SlideShare a Scribd company logo
1 of 1
Download to read offline
पॉलीकाप् को इगानाटि
का पत
अधाट 1
1 इग्नाटि, नििे निटोफोरि भी कह् ि्त् है, स्म्र क
े चचर क
े निशप
पॉलीक्पर को; उमक् पटरयेेक, िस् सटव परमेशर नपत् और पभर टीशर
मिीह द्र् अमदेख् नकट् गट्: ि्री खरनशट्ँ।
2 और टह ि्मकर नक तेर् मम परमेशर की ओर म्मो अाल चट्म पर
स्र है; मै अतवत धनय्द देत् हव, नक मै तेरे धन मरख को देखमे क
े टोग
िमझ् गट्, निििे मै परमेशर क
े क्रण ियरद् आमस्त रहव।
3 इिनलटे परमेशर क
े अमरगह क
े द्र् िो तू पनहमे हु है, मै तरझ िे निमती
करत् हव, नक तू अपमे म्गर मे आगे िढत् रहे, और िि को उपदेश दे, नक ये
उद्र प्ुव ।
4 शरीर और आत् दोमोव की पूरी नचन् करक
े अपम् ््म िम्ु रखो;
ुकत् िम्ु रखमे क् टत करो, निि िे िढकर क
र छ महीव। िैिे पभर तरम्रे
ि्ि है, यैिे ही िि ममरषोव की िह लो।
5 िैिे तू भी पेम िे िि की िह्टत् करत् है। निम् रक
े प्िरम् करे: िो
आपक
े प्ि पहले िे है उििे अनधक िमझ म्वगे। अपमी आत् को िदैय
ि्गृत रखते हु ि्यध्म रहो।
6 निि पक्र परमेशर तरझे आज् दे, उिी क
े अमरि्र हर ुक िे ि्ते
करम्। ुक आदशर टोद् की तरह, िभी की दरिरलत्ओव को िहम करे; िह्ँ
पररशम अनधक है, ल्भ भी उतम् ही अनधक है।
7 टनद तू अचे चेलोव िे पेम करेग्, तो इिमे धनय्द नकि ि्त क्? परनर
िो शर्रती है, उने ममत् िे अपमे यश मे करो।
8 हर घ्य ुक ही लेप िे ठीक महीव होत्; टनद रोग क् पकोप तीव हो, तो
उिे हलक
े उपच्र िे ठीक करो; िि ि्तोव मे िपर क
े िम्म िरसदम्म िमो,
परनर किूतर क
े िम्म ह्नमरनहत िमो।
9 इिी क्रण तू शरीर और आत् िे िम् है; त्नक तू उम चीजोव को िदल
िक
े िो तेरे ि्ममे आती है।
10 और िो अदृ है, उम क
े नयषट मे परमेशर िे प्िरम् करो, नक यह उने
तरम पर पगा कर दे, नक तरमे नकिी ि्त की घाी म हो, परनर हर ुक
यरद्म मे िहत्टत हो।
11 िैिे पयम क
े चल्मेय्लोवको िमट तरझ िे म्वग करत् है; और िो आँधी मे
फ
े क नदट् ि्ुग्, यही आशट है; नक तू ईशर को प्र कर िक
े ।
12 परमेशर क
े टोद् क
े िम्म िचेत रहो; िो मरक
र ा तरमे नदट् गट् है यह
अमरत् और अमन िीयम है; नििक
े नयषट मे आप भी पूरी तरह आश्
है। मै िि य्रओव मे, और अपमे िनमोव मे, निम िे तू मे पेम रख् है, तेर्
िम्मतद्र िमूवग्।
13 िो लोग शेट क
े टोग ि्म पडते है, परनर पर्ई नशे्ुव निख्ते है, ये
तरमे परेश्म म करे। िि नकिी पर पह्र नकट् ि्ु तो नमह्ई की तरह दढ
और अचल खडे रहे।
14 टह ुक िह्दरर लड्क
े क् नहस् है िो घ्टल हो ि्त् है और नफर भी
िीत ि्त् है। परनर नयशेष करक
े हमे परमेशर क
े नलटे िि क
र छ िहम्
च्नहु, नक यह हमे िह िक
े ।
15 हर ुक नदम को दू िरे िे उतम िम्ओ; िमटोव पर नयच्र करो; और
उिकी आश् करो, िो हर िमट िे ऊपर है, श्शत है, अदृ है, टदनप
हम्रे नलु दृम्म िम्ट् गट् है: अभेद, और अगम, नफर भी हम्रे नलु
कषोव क
े अधीम है; हम्रे उद्र क
े नलु िभी पक्र क
े तरीकोव को िहम
करम्।
अधाट दो
1 नयधय्ओव को तरच म ि्म् ि्ु; तू उमक
े िवरेक परमेशर क
े पीछे हो ले।
2 तेरी ि्मक्री और िमनत क
े निम् कोई क्म म नकट् ि्ु; म तो तरम
परमेशर की इच् क
े अमरि्र क
र छ करते हो; िैि् नक आप भी करते है, पूरी
दढत् क
े ि्ि।
3 तरम्री िभ्ुव भरी रहे: िि िे म्म ले लेकर पूछत्छ करो।
4 द्िोवऔर द्निटोवको म देखम्; म तो ये फ
ू ले, परनर ये परमेशर की मनहम्
क
े अनधक आधीम रहे, नक ये उि िे अची सतवतत् प्ुव ।
5 ये ि्यरिनमक कीमत पर सतवत होमे की इच् म करे, और अपमी ही
अनभल्ष्ओव क
े द्ि म िमे।
6 िररी कल्ओव िे दू र भ्गो; ट् िस्, उमक् कोई उलेख म करे।
7 मेरी िनहमोव िे कह, नक ये टहोय् िे पेम रखती है; और शरीर और आत्
