SlideShare a Scribd company logo
1 of 3
Download to read offline
How to do Supta Baddha Konasana (Reclining Bound Angle Pose) and What are its Benefits
एक क्लाससक रयस्टॊयेटिव आसन है। सुप्त फद्ध कॊणासन मा येक्लक्लननिंग फाउंड एंगल ऩॊज़ कॊ टकसी बी स्तय क
े क
ू ल्हे
औय कभय क
े प्रतियॊध क
े सलए संशॊनधि टकमा जा सकिा है।
क
ै से करें सुप्त बद्ध कॊणासन (रेक्लिननिंग बाउंड ए
ं गल पॊज़) और क्या हैं इसक
े फायदे
संस्क
ृ ि भें सुप्त फद्ध कॊणासन; सुप्टा - यीक्लाइननिंग, फद्ध - फाउंड, कॊना - एंगल, आसन - ऩॊज़; उच्चायण रूऩ
से SOUP-tah BAH-dah cone-NAHS-anna। मह भुद्रा गहयी टवश्राभ की बावना ऩैदा कयिी है। मह न क
े वल एक
रयस्टॊयेटिव आसन है फल्कि हहऩ-ओऩननिंग आसन बी है। मह एक फुननमादी भुद्रा है सजसे कॊई बी अऩने हाथ की भदद से
कॊसशश कय सकिा है। इस आसन कॊ रयक्लाइन्ड कॉफलय ऩॊज़ मा रयक्लाइड देवी ऩॊज़ बी कहा जािा है।
1. इस आसन कॊ करने से पहले आपकॊ यह पता हॊना चाहहए
इस आसन का अभ्यास कयने से ऩहले , आसन कयने से ऩहले मा कभ से कभ चाय से छह घंिे ऩहले अऩने ऩेि
औय आंिों कॊ खाली कयना सुननश्चिि कयें िाटक बॊजन ऩचाने औय व्यामाभ क
े दोयान खचच कयने क
े सलए आऩक
े ऩास
ऩमाचप्त ऊजाच हॊ। सुफह सफसे ऩहले मॊग का अभ्यास कयना सफसे अच्छा है। लेटकन अगय आऩ इसे सुफह नहीं कय सकिे
हैं, िॊ शाभ कॊ अभ्यास कयना ठीक है।
 स्तर: फुननमादी
 शैली: टवनमसा
 अवनि: 30 से 60 सेक
ं ड
 पुनरावृत्ति: कॊई नहीं
 स्ट्रेच: घुिने, जांघ, ग्रॊइन
 मजबूती: ऩैय, ऩीठ, ऩाचन िंत्र, प्रजनन प्रणाली
2. क
ै से करें सुप्त बद्ध कॊणासन (रेक्लिननिंग बाउंड ए
ं गल पॊज़)
 जभीन ऩय सीधा औय सऩाि लेिें। हपय, धीये से अऩने घुिनों कॊ भॊडें। अऩने दॊनों ऩैयों क
े फाहयी टकनायों क
े साथ
पशच ऩय लाएं। अऩनी एडी कॊ अऩनी ऊसन्धि (ग्रॊइन) क
े ऩास यखें।
 आऩकी हथेसलमों कॊ आऩक
े क
ू ल्हों क
े फगल भें नीचे की ओय दफाव फनािे रृए यखे जाना चाहहए।
 सााँस छॊडे, औय सुननश्चिि कयें टक आऩक
े ऩेि की भांसऩेसशमों अनुफंध क
े रूऩ भें िेलफॊन कॊ प्यूबफक फॊन की
ियप खींचकय यखें। अऩनी ऩीठ क
