exercises to stop hair loss
13 effective pranayama and yoga asana exercises to stop hair loss13 effective pranayama and yoga asana exercises to stop hair loss
13 effective pranayama and yoga asana exercises to stop hair loss
 
Yoga for glowing skin
Yoga for glowing skinYoga for glowing skin
Yoga for glowing skin
 
9 best way to improve women's breast
9 best way to improve women's breast9 best way to improve women's breast
9 best way to improve women's breast
 
8 effective yoga asanas for weight gain
8 effective yoga asanas for weight gain8 effective yoga asanas for weight gain
8 effective yoga asanas for weight gain
 
Yoga for skin infection
Yoga for skin infectionYoga for skin infection
Yoga for skin infection
 
Health benefits of yoga
Health benefits of yogaHealth benefits of yoga
Health benefits of yoga
 
10 easy yoga poses you can literally do in your bed, so no more excuses!
10 easy yoga poses you can literally do in your bed, so no more excuses!10 easy yoga poses you can literally do in your bed, so no more excuses!
10 easy yoga poses you can literally do in your bed, so no more excuses!
 
These best 11 yoga asanas in every day for a healthy and vibrant life
These best 11 yoga asanas in every day for a healthy and vibrant lifeThese best 11 yoga asanas in every day for a healthy and vibrant life
These best 11 yoga asanas in every day for a healthy and vibrant life
 
13 best yoga postures to strengthen your bones and maintain body posture
13 best yoga postures to strengthen your bones and maintain body posture13 best yoga postures to strengthen your bones and maintain body posture
13 best yoga postures to strengthen your bones and maintain body posture
 
Yoga for ovarian cyst and it's health benefits
Yoga for ovarian cyst and it's health benefitsYoga for ovarian cyst and it's health benefits
Yoga for ovarian cyst and it's health benefits
 
How to do ardha pincha mayurasana (dolphin pose) and what are its benefits
How to do ardha pincha mayurasana (dolphin pose) and what are its benefitsHow to do ardha pincha mayurasana (dolphin pose) and what are its benefits
How to do ardha pincha mayurasana (dolphin pose) and what are its benefits
 

More from Shivartha

More from Shivartha (20)

How to do virasana (hero pose) and what are its benefits
How to do virasana (hero pose) and what are its benefitsHow to do virasana (hero pose) and what are its benefits
How to do virasana (hero pose) and what are its benefits
 
How to do viparita karani (legs up the wall pose) and what are its benefits
How to do viparita karani (legs up the wall pose) and what are its benefitsHow to do viparita karani (legs up the wall pose) and what are its benefits
How to do viparita karani (legs up the wall pose) and what are its benefits
 
How to do vasisthasana (side plank pose) and what are its benefits
How to do vasisthasana (side plank pose) and what are its benefitsHow to do vasisthasana (side plank pose) and what are its benefits
How to do vasisthasana (side plank pose) and what are its benefits
 
How to do vajrasana (diamond pose) and what are its benefits
How to do vajrasana (diamond pose) and what are its benefitsHow to do vajrasana (diamond pose) and what are its benefits
How to do vajrasana (diamond pose) and what are its benefits
 
How to do utthita parsvakonasana (extended side angle pose) and what are its ...
How to do utthita parsvakonasana (extended side angle pose) and what are its ...How to do utthita parsvakonasana (extended side angle pose) and what are its ...
How to do utthita parsvakonasana (extended side angle pose) and what are its ...
 
How to do utkatasana (chair pose) and what are its benefits
How to do utkatasana (chair pose) and what are its benefitsHow to do utkatasana (chair pose) and what are its benefits
How to do utkatasana (chair pose) and what are its benefits
 
How to do ustrasana (camel pose) and what are its benefits
How to do ustrasana (camel pose) and what are its benefitsHow to do ustrasana (camel pose) and what are its benefits
How to do ustrasana (camel pose) and what are its benefits
 
How to do urdhva dhanurasana (upward bow pose) and what are its benefits
How to do urdhva dhanurasana (upward bow pose) and what are its benefitsHow to do urdhva dhanurasana (upward bow pose) and what are its benefits
How to do urdhva dhanurasana (upward bow pose) and what are its benefits
 