दोमोव िे अपमे अपमे पनतटोव िे िवतरष रहे।
8 इिी पक्र, टीशर मिीह क
े म्म पर मेरे भ्इटोव िे आगह करो, नक ये
अपमी पनतटोव िे, चचर क
े पभर क
े िम्म पेम रखे।
9 टनद कोई मिीह क
े शरीर क
े आदर क
े नलटे क
र य्वरी अय्् मे रह िक
े , तो
यह घमवड म करे; परनर टनद यह घमण करत् है, तो उिक् ित्म्श हो
ि्त् है। और टनद यह निशप िे अनधक ध्म आकनषरत करमे की इच्
रखत् है तो यह भष है।
10 परनर च्हे पररष होव ट् स्ट्व, िभी नयय्नहतोव को निशप की िहमनत िे
ुक ि्ि आम् आयृक है, त्नक उमक् नयय्ह भस् क
े अमरि्र हो, म
नक य्िम् क
े अमरि्र।
11 िि क्म परमेशर क
े आदर क
े नलटे नकट् ि्ु।
12 निशप की िरमो, नक परमेशर भी तरम्री िरम िक
े । मेरी आत् उमक
े नलु
िररे् हो िो अपमे निशप, अपमे पेसेािर और डीकमोव क
े पनत िमपरण
करते है। और परमेशर मे मेर् भ्ग उम क
े िर्िर हो।
13 ुक दू िरे िे पररशम करो; ुक ि्ि िवघषर करे, ुक ि्ि दौडे, ुक ि्ि
कष िहे; ुक ि्ि िोुव और ुक ि्ि उठे; भण्री, और मूल्वकमकत्र,
और परमेशर क
े िेयकोव क
े रप मे।
14 निि क
े अधीम होकर तरम टरद करते हो, और निि िे तरम अपमी मिदू री
प्ते हो, उिे पिर करो। तरम मे िे कोई भी भगोड् म प्ट् ि्ु; परनर
तरम्र् िपनत्् तरम्री भरि्ओव क
े िम्म िम् रहे; आपक् नयश्ि,
आपक
े हेलमेा क
े रप मे; तेर् द्म, तेरे भ्ले क
े िम्म; आपक् धैटर,
आपक
े िवपूणर कयच क
े रप मे।
15 अपमे क्म को अपम् अभ्ज ठहर्ओ, नक तरम उनचत पनतफल प्ओ।
इिनलटे ुक दू िरे क
े पनत ममत् िे धीरि रखो: िैिे परमेश्‍
यर तरम्रे पनत
है।
16 मरझे िि ि्तोव मे तरम्रे क्रण आमस्त होमे दो।
अधाट 3
1 अि िीररट् मे अन्नकट् की कलीनिट्, िैि् मरझे ित्ट् गट् है, तरम्री
प्िरम्ओव क
े द्र् है; मरझे भी ईशर मे अनधक ि्वतम् नमली है और कोई
परय्ह महीव है; टनद ऐि् है तो कष िहकर मै ईशर को प्र कर लूवग्; नक
तेरी प्िरम्ओव क
े द्र् मै मिीह क् नशष िमूव।
2 टह िहत उनचत होग्, हे िििे टोग पॉलीक्पर, ुक चरनमवद् पररषद को
िरल्ुव , और नकिी ऐिे वस् को चरमे नििे आप नयशेष रप िे प्र करते है,
और िो पिय क
े नलु धैटरय्म है; नक यह परमेशर क् दू त हो; और िीररट्
ि्कर, यह मिीह की ्रनत क
े नलु तरम्रे नमरवतर पेम की मनहम् करेग्।
3 ुक ईि्ई क
े प्ि सटव की शस् महीव है: लेनकम उिे हमेश् भगय्म की
िेय् क
े नलु फ
र िरत मे रहम् च्नहु। अि टह क्म परमेशर क् और तरम्र्
भी है: िि तरम इिे पूर् करोगे।
4 कोवनक परमेशर क
े अमरगह क
े क्रण मै मे भरोि् रख् है, नक तरम पभर मे
तरम्रे नलटे िि अचे क्म करमे को तैट्र हो।
5 इिनलटे ित क
े पनत तेरी गहरी पीनत ि्मकर मै मे इम छोाे पतोव क
े द्र्
तरझे उपदेश नदट् है।
6 परनर मै िि कलीनिट्ओवको इिनलटे महीव नलख िक्, नक मरझे अच्मक
तोआि िे मेपरनलि तक िह्ि िे ि्म् होग्; कोवनक निमकी इच् क
े मै
अधीम हव, उमकी टही आज् है; क् तरम अपमे नमका की कलीनिट्ओव को
परमेशर की इच् क
े अमरि्र नशे् प्कर नलखते हो, नक ये भी यैि् ही
करे।
7 िो िमिर होव ये दू त भेिे; और ि्की लोग अपमे भेिे हु लोगोव क
े ह्ि िे
अपमी नचन्ट्व भेिे, निि िे तू अमन क्ल तक मनहम् प्त् रहे, नििक
े तू
टोग है।
8 मै म्म लेकर िि को ममस्र करत् हव, नयशेषकर ुनपा्ोपि की पती को,
उिक
े ि्रे घर्मे और ि्लकोव िमेत। मै अपमे परम नपट अा्लरि को
ममस्र करत् हँ।
9 िो तरम िीररट् मे भेिमे क
े टोग िमझोगे, उिे मै ममस्र करत् हव।
अमरगह िदैय उिक
े ि्ि रहे, और पॉलीक्पर क
े ि्ि िो उिे भेित् है।
10 मै च्हत् हव नक हम्रे परमेशर टीशर मिीह मे तरम िि िरखी रहो; नििमे
ईशर की ुकत् और िररे् िमी रहे।
11 मै अपमे नपट ऐनलि को ममस्र करत् हव। पभर मे नयद्ई.