े ननचले हहस्से भें फढाव भहसूस कयें औय आऩकी यीढ की हड्डी भें स्थियिा क
े
रूऩ भें आऩकी श्रॊणण झुकिी है। इस स्थिति ऩय ननमंत्रण यखना।
 जल्दी से श्वास लें, औय जैसा टक आऩ हपय से सााँस छॊडिे हैं, अऩने घुिनों कॊ इस ियह से खॊलें टक मह आऩकी
कभय औय अंदरूनी जांघों भें एक अच्छा खखिंचाव ऩैदा कये।
 आऩकॊ मह सुननश्चिि कयना चाहहए टक आऩकी ननचली यीढ जफयदस्ती धनुषाकाय न हॊ। इसक
े अलावा ,
सुननश्चिि कयें टक आऩक
े क
ं धे आयाभ औय आऩकी गदचन से दूय यखे गए हैं।
 अफ एक नभनि िक आसन भें यहें, गहयी औय धीये-धीये सांस लें।
 सााँस छॊडें औय आसन से फाहय ननकलें। लेटकन इससे ऩहले टक आऩ ऐसा कयें , उस अंतिभ खखिंचाव कॊ देने क
े
सलए अऩनी ऩीठ क
े ननचले हहस्से औय घुिनों कॊ पशच ऩय दफाएं। हपय , अऩने घुिनों कॊ गले लगाओ , औय
रयलीज हॊने से ऩहले साइड से यॉक कयें।
3. साविाननयां और अंतर्विरॊि
 महद आऩकॊ ननम्नसलखखि सभस्याएं हैं िॊ इस आसन का अभ्यास कयने से फचें।
o घुिने भें चॊि
o ग्रॊइन की चॊि
o ऩीठ क
े ननचले हहस्से भें ददच
o क
ं धे की चॊि
o क
ू ल्हे की चॊि
 गबचविी भहहलाओं कॊ एक प्रसशक्षक की देखयेख भें मह आसन कयना चाहहए। उन्हें इस स्थिति भें हभेशा अऩनी
छािी औय ससय कॊ ऊऩय यखना चाहहए।
 सजन भहहलाओं ने अबी िक प्रसव कयामा है , उन्हें इस आसन से लगबग आठ सप्ताह िक मा ऩेस्थिक क्षेत्र की
भांसऩेसशमों क
े भजफूि हॊने िक फचना चाहहए।
4. शुरुआत क
े र्िप्स
शुरुआि क
े रूऩ भें, आऩ इस आसन का अभ्यास कयिे रृए अऩनी कभय औय आंिरयक जांघों भें खखिंचाव भहसूस
कय सकिे हैं। इससे ननऩिने क
े सलए , अऩने ऩैयों कॊ धीये-धीये पशच से थॊडा ऊऩय उठाएं , जफ िक टक आऩ आयाभ
भहसूस न कयें।
5. एडवांस्ट्ड पॊज़ वहरएशन्स
कभय औय आंिरयक जांघ भें खखिंचाव कॊ फढाने क
े सलए, आऩ अऩने श्रॊणण कॊ ऊऩय खींच सकिे हैं, जैसे टक मह
पशच से दूय हॊ। महद आऩ अऩने ऩैयों कॊ पशच ऩय जॊय से दफािे हैं , िॊ आऩका श्रॊणण अऩने आऩ उठ जाएगा। इसे आसान
फनाने क
े सलए, आऩ अऩने श्रॊणण क
े नीचे एक ब्लॉक यखिे हैं। अऩने घुिनों कॊ जभीन ऩय दफाएं , औय अऩने िलवों कॊ
एक साथ दफाएं।