How to do trikonasana (triangle pose) and what are its benefits
How to do trikonasana (triangle pose) and what are its benefitsHow to do trikonasana (triangle pose) and what are its benefits
How to do trikonasana (triangle pose) and what are its benefits
 
How to do tolasana (scale pose) and what are its benefits
How to do tolasana (scale pose) and what are its benefitsHow to do tolasana (scale pose) and what are its benefits
How to do tolasana (scale pose) and what are its benefits
 
How to do supta virasana (reclining hero pose) and what are its benefits
How to do supta virasana (reclining hero pose) and what are its benefitsHow to do supta virasana (reclining hero pose) and what are its benefits
How to do supta virasana (reclining hero pose) and what are its benefits
 
How to do supta padangusthasana (reclining hand to-big-toe pose) and what are...
How to do supta padangusthasana (reclining hand to-big-toe pose) and what are...How to do supta padangusthasana (reclining hand to-big-toe pose) and what are...
How to do supta padangusthasana (reclining hand to-big-toe pose) and what are...
 
How to do supta matsyendrasana (supine spinal twist pose) and what are its be...
How to do supta matsyendrasana (supine spinal twist pose) and what are its be...How to do supta matsyendrasana (supine spinal twist pose) and what are its be...
How to do supta matsyendrasana (supine spinal twist pose) and what are its be...
 
How to do supta baddha konasana (reclining bound angle pose) and what are its...
How to do supta baddha konasana (reclining bound angle pose) and what are its...How to do supta baddha konasana (reclining bound angle pose) and what are its...
How to do supta baddha konasana (reclining bound angle pose) and what are its...
 
How to do sirsasana (headstand pose) and what are its benefits
How to do sirsasana (headstand pose) and what are its benefitsHow to do sirsasana (headstand pose) and what are its benefits
How to do sirsasana (headstand pose) and what are its benefits
 
How to do simhasana (lion pose) and what are its benefits
How to do simhasana (lion pose) and what are its benefitsHow to do simhasana (lion pose) and what are its benefits
How to do simhasana (lion pose) and what are its benefits
 
How to do shavasana (corpse pose) and what are its benefits
How to do shavasana (corpse pose) and what are its benefitsHow to do shavasana (corpse pose) and what are its benefits
How to do shavasana (corpse pose) and what are its benefits
 
How to do purvottanasana (upward plank pose) and what are its benefits
How to do purvottanasana (upward plank pose) and what are its benefitsHow to do purvottanasana (upward plank pose) and what are its benefits
How to do purvottanasana (upward plank pose) and what are its benefits
 
How to do pawanmuktasana (wind relieving pose) and what are its benefits
How to do pawanmuktasana (wind relieving pose) and what are its benefitsHow to do pawanmuktasana (wind relieving pose) and what are its benefits
How to do pawanmuktasana (wind relieving pose) and what are its benefits
 
How to do padmasana (lotus pose) and what are its benefits
How to do padmasana (lotus pose) and what are its benefitsHow to do padmasana (lotus pose) and what are its benefits
How to do padmasana (lotus pose) and what are its benefits
 

