SlideShare a Scribd company logo
1 of 5
Download to read offline
लॊग कहते हैं, फुया ऩाचन सबी फुयाई की जड़ है। आमुर्वेद क
े अनुसाय, सबी वर्वकायों का भूल कायण खयाफ ऩाचन
है। इसललए मह जरूयी है वक हभायी ऩाचन शक्ति भजफूत यहे। तावक जॊ बॊजन हभ खाते हैं र्वह क
ु शलता से चमाऩचम हॊ।
अन्यथा, हभाये बॊजन क
े वर्वकल्प वकतने बी स्वस्थ क्यों न हों, हभाये शयीय कॊ हभाये द्वाया खाए जाने र्वाले ऩॊषक तत्वों
कॊ आत्मसात कयने औय अर्वशॊवषत कयने भें भुश्किल हॊगी।
अऩच से ऩेट प
ू लना, ऩेट ददद, एलसडडटी, कब्ज औय लूज भॊशन जैसे कई स्वास्थ्य संफंधी सभस्याएं हॊ सकती
हैं। बॊजन का ऩाचन आऩक
े भुंह से शुरू हॊता है औय डपय ऩेट औय डपय आंतों तक ऩरृंचता है। बॊजन शयीय से टू ट जाता
है औय अर्वशॊवषत हॊ जाता है। ऩाचन प्रविमा से अऩलशष्ट उत्पाद गुदा क
े भाध्यभ से सभाप्त हॊ जाते हैं औय इसे शोच
कहा जाता है। स्वस्थ शयीय क
े ललए बॊजन का उलचत ऩाचन आर्वश्यक है। आऩक
े खाने की आदतें औय गततवर्वक्तधमााँ
ऩाचन प्रविमा कॊ सीधे प्रबावर्वत कयती हैं। आऩ अऩनी जीर्वन शैली मा खाने की आदतों कॊ फदलकय अऩने ऩाचन तंत्र
कॊ स्वस्थ औय भजफूत यख सकते हैं।
मॊग आसन ऩाचन भें सुधाय क
ै से कय सकते हैं?
 ऩाचन अग्नि मा अग्नि उत्तेलजत हॊती है। मह बूख कॊ फढाता है औय चमाऩचम कॊ संतुललत कयता है।
 आसन शयीय कॊ खींचते हैं, ऩेट की भांसऩेलशमों कॊ भाललश कयते हैं। इससे बॊजन ऩाचन तंत्र क
े साथ क
ु शलता
से आगे फढता है।
 आंत्र आंदॊलन कॊ वर्वक्तनमक्तभत वकमा जाता है औय कब्ज से याहत क्तभलती है।
 ऩाचन अंगों कॊ यि का ऩरयसंचयण फढ जाता है, इस प्रकाय ऩाचन कॊ सहामता क्तभलती है।
 मॊग आसन भन कॊ सविम औय खुश यखते हैं। आऩ संतुललत आहाय खाने की अक्तधक संबार्वना यखते हैं औय
इस तयह ऩाचन कॊ आसान फनाते हैं।
 मॊग का क्तनमक्तभत अभ्यास प
ै टी जभा कॊ हतॊत्साडहत कयता है।
 शयीय कॊ प्रबार्वी ढंग से डडटॉक्स वकमा जाता है। एक खयाफ आहाय, अस्वास्थ्यकय जीर्वन शैली औय तनार्व से
संलचत वर्वषाि ऩदाथों कॊ फाहय क्तनकाल डदमा जाता है।
ऩाचन सुधायने औय आऩकी आंत कॊ भजफूत फनाने क
े लिए महां 7 मॊग आसन हैं
1. ऩश्चिभॊत्तानासन (सीटेड पॉयवडड फेंड ऩॊज़):
क
ै से कयें:
यीढ की हड्डी औय ऩैय की उंगललमों कॊ अऩनी ओय यखते रृए, अऩने साभने सीधे प
ै लाए रृए ऩैयों क
े साथ फैठें।
श्वास लेते रृए, अऩने लसय क
े ऊऩय दॊनों बुजाएाँ उठाएाँ, औय ऊऩय की ओय उठें। श्वास फाहय क्तनकलते रृए, क
ू ल्हे जॊड़ों से
आगे की ओय झुक
ें , ठुड्डी ऩंजों की ओय फढे। घुटनों क
े फल नीचे की ओय झुकते रृए यीढ की हड्डी कॊ आगे की ओय ले
जाते रृए ध्यान क
ें डित यखें। अऩने हाथों कॊ अऩने ऩैयों ऩय यखें, जहां बी र्वे ऩरृंचते हैं, बफना भजफूय वकए। मडद आऩ कय
सकते हैं, तॊ अऩने ऩैय की उंगललमों कॊ ऩकड़ें औय उन्हें आगे फढने भें भदद कयें। सांस लेते रृए, अऩने लसय कॊ थॊड़ा
ऊऩय उठाएं , औय अऩनी यीढ कॊ लंफा कयें। श्वास फाहय क्तनकालते रृए, धीये से नाग्नब कॊ घुटनों की ओय ले जाएं। इस
आंदॊलन कॊ दॊ मा तीन फाय दॊहयाएं। अऩने लसय कॊ नीचे क्तगयाएं औय 20-60 सेक
ं ड क
े ललए गहयी सांस लें। अऩने
साभने फाहों कॊ प
ै लाएं। अऩनी फाहों की ताकत क
े साथ सांस लेना, फैठने की स्थस्थतत भें र्वाऩस आ जाता है। सांस छॊड़ें
औय फाहों कॊ नीचे कयें।
िाब:
ऩश्किभॊत्तानासन मा आगे की ओय झुकना आसन गैस औय कब्ज कॊ दूय कयने भें भदद कयता है। मह ऩेट की
चफी कॊ बी कभ कयता है औय धीये-धीये अंगों की भाललश कयता है।
२. फािासन (चाइल्ड ऩॊज़):
क
ै से कयें:
अऩनी एड़ी ऩय फैठें। अऩने क
ू ल्हों कॊ अऩनी ऊ
ाँ ची एड़ी क
े जूते ऩय यखते रृए, आगे झुक
ें औय अऩने भाथे कॊ पशद
ऩय कभ कयें। अऩने हाथों कॊ अऩने शयीय क
े साथ पशद ऩय यखें, हथेललमों का साभना कयना ऩड़ यहा है। (मडद मह
आयाभदामक नहीं है, तॊ आऩ एक भुट्ठी दूसये क
े ऊऩय यख सकते हैं औय उन ऩय अऩना भाथा वटका सकते हैं)। धीये से
अऩनी छाती कॊ अऩनी जांघों ऩय दफाएं। ऩकड़। धीये-धीये अऩने ऩेट कॊ ऊऩय उठाएं , अऩनी यीढ की हड्डी कॊ कशेरुकाओं
से अलग कयें, औय अऩनी एड़ी ऩय फैठें।
िाब:
फालासन मा फच्चे का भुिा तनार्व जायी कयता है औय आऩक
े डदभाग कॊ शांत कयता है। मॊग भुिा आऩक
े जांघों,
क
ू ल्हों औय लसीका प्रणाली क
े ललए बी पामदेभंद है।
3. ऩवनभुक्तासन (वविंड रयिीवविंग ऩॊज़):
क
ै से कयें:
एक साथ अऩने ऩैयों क
े साथ अऩनी ऩीठ ऩय झूठ औय अऩने शयीय क
े फगल भें हतथमाय। सााँस छॊड़ें औय जैसा वक
आऩ सााँस छॊड़ते हैं, अऩने दाडहने घुटने कॊ अऩनी छाती की ओय लाएं औय अऩने ऩेट ऩय जांघ कॊ हाथों से दफाएं। डपय
से सांस लें औय सााँस छॊड़ते रृए, अऩने लसय औय छाती कॊ पशद से उठाएाँ औय अऩनी ठुड्डी कॊ अऩने दाडहने घुटने से
स्पशद कयें। इसे र्वहीं ऩकड़ें, जफ आऩ गहयी औय लंफी सांसें लेते हैं। जैसे ही आऩ सााँस छॊड़ते हैं, हाथों की घुटने कॊ कस
लें औय छाती ऩय दफार्व फढाएं। जैसे ही आऩ सांस लेते हैं, ऩकड़ कॊ ढीला कयें। जैसे ही आऩ सााँस छॊड़ते हैं, जभीन ऩय