6. सुप्त बद्ध कॊणासन (रेक्लिननिंग बाउंड ए
ं गल पॊज़) क
े लाभ
 इस आसन का अभ्यास कयने से अंडाशम, प्रॊस्टेि ग्रंतथ, गुदे औय भूत्राशम सटिम हॊ जािे हैं।
 मह हृदम कॊ बी उत्तेसजि कयिा है औय यक्त ऩरयसंचयण भें सुधाय कयिा है।
 मह आऩक
े कभय, आंिरयक जांघों औय घुिनों कॊ एक अच्छा खखिंचाव देिा है।
 मह िनाव औय सचिंिा से छ
ु िकाया हदलािा है औय हि
े अवसाद कॊ बी ठीक कयिा है।
 मह भांसऩेसशमों क
े िनाव कॊ कभ कयिा है औय आऩकॊ थकान औय अननद्रा से छ
ु िकाया हदलािा है। मह भन कॊ
शांि बी कयिा है।
 इससे िंबत्रका िंत्र भें िनाव कभ हॊ जािा है।
 अऩनी आंिरयक जांघ औय कभय की भांसऩेसशमों कॊ स्ट्रेच कयिा है।
 मह आऩक
े शयीय कॊ स्फ
ू तिि प्रदान कयिा है।
 मह ऩाचन औय प्रजनन प्रणाली कॊ शांि कयिा है औय सचडसचडा आंत्र ससिंड्रॊभ, फांझऩन, भाससक धभच संफंधी
टवकाय, ऩाचन भुद्दों, यजॊननवृसत्त, आहद जैसी स्थितिमों का इलाज कयिा है।
 मह ससय ददच से याहि हदलािा है।
 मह आसन क
ू ल्हों कॊ खॊलने औय हहऩ फ्लेक्ससच कॊ फ्लेक्स कयने भें भदद कयिा है।
7. सुप्त बद्ध कॊणासन (रेक्लिननिंग बाउंड ए
ं गल पॊज़) क
े पीछे का र्वज्ञान
मह आसन लगबग जादुई है , औय जफ आऩ इसभें सहज हॊ जािे हैं , िॊ मह लगबग वैसा ही हॊिा है जैसे आऩ
छ
ु ट्टी ऩय हों। मह गहये टवश्राभ कॊ फढावा देिा है, औय क
ु छ ही नभनिों भें, आऩ ियॊिाजा औय कामाकल्प भहसूस कयिे हैं।
सुप्त फद्ध कॊणासन बी आऩक
े शयीय, टवशेष रूऩ से बीियी जांघों भें एक अच्छा खखिंचाव देिा है। मह , फदले भें, ननचले ऩेि
भें यक्त ऩरयसंचयण भें सुधाय कयिा है औय इस प्रकाय , प्रजनन औय ऩाचन िंत्र कॊ सकायात्मक रूऩ से प्रबाटवि कयिा है।
मह छािी कॊ बी खॊलिा है औय क
ं धे औय कॉलयफॊन कॊ चोडा कयिा है , सजससे वे ऊऩयी ऩीठ कॊ सहाया देने भें सक्षभ
हॊ जािे हैं।
8. प्रारंनभक पॊज़
 फद्ध कॊणासन
 वीयासन
 वृक्षासन
 सुप्त ऩादांगुष्ठासन
9. फॉल-अप पॊज़
 गॊभुखासन
 ऩद्मासन
 भालासन
 हलासन
 सेिु फंधासन
इस आसन का अभ्यास कयने से आऩकॊ अऩने शयीय क
े फाये भें ऩिा चलिा है औय आऩकॊ मह सभझने भें भदद
नभलिी है टक खुद की देखबाल कयना टकिना भहत्वऩूणच है।...