7 effective yoga poses to help you for sinus problem

  • 1. क्या आऩऔा सिय िाइनि िे दॊ बाखों भें फंट जाता है ? इिऔ े अलावा, क्या आऩ दवाई नहीं लेना चाहते हैं ? फपय आऩ िही जखह ऩय आए हैं क्योंकऔ महां हभ आऩऔॊ फताएंखे कऔ औ ै िे आऩ अऩने िाइनि िंक्रभण ओय िभस्याऒं औ े इलाज औ े सलए मॊख औा उऩमॊख औय िऔते हैं। िाइनि सियददद औ े सलए औई मॊख भुद्राएं हैं जॊ ददद औॊ औभ औयती हैं। ओय फात मह है कऔ मह औयना फरृत आिान है ओय औयना आिान है। साइनस क्या है? कॊऩडी भें भोजूद हवा िे बयी खुहाऒं भें िूजन औ े औायण आऩऔ े शयीय भें िाइनि औी िभस्या हॊती है। ओय ऐिा क्यों हॊता है ? इिऔ े औई औायण हैं , सजनभें िे औ ु छ िाभान्य हैं: तनावऩूणद जीवन शैली , शयाफ औा िेवन ओय धूम्रऩान। वामयल िंक्रभण ओय प ं खल अटैऔ बी िाइनिाइकटि औ े प्राथमभऔ औायण हैं। औबी-औबी शायीरयऔ स्थितत जैिे िेप्टभ औी िभस्या ओय नाऔ औी हड्डी भें िूजन बी िाइनि औा औायण फनती है। िाइनि औी िभस्या कऔिी बी उम्र मा जातत औ े लॊखों औॊ प्रबाकवत औय िऔती है। िाइनि औॊ सचकऔत्सऔीम रूऩ िे याइनॊसिनुिाइकटि औ े रूऩ भें जाना जाता है। अन्य स्वास्थ्य िभस्याऒं िे िाइनि हॊ िऔता है , ओय उनभें कवभबन्न प्रऔाय औी एलजी, दंत िंक्रभण (हााँ, आऩने िही ऩढा) ओय नाऔ औ े फेक्टेरयआ शामभल हैं। इिसलए, िाइनि औी िभस्या अऔ े ली नहीं है, कवभबन्न गटऔ इिभें बूमभऔा मनबाते हैं। ओय, उिऔ े सलए, मॊख िफिे अच्छा उऩाम है जॊ िवदव्याऩी है। साइनस की सभस्या क े लिए मॊग एलजी ऑटॊइम्यून िभस्याएं हैं जॊ नाऔ औ े भाखद भें जलन ऩैदा औय िऔती हैं ओय अिभा औी ऩहले िे भोजूद स्थिततमों औॊ जकटल फना िऔती हैं। हालााँकऔ , अिभा एऔ वामयल स्थितत औ े औायण हॊता है। मॊख यॊखिूचऔ याहत प्रदान औयता है ओय शयीय औॊ िांि लेने ओय ठीऔ हॊने औा भोऔा देता है। मॊख आऩऔ े शयीय भें िंतुलन फहाल औयता है ओय भाइग्रेन औ े हभलों ओय नाऔ औी एलजी िे याहत देता है। मह आऩऔ े फदभाख ओय शयीय औॊ तयॊताजा यकता है। मॊख श्वाि औॊ आिान फनाता है क्योंकऔ मह आऩऔ े नथुनों औॊ कॊलता है ओय हवा औ े आिान प्रवाह औी अनुभतत देता है। मह खले औ े क्षेत्र औॊ बी िाप औयता है सजििे आऩ िाइनि औी िभस्याऒं िे फेहतय तयीऔ े िे मनऩट िऔते हैं। उऩयॊक्त िबी ओय फरृत औ ु छ आऩऔॊ तबी ऩता चलेखा जफ आऩ अभ्याि औयना शुरू औयेंखे। अमधऔ जानने औ े सलए नीचे फदए खए मॊखािन देकें। साइनस की सभस्या से ननऩटने भें आऩकी भदद कयने क े लिए महाां 7 प्रबावी मॊग हैं 1. गॊभुखासन (काऊ प े स ऩॊज़)
