SlideShare a Scribd company logo
स्वागत है आपका /आपको
इस chapter में आज हम
पड़ने वाला है …..
अव्यय या अविकारी शब्द
ह िंदी व्याकरण
साति िं
पाठ-14
अव्यय वे शब्द हैं जजनक
े वाक्य में प्रयोग होने पर ललिंग,
वचन, पुरुष, काल, वाच्य आदद क
े कारण इनमें कोई
पररवततन नह िं होता है। इसी कारण इन शब्दों को
‘अववकार ’ भी कहा जाता है। अव्यय क
े चार भेद होते हैं।
1) क्रियाववशेषण
2) सिंबिंधबोधक
3) समुच्चयबोधक
4) ववस्मयाददबोधक
क्रियाविशेषण
जो शब्द क्रिया की ववशेषता बताते हैं, वे क्रियाववशेषण कहलाते हैं।
नीचे ददए गए वाक्यों में धीरे-धीरे शब्द चलने का ढिंग (र तत)
बता रहा है, तो कम शब्द कायत की मात्रा (पररमाण) बता रहा
है। ये शब्द क्रिया की ववशेषता बता रहे हैं। अतः ये
क्रियाववशेषण क
े उदाहरण हैं।
जैसे- अक्षत धीरे-धीरे चल रहा है।
उसने कम खाया।
क्रियाववशेषण क
े चार भेद हैं।
• कालवाचक क्रियाववशेषण
• स्थानवाचक क्रियाववशेषण
• र ततवाचक क्रियाववशेषण
• पररमाणवाचक क्रियाववशेषण
कालिाचक क्रियाविशेषण
जजन क्रियाववशेषण शब्दों से क्रिया क
े काल यानी
समय का पता चले उसे कालवाचक क्रियाववशेषण
कहते हैं; इसका पता लगाने क
े ललए क्रिया क
े साथ
कब लगाकर प्रश्न क्रकया जाता है। कल, परसों, आज,
सदा, जब तक, हमेशा आदद।
जैसे-
1. वह कल आया था।
2. तुम अब जा सकते हो।
3. वह अभी आ रहा है।
4. अिंशु हमेशा सोती रहती है।
स्थानिाचक क्रियाविशेषण
जजस क्रियाववशेषण से क्रिया क
े होने क
े स्थान या
ददशा क
े बारे में पता चले उसे स्थान वाचक
क्रियाववशेषण कहते हैं। इसका पता लगाने क
े ललए
क्रिया क
े साथ कहााँ लगाकर प्रश्न क्रकया जाता है;
दाएाँ, बाएाँ, इधर, उधर, नीचे, ऊपर, पास, दूर आदद।
जैसे- हररयाल चारों ओर फ
ै ल है।
हररयाल कहााँ फ
ै ल है? चारों ओर
1. तुम बाहर बैठो।
2. वह ऊपर बैठा है।
3. तुम वहााँ फल खा रहे थे।
रीततिाचक क्रियाविशेषण
जो शब्द क्रिया क
े होने की र तत या ढिंग(ववधध,तर का) का
बोध कराते हैं, उन्हें र ततवाचक क्रियाववशेषण कहते हैं।
इसका पता लगाने क
े ललए क्रिया क
े साथ क
ै से, क्रकस
तरह या क्रकस प्रकार लगाकर प्रश्न क्रकया जाता है; जैसे-
• घोड़ा तेज़ भाग रहा है।
• कार तेज़ दौड़ती है।
• बैलगाड़ी धीरे-धीरे चलती है।
• र ना जल्द -जल्द पढ़ती है।
• शेर जोर-जोर से दहाड़ रहा था।
• वह मुझे भल - भााँतत जानता है।
पररमाणिाचक क्रियाविशेषण
जजन शब्दों से क्रिया क
े पररमाण (मात्रा) का बोध हो,
उन्हें पररणामवाचक क्रियाववशेषण कहते हैं। इसका
पता लगाने क
े ललए क्रिया क
े साथ क्रकतना, क्रकतनी
या क्रकतने लगाकर प्रश्न क्रकया जाता है; जैसे-
1. उतना खाओ जजतना पचा सको।
2.आज काफी वषात हुई।
3.कम बोलो।
4.अधधक पीओ।
सिंबिंधबोधक
जजन अव्यय शब्दों से सिंज्ञा या सवतनाम का सिंबिंध वाक्य क
े दूसरे
शब्दों से जाना जाता है, वे सिंबिंधबोधक कहलाते हैं। जैसे-
1.मेरे घर क
े सामने एक उद्यान है।
2.घर क
े बाहर बच्चे खेल रहे हैं।
3.पेड़ क
े ऊपर धचडड़या का घोंसला है।
4. धन क
े बबना कोई नह िं पूछता।
5. राजा क
े पीछे चलना चादहए।
6. उसने शेर क
े बच्चे की ओर देखा।
• क
ु छ अन्य सिंबिंधबोधक शब्द – क
े बाहर, क
े मारे, क
े भीतर, की
ओर, क
े सामने, क
े पीछे, की तरह, क
े आगे, क
े ववपर त, की
तरफ आदद।
समुच्चयबोधक
दो शब्दों, वाक्यािंशों या वाक्यों को जोड़ने वाले शब्द
समुच्चयबोधक अथवा योजक कहलाते हैं। जैसे-
1.उसने खूब पररश्रम क्रकया इसललए वह प्रथम आया।
2.रवव और सोहन छठी कक्षा में पढ़ते हैं।
3.गौरव पररश्रमी तो है परिंतु वह बुद्धधमान नह िं है।
4.वपता जी और आयुष बातें कर रहे हैं।
5.तुम अखबार पढ़ोगे या पबत्रका?
• क
ु छ अन्य समुच्चयबोधक शब्द इसललए,लेक्रकन, व, तथा
, तथावप, यद्यवप, क्रक, क्योंक्रक, ताक्रक आदद।
विस्मयाहदबोधक
जो शब्द ववस्मय, हषत, शोक, प्रशिंसा, भय, िोध, दुख आदद मन क
े भावों
को प्रकट करते हैं, वे ववस्मयाददबोधक कहलाते हैं । जैसे-
1.अरे! तुम भी आ गए।
2.वाह! क्या छक्का मारा है।
3.अहा ! क
ै सा मधुर सिंगीत है।
4.ओह! क्रकतना कमजोर है।
5.तछः! क्रकतनी गिंद बात।
6. ठीक है! ठीक है! मैं कल ददल्ल चला जाऊ
ाँ गा।
7. बाप रे! क्रकतना भयानक शेर।
8. खबरदार! जो बबजल की तार को हाथ लगाया।
• क
ु छ अन्य ववस्मयाददबोधक शब्द – बाप रे, हाय, अजी, उफ, हे राम,
आह, शाबाश, काश, हे भगवान, सावधान, खबर आदद।
धन्यवाद