More Related Content

Similar to Hindi - The Epistle of Ignatius to Polycarp.pdf

नया नियम यात्रा - 16 1 Timothy v. 2
नया नियम यात्रा - 16 1 Timothy v. 2नया नियम यात्रा - 16 1 Timothy v. 2
नया नियम यात्रा - 16 1 Timothy v. 2Dr. Bella Pillai
 
1 Timothy Hindi 1 तीमुथियुस - लड़ने योग्य
1 Timothy Hindi 1 तीमुथियुस - लड़ने योग्य1 Timothy Hindi 1 तीमुथियुस - लड़ने योग्य
1 Timothy Hindi 1 तीमुथियुस - लड़ने योग्यDr. Bella Pillai
 
Romans Hindi-रोमियो - जीवन परिवर्तन यात्रा
Romans Hindi-रोमियो - जीवन परिवर्तन यात्राRomans Hindi-रोमियो - जीवन परिवर्तन यात्रा
Romans Hindi-रोमियो - जीवन परिवर्तन यात्राDr. Bella Pillai
 
नया नियम यात्रा - 7 Romans v. 2
नया नियम यात्रा - 7 Romans v. 2नया नियम यात्रा - 7 Romans v. 2
नया नियम यात्रा - 7 Romans v. 2Dr. Bella Pillai
 
2 Biblical view and purity of sex
2 Biblical view and purity of sex2 Biblical view and purity of sex
2 Biblical view and purity of sexVidya Sagar
 