  • 2. आसन क े फाये भें: खॊभुकािन मा औाऊ प े ि ऩॊज़ खाम औ े नाभ ऩय एऔ आिन है क्योंकऔ मह अभ्याि औ े दोयान उिऔ े चेहये औी तयह फदकता है। िंस्क ृ त शब्द 'खॊ' औा अथद खाम है ओय इिऔा अथद प्रऔाश बी है। आिन शुरुआती स्तय औा कवन्याि एऔ मॊख आिन है। जफ आऩ िुफह काली ऩेट अभ्याि औयते हैं तॊ मह िफिे अच्छा औाभ औयता है। 30 िे 60 िेऔ ं ड औ े सलए रुऔ ें । क ै से कयना है: 1. मॊखा भैट ऩय अऩनी ऩीठ िीधी यकें ओय ऩैयों औॊ अऩने िाभने प ै लाएं। अऩने ऩैयों औॊ एऔ िाथ यकें ओय अऩनी हथेसलमों औॊ अऩने औ ू ल्हों औ े फखल भें यकें। 2. अऩने दाफहने ऩैय औॊ भॊडें ओय दाफहने ऩैय औॊ अऩने फाएं मनतंफ औ े नीचे यकें। अऩने फाएं गुटने औॊ अऩने दाफहने गुटने ऩय यकें। 3. फाएं हाथ औॊ सिय औ े ऊऩय उठाएं ओय औॊहनी औॊ भॊडें। इिऔ े िाथ ही दाफहने हाथ औॊ ऩीठ औ े ऩीछे ले आएं ओय दॊनों हाथों औॊ मभला लें। 4. खहयी खहयी िांिें लें ओय जफ तऔ आयाभ िे यहें तफ तऔ औये। अफ िांि छॊडते रृए हाथों औॊ छॊड दें। 5. अऩने ऩैयों औॊ क्रॉि औयें ओय दूिये ऩैय औ े सलए दॊहयाएं। िाब: खॊभुकािन तनाव ओय सचिंता औॊ औभ औयता है। मह छाती औी भांिऩेसशमों औॊ प ै लाता है जॊ वामुभाखद औॊ आयाभ देता है। जफ आऩ सचिंततत मा थऔ े रृए हॊते हैं तॊ भुद्रा कवश्राभ औॊ फढाती है। 2. जानुशीषाासन (हेड टू नी पॉयवडा फेंड ऩॊज़) आसन क े फाये भें: जानू सियिाना मा हेड टू नी पॉयवडद फेंड ऩॊज़ एऔ ऐिा आिन है सजिऔ े सलए आऩऔॊ फैठने औी स्थितत भें गुटनों तऔ अऩने सिय औॊ छ ू ने औी आवश्यऔता हॊती है जैिा कऔ भुद्रा औ े नाभ िे ऩता चलता है। मह एऔ शुरुआती स्तय औा अष्ांख मॊख आिन है ओय जफ आऩ इिे िुफह मा शाभ काली ऩेट अभ्याि औयते हैं तॊ मह अच्छा औाभ औयता है। िुमनश्चित औयें कऔ आऩ प्रत्येऔ ऩैय औ े सलए औभ िे औभ 30 िे 60 िेऔ ं ड औ े सलए भुद्रा औयें। क ै से कयना है: 1. स्टाप ऩॊज़ मा दंडािन भें शुरू औयें। आऩऔ े दॊनों ऩैय आऩऔ े िाभने प ै ले रृए होंखे। 2. अफ, अऩने फाएं गुटने औॊ भॊडें ओय अऩने फाएं ऩैय औ े तलवे औॊ अऩनी दाफहनी जांग ऩय लाएं। अऩने धड औॊ अऩने कवस्तारयत दाफहने ऩैय ऩय भॊडें। 3. अखले चयण भें, अऩने धड औॊ अऩनी ऩीठ औ े मनचले फहस्से औ े फजाम, अऩने औ ू ल्हों िे शुरू औयते रृए, अऩने ऩैयों तऔ नीचे लाएं। दाफहनी जांग औ े कऩछले फहस्से औॊ नीचे औी ऒय धऔ े लते रृए अऩने दाफहने ऩैय औॊ फ्लेक्सी ऩॊजीशन भें यकें। 4. आऩऔॊ यीढ ओय खददन औॊ िकक्रम स्थितत भें िीधा यकते रृए अऩने ऩैयों तऔ ऩरृंचने औी औॊसशश औयें मा आऩ अऩने टकने मा फछडे औॊ ऩऔड िऔते हैं।