More Related Content

What's hot

हिंदी सर्वनाम
हिंदी सर्वनामहिंदी सर्वनाम
हिंदी सर्वनाम
ashishkv22
 
Vaaky rachna ppt
Vaaky rachna pptVaaky rachna ppt
Vaaky rachna ppt
Jagriti Gupta
 
सर्वनाम P.P.T.pptx
सर्वनाम P.P.T.pptxसर्वनाम P.P.T.pptx
सर्वनाम P.P.T.pptx
TARUNASHARMA57
 
लिंग
लिंगलिंग
लिंग
vijeendracu
 
Sangya
SangyaSangya
Shabd vichar
Shabd vicharShabd vichar
Shabd vichar
amrit1489
 
kaal
kaalkaal
हिंदी व्याकरण
हिंदी व्याकरणहिंदी व्याकरण
हिंदी व्याकरण
Advetya Pillai
 
वचन
वचनवचन
वचन
vijeendracu
 
समास
समाससमास
समास
vivekvsr
 
Sangyaa ppt, संज्ञा की परिभाषा एवंं परिचय
Sangyaa ppt, संज्ञा की परिभाषा एवंं परिचय Sangyaa ppt, संज्ञा की परिभाषा एवंं परिचय
Sangyaa ppt, संज्ञा की परिभाषा एवंं परिचय
VidhulikaShrivastava
 
Hindi Grammar Karak (Case)
Hindi Grammar Karak (Case) Hindi Grammar Karak (Case)
Hindi Grammar Karak (Case)
Mamta Kumari
 