Similar to Hindi - The Epistle of Ignatius to Polycarp.pdf (20)

The Book of the Prophet Habakkuk-Hindi.pdf
The Book of the Prophet Habakkuk-Hindi.pdfThe Book of the Prophet Habakkuk-Hindi.pdf
The Book of the Prophet Habakkuk-Hindi.pdf
 
Bhojpuri - Titus.pdf
Bhojpuri - Titus.pdfBhojpuri - Titus.pdf
Bhojpuri - Titus.pdf
 
नया नियम यात्रा - 16 1 Timothy v. 2
नया नियम यात्रा - 16 1 Timothy v. 2नया नियम यात्रा - 16 1 Timothy v. 2
नया नियम यात्रा - 16 1 Timothy v. 2
 
Bhojpuri - The Protevangelion.pdf
Bhojpuri - The Protevangelion.pdfBhojpuri - The Protevangelion.pdf
Bhojpuri - The Protevangelion.pdf
 
1 Timothy Hindi 1 तीमुथियुस - लड़ने योग्य
1 Timothy Hindi 1 तीमुथियुस - लड़ने योग्य1 Timothy Hindi 1 तीमुथियुस - लड़ने योग्य
1 Timothy Hindi 1 तीमुथियुस - लड़ने योग्य
 
Hindi - The Protevangelion.pdf
Hindi - The Protevangelion.pdfHindi - The Protevangelion.pdf
Hindi - The Protevangelion.pdf
 
Sanskrit - Second and Third John.pdf
Sanskrit - Second and Third John.pdfSanskrit - Second and Third John.pdf
Sanskrit - Second and Third John.pdf
 
Hindi - The Gospel of the Birth of Mary.pdf
Hindi - The Gospel of the Birth of Mary.pdfHindi - The Gospel of the Birth of Mary.pdf
Hindi - The Gospel of the Birth of Mary.pdf
 
Romans Hindi-रोमियो - जीवन परिवर्तन यात्रा
Romans Hindi-रोमियो - जीवन परिवर्तन यात्राRomans Hindi-रोमियो - जीवन परिवर्तन यात्रा
Romans Hindi-रोमियो - जीवन परिवर्तन यात्रा
 
Bhojpuri - Wisdom of Solomon.pdf
Bhojpuri - Wisdom of Solomon.pdfBhojpuri - Wisdom of Solomon.pdf
Bhojpuri - Wisdom of Solomon.pdf
 
नया नियम यात्रा - 7 Romans v. 2
नया नियम यात्रा - 7 Romans v. 2नया नियम यात्रा - 7 Romans v. 2
नया नियम यात्रा - 7 Romans v. 2
 
Bhojpuri - Prayer of Manasseh.pdf
Bhojpuri - Prayer of Manasseh.pdfBhojpuri - Prayer of Manasseh.pdf
Bhojpuri - Prayer of Manasseh.pdf
 
Maithili - Second and Third John.pdf
Maithili - Second and Third John.pdfMaithili - Second and Third John.pdf
Maithili - Second and Third John.pdf
 
Konkani - The Epistle of Ignatius to Polycarp.pdf
Konkani - The Epistle of Ignatius to Polycarp.pdfKonkani - The Epistle of Ignatius to Polycarp.pdf
Konkani - The Epistle of Ignatius to Polycarp.pdf
 
Maithili - The Book of the Prophet Nahum.pdf
Maithili - The Book of the Prophet Nahum.pdfMaithili - The Book of the Prophet Nahum.pdf
Maithili - The Book of the Prophet Nahum.pdf
 
Marathi - The Epistle of Ignatius to Polycarp.pdf
Marathi - The Epistle of Ignatius to Polycarp.pdfMarathi - The Epistle of Ignatius to Polycarp.pdf
Marathi - The Epistle of Ignatius to Polycarp.pdf
 
Maithili - Testament of Benjamin.pdf
Maithili - Testament of Benjamin.pdfMaithili - Testament of Benjamin.pdf
Maithili - Testament of Benjamin.pdf
 
Hindi - Second and Third John.pdf
Hindi -  Second and Third John.pdfHindi -  Second and Third John.pdf
Hindi - Second and Third John.pdf
 
Maithili - Book of Baruch.pdf
Maithili - Book of Baruch.pdfMaithili - Book of Baruch.pdf
Maithili - Book of Baruch.pdf
 
2 Biblical view and purity of sex
2 Biblical view and purity of sex2 Biblical view and purity of sex
2 Biblical view and purity of sex
 

More from Filipino Tracts and Literature Society Inc.