More Related Content

Similar to How to do supta baddha konasana (reclining bound angle pose) and what are its benefits

Similar to How to do supta baddha konasana (reclining bound angle pose) and what are its benefits (20)

Yoga for glowing skin
Yoga for glowing skinYoga for glowing skin
Yoga for glowing skin
 
How to do halasana (plow pose) and what are its benefits
How to do halasana (plow pose) and what are its benefitsHow to do halasana (plow pose) and what are its benefits
How to do halasana (plow pose) and what are its benefits
 
10 easy yoga poses you can literally do in your bed, so no more excuses!
10 easy yoga poses you can literally do in your bed, so no more excuses!10 easy yoga poses you can literally do in your bed, so no more excuses!
10 easy yoga poses you can literally do in your bed, so no more excuses!
 
How to do bhujangasana (cobra pose) and what are its benefits
How to do bhujangasana (cobra pose) and what are its benefitsHow to do bhujangasana (cobra pose) and what are its benefits
How to do bhujangasana (cobra pose) and what are its benefits
 
How to do adho mukha svanasana (down facing dog pose) and what are its benefits
How to do adho mukha svanasana (down facing dog pose) and what are its benefitsHow to do adho mukha svanasana (down facing dog pose) and what are its benefits
How to do adho mukha svanasana (down facing dog pose) and what are its benefits
 
How to do vajrasana (diamond pose) and what are its benefits
How to do vajrasana (diamond pose) and what are its benefitsHow to do vajrasana (diamond pose) and what are its benefits
How to do vajrasana (diamond pose) and what are its benefits
 
How to do padangusthasana (big toe pose) and what are its benefits
How to do padangusthasana (big toe pose) and what are its benefitsHow to do padangusthasana (big toe pose) and what are its benefits
How to do padangusthasana (big toe pose) and what are its benefits
 
21 best yoga poses to lose your weight
21 best yoga poses to lose your weight21 best yoga poses to lose your weight
21 best yoga poses to lose your weight
 
How to do supta matsyendrasana (supine spinal twist pose) and what are its be...
How to do supta matsyendrasana (supine spinal twist pose) and what are its be...How to do supta matsyendrasana (supine spinal twist pose) and what are its be...
How to do supta matsyendrasana (supine spinal twist pose) and what are its be...
 
7 best yoga asanas for the healthy liver that detoxify your liver
7 best yoga asanas for the healthy liver that detoxify your liver7 best yoga asanas for the healthy liver that detoxify your liver
7 best yoga asanas for the healthy liver that detoxify your liver
 
How to do pawanmuktasana (wind relieving pose) and what are its benefits
How to do pawanmuktasana (wind relieving pose) and what are its benefitsHow to do pawanmuktasana (wind relieving pose) and what are its benefits
How to do pawanmuktasana (wind relieving pose) and what are its benefits
 
How to do sirsasana (headstand pose) and what are its benefits
How to do sirsasana (headstand pose) and what are its benefitsHow to do sirsasana (headstand pose) and what are its benefits
How to do sirsasana (headstand pose) and what are its benefits
 
These 13 yoga poses will help you poop and keep constipation at bay
These 13 yoga poses will help you poop and keep constipation at bayThese 13 yoga poses will help you poop and keep constipation at bay
These 13 yoga poses will help you poop and keep constipation at bay
 
How to do bitilasana (cow pose) and what are its benefits
How to do bitilasana (cow pose) and what are its benefitsHow to do bitilasana (cow pose) and what are its benefits
How to do bitilasana (cow pose) and what are its benefits
 
10 best yoga for stress relief
10 best yoga for stress relief10 best yoga for stress relief
10 best yoga for stress relief
 
6 amazing yoga poses for healthy hair
6 amazing yoga poses for healthy hair6 amazing yoga poses for healthy hair
6 amazing yoga poses for healthy hair
 
13 effective pranayama and yoga asana exercises to stop hair loss
13 effective pranayama and yoga asana exercises to stop hair loss13 effective pranayama and yoga asana exercises to stop hair loss
13 effective pranayama and yoga asana exercises to stop hair loss
 
Yoga for ovarian cyst and it's health benefits
Yoga for ovarian cyst and it's health benefitsYoga for ovarian cyst and it's health benefits
Yoga for ovarian cyst and it's health benefits
 
How to do supta padangusthasana (reclining hand to-big-toe pose) and what are...
How to do supta padangusthasana (reclining hand to-big-toe pose) and what are...How to do supta padangusthasana (reclining hand to-big-toe pose) and what are...
How to do supta padangusthasana (reclining hand to-big-toe pose) and what are...
 