पद परिचय
पद परिचयपद परिचय
पद परिचय
Adityaroy110
 
Vakya bhed hindi
Vakya bhed hindiVakya bhed hindi
Vakya bhed hindi
swatiwaje
 
समास
समाससमास
समास
ADITYA PROJECT WORK
 
Pronouns
PronounsPronouns
Pronouns
mumthazmaharoof
 
Adjectives HINDI
Adjectives HINDIAdjectives HINDI
Adjectives HINDI
Somya Tyagi
 
पद परिचय
पद परिचयपद परिचय
पद परिचय
Mahip Singh
 
ppt on visheshan
ppt on visheshanppt on visheshan
ppt on visheshan
Tanmay Kataria
 

What's hot (20)

हिंदी सर्वनाम
हिंदी सर्वनामहिंदी सर्वनाम
हिंदी सर्वनाम
 
Vaaky rachna ppt
Vaaky rachna pptVaaky rachna ppt
Vaaky rachna ppt
 
सर्वनाम P.P.T.pptx
सर्वनाम P.P.T.pptxसर्वनाम P.P.T.pptx
सर्वनाम P.P.T.pptx
 
लिंग
लिंगलिंग
लिंग
 
Sangya
SangyaSangya
Sangya
 
Shabd vichar
Shabd vicharShabd vichar
Shabd vichar
 
kaal
kaalkaal
kaal
 
हिंदी व्याकरण
हिंदी व्याकरणहिंदी व्याकरण
हिंदी व्याकरण
 
वचन
वचनवचन
वचन
 
समास
समाससमास
समास
 
Sangyaa ppt, संज्ञा की परिभाषा एवंं परिचय
Sangyaa ppt, संज्ञा की परिभाषा एवंं परिचय Sangyaa ppt, संज्ञा की परिभाषा एवंं परिचय
Sangyaa ppt, संज्ञा की परिभाषा एवंं परिचय
 
Hindi Grammar Karak (Case)
Hindi Grammar Karak (Case) Hindi Grammar Karak (Case)
Hindi Grammar Karak (Case)
 
पद परिचय
पद परिचयपद परिचय
पद परिचय
 
Vakya bhed hindi
Vakya bhed hindiVakya bhed hindi
Vakya bhed hindi
 
समास
समाससमास
समास
 
samas
samassamas
samas
 
Pronouns
PronounsPronouns
Pronouns
 
Adjectives HINDI
Adjectives HINDIAdjectives HINDI
Adjectives HINDI
 
पद परिचय
पद परिचयपद परिचय
पद परिचय
 
ppt on visheshan
ppt on visheshanppt on visheshan
ppt on visheshan
 

Similar to G 7-hin-v14-अव्यय (अविकारी) शब्द

hindi-141005233719-conversion-gate02.pdf
hindi-141005233719-conversion-gate02.pdfhindi-141005233719-conversion-gate02.pdf
hindi-141005233719-conversion-gate02.pdf
ShikharMisra4
 
Gunsthan 1 - 2
Gunsthan 1 - 2Gunsthan 1 - 2
Gunsthan 1 - 2
Jainkosh
 
Syadwad-Anekantwad
Syadwad-AnekantwadSyadwad-Anekantwad
Syadwad-Anekantwad
Banaras Hindu University
 
वाच्य कक्षा दसवीं
वाच्य कक्षा  दसवींवाच्य कक्षा  दसवीं
वाच्य कक्षा दसवीं
ManasviAvathe
 
Sanskrit chhand
Sanskrit chhandSanskrit chhand
Sanskrit chhand
Neelam Sharma
 
FINAL PPT SAMAS.pptx 2021-2022.pptx
FINAL PPT SAMAS.pptx 2021-2022.pptxFINAL PPT SAMAS.pptx 2021-2022.pptx
FINAL PPT SAMAS.pptx 2021-2022.pptx
sarthak937441
 
Power point Presentation on (samas).pptx
Power point Presentation on (samas).pptxPower point Presentation on (samas).pptx
Power point Presentation on (samas).pptx
aditimishra11sep
 