र्वाऩस आकय आयाभ कयें। इस भुिा कॊ फाएं ऩैय से औय डपय दॊनों ऩैयों से एक साथ दॊहयाएं। आऩ ऊऩय-नीचे मा नीचे
की ओय से 3-5 फाय डहला सकते हैं औय डपय आयाभ कय सकते हैं।
िाब:
ऩर्वनभुिासन गैस औय ऩेट की फीभारयमों कॊ दूय कयती है। मह आऩक
े ऩाचन भें सुधाय कयेगा औय आऩक
े ऩेट से
गैस कॊ फाहय क्तनकाल देगा। मह आऩक
े ऩेट की भांसऩेलशमों कॊ बी भजफूत फनाता है।
4. विकॊणासन (ट्रामंगि ऩॊज़):
क
ै से कयें:
सीधे खड़े हॊ जाएं औय अऩने ऩैयों कॊ आयाभ से अलग कयें (लगबग तीन से चाय पीट)। अऩने दाडहने ऩैय कॊ
नव्वे डडग्री औय फाएं ऩैय कॊ ऩंिह डडग्री से घुभाएं। अफ अऩने दाडहने ऩैय की एड़ी कॊ अऩने फाएं ऩैय क
े भेहयाफ क
े क
ें ि क
े
साथ संयेखखत कयें। सुक्तनश्कित कयें वक आऩक
े ऩैय जभीन कॊ दफा यहे हैं औय आऩक
े शयीय का र्वजन दॊनों ऩैयों ऩय सभान
रूऩ से संतुललत है। गहयी सााँस लें औय जैसे ही आऩ सााँस छॊड़ते हैं अऩने शयीय कॊ दाडहनी ओय भॊड़ें क
ू ल्हों से नीचे की
ओय से कभय कॊ सीधा यखते रृए अऩने फाएाँ हाथ कॊ हर्वा भें ऊऩय आने दें जफवक आऩका दाडहना हाथ नीचे पशद की
ओय आ जाए। दॊनों फांहों कॊ एक सीध भें यखें। अऩने दाडहने हाथ कॊ अऩने वऩिंडली, टखने मा अऩने दाडहने ऩैय क
े फाहय
क
े पशद ऩय आयाभ कयें, जॊ बी संबर्व हॊ र्वह कभय क
े वकनायों कॊ वर्वक
ृ त वकए बफना संबर्व है। अऩने फाएं हाथ कॊ अऩने
क
ं धों क
े शीषद क
े साथ छत की ओय फढाएं। अऩने लसय कॊ एक तटस्थ स्थस्थतत भें यखें मा इसे फाईं ओय घुभाएं , आाँखें फाईं
हथेली ऩय धीये से टकटकी लगाए। मह ऩता लगाएं वक आऩका शयीय फग़ल भें है औय आगे मा ऩीछे नहीं है। अक्तधकतभ
खखिंचार्व प्राप्त कयें औय स्थस्थय यहें। लंफी गहयी सांसें लेते यहें। प्रत्येक सााँस छॊड़ने क
े साथ शयीय कॊ अक्तधक से अक्तधक
आयाभ दें। फस शयीय औय सांस क
े साथ यहें। जैसे ही आऩ श्वास लें, ऊऩय आएाँ , अऩनी बुजाओं कॊ नीचे की ओय लाएाँ ,
औय अऩने ऩैयों कॊ सीधा कयें। दूसयी तयप बी इसे दॊहयाएं।
िाब:
बत्रकॊणासन ऩाचन भें सुधाय कयती है, बूख कॊ उत्तेलजत कयती है औय कब्ज से याहत डदलाती है। मह आऩक
े गुदे
औय ऩेट क
े अन्य अंगों क
े ललए बी पामदेभंद है।
5) नोकासन (फॊट ऩॊज़):
क
ै से कयें:
एक साथ अऩने ऩैयों क
े साथ अऩनी ऩीठ ऩय झूठ औय अऩने शयीय क
े फगल भें हतथमाय। सााँस अंदय लें औय जैसे
ही आऩ सााँस छॊड़ें, अऩनी छाती औय ऩैयों कॊ ज़भीन से उठाएाँ , अऩनी फााँहों कॊ अऩने ऩैयों की ओय फढाएाँ। आऩकी आंखें,
उंगललमां औय ऩैय की उंगललमां एक येखा भें हॊनी चाडहए। ऩेट की भांसऩेलशमों क
े अनुफंध क
े रूऩ भें अऩने नाग्नब क्षेत्र भें
तनार्व भहसूस कयें। भुिा फनाए यखते रृए गहयी औय आसानी से सांस लेते यहें। जैसे ही आऩ सााँस छॊड़ते हैं, धीये-धीये
जभीन ऩय र्वाऩस आएं औय आयाभ कयें।
िाब:
नोकासन ऩेट की भांसऩेलशमों कॊ भजफूत कयता है। आंतों कॊ सशि फनाता है। मह ऩाचन यस क
े स्रार्व भें सुधाय
कयक
े ऩाचन कॊ उत्तेलजत कयता है।
6) उष्ट्रासन (क
ै भि ऩॊज़):
क
ै से कयें:
अऩने घुटने जभीन ऩे यखें औय हाथों कॊ क
ू ल्हों ऩय यखें। आऩक
े घुटने क
ं धों क
े अनुरूऩ हॊने चाडहए औय आऩक
े
ऩैयों का एकभात्र छत का साभना कयना चाडहए। जैसे ही आऩ श्वास लेते हैं, अऩनी ऩूंछ की हड्डी कॊ ऩबफमों की ओय
खींचते हैं जैसे वक नाग्नब से खींचा जा यहा है। इसक
े साथ ही अऩनी ऩीठ कॊ आक
द कयें औय अऩनी हथेललमों कॊ अऩने
ऩैयों क
े ऊऩय तफ तक स्लाइड कयें जफ तक वक हतथमाय सीधे न हॊ जाएं। अऩनी गददन कॊ तनार्व मा फ्लेक्स न कयें
लेवकन इसे तटस्थ स्थस्थतत भें यखें। एक-दॊ सांसों क
े ललए इसी स्थस्थतत भें यहें। सांस छॊड़ें औय धीये-धीये प्रायंग्नबक स्थस्थतत भें
र्वाऩस आएं। अऩने हाथों कॊ र्वाऩस लें औय उन्हें अऩने क
ू ल्हों तक र्वाऩस लाएं जैसा वक आऩ सीधा कयते हैं।
िाब:
उष्ट्रासन ऩेट औय आंतों भें खखिंचार्व हॊता है। ऩाचन क
े ललए औय कब्ज से याहत डदलाता है। ऩाचन भें सुधाय
कयता है।
7) अधडभत्स्येन्द्रासन (लसटींग हाप स्पाइनि विस्ट ऩॊज़):
क
ै से कयें:
ऩैयों कॊ सीधे साभने प
ै लाकय फैठें, ऩैय एक साथ यखें औय यीढ खड़ी यहे। फाएं ऩैय कॊ भॊड़ें औय दाएं क
ू ल्हे क
े
फगल भें फाएं ऩैय का उऩचाय कयें (र्वैकस्थल्पक रूऩ से, आऩ फाएं ऩैय कॊ सीधा यख सकते हैं)। दाएं ऩैय कॊ फाएं घुटने क
े
ऊऩय ले जाएं। फाएं हाथ कॊ दाडहने घुटने ऩय औय दाएं हाथ कॊ अऩने ऩीछे यखें। इस िभ भें कभय, क
ं धे औय गददन कॊ
भॊड़ें औय दाडहने क
ं धे कॊ देखें। यीढ कॊ सीधा यखें। अंदय औय फाहय कॊभल लंफी सांसों क
े साथ ऩकड़ॊ औय जायी यखॊ।
श्वास फाहय छॊड़ें, ऩहले दाडहने हाथ कॊ छॊड़ें (आऩक
े ऩीछे का हाथ), डपय कभय, डपय छाती, अंततभ रूऩ से गददन कॊ छॊड़ें,
औय आयाभ से फैठें। दूसयी तयप दॊहयाएं। सांस फाहय छॊड़ें, साभने की ओय आएं, औय आयाभ कयें।
िाब:
अधदभत्स्येन्द्रासन ऩाचन भें सुधाय कयता है। अधद भत्स्येन्द्रासन ऩाचन क
े ललए औय अिाशम क
े स्वास्थ्य भें सुधाय
कयता है।