Health benefits of yoga
Health benefits of yogaHealth benefits of yoga
Health benefits of yoga
 

More from Shivartha

More from Shivartha (18)

How to do virasana (hero pose) and what are its benefits
How to do virasana (hero pose) and what are its benefitsHow to do virasana (hero pose) and what are its benefits
How to do virasana (hero pose) and what are its benefits
 
How to do vasisthasana (side plank pose) and what are its benefits
How to do vasisthasana (side plank pose) and what are its benefitsHow to do vasisthasana (side plank pose) and what are its benefits
How to do vasisthasana (side plank pose) and what are its benefits
 
How to do utthita parsvakonasana (extended side angle pose) and what are its ...
How to do utthita parsvakonasana (extended side angle pose) and what are its ...How to do utthita parsvakonasana (extended side angle pose) and what are its ...
How to do utthita parsvakonasana (extended side angle pose) and what are its ...
 
How to do utkatasana (chair pose) and what are its benefits
How to do utkatasana (chair pose) and what are its benefitsHow to do utkatasana (chair pose) and what are its benefits
How to do utkatasana (chair pose) and what are its benefits
 
How to do ustrasana (camel pose) and what are its benefits
How to do ustrasana (camel pose) and what are its benefitsHow to do ustrasana (camel pose) and what are its benefits
How to do ustrasana (camel pose) and what are its benefits
 
How to do urdhva dhanurasana (upward bow pose) and what are its benefits
How to do urdhva dhanurasana (upward bow pose) and what are its benefitsHow to do urdhva dhanurasana (upward bow pose) and what are its benefits
How to do urdhva dhanurasana (upward bow pose) and what are its benefits
 
How to do trikonasana (triangle pose) and what are its benefits
How to do trikonasana (triangle pose) and what are its benefitsHow to do trikonasana (triangle pose) and what are its benefits
How to do trikonasana (triangle pose) and what are its benefits
 
How to do tolasana (scale pose) and what are its benefits
How to do tolasana (scale pose) and what are its benefitsHow to do tolasana (scale pose) and what are its benefits
How to do tolasana (scale pose) and what are its benefits
 
How to do simhasana (lion pose) and what are its benefits
How to do simhasana (lion pose) and what are its benefitsHow to do simhasana (lion pose) and what are its benefits
How to do simhasana (lion pose) and what are its benefits
 
How to do shavasana (corpse pose) and what are its benefits
How to do shavasana (corpse pose) and what are its benefitsHow to do shavasana (corpse pose) and what are its benefits
How to do shavasana (corpse pose) and what are its benefits
 
How to do purvottanasana (upward plank pose) and what are its benefits
How to do purvottanasana (upward plank pose) and what are its benefitsHow to do purvottanasana (upward plank pose) and what are its benefits
How to do purvottanasana (upward plank pose) and what are its benefits
 
How to do padmasana (lotus pose) and what are its benefits
How to do padmasana (lotus pose) and what are its benefitsHow to do padmasana (lotus pose) and what are its benefits
How to do padmasana (lotus pose) and what are its benefits
 
How to do natarajasana (lord of the dance pose) and what are its benefits
How to do natarajasana (lord of the dance pose) and what are its benefitsHow to do natarajasana (lord of the dance pose) and what are its benefits
How to do natarajasana (lord of the dance pose) and what are its benefits
 
How to do mayurasana (peacock pose) and what are its benefits
How to do mayurasana (peacock pose) and what are its benefitsHow to do mayurasana (peacock pose) and what are its benefits
How to do mayurasana (peacock pose) and what are its benefits
 
How to do hanumanasana (monkey pose) and what are its benefits
How to do hanumanasana (monkey pose) and what are its benefitsHow to do hanumanasana (monkey pose) and what are its benefits
How to do hanumanasana (monkey pose) and what are its benefits
 
How to do eka pada rajakapotasana (one legged king pigeon pose) and what are ...
How to do eka pada rajakapotasana (one legged king pigeon pose) and what are ...How to do eka pada rajakapotasana (one legged king pigeon pose) and what are ...
How to do eka pada rajakapotasana (one legged king pigeon pose) and what are ...
 