  • 3. 5. हय फाय जफ आऩ िांि लें, तॊ यीढ औॊ लंफा औयें। हय फाय जफ आऩ िााँि छॊडते हैं, तॊ अखला भॊड लें। महा 5 िे 10 िांिों तऔ यहें, ओय फपय दॊनों ऩैयों औॊ िीधा औयें ओय दूियी तयप भुद्रा औॊ दॊहयाएं। िाब: जानू सियिािन औा अभ्याि औयने िे आऩऔा भन शांत हॊता है ओय आऩऔ े औ ं धों औॊ आयाभ मभलता है। इििे बी भहत्वऩूणद फात मह है कऔ कऔिी बी सिय औ े नीचे औी भुद्रा तयल ऩदाथद औॊ फाहय मनऔालने भें भदद औयेखी, सजििे इष्तभ श्वाि औ े सलए वामुभाखद िाप हॊ जाएखा। मह आिन सिय ददद, थऔान ओय सचिंता औॊ दूय औयता है। आिन अमनद्रा ओय उच्च यक्तचाऩ औॊ ठीऔ औयता है जॊ आऩऔ े िाइनिाइकटि औी स्थितत औॊ ओय कयाफ औय िऔता है। 3. बुजांगासन (कॊफया ऩॊज़) भुद्रा क े फाये भें: बुजंखािन मा औॊफया ऩॊज़ एऔ तेज फैऔफैंड है जॊ िांऩ औ े उबये रृए रृड औी तयह फदकता है। बुजंखािन एऔ शुरुआती स्तय औा अष्ांख मॊख आिन है। अऩना ऩेट काली यकें ओय िुफह आिन औा अभ्याि औयने औ े सलए इिऔा प्रमाि औयें। जफ आऩ ऐिा औय लें तॊ इिे 15 िे 30 िेऔ ें ड औ े सलए हॊल्ड औयऔ े यकें। क ै से कयना है: 1. अऩने ऩेट औ े फल पशद ऩय लेटें, अऩने भाथे औॊ जभीन ऩय कटऔाएं। अऩने ऩैयों औॊ एऔ-दूिये औ े औयीफ यकें, आऩऔ े ऩैय ओय एडी एऔ-दूिये औॊ हल्क े िे छ ू ते रृए हों। 2. दॊनों हाथों औॊ इि तयह यकें कऔ हथेसलमां आऩऔ े औ ं धों औ े नीचे औी जभीन औॊ छ ु एं , औॊहमनमां िभानांतय ओय आऩऔ े धड औ े औयीफ हों। 3. अऩने सिय, छाती ओय ऩेट औॊ धीये-धीये ऊऩय उठाते रृए खहयी िांि लें। अऩनी नाभब औॊ पशद ऩय यकें। अऩने हाथों औ े िहाये अऩने धड औॊ ऩीछे ओय पशद िे ऊऩय कींचें। िुमनश्चित औयें कऔ आऩ दॊनों हथेसलमों ऩय िभान दफाव डाल यहे हैं। 4. यीढ औी हड्डी औ े भाध्यभ िे यीढ औॊ भॊडते रृए जाखरूऔता औ े िाथ िांि लेते यहें। औ ु छ िांिों औ े सलए िभान रूऩ िे िांि लेते रृए भुद्रा फनाए यकें। 5. अफ िांि छॊडें ओय धीये िे अऩने ऩेट, छाती ओय सिय औॊ पशद ऩय लाएं ओय आयाभ औयें। इिे 4-5 फाय दॊहयाएं। िाब: औॊफया आिन प े पडे औॊ कॊलता है ओय हृदम औॊ उत्तेसजत औयता है। मह एऔ स्ट्रेि रयलीवय औ े रूऩ भें फरृत अच्छा औाभ औयता है। मह िाइनि िे याहत औ े सलए िफिे अच्छे मॊखों भें िे एऔ है क्योंकऔ मह आऩऔ े प े पडों औॊ कॊलता है ओय िांि लेने भें आिान फनाता है। 4. उष्ट्रासन (क ै भि ऩॊज़)
  • 4. ऩॊज़ क े फाये भें: उष्ट्रािन मा औ ै भल ऩॊज़ बी एऔ फैऔफैंड है जॊ औ ै भल औी तयह फदकता है। मह एऔ शुरुआती स्तय औा कवन्याि मॊख आिन है। िुफह काली ऩेट अभ्याि औयने ऩय आिन िफिे अच्छा औाभ औयते हैं। जफ आऩ इिे औयते हैं, तॊ 30 िे 60 िेऔ ं ड औ े सलए इि भुद्रा भें यहें। क ै से कयना है: 1. मॊख चटाई ऩय गुटनों औ े फल फैठ जाएं ओय हाथों औॊ औ ू ल्हों ऩय यकें। आऩऔ े गुटने औ ं धों औ े िाथ िंयेखकत हॊने चाफहए ओय आऩऔ े ऩैय औा तलवा छत औी ऒय हॊना चाफहए। 