More Related Content

Similar to 7 yoga poses for a strong digestive system that improves your digestion

7 yoga asanas that will help you fight depression
7 yoga asanas that will help you fight depression7 yoga asanas that will help you fight depression
7 yoga asanas that will help you fight depressionShivartha
 
Yoga for knee pain relief
Yoga for knee pain reliefYoga for knee pain relief
Yoga for knee pain reliefShivartha
 
How to do jathara parivartanasana (two knee spinal twist pose) and what are i...
How to do jathara parivartanasana (two knee spinal twist pose) and what are i...How to do jathara parivartanasana (two knee spinal twist pose) and what are i...
How to do jathara parivartanasana (two knee spinal twist pose) and what are i...Shivartha
 
7 yoga asanas which reduce more your belly fat than doing heavy exercise
7 yoga asanas which reduce more your belly fat than doing heavy exercise7 yoga asanas which reduce more your belly fat than doing heavy exercise
7 yoga asanas which reduce more your belly fat than doing heavy exerciseShivartha
 
10 easy yoga poses you can literally do in your bed, so no more excuses!
10 easy yoga poses you can literally do in your bed, so no more excuses!10 easy yoga poses you can literally do in your bed, so no more excuses!
10 easy yoga poses you can literally do in your bed, so no more excuses!Shivartha
 
How to do supta virasana (reclining hero pose) and what are its benefits
How to do supta virasana (reclining hero pose) and what are its benefitsHow to do supta virasana (reclining hero pose) and what are its benefits
How to do supta virasana (reclining hero pose) and what are its benefitsShivartha
 
The 10 best beginner yoga poses for men
The 10 best beginner yoga poses for menThe 10 best beginner yoga poses for men
The 10 best beginner yoga poses for menShivartha
 
7 yoga poses for deep sleep who are suffering from insomnia
7 yoga poses for deep sleep who are suffering from insomnia7 yoga poses for deep sleep who are suffering from insomnia
7 yoga poses for deep sleep who are suffering from insomniaShivartha
 
The 10 best yoga poses for back pain
The 10 best yoga poses for back painThe 10 best yoga poses for back pain
The 10 best yoga poses for back painShivartha
 
Yoga for glowing skin
Yoga for glowing skinYoga for glowing skin
Yoga for glowing skinShivartha
 
Try this 11 yoga poses for diabetes it's really works
Try this 11 yoga poses for diabetes  it's really worksTry this 11 yoga poses for diabetes  it's really works
Try this 11 yoga poses for diabetes it's really worksShivartha
 
These 13 yoga asanas will help you boost your fertility
These 13 yoga asanas will help you boost your fertilityThese 13 yoga asanas will help you boost your fertility
These 13 yoga asanas will help you boost your fertilityShivartha
 