How to do dhanurasana (bow pose) and what are its benefits
How to do dhanurasana (bow pose) and what are its benefitsHow to do dhanurasana (bow pose) and what are its benefits
How to do dhanurasana (bow pose) and what are its benefits
 
How to do bhujapidasana (shoulder pressing pose) and what are its benefits
How to do bhujapidasana (shoulder pressing pose) and what are its benefitsHow to do bhujapidasana (shoulder pressing pose) and what are its benefits
How to do bhujapidasana (shoulder pressing pose) and what are its benefits
 

How to do supta baddha konasana (reclining bound angle pose) and what are its benefits

  • 1. How to do Supta Baddha Konasana (Reclining Bound Angle Pose) and What are its Benefits एक क्लाससक रयस्टॊयेटिव आसन है। सुप्त फद्ध कॊणासन मा येक्लक्लननिंग फाउंड एंगल ऩॊज़ कॊ टकसी बी स्तय क े क ू ल्हे औय कभय क े प्रतियॊध क े सलए संशॊनधि टकमा जा सकिा है। क ै से करें सुप्त बद्ध कॊणासन (रेक्लिननिंग बाउंड ए ं गल पॊज़) और क्या हैं इसक े फायदे संस्क ृ ि भें सुप्त फद्ध कॊणासन; सुप्टा - यीक्लाइननिंग, फद्ध - फाउंड, कॊना - एंगल, आसन - ऩॊज़; उच्चायण रूऩ से SOUP-tah BAH-dah cone-NAHS-anna। मह भुद्रा गहयी टवश्राभ की बावना ऩैदा कयिी है। मह न क े वल एक रयस्टॊयेटिव आसन है फल्कि हहऩ-ओऩननिंग आसन बी है। मह एक फुननमादी भुद्रा है सजसे कॊई बी अऩने हाथ की भदद से कॊसशश कय सकिा है। इस आसन कॊ रयक्लाइन्ड कॉफलय ऩॊज़ मा रयक्लाइड देवी ऩॊज़ बी कहा जािा है। 1. इस आसन कॊ करने से पहले आपकॊ यह पता हॊना चाहहए इस आसन का अभ्यास कयने से ऩहले , आसन कयने से ऩहले मा कभ से कभ चाय से छह घंिे ऩहले अऩने ऩेि औय आंिों कॊ खाली कयना सुननश्चिि कयें िाटक बॊजन ऩचाने औय व्यामाभ क े दोयान खचच कयने क े सलए आऩक े ऩास ऩमाचप्त ऊजाच हॊ। सुफह सफसे ऩहले मॊग का अभ्यास कयना सफसे अच्छा है। लेटकन अगय आऩ इसे सुफह नहीं कय सकिे हैं, िॊ शाभ कॊ अभ्यास कयना ठीक है।  स्तर: फुननमादी  शैली: टवनमसा  अवनि: 30 से 60 सेक ं ड  पुनरावृत्ति: कॊई नहीं  स्ट्रेच: घुिने, जांघ, ग्रॊइन  मजबूती: ऩैय, ऩीठ, ऩाचन िंत्र, प्रजनन प्रणाली 2. क ै से करें सुप्त बद्ध कॊणासन (रेक्लिननिंग बाउंड ए ं गल पॊज़)  जभीन ऩय सीधा औय सऩाि लेिें। हपय, धीये से अऩने घुिनों कॊ भॊडें। अऩने दॊनों ऩैयों क े फाहयी टकनायों क े साथ पशच ऩय लाएं। अऩनी एडी कॊ अऩनी ऊसन्धि (ग्रॊइन) क े ऩास यखें।  