CTET Hindi Pedagogy related to Hindi language Education
CTET Hindi Pedagogy related to Hindi language EducationCTET Hindi Pedagogy related to Hindi language Education
CTET Hindi Pedagogy related to Hindi language Education
SavitaShinde5
 
ppt पद परिचय (1).pptx.............mmmmm..
ppt पद परिचय (1).pptx.............mmmmm..ppt पद परिचय (1).pptx.............mmmmm..
ppt पद परिचय (1).pptx.............mmmmm..
arjunachu4338
 
SK Mishra, SRG, AP 9059037899
SK Mishra, SRG, AP 9059037899SK Mishra, SRG, AP 9059037899
SK Mishra, SRG, AP 9059037899
rocky0987
 
kriya vishesharn hindi or adverbs
kriya vishesharn hindi or adverbs kriya vishesharn hindi or adverbs
kriya vishesharn hindi or adverbs
ARJUN RASTOGI
 
हिन्दी व्याकरण Class 10
हिन्दी व्याकरण Class 10हिन्दी व्याकरण Class 10
हिन्दी व्याकरण Class 10
Chintan Patel
 
हिन्दी व्याकरण
हिन्दी व्याकरणहिन्दी व्याकरण
हिन्दी व्याकरण
Chintan Patel
 
समास पीपीटी 2.pptx
समास पीपीटी 2.pptxसमास पीपीटी 2.pptx
समास पीपीटी 2.pptx
krissh304
 
PPt on Ras Hindi grammer
PPt on Ras Hindi grammer PPt on Ras Hindi grammer
PPt on Ras Hindi grammer
amarpraveen400
 
मंज़िल कहाँ
मंज़िल कहाँमंज़िल कहाँ
मंज़िल कहाँ
Balaji Sharma
 
वाच्य की परिभाषा (1).pptx
वाच्य की परिभाषा (1).pptxवाच्य की परिभाषा (1).pptx
वाच्य की परिभाषा (1).pptx
saurabhSahrawat
 
केंद्रीय विद्यालय
केंद्रीय विद्यालयकेंद्रीय विद्यालय
केंद्रीय विद्यालय
Divyansh1999
 
Sangya v sangya ke vikarak tatv
Sangya v sangya ke vikarak tatvSangya v sangya ke vikarak tatv
Sangya v sangya ke vikarak tatv
Rajeev Kapoor
 
Hindi class ii
Hindi class iiHindi class ii
Hindi class ii
Suphia Sultana
 

Similar to G 7-hin-v14-अव्यय (अविकारी) शब्द (20)

hindi-141005233719-conversion-gate02.pdf
hindi-141005233719-conversion-gate02.pdfhindi-141005233719-conversion-gate02.pdf
hindi-141005233719-conversion-gate02.pdf
 
Gunsthan 1 - 2
Gunsthan 1 - 2Gunsthan 1 - 2
Gunsthan 1 - 2
 
Syadwad-Anekantwad
Syadwad-AnekantwadSyadwad-Anekantwad
Syadwad-Anekantwad
 
वाच्य कक्षा दसवीं
वाच्य कक्षा  दसवींवाच्य कक्षा  दसवीं
वाच्य कक्षा दसवीं
 
Sanskrit chhand
Sanskrit chhandSanskrit chhand
Sanskrit chhand
 
FINAL PPT SAMAS.pptx 2021-2022.pptx
FINAL PPT SAMAS.pptx 2021-2022.pptxFINAL PPT SAMAS.pptx 2021-2022.pptx
FINAL PPT SAMAS.pptx 2021-2022.pptx
 
Power point Presentation on (samas).pptx
Power point Presentation on (samas).pptxPower point Presentation on (samas).pptx
Power point Presentation on (samas).pptx
 
CTET Hindi Pedagogy related to Hindi language Education
CTET Hindi Pedagogy related to Hindi language EducationCTET Hindi Pedagogy related to Hindi language Education
CTET Hindi Pedagogy related to Hindi language Education
 
ppt पद परिचय (1).pptx.............mmmmm..
ppt पद परिचय (1).pptx.............mmmmm..ppt पद परिचय (1).pptx.............mmmmm..
ppt पद परिचय (1).pptx.............mmmmm..
 