7 effective yoga poses to increase your brain power
7 effective yoga poses to increase your brain power7 effective yoga poses to increase your brain power
7 effective yoga poses to increase your brain powerShivartha
 
6 best yoga to improve your heart
6 best yoga to improve your heart6 best yoga to improve your heart
6 best yoga to improve your heartShivartha
 
9 best way to improve women's breast
9 best way to improve women's breast9 best way to improve women's breast
9 best way to improve women's breastShivartha
 
How to do utthita parsvakonasana (extended side angle pose) and what are its ...
How to do utthita parsvakonasana (extended side angle pose) and what are its ...How to do utthita parsvakonasana (extended side angle pose) and what are its ...
How to do utthita parsvakonasana (extended side angle pose) and what are its ...Shivartha
 
10 yoga for back pain beginners
10 yoga for back pain beginners10 yoga for back pain beginners
10 yoga for back pain beginnersShivartha
 
8 best mid back stretches for relieving middle back pain
8 best mid back stretches for relieving middle back pain8 best mid back stretches for relieving middle back pain
8 best mid back stretches for relieving middle back painShivartha
 
How to do purvottanasana (upward plank pose) and what are its benefits
How to do purvottanasana (upward plank pose) and what are its benefitsHow to do purvottanasana (upward plank pose) and what are its benefits
How to do purvottanasana (upward plank pose) and what are its benefitsShivartha
 
How to do supta baddha konasana (reclining bound angle pose) and what are its...
How to do supta baddha konasana (reclining bound angle pose) and what are its...How to do supta baddha konasana (reclining bound angle pose) and what are its...
How to do supta baddha konasana (reclining bound angle pose) and what are its...Shivartha
 

Similar to 7 yoga poses for a strong digestive system that improves your digestion (20)

7 yoga asanas that will help you fight depression
7 yoga asanas that will help you fight depression7 yoga asanas that will help you fight depression
7 yoga asanas that will help you fight depression
 
Yoga for knee pain relief
Yoga for knee pain reliefYoga for knee pain relief
Yoga for knee pain relief
 
How to do jathara parivartanasana (two knee spinal twist pose) and what are i...
How to do jathara parivartanasana (two knee spinal twist pose) and what are i...How to do jathara parivartanasana (two knee spinal twist pose) and what are i...
How to do jathara parivartanasana (two knee spinal twist pose) and what are i...
 
7 yoga asanas which reduce more your belly fat than doing heavy exercise
7 yoga asanas which reduce more your belly fat than doing heavy exercise7 yoga asanas which reduce more your belly fat than doing heavy exercise
7 yoga asanas which reduce more your belly fat than doing heavy exercise
 
10 easy yoga poses you can literally do in your bed, so no more excuses!
10 easy yoga poses you can literally do in your bed, so no more excuses!10 easy yoga poses you can literally do in your bed, so no more excuses!
10 easy yoga poses you can literally do in your bed, so no more excuses!
 
How to do supta virasana (reclining hero pose) and what are its benefits
How to do supta virasana (reclining hero pose) and what are its benefitsHow to do supta virasana (reclining hero pose) and what are its benefits
How to do supta virasana (reclining hero pose) and what are its benefits
 
The 10 best beginner yoga poses for men
The 10 best beginner yoga poses for menThe 10 best beginner yoga poses for men
The 10 best beginner yoga poses for men
 
7 yoga poses for deep sleep who are suffering from insomnia
7 yoga poses for deep sleep who are suffering from insomnia7 yoga poses for deep sleep who are suffering from insomnia
7 yoga poses for deep sleep who are suffering from insomnia
 
The 10 best yoga poses for back pain
The 10 best yoga poses for back painThe 10 best yoga poses for back pain
The 10 best yoga poses for back pain
 
Yoga for glowing skin
Yoga for glowing skinYoga for glowing skin
Yoga for glowing skin
 
Try this 11 yoga poses for diabetes it's really works
Try this 11 yoga poses for diabetes  it's really worksTry this 11 yoga poses for diabetes  it's really works
Try this 11 yoga poses for diabetes it's really works
 
These 13 yoga asanas will help you boost your fertility
These 13 yoga asanas will help you boost your fertilityThese 13 yoga asanas will help you boost your fertility
These 13 yoga asanas will help you boost your fertility
 
7 effective yoga poses to increase your brain power
7 effective yoga poses to increase your brain power7 effective yoga poses to increase your brain power
7 effective yoga poses to increase your brain power
 
6 best yoga to improve your heart
6 best yoga to improve your heart6 best yoga to improve your heart
6 best yoga to improve your heart
 
9 best way to improve women's breast
9 best way to improve women's breast9 best way to improve women's breast
9 best way to improve women's breast
 
How to do utthita parsvakonasana (extended side angle pose) and what are its ...
How to do utthita parsvakonasana (extended side angle pose) and what are its ...How to do utthita parsvakonasana (extended side angle pose) and what are its ...
How to do utthita parsvakonasana (extended side angle pose) and what are its ...
 
10 yoga for back pain beginners
10 yoga for back pain beginners10 yoga for back pain beginners
10 yoga for back pain beginners
 
8 best mid back stretches for relieving middle back pain
8 best mid back stretches for relieving middle back pain8 best mid back stretches for relieving middle back pain
8 best mid back stretches for relieving middle back pain
 
How to do purvottanasana (upward plank pose) and what are its benefits
How to do purvottanasana (upward plank pose) and what are its benefitsHow to do purvottanasana (upward plank pose) and what are its benefits
How to do purvottanasana (upward plank pose) and what are its benefits
 
How to do supta baddha konasana (reclining bound angle pose) and what are its...
How to do supta baddha konasana (reclining bound angle pose) and what are its...How to do supta baddha konasana (reclining bound angle pose) and what are its...
How to do supta baddha konasana (reclining bound angle pose) and what are its...
 