आऩकी हथेसलमों कॊ आऩक े क ू ल्हों क े फगल भें नीचे की ओय दफाव फनािे रृए यखे जाना चाहहए।  सााँस छॊडे, औय सुननश्चिि कयें टक आऩक े ऩेि की भांसऩेसशमों अनुफंध क े रूऩ भें िेलफॊन कॊ प्यूबफक फॊन की ियप खींचकय यखें। अऩनी ऩीठ क े ननचले हहस्से भें फढाव भहसूस कयें औय आऩकी यीढ की हड्डी भें स्थियिा क े रूऩ भें आऩकी श्रॊणण झुकिी है। इस स्थिति ऩय ननमंत्रण यखना।  जल्दी से श्वास लें, औय जैसा टक आऩ हपय से सााँस छॊडिे हैं, अऩने घुिनों कॊ इस ियह से खॊलें टक मह आऩकी कभय औय अंदरूनी जांघों भें एक अच्छा खखिंचाव ऩैदा कये।
  • 2.  आऩकॊ मह सुननश्चिि कयना चाहहए टक आऩकी ननचली यीढ जफयदस्ती धनुषाकाय न हॊ। इसक े अलावा , सुननश्चिि कयें टक आऩक े क ं धे आयाभ औय आऩकी गदचन से दूय यखे गए हैं।  अफ एक नभनि िक आसन भें यहें, गहयी औय धीये-धीये सांस लें।  सााँस छॊडें औय आसन से फाहय ननकलें। लेटकन इससे ऩहले टक आऩ ऐसा कयें , उस अंतिभ खखिंचाव कॊ देने क े सलए अऩनी ऩीठ क े ननचले हहस्से औय घुिनों कॊ पशच ऩय दफाएं। हपय , अऩने घुिनों कॊ गले लगाओ , औय रयलीज हॊने से ऩहले साइड से यॉक कयें। 3. साविाननयां और अंतर्विरॊि  महद आऩकॊ ननम्नसलखखि सभस्याएं हैं िॊ इस आसन का अभ्यास कयने से फचें। o घुिने भें चॊि o ग्रॊइन की चॊि o ऩीठ क े ननचले हहस्से भें ददच o क ं धे की चॊि o क ू ल्हे की चॊि  गबचविी भहहलाओं कॊ एक प्रसशक्षक की देखयेख भें मह आसन कयना चाहहए। उन्हें इस स्थिति भें हभेशा अऩनी छािी औय ससय कॊ ऊऩय यखना चाहहए।  सजन भहहलाओं ने अबी िक प्रसव कयामा है , उन्हें इस आसन से लगबग आठ सप्ताह िक मा ऩेस्थिक क्षेत्र की भांसऩेसशमों क े भजफूि हॊने िक फचना चाहहए। 4. शुरुआत क े र्िप्स शुरुआि क े रूऩ भें, आऩ इस आसन का अभ्यास कयिे रृए अऩनी कभय औय आंिरयक जांघों भें खखिंचाव भहसूस कय सकिे हैं। इससे ननऩिने क े सलए , अऩने ऩैयों कॊ धीये-धीये पशच से थॊडा ऊऩय उठाएं , जफ िक टक आऩ आयाभ भहसूस न कयें। 5. एडवांस्ट्ड पॊज़ वहरएशन्स कभय औय आंिरयक जांघ भें खखिंचाव कॊ फढाने क े सलए, आऩ अऩने श्रॊणण कॊ ऊऩय खींच सकिे हैं, जैसे टक मह पशच से दूय हॊ। महद आऩ अऩने ऩैयों कॊ पशच ऩय जॊय से दफािे हैं , िॊ आऩका श्रॊणण अऩने आऩ उठ जाएगा। इसे आसान फनाने क े सलए, आऩ अऩने श्रॊणण क े नीचे एक ब्लॉक यखिे हैं। अऩने घुिनों कॊ जभीन ऩय दफाएं , औय अऩने िलवों कॊ एक साथ दफाएं। 