SK Mishra, SRG, AP 9059037899
SK Mishra, SRG, AP 9059037899SK Mishra, SRG, AP 9059037899
SK Mishra, SRG, AP 9059037899
 
kriya vishesharn hindi or adverbs
kriya vishesharn hindi or adverbs kriya vishesharn hindi or adverbs
kriya vishesharn hindi or adverbs
 
हिन्दी व्याकरण Class 10
हिन्दी व्याकरण Class 10हिन्दी व्याकरण Class 10
हिन्दी व्याकरण Class 10
 
हिन्दी व्याकरण
हिन्दी व्याकरणहिन्दी व्याकरण
हिन्दी व्याकरण
 
समास पीपीटी 2.pptx
समास पीपीटी 2.pptxसमास पीपीटी 2.pptx
समास पीपीटी 2.pptx
 
PPt on Ras Hindi grammer
PPt on Ras Hindi grammer PPt on Ras Hindi grammer
PPt on Ras Hindi grammer
 
मंज़िल कहाँ
मंज़िल कहाँमंज़िल कहाँ
मंज़िल कहाँ
 
वाच्य की परिभाषा (1).pptx
वाच्य की परिभाषा (1).pptxवाच्य की परिभाषा (1).pptx
वाच्य की परिभाषा (1).pptx
 
केंद्रीय विद्यालय
केंद्रीय विद्यालयकेंद्रीय विद्यालय
केंद्रीय विद्यालय
 
Sangya v sangya ke vikarak tatv
Sangya v sangya ke vikarak tatvSangya v sangya ke vikarak tatv
Sangya v sangya ke vikarak tatv
 
Hindi class ii
Hindi class iiHindi class ii
Hindi class ii
 

More from IshaniBhagat6C

Soil
Soil Soil
Transportation in animals and plants ch 11
Transportation in animals and plants ch 11Transportation in animals and plants ch 11
Transportation in animals and plants ch 11
IshaniBhagat6C
 
Wastewater story part 1
Wastewater story part 1Wastewater story part 1
Wastewater story part 1
IshaniBhagat6C
 
Light
LightLight
Pratyay
PratyayPratyay
Reproduction in plants
Reproduction in plantsReproduction in plants
Reproduction in plants
IshaniBhagat6C
 
Respiration in organism
Respiration in organism Respiration in organism
Respiration in organism
IshaniBhagat6C
 
Upasarg
UpasargUpasarg
Waste water treatment plant (wwtp)
Waste water treatment plant (wwtp) Waste water treatment plant (wwtp)
Waste water treatment plant (wwtp)
IshaniBhagat6C
 
चित्रवर्णन (हिन्दी)
चित्रवर्णन (हिन्दी)चित्रवर्णन (हिन्दी)
चित्रवर्णन (हिन्दी)
IshaniBhagat6C
 
How to be an active citizen!
How to be an active citizen!How to be an active citizen!
How to be an active citizen!
IshaniBhagat6C
 
G 7-hin-v-संवाद लेखन
G 7-hin-v-संवाद लेखनG 7-hin-v-संवाद लेखन
G 7-hin-v-संवाद लेखन
IshaniBhagat6C
 
Badminton player on bio of Ashwini ponnappa
Badminton player on bio of Ashwini ponnappaBadminton player on bio of Ashwini ponnappa
Badminton player on bio of Ashwini ponnappa
IshaniBhagat6C
 
11 लघुकथा लेखन class 7 vakran
11 लघुकथा लेखन class 7 vakran 11 लघुकथा लेखन class 7 vakran
11 लघुकथा लेखन class 7 vakran
IshaniBhagat6C
 

More from IshaniBhagat6C (14)

Soil
Soil Soil
Soil
 
Transportation in animals and plants ch 11
Transportation in animals and plants ch 11Transportation in animals and plants ch 11
Transportation in animals and plants ch 11
 
Wastewater story part 1
Wastewater story part 1Wastewater story part 1
Wastewater story part 1
 
Light
LightLight
Light
 
Pratyay
PratyayPratyay
Pratyay
 
Reproduction in plants
Reproduction in plantsReproduction in plants
Reproduction in plants
 
Respiration in organism
Respiration in organism Respiration in organism
Respiration in organism
 
Upasarg
UpasargUpasarg
Upasarg
 
Waste water treatment plant (wwtp)
Waste water treatment plant (wwtp) Waste water treatment plant (wwtp)
Waste water treatment plant (wwtp)
 
चित्रवर्णन (हिन्दी)
चित्रवर्णन (हिन्दी)चित्रवर्णन (हिन्दी)
चित्रवर्णन (हिन्दी)
 
How to be an active citizen!
How to be an active citizen!How to be an active citizen!
How to be an active citizen!
 