More from Shivartha

How to do virasana (hero pose) and what are its benefits
How to do virasana (hero pose) and what are its benefitsHow to do virasana (hero pose) and what are its benefits
How to do virasana (hero pose) and what are its benefitsShivartha
 
How to do viparita karani (legs up the wall pose) and what are its benefits
How to do viparita karani (legs up the wall pose) and what are its benefitsHow to do viparita karani (legs up the wall pose) and what are its benefits
How to do viparita karani (legs up the wall pose) and what are its benefitsShivartha
 
How to do vasisthasana (side plank pose) and what are its benefits
How to do vasisthasana (side plank pose) and what are its benefitsHow to do vasisthasana (side plank pose) and what are its benefits
How to do vasisthasana (side plank pose) and what are its benefitsShivartha
 
How to do vajrasana (diamond pose) and what are its benefits
How to do vajrasana (diamond pose) and what are its benefitsHow to do vajrasana (diamond pose) and what are its benefits
How to do vajrasana (diamond pose) and what are its benefitsShivartha
 
How to do utkatasana (chair pose) and what are its benefits
How to do utkatasana (chair pose) and what are its benefitsHow to do utkatasana (chair pose) and what are its benefits
How to do utkatasana (chair pose) and what are its benefitsShivartha
 
How to do ustrasana (camel pose) and what are its benefits
How to do ustrasana (camel pose) and what are its benefitsHow to do ustrasana (camel pose) and what are its benefits
How to do ustrasana (camel pose) and what are its benefitsShivartha
 
How to do urdhva dhanurasana (upward bow pose) and what are its benefits
How to do urdhva dhanurasana (upward bow pose) and what are its benefitsHow to do urdhva dhanurasana (upward bow pose) and what are its benefits
How to do urdhva dhanurasana (upward bow pose) and what are its benefitsShivartha
 
How to do trikonasana (triangle pose) and what are its benefits
How to do trikonasana (triangle pose) and what are its benefitsHow to do trikonasana (triangle pose) and what are its benefits
How to do trikonasana (triangle pose) and what are its benefitsShivartha
 
How to do tolasana (scale pose) and what are its benefits
How to do tolasana (scale pose) and what are its benefitsHow to do tolasana (scale pose) and what are its benefits
How to do tolasana (scale pose) and what are its benefitsShivartha
 
How to do supta padangusthasana (reclining hand to-big-toe pose) and what are...
How to do supta padangusthasana (reclining hand to-big-toe pose) and what are...How to do supta padangusthasana (reclining hand to-big-toe pose) and what are...
How to do supta padangusthasana (reclining hand to-big-toe pose) and what are...Shivartha
 
How to do supta matsyendrasana (supine spinal twist pose) and what are its be...
How to do supta matsyendrasana (supine spinal twist pose) and what are its be...How to do supta matsyendrasana (supine spinal twist pose) and what are its be...
How to do supta matsyendrasana (supine spinal twist pose) and what are its be...Shivartha
 
How to do sirsasana (headstand pose) and what are its benefits
How to do sirsasana (headstand pose) and what are its benefitsHow to do sirsasana (headstand pose) and what are its benefits
How to do sirsasana (headstand pose) and what are its benefitsShivartha
 
How to do simhasana (lion pose) and what are its benefits
How to do simhasana (lion pose) and what are its benefitsHow to do simhasana (lion pose) and what are its benefits
How to do simhasana (lion pose) and what are its benefitsShivartha
 
How to do shavasana (corpse pose) and what are its benefits
How to do shavasana (corpse pose) and what are its benefitsHow to do shavasana (corpse pose) and what are its benefits
How to do shavasana (corpse pose) and what are its benefitsShivartha
 
How to do pawanmuktasana (wind relieving pose) and what are its benefits
How to do pawanmuktasana (wind relieving pose) and what are its benefitsHow to do pawanmuktasana (wind relieving pose) and what are its benefits
How to do pawanmuktasana (wind relieving pose) and what are its benefitsShivartha
 
How to do padmasana (lotus pose) and what are its benefits
How to do padmasana (lotus pose) and what are its benefitsHow to do padmasana (lotus pose) and what are its benefits
How to do padmasana (lotus pose) and what are its benefitsShivartha
 
How to do padangusthasana (big toe pose) and what are its benefits
How to do padangusthasana (big toe pose) and what are its benefitsHow to do padangusthasana (big toe pose) and what are its benefits
How to do padangusthasana (big toe pose) and what are its benefitsShivartha
 
How to do natarajasana (lord of the dance pose) and what are its benefits
How to do natarajasana (lord of the dance pose) and what are its benefitsHow to do natarajasana (lord of the dance pose) and what are its benefits
How to do natarajasana (lord of the dance pose) and what are its benefitsShivartha
 
How to do mayurasana (peacock pose) and what are its benefits
How to do mayurasana (peacock pose) and what are its benefitsHow to do mayurasana (peacock pose) and what are its benefits
How to do mayurasana (peacock pose) and what are its benefitsShivartha
 
How to do hanumanasana (monkey pose) and what are its benefits
How to do hanumanasana (monkey pose) and what are its benefitsHow to do hanumanasana (monkey pose) and what are its benefits
How to do hanumanasana (monkey pose) and what are its benefitsShivartha
 

More from Shivartha (20)

How to do virasana (hero pose) and what are its benefits
How to do virasana (hero pose) and what are its benefitsHow to do virasana (hero pose) and what are its benefits
How to do virasana (hero pose) and what are its benefits
 
How to do viparita karani (legs up the wall pose) and what are its benefits
How to do viparita karani (legs up the wall pose) and what are its benefitsHow to do viparita karani (legs up the wall pose) and what are its benefits
How to do viparita karani (legs up the wall pose) and what are its benefits
 
How to do vasisthasana (side plank pose) and what are its benefits
How to do vasisthasana (side plank pose) and what are its benefitsHow to do vasisthasana (side plank pose) and what are its benefits
How to do vasisthasana (side plank pose) and what are its benefits
 
How to do vajrasana (diamond pose) and what are its benefits
How to do vajrasana (diamond pose) and what are its benefitsHow to do vajrasana (diamond pose) and what are its benefits
How to do vajrasana (diamond pose) and what are its benefits
 
How to do utkatasana (chair pose) and what are its benefits
How to do utkatasana (chair pose) and what are its benefitsHow to do utkatasana (chair pose) and what are its benefits
How to do utkatasana (chair pose) and what are its benefits
 
How to do ustrasana (camel pose) and what are its benefits
How to do ustrasana (camel pose) and what are its benefitsHow to do ustrasana (camel pose) and what are its benefits
How to do ustrasana (camel pose) and what are its benefits
 
How to do urdhva dhanurasana (upward bow pose) and what are its benefits
How to do urdhva dhanurasana (upward bow pose) and what are its benefitsHow to do urdhva dhanurasana (upward bow pose) and what are its benefits
How to do urdhva dhanurasana (upward bow pose) and what are its benefits
 
How to do trikonasana (triangle pose) and what are its benefits
How to do trikonasana (triangle pose) and what are its benefitsHow to do trikonasana (triangle pose) and what are its benefits
How to do trikonasana (triangle pose) and what are its benefits
 
How to do tolasana (scale pose) and what are its benefits
How to do tolasana (scale pose) and what are its benefitsHow to do tolasana (scale pose) and what are its benefits
How to do tolasana (scale pose) and what are its benefits
 
How to do supta padangusthasana (reclining hand to-big-toe pose) and what are...
How to do supta padangusthasana (reclining hand to-big-toe pose) and what are...How to do supta padangusthasana (reclining hand to-big-toe pose) and what are...
How to do supta padangusthasana (reclining hand to-big-toe pose) and what are...
 