2. जफ आऩ िांि अंदय लें, तॊ अऩनी टैलफॊन औॊ प्यूबफि औी ऒय कींचें, जैिे कऔ नाभब िे कींची खई हॊ। 3. िाथ ही अऩनी ऩीठ औॊ भॊडें ओय अऩनी हथेसलमों औॊ अऩने ऩैयों ऩय तफ तऔ खकिऔाएं जफ तऔ कऔ फाहें िीधी न हॊ जाएं। 4. अऩनी खददन औॊ तनाव मा फ्लेक्स न औयें फल्कल्क इिे तटि स्थितत भें यकें। 5. इि भुद्रा भें दॊ फाय िांि लें। िांि छॊडें ओय धीये-धीये प्रायंभबऔ भुद्रा भें लोट आएं। अऩनी फाहों औॊ वाऩि कींचॊ ओय उन्हें अऩने औ ू ल्हों ऩय वाऩि लाएं जैिे आऩ िीधा औयते हैं। िाब: उस्तािन आऩऔ े िभग्र स्वास्थ्य ओय औल्याण औ े सलए फरृत अच्छा है। मह आऩऔी िांि लेने भें िुधाय औयता है ओय आऩऔ े खले ओय छाती औॊ प ै लाता है। भुद्रा लंफी हॊ जाती है ओय आऩऔ े ऩूये ललाट क्षेत्र औॊ कॊल देती है। 5. सेतु फांध सवाांगासन (ब्रिज ऩॊज़) ऩॊज़ क े फाये भें: िेतु फंध िवाांखािन मा बिज ऩॊज़ औा नाभ इिसलए यका खमा है क्योंकऔ मह एऔ बिज औी तयह फदकता है। भुद्रा शुरुआती स्तय औा कवन्याि मॊख आिन है। इिे काली ऩेट ओय आंतों ऩय िुफह मा शाभ िाप औयें। िाथ ही, 30 िे 60 िेऔ ं ड औ े सलए ऩॊज देना न बूलें। क ै से कयना है:
  • 5. 1. शुरू औयने औ े सलए, अऩनी ऩीठ औ े फल लेट जाएं। अऩने गुटनों औॊ भॊडें ओय अऩने ऩैयों औी औ ू ल्हे औी दूयी औॊ अऩने श्रॊभण िे 10-12 इंच औी दूयी ऩय, गुटनों ओय टकनों तऔ एऔ िीधी येका भें यकें। 2. अऩने हाथों औॊ अऩने शयीय औ े फखल भें यकें, हथेसलमााँ नीचे औी ऒय। 3. श्वाि लेते रृए, धीये िे अऩनी ऩीठ औ े मनचले फहस्से, भध्य ऩीठ ओय ऊऩयी शयीय औॊ पशद िे ऊऩय उठाएं ; औ ं धों औॊ धीये िे गुभाएं ; अऩने औ ं धों, फाहों ओय ऩैयों औ े िाथ अऩने वजन औा िभथदन औयते रृए, ठॊडी औॊ नीचे लाए बफना छाती औॊ ठॊडी िे स्पशद औयें। इि भुद्रा भें अऩने मनचले फहस्से औॊ भजफूत औयें। दॊनों जांगें एऔ दूिये औ े िभानांतय ओय पशद औ े िभानांतय हैं। 4. आऩ चाहें तॊ उंखसलमों औॊ आऩि भें जॊड िऔते हैं ओय धड औॊ थॊडा ओय ऊऩय उठाने औ े सलए हाथों औॊ पशद ऩय धऔ े ल िऔते हैं, मा आऩ अऩनी हथेसलमों िे अऩनी ऩीठ औॊ िहाया दे िऔते हैं। 5. आिानी िे िांि लेते यहें। एऔ मा दॊ मभनट औ े सलए इि भुद्रा भें यहें ओय हल्क े िे िांि छॊडें। िाब: िेतु फंध िवाांखािन ऩीठ भें तनाव औॊ दूय औयने भें भदद औयता है ओय छाती ओय हाइऩॊइड ग्रंतथमों औॊ उत्तेसजत औयती है। चूंकऔ हृदम उत्तेसजत हॊता है, मह िऔायात्मऔ रूऩ िे हृदम औ े औक्षों औॊ ऑक्सीजन मुक्त यक्त िे बय देता है ओय ऐिी स्थिततमों औॊ िभाप्त औयने भें भदद औयता है। 