G 7-hin-v-संवाद लेखन
G 7-hin-v-संवाद लेखनG 7-hin-v-संवाद लेखन
G 7-hin-v-संवाद लेखन
 
Badminton player on bio of Ashwini ponnappa
Badminton player on bio of Ashwini ponnappaBadminton player on bio of Ashwini ponnappa
Badminton player on bio of Ashwini ponnappa
 
11 लघुकथा लेखन class 7 vakran
11 लघुकथा लेखन class 7 vakran 11 लघुकथा लेखन class 7 vakran
11 लघुकथा लेखन class 7 vakran
 

G 7-hin-v14-अव्यय (अविकारी) शब्द

  • 1. स्वागत है आपका /आपको इस chapter में आज हम पड़ने वाला है …..
  • 2. अव्यय या अविकारी शब्द ह िंदी व्याकरण साति िं पाठ-14
  • 3. अव्यय वे शब्द हैं जजनक े वाक्य में प्रयोग होने पर ललिंग, वचन, पुरुष, काल, वाच्य आदद क े कारण इनमें कोई पररवततन नह िं होता है। इसी कारण इन शब्दों को ‘अववकार ’ भी कहा जाता है। अव्यय क े चार भेद होते हैं। 1) क्रियाववशेषण 2) सिंबिंधबोधक 3) समुच्चयबोधक 4) ववस्मयाददबोधक
  • 4. क्रियाविशेषण जो शब्द क्रिया की ववशेषता बताते हैं, वे क्रियाववशेषण कहलाते हैं। नीचे ददए गए वाक्यों में धीरे-धीरे शब्द चलने का ढिंग (र तत) बता रहा है, तो कम शब्द कायत की मात्रा (पररमाण) बता रहा है। ये शब्द क्रिया की ववशेषता बता रहे हैं। अतः ये क्रियाववशेषण क े उदाहरण हैं। जैसे- अक्षत धीरे-धीरे चल रहा है। उसने कम खाया। क्रियाववशेषण क े चार भेद हैं। • कालवाचक क्रियाववशेषण • स्थानवाचक क्रियाववशेषण • र ततवाचक क्रियाववशेषण • पररमाणवाचक क्रियाववशेषण
  • 5. कालिाचक क्रियाविशेषण जजन क्रियाववशेषण शब्दों से क्रिया क े काल यानी समय का पता चले उसे कालवाचक क्रियाववशेषण कहते हैं; इसका पता लगाने क े ललए क्रिया क े साथ कब लगाकर प्रश्न क्रकया जाता है। कल, परसों, आज, सदा, जब तक, हमेशा आदद। जैसे- 1. वह कल आया था। 2. तुम अब जा सकते हो। 3. वह अभी आ रहा है। 4. अिंशु हमेशा सोती रहती है।
  • 6. स्थानिाचक क्रियाविशेषण जजस क्रियाववशेषण से क्रिया क े होने क े स्थान या ददशा क े बारे में पता चले उसे स्थान वाचक क्रियाववशेषण कहते हैं। इसका पता लगाने क े ललए क्रिया क े साथ कहााँ लगाकर प्रश्न क्रकया जाता है; दाएाँ, बाएाँ, इधर, उधर, नीचे, ऊपर, पास, दूर आदद। जैसे- हररयाल चारों ओर फ ै ल है। हररयाल कहााँ फ ै ल है? चारों ओर 1. तुम बाहर बैठो। 2. वह ऊपर बैठा है। 3. तुम वहााँ फल खा रहे थे।