How to do supta matsyendrasana (supine spinal twist pose) and what are its be...
How to do supta matsyendrasana (supine spinal twist pose) and what are its be...How to do supta matsyendrasana (supine spinal twist pose) and what are its be...
How to do supta matsyendrasana (supine spinal twist pose) and what are its be...
 
How to do sirsasana (headstand pose) and what are its benefits
How to do sirsasana (headstand pose) and what are its benefitsHow to do sirsasana (headstand pose) and what are its benefits
How to do sirsasana (headstand pose) and what are its benefits
 
How to do simhasana (lion pose) and what are its benefits
How to do simhasana (lion pose) and what are its benefitsHow to do simhasana (lion pose) and what are its benefits
How to do simhasana (lion pose) and what are its benefits
 
How to do shavasana (corpse pose) and what are its benefits
How to do shavasana (corpse pose) and what are its benefitsHow to do shavasana (corpse pose) and what are its benefits
How to do shavasana (corpse pose) and what are its benefits
 
How to do pawanmuktasana (wind relieving pose) and what are its benefits
How to do pawanmuktasana (wind relieving pose) and what are its benefitsHow to do pawanmuktasana (wind relieving pose) and what are its benefits
How to do pawanmuktasana (wind relieving pose) and what are its benefits
 
How to do padmasana (lotus pose) and what are its benefits
How to do padmasana (lotus pose) and what are its benefitsHow to do padmasana (lotus pose) and what are its benefits
How to do padmasana (lotus pose) and what are its benefits
 
How to do padangusthasana (big toe pose) and what are its benefits
How to do padangusthasana (big toe pose) and what are its benefitsHow to do padangusthasana (big toe pose) and what are its benefits
How to do padangusthasana (big toe pose) and what are its benefits
 
How to do natarajasana (lord of the dance pose) and what are its benefits
How to do natarajasana (lord of the dance pose) and what are its benefitsHow to do natarajasana (lord of the dance pose) and what are its benefits
How to do natarajasana (lord of the dance pose) and what are its benefits
 
How to do mayurasana (peacock pose) and what are its benefits
How to do mayurasana (peacock pose) and what are its benefitsHow to do mayurasana (peacock pose) and what are its benefits
How to do mayurasana (peacock pose) and what are its benefits
 
How to do hanumanasana (monkey pose) and what are its benefits
How to do hanumanasana (monkey pose) and what are its benefitsHow to do hanumanasana (monkey pose) and what are its benefits
How to do hanumanasana (monkey pose) and what are its benefits
 