6. सुप्त बद्ध कॊणासन (रेक्लिननिंग बाउंड ए ं गल पॊज़) क े लाभ  इस आसन का अभ्यास कयने से अंडाशम, प्रॊस्टेि ग्रंतथ, गुदे औय भूत्राशम सटिम हॊ जािे हैं।  मह हृदम कॊ बी उत्तेसजि कयिा है औय यक्त ऩरयसंचयण भें सुधाय कयिा है।  मह आऩक े कभय, आंिरयक जांघों औय घुिनों कॊ एक अच्छा खखिंचाव देिा है।  मह िनाव औय सचिंिा से छ ु िकाया हदलािा है औय हि े अवसाद कॊ बी ठीक कयिा है।  मह भांसऩेसशमों क े िनाव कॊ कभ कयिा है औय आऩकॊ थकान औय अननद्रा से छ ु िकाया हदलािा है। मह भन कॊ शांि बी कयिा है।  इससे िंबत्रका िंत्र भें िनाव कभ हॊ जािा है।  अऩनी आंिरयक जांघ औय कभय की भांसऩेसशमों कॊ स्ट्रेच कयिा है।  मह आऩक े शयीय कॊ स्फ ू तिि प्रदान कयिा है।  मह ऩाचन औय प्रजनन प्रणाली कॊ शांि कयिा है औय सचडसचडा आंत्र ससिंड्रॊभ, फांझऩन, भाससक धभच संफंधी टवकाय, ऩाचन भुद्दों, यजॊननवृसत्त, आहद जैसी स्थितिमों का इलाज कयिा है।  मह ससय ददच से याहि हदलािा है।  मह आसन क ू ल्हों कॊ खॊलने औय हहऩ फ्लेक्ससच कॊ फ्लेक्स कयने भें भदद कयिा है। 7. सुप्त बद्ध कॊणासन (रेक्लिननिंग बाउंड ए ं गल पॊज़) क े पीछे का र्वज्ञान
  • 3. मह आसन लगबग जादुई है , औय जफ आऩ इसभें सहज हॊ जािे हैं , िॊ मह लगबग वैसा ही हॊिा है जैसे आऩ छ ु ट्टी ऩय हों। मह गहये टवश्राभ कॊ फढावा देिा है, औय क ु छ ही नभनिों भें, आऩ ियॊिाजा औय कामाकल्प भहसूस कयिे हैं। सुप्त फद्ध कॊणासन बी आऩक े शयीय, टवशेष रूऩ से बीियी जांघों भें एक अच्छा खखिंचाव देिा है। मह , फदले भें, ननचले ऩेि भें यक्त ऩरयसंचयण भें सुधाय कयिा है औय इस प्रकाय , प्रजनन औय ऩाचन िंत्र कॊ सकायात्मक रूऩ से प्रबाटवि कयिा है। मह छािी कॊ बी खॊलिा है औय क ं धे औय कॉलयफॊन कॊ चोडा कयिा है , सजससे वे ऊऩयी ऩीठ कॊ सहाया देने भें सक्षभ हॊ जािे हैं। 8. प्रारंनभक पॊज़  फद्ध कॊणासन  वीयासन  वृक्षासन  सुप्त ऩादांगुष्ठासन 9. फॉल-अप पॊज़  गॊभुखासन  ऩद्मासन  भालासन  हलासन  सेिु फंधासन इस आसन का अभ्यास कयने से आऩकॊ अऩने शयीय क े फाये भें ऩिा चलिा है औय आऩकॊ मह सभझने भें भदद नभलिी है टक खुद की देखबाल कयना टकिना भहत्वऩूणच है।...