  • 7. रीततिाचक क्रियाविशेषण जो शब्द क्रिया क े होने की र तत या ढिंग(ववधध,तर का) का बोध कराते हैं, उन्हें र ततवाचक क्रियाववशेषण कहते हैं। इसका पता लगाने क े ललए क्रिया क े साथ क ै से, क्रकस तरह या क्रकस प्रकार लगाकर प्रश्न क्रकया जाता है; जैसे- • घोड़ा तेज़ भाग रहा है। • कार तेज़ दौड़ती है। • बैलगाड़ी धीरे-धीरे चलती है। • र ना जल्द -जल्द पढ़ती है। • शेर जोर-जोर से दहाड़ रहा था। • वह मुझे भल - भााँतत जानता है।
  • 8. पररमाणिाचक क्रियाविशेषण जजन शब्दों से क्रिया क े पररमाण (मात्रा) का बोध हो, उन्हें पररणामवाचक क्रियाववशेषण कहते हैं। इसका पता लगाने क े ललए क्रिया क े साथ क्रकतना, क्रकतनी या क्रकतने लगाकर प्रश्न क्रकया जाता है; जैसे- 1. उतना खाओ जजतना पचा सको। 2.आज काफी वषात हुई। 3.कम बोलो। 4.अधधक पीओ।
  • 9. सिंबिंधबोधक जजन अव्यय शब्दों से सिंज्ञा या सवतनाम का सिंबिंध वाक्य क े दूसरे शब्दों से जाना जाता है, वे सिंबिंधबोधक कहलाते हैं। जैसे- 1.मेरे घर क े सामने एक उद्यान है। 2.घर क े बाहर बच्चे खेल रहे हैं। 3.पेड़ क े ऊपर धचडड़या का घोंसला है। 4. धन क े बबना कोई नह िं पूछता। 5. राजा क े पीछे चलना चादहए। 6. उसने शेर क े बच्चे की ओर देखा। • क ु छ अन्य सिंबिंधबोधक शब्द – क े बाहर, क े मारे, क े भीतर, की ओर, क े सामने, क े पीछे, की तरह, क े आगे, क े ववपर त, की तरफ आदद।
  • 10. समुच्चयबोधक दो शब्दों, वाक्यािंशों या वाक्यों को जोड़ने वाले शब्द समुच्चयबोधक अथवा योजक कहलाते हैं। जैसे- 1.उसने खूब पररश्रम क्रकया इसललए वह प्रथम आया। 2.रवव और सोहन छठी कक्षा में पढ़ते हैं। 3.गौरव पररश्रमी तो है परिंतु वह बुद्धधमान नह िं है। 4.वपता जी और आयुष बातें कर रहे हैं। 5.तुम अखबार पढ़ोगे या पबत्रका? • क ु छ अन्य समुच्चयबोधक शब्द इसललए,लेक्रकन, व, तथा , तथावप, यद्यवप, क्रक, क्योंक्रक, ताक्रक आदद।
  • 11. विस्मयाहदबोधक जो शब्द ववस्मय, हषत, शोक, प्रशिंसा, भय, िोध, दुख आदद मन क े भावों को प्रकट करते हैं, वे ववस्मयाददबोधक कहलाते हैं । जैसे- 1.अरे! तुम भी आ गए। 2.वाह! क्या छक्का मारा है। 3.अहा ! क ै सा मधुर सिंगीत है। 4.ओह! क्रकतना कमजोर है। 5.तछः! क्रकतनी गिंद बात। 6. ठीक है! ठीक है! मैं कल ददल्ल चला जाऊ ाँ गा। 7. बाप रे! क्रकतना भयानक शेर। 8. खबरदार! जो बबजल की तार को हाथ लगाया। • क ु छ अन्य ववस्मयाददबोधक शब्द – बाप रे, हाय, अजी, उफ, हे राम, आह, शाबाश, काश, हे भगवान, सावधान, खबर आदद।

Editor's Notes

  1. विष्णु दत्त मिश्र
  2. विष्णु दत्त मिश्र
  3. विष्णु दत्त मिश्र
  4. विष्णु दत्त मिश्र
  5. विष्णु दत्त मिश्र
  6. विष्णु दत्त मिश्र
  7. विष्णु दत्त मिश्र
  8. विष्णु दत्त मिश्र
  9. विष्णु दत्त मिश्र
  10. विष्णु दत्त मिश्र
  11. विष्णु दत्त मिश्र