7 yoga poses for a strong digestive system that improves your digestion

  • 1. लॊग कहते हैं, फुया ऩाचन सबी फुयाई की जड़ है। आमुर्वेद क े अनुसाय, सबी वर्वकायों का भूल कायण खयाफ ऩाचन है। इसललए मह जरूयी है वक हभायी ऩाचन शक्ति भजफूत यहे। तावक जॊ बॊजन हभ खाते हैं र्वह क ु शलता से चमाऩचम हॊ। अन्यथा, हभाये बॊजन क े वर्वकल्प वकतने बी स्वस्थ क्यों न हों, हभाये शयीय कॊ हभाये द्वाया खाए जाने र्वाले ऩॊषक तत्वों कॊ आत्मसात कयने औय अर्वशॊवषत कयने भें भुश्किल हॊगी। अऩच से ऩेट प ू लना, ऩेट ददद, एलसडडटी, कब्ज औय लूज भॊशन जैसे कई स्वास्थ्य संफंधी सभस्याएं हॊ सकती हैं। बॊजन का ऩाचन आऩक े भुंह से शुरू हॊता है औय डपय ऩेट औय डपय आंतों तक ऩरृंचता है। बॊजन शयीय से टू ट जाता है औय अर्वशॊवषत हॊ जाता है। ऩाचन प्रविमा से अऩलशष्ट उत्पाद गुदा क े भाध्यभ से सभाप्त हॊ जाते हैं औय इसे शोच कहा जाता है। स्वस्थ शयीय क े ललए बॊजन का उलचत ऩाचन आर्वश्यक है। आऩक े खाने की आदतें औय गततवर्वक्तधमााँ ऩाचन प्रविमा कॊ सीधे प्रबावर्वत कयती हैं। आऩ अऩनी जीर्वन शैली मा खाने की आदतों कॊ फदलकय अऩने ऩाचन तंत्र कॊ स्वस्थ औय भजफूत यख सकते हैं। मॊग आसन ऩाचन भें सुधाय क ै से कय सकते हैं?  ऩाचन अग्नि मा अग्नि उत्तेलजत हॊती है। मह बूख कॊ फढाता है औय चमाऩचम कॊ संतुललत कयता है।  आसन शयीय कॊ खींचते हैं, ऩेट की भांसऩेलशमों कॊ भाललश कयते हैं। इससे बॊजन ऩाचन तंत्र क े साथ क ु शलता से आगे फढता है।  आंत्र आंदॊलन कॊ वर्वक्तनमक्तभत वकमा जाता है औय कब्ज से याहत क्तभलती है।  ऩाचन अंगों कॊ यि का ऩरयसंचयण फढ जाता है, इस प्रकाय ऩाचन कॊ सहामता क्तभलती है।  मॊग आसन भन कॊ सविम औय खुश यखते हैं। आऩ संतुललत आहाय खाने की अक्तधक संबार्वना यखते हैं औय इस तयह ऩाचन कॊ आसान फनाते हैं।  मॊग का क्तनमक्तभत अभ्यास प ै टी जभा कॊ हतॊत्साडहत कयता है।  शयीय कॊ प्रबार्वी ढंग से डडटॉक्स वकमा जाता है। एक खयाफ आहाय, अस्वास्थ्यकय जीर्वन शैली औय तनार्व से संलचत वर्वषाि ऩदाथों कॊ फाहय क्तनकाल डदमा जाता है। ऩाचन सुधायने औय आऩकी आंत कॊ भजफूत फनाने क े लिए महां 7 मॊग आसन हैं 1. ऩश्चिभॊत्तानासन (सीटेड पॉयवडड फेंड ऩॊज़): क ै से कयें: यीढ की हड्डी औय ऩैय की उंगललमों कॊ अऩनी ओय यखते रृए, अऩने साभने सीधे प ै लाए रृए ऩैयों क े साथ फैठें। श्वास लेते रृए, अऩने लसय क े ऊऩय दॊनों बुजाएाँ उठाएाँ, औय ऊऩय की ओय उठें। श्वास फाहय क्तनकलते रृए, क ू ल्हे जॊड़ों से आगे की ओय झुक ें , ठुड्डी ऩंजों की ओय फढे। घुटनों क े फल नीचे की ओय झुकते रृए यीढ की हड्डी कॊ आगे की ओय ले जाते रृए ध्यान क ें डित यखें। अऩने हाथों कॊ अऩने ऩैयों ऩय यखें, जहां बी र्वे ऩरृंचते हैं, बफना भजफूय वकए। मडद आऩ कय सकते हैं, तॊ अऩने ऩैय की उंगललमों कॊ ऩकड़ें औय उन्हें आगे फढने भें भदद कयें। सांस लेते रृए, अऩने लसय कॊ थॊड़ा ऊऩय उठाएं , औय अऩनी यीढ कॊ लंफा कयें। श्वास फाहय क्तनकालते रृए, धीये से नाग्नब कॊ घुटनों की ओय ले जाएं। इस
  • 2. आंदॊलन कॊ दॊ मा तीन फाय दॊहयाएं। अऩने लसय कॊ नीचे क्तगयाएं औय 20-60 सेक ं ड क े ललए गहयी सांस लें। अऩने साभने फाहों कॊ प ै लाएं। अऩनी फाहों की ताकत क े साथ सांस लेना, फैठने की स्थस्थतत भें र्वाऩस आ जाता है। सांस छॊड़ें औय फाहों कॊ नीचे कयें। िाब: ऩश्किभॊत्तानासन मा आगे की ओय झुकना आसन गैस औय कब्ज कॊ दूय कयने भें भदद कयता है। मह ऩेट की चफी कॊ बी कभ कयता है औय धीये-धीये अंगों की भाललश कयता है। २. फािासन (चाइल्ड ऩॊज़): क ै से कयें: अऩनी एड़ी ऩय फैठें। अऩने क ू ल्हों कॊ अऩनी ऊ ाँ ची एड़ी क े जूते ऩय यखते रृए, आगे झुक ें औय अऩने भाथे कॊ पशद ऩय कभ कयें। अऩने हाथों कॊ अऩने शयीय क े साथ पशद ऩय यखें, हथेललमों का साभना कयना ऩड़ यहा है। (मडद मह आयाभदामक नहीं है, तॊ आऩ एक भुट्ठी दूसये क े ऊऩय यख सकते हैं औय उन ऩय अऩना भाथा वटका सकते हैं)। धीये से अऩनी छाती कॊ अऩनी जांघों ऩय दफाएं। ऩकड़। धीये-धीये अऩने ऩेट कॊ ऊऩय उठाएं , अऩनी यीढ की हड्डी कॊ कशेरुकाओं से अलग कयें, औय अऩनी एड़ी ऩय फैठें। िाब: फालासन मा फच्चे का भुिा तनार्व जायी कयता है औय आऩक े डदभाग कॊ शांत कयता है। मॊग भुिा आऩक े जांघों, क ू ल्हों औय लसीका प्रणाली क े ललए बी पामदेभंद है। 3. ऩवनभुक्तासन (वविंड रयिीवविंग ऩॊज़): क ै से कयें: एक साथ अऩने ऩैयों क े साथ अऩनी ऩीठ ऩय झूठ औय अऩने शयीय क े फगल भें हतथमाय। सााँस छॊड़ें औय जैसा वक आऩ सााँस छॊड़ते हैं, अऩने दाडहने घुटने कॊ अऩनी छाती की ओय लाएं औय अऩने ऩेट ऩय जांघ कॊ हाथों से दफाएं। डपय से सांस लें औय सााँस छॊड़ते रृए, अऩने लसय औय छाती कॊ पशद से उठाएाँ औय अऩनी ठुड्डी कॊ अऩने दाडहने घुटने से स्पशद कयें। इसे र्वहीं ऩकड़ें, जफ आऩ गहयी औय लंफी सांसें लेते हैं। जैसे ही आऩ सााँस छॊड़ते हैं, हाथों की घुटने कॊ कस लें औय छाती ऩय दफार्व फढाएं। जैसे ही आऩ सांस लेते हैं, ऩकड़ कॊ ढीला कयें। जैसे ही आऩ सााँस छॊड़ते हैं, जभीन ऩय