6. अधॊ भुख श्वानासन (डाउनवडा प े लसिंग ऩॊज़) भुद्रा क े फाये भें: अधॊ भुक श्वानािन मा डाउनवडद प े सििंख ऩॊज़ एऔ ऐिा आिन है जॊ औ ु त्ते औी तयह फदकता है सजिऔा सिय नीचे हॊता है। मह एऔ शुरुआती स्तय औा अष्ांख / हठ स्तय औा मॊख आिन है। िुमनश्चित औयें कऔ आऩ इिऔा अभ्याि िुफह काली ऩेट औयें। ओय इिे 1 िे 3 मभनट औ े सलए यक दें। क ै से कयना है: 1. अऩने क्वाड ऩय आएं। एऔ टेफल फनाएं जैिे आऩऔी ऩीठ एऔ टेफल टॉऩ फनाती है ओय आऩऔ े हाथ ओय ऩैय टेफल औ े ऩैय फनाते हैं। 2. जफ आऩ िांि छॊडें तॊ औ ू ल्हों औॊ उठाएं , गुटनों ओय औॊहमनमों औॊ िीधा औयें, शयीय िे वी-आऔाय औा आऔाय फनाएं। 3. हाथ औ ं धे औी चोडाई िे अलख हैं, ऩैय औ ू ल्हे औी चोडाई िे अलख ओय एऔ दूिये औ े िभानांतय हैं। ऩैय औी उंखसलमां िीधे आखे औी ऒय इशाया औयती हैं। 4. अऩना हाथ जभीन भें दफाएं। औ ं धे कवस्तारयत ओय औान औॊ अंदरूनी हाथ िे छ ू औय खददन औॊ प ै लाएं। इि ऩॊज़ औॊ हॊल्ड औयऔ े यकें ओय लंफी खहयी िांिें लें। नाभब औॊ देकॊ। 5. िााँि छॊडे। गुटनों औॊ भॊडें, टेफल ऩॊज़ भें वाऩि आ जाएाँ। आयाभ औयना िाब: भुद्रा शयीय भें यक्त ऩरयिंचयण भें िुधाय औयती है जॊ शयीय भें कऔिी बी खांठ ओय तनाव औॊ िभाप्त औयती है। सिय औी मनचली स्थितत नाऔ औ े क्षेत्रों औॊ याहत प्रदान औयती है। 7. सवाांगासन (शॊल्डय स्टैंड ऩॊज़)
  • 6. ऩॊज़ क े फाये भें: िवाांखािन मा शॊल्डय स्टैंड ऩॊज़ एऔ ऐिा आिन है सजिे िबी ऩॊज़ औी यानी भाना जाता है। मह हठ मॊख आिन औा एऔ उन्नत स्तय है जॊ अमधऔ जकटल आिनों औा भाखद प्रशस्त औयता है। िुफह काली ऩेट इिऔा अभ्याि औयें ओय इिे 30 िे 60 िेऔ ें ड तऔ यॊऔ औय यकें। क ै से कयना है: 1. अऩनी ऩीठ औ े फल लेट जाएं। अऩने दॊनों ऩैयों औॊ ऊऩय औी ऒय उठाते रृए िांि लें ओय छॊडें। जफ दॊनों ऩैय पशद िे 90 फडग्री औा औॊण फना लें तफ रुऔ े । 2. उत्तानऩादािन भुद्रा फनाएं। िांि छॊडते रृए औभय औॊ ऊऩय उठाएं ; अऩने ऩैयों औॊ वाऩि सिय औ े ऊऩय धऔ े लें। औभय औॊ िहाया देने औ े सलए अऩने दॊनों हाथों औा इस्तेभाल औयें। 3. अऩने ऩैयों, ऩीठ ओय औभय औॊ एऔ िीध भें यकें। अऩने ऩैय औी उंखसलमों औॊ आऔाश औी ऒय कींचे, ओय अऩनी नजय अऩने ऩैय औी उंखसलमों ऩय यकें। 4. औ ु छ देय इिी स्थितत भें यहें, िाभान्य श्वाि औॊ यॊऔऔय यकें। 5. धीये-धीये प्रायंभबऔ स्थितत भें लोट आएं। इिे तीन िे चाय फाय दॊहयाएं। िाब: मह भुद्रा हल्क े अविाद औॊ ठीऔ औयती है ओय आऩऔ े भन औॊ शांत औयती है। मह आऩऔी खददन औॊ अच्छी तयह िे प ै लाता है ओय अमनद्रा ओय थऔान औॊ दूय यकता है।