  • 3. र्वाऩस आकय आयाभ कयें। इस भुिा कॊ फाएं ऩैय से औय डपय दॊनों ऩैयों से एक साथ दॊहयाएं। आऩ ऊऩय-नीचे मा नीचे की ओय से 3-5 फाय डहला सकते हैं औय डपय आयाभ कय सकते हैं। िाब: ऩर्वनभुिासन गैस औय ऩेट की फीभारयमों कॊ दूय कयती है। मह आऩक े ऩाचन भें सुधाय कयेगा औय आऩक े ऩेट से गैस कॊ फाहय क्तनकाल देगा। मह आऩक े ऩेट की भांसऩेलशमों कॊ बी भजफूत फनाता है। 4. विकॊणासन (ट्रामंगि ऩॊज़): क ै से कयें: सीधे खड़े हॊ जाएं औय अऩने ऩैयों कॊ आयाभ से अलग कयें (लगबग तीन से चाय पीट)। अऩने दाडहने ऩैय कॊ नव्वे डडग्री औय फाएं ऩैय कॊ ऩंिह डडग्री से घुभाएं। अफ अऩने दाडहने ऩैय की एड़ी कॊ अऩने फाएं ऩैय क े भेहयाफ क े क ें ि क े साथ संयेखखत कयें। सुक्तनश्कित कयें वक आऩक े ऩैय जभीन कॊ दफा यहे हैं औय आऩक े शयीय का र्वजन दॊनों ऩैयों ऩय सभान रूऩ से संतुललत है। गहयी सााँस लें औय जैसे ही आऩ सााँस छॊड़ते हैं अऩने शयीय कॊ दाडहनी ओय भॊड़ें क ू ल्हों से नीचे की ओय से कभय कॊ सीधा यखते रृए अऩने फाएाँ हाथ कॊ हर्वा भें ऊऩय आने दें जफवक आऩका दाडहना हाथ नीचे पशद की ओय आ जाए। दॊनों फांहों कॊ एक सीध भें यखें। अऩने दाडहने हाथ कॊ अऩने वऩिंडली, टखने मा अऩने दाडहने ऩैय क े फाहय क े पशद ऩय आयाभ कयें, जॊ बी संबर्व हॊ र्वह कभय क े वकनायों कॊ वर्वक ृ त वकए बफना संबर्व है। अऩने फाएं हाथ कॊ अऩने क ं धों क े शीषद क े साथ छत की ओय फढाएं। अऩने लसय कॊ एक तटस्थ स्थस्थतत भें यखें मा इसे फाईं ओय घुभाएं , आाँखें फाईं हथेली ऩय धीये से टकटकी लगाए। मह ऩता लगाएं वक आऩका शयीय फग़ल भें है औय आगे मा ऩीछे नहीं है। अक्तधकतभ खखिंचार्व प्राप्त कयें औय स्थस्थय यहें। लंफी गहयी सांसें लेते यहें। प्रत्येक सााँस छॊड़ने क े साथ शयीय कॊ अक्तधक से अक्तधक आयाभ दें। फस शयीय औय सांस क े साथ यहें। जैसे ही आऩ श्वास लें, ऊऩय आएाँ , अऩनी बुजाओं कॊ नीचे की ओय लाएाँ , औय अऩने ऩैयों कॊ सीधा कयें। दूसयी तयप बी इसे दॊहयाएं। िाब: बत्रकॊणासन ऩाचन भें सुधाय कयती है, बूख कॊ उत्तेलजत कयती है औय कब्ज से याहत डदलाती है। मह आऩक े गुदे औय ऩेट क े अन्य अंगों क े ललए बी पामदेभंद है। 5) नोकासन (फॊट ऩॊज़):
  • 4. क ै से कयें: एक साथ अऩने ऩैयों क े साथ अऩनी ऩीठ ऩय झूठ औय अऩने शयीय क े फगल भें हतथमाय। सााँस अंदय लें औय जैसे ही आऩ सााँस छॊड़ें, अऩनी छाती औय ऩैयों कॊ ज़भीन से उठाएाँ , अऩनी फााँहों कॊ अऩने ऩैयों की ओय फढाएाँ। आऩकी आंखें, उंगललमां औय ऩैय की उंगललमां एक येखा भें हॊनी चाडहए। ऩेट की भांसऩेलशमों क े अनुफंध क े रूऩ भें अऩने नाग्नब क्षेत्र भें तनार्व भहसूस कयें। भुिा फनाए यखते रृए गहयी औय आसानी से सांस लेते यहें। जैसे ही आऩ सााँस छॊड़ते हैं, धीये-धीये जभीन ऩय र्वाऩस आएं औय आयाभ कयें। िाब: नोकासन ऩेट की भांसऩेलशमों कॊ भजफूत कयता है। आंतों कॊ सशि फनाता है। मह ऩाचन यस क े स्रार्व भें सुधाय कयक े ऩाचन कॊ उत्तेलजत कयता है। 6) उष्ट्रासन (क ै भि ऩॊज़): क ै से कयें: अऩने घुटने जभीन ऩे यखें औय हाथों कॊ क ू ल्हों ऩय यखें। आऩक े घुटने क ं धों क े अनुरूऩ हॊने चाडहए औय आऩक े ऩैयों का एकभात्र छत का साभना कयना चाडहए। जैसे ही आऩ श्वास लेते हैं, अऩनी ऩूंछ की हड्डी कॊ ऩबफमों की ओय खींचते हैं जैसे वक नाग्नब से खींचा जा यहा है। इसक े साथ ही अऩनी ऩीठ कॊ आक द कयें औय अऩनी हथेललमों कॊ अऩने ऩैयों क े ऊऩय तफ तक स्लाइड कयें जफ तक वक हतथमाय सीधे न हॊ जाएं। अऩनी गददन कॊ तनार्व मा फ्लेक्स न कयें लेवकन इसे तटस्थ स्थस्थतत भें यखें। एक-दॊ सांसों क े ललए इसी स्थस्थतत भें यहें। सांस छॊड़ें औय धीये-धीये प्रायंग्नबक स्थस्थतत भें र्वाऩस आएं। अऩने हाथों कॊ र्वाऩस लें औय उन्हें अऩने क ू ल्हों तक र्वाऩस लाएं जैसा वक आऩ सीधा कयते हैं। िाब: उष्ट्रासन ऩेट औय आंतों भें खखिंचार्व हॊता है। ऩाचन क े ललए औय कब्ज से याहत डदलाता है। ऩाचन भें सुधाय कयता है। 7) अधडभत्स्येन्द्रासन (लसटींग हाप स्पाइनि विस्ट ऩॊज़): क ै से कयें:
  • 5. ऩैयों कॊ सीधे साभने प ै लाकय फैठें, ऩैय एक साथ यखें औय यीढ खड़ी यहे। फाएं ऩैय कॊ भॊड़ें औय दाएं क ू ल्हे क े फगल भें फाएं ऩैय का उऩचाय कयें (र्वैकस्थल्पक रूऩ से, आऩ फाएं ऩैय कॊ सीधा यख सकते हैं)। दाएं ऩैय कॊ फाएं घुटने क े ऊऩय ले जाएं। फाएं हाथ कॊ दाडहने घुटने ऩय औय दाएं हाथ कॊ अऩने ऩीछे यखें। इस िभ भें कभय, क ं धे औय गददन कॊ भॊड़ें औय दाडहने क ं धे कॊ देखें। यीढ कॊ सीधा यखें। अंदय औय फाहय कॊभल लंफी सांसों क े साथ ऩकड़ॊ औय जायी यखॊ। श्वास फाहय छॊड़ें, ऩहले दाडहने हाथ कॊ छॊड़ें (आऩक े ऩीछे का हाथ), डपय कभय, डपय छाती, अंततभ रूऩ से गददन कॊ छॊड़ें, औय आयाभ से फैठें। दूसयी तयप दॊहयाएं। सांस फाहय छॊड़ें, साभने की ओय आएं, औय आयाभ कयें। िाब: अधदभत्स्येन्द्रासन ऩाचन भें सुधाय कयता है। अधद भत्स्येन्द्रासन ऩाचन क े ललए औय अिाशम क े स्वास्थ्य भें सुधाय कयता है।