Punjabi Gurmukhi Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
Punjabi Gurmukhi Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptxPunjabi Gurmukhi Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
Punjabi Gurmukhi Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptxFilipino Tracts and Literature Society Inc.
 

More from Filipino Tracts and Literature Society Inc. (20)

Yiddish - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdf
Yiddish - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdfYiddish - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdf
Yiddish - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdf
 
Quechua Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
Quechua Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptxQuechua Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
Quechua Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
 
Italian - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Italian - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdfItalian - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Italian - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
 
Irish - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Irish - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdfIrish - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Irish - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
 
Inuktitut (Latin) - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Inuktitut (Latin) - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdfInuktitut (Latin) - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Inuktitut (Latin) - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
 
Inuktitut - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Inuktitut - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdfInuktitut - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Inuktitut - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
 
Inuinnaqtun - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Inuinnaqtun - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdfInuinnaqtun - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Inuinnaqtun - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
 
Indonesian - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Indonesian - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdfIndonesian - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Indonesian - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
 
Ilocano - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Ilocano - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdfIlocano - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Ilocano - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
 
Igbo - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Igbo - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdfIgbo - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Igbo - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
 
Icelandic - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Icelandic - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdfIcelandic - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Icelandic - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
 
Hungarian - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Hungarian - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdfHungarian - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Hungarian - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
 
Hmong Daw - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Hmong Daw - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdfHmong Daw - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Hmong Daw - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
 
Hindi - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Hindi - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdfHindi - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Hindi - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
 
Hebrew - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Hebrew - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdfHebrew - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Hebrew - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
 
Hawaiian - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Hawaiian - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdfHawaiian - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Hawaiian - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
 
Hausa - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Hausa - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdfHausa - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Hausa - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
 
Haitian Creole - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Haitian Creole - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdfHaitian Creole - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Haitian Creole - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
 
Punjabi Gurmukhi Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
Punjabi Gurmukhi Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptxPunjabi Gurmukhi Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
Punjabi Gurmukhi Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
 
Gujarati - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Gujarati - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdfGujarati - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
Gujarati - The Epistle of Ignatius to the Philadelphians.pdf
 

Hindi - The Epistle of Ignatius to Polycarp.pdf

  • 1. पॉलीकाप् को इगानाटि का पत अधाट 1 1 इग्नाटि, नििे निटोफोरि भी कह् ि्त् है, स्म्र क े चचर क े निशप पॉलीक्पर को; उमक् पटरयेेक, िस् सटव परमेशर नपत् और पभर टीशर मिीह द्र् अमदेख् नकट् गट्: ि्री खरनशट्ँ। 2 और टह ि्मकर नक तेर् मम परमेशर की ओर म्मो अाल चट्म पर स्र है; मै अतवत धनय्द देत् हव, नक मै तेरे धन मरख को देखमे क े टोग िमझ् गट्, निििे मै परमेशर क े क्रण ियरद् आमस्त रहव। 3 इिनलटे परमेशर क े अमरगह क े द्र् िो तू पनहमे हु है, मै तरझ िे निमती करत् हव, नक तू अपमे म्गर मे आगे िढत् रहे, और िि को उपदेश दे, नक ये उद्र प्ुव । 4 शरीर और आत् दोमोव की पूरी नचन् करक े अपम् ््म िम्ु रखो; ुकत् िम्ु रखमे क् टत करो, निि िे िढकर क र छ महीव। िैिे पभर तरम्रे ि्ि है, यैिे ही िि ममरषोव की िह लो। 5 िैिे तू भी पेम िे िि की िह्टत् करत् है। निम् रक े प्िरम् करे: िो आपक े प्ि पहले िे है उििे अनधक िमझ म्वगे। अपमी आत् को िदैय ि्गृत रखते हु ि्यध्म रहो। 6 निि पक्र परमेशर तरझे आज् दे, उिी क े अमरि्र हर ुक िे ि्ते करम्। ुक आदशर टोद् की तरह, िभी की दरिरलत्ओव को िहम करे; िह्ँ पररशम अनधक है, ल्भ भी उतम् ही अनधक है। 7 टनद तू अचे चेलोव िे पेम करेग्, तो इिमे धनय्द नकि ि्त क्? परनर िो शर्रती है, उने ममत् िे अपमे यश मे करो। 8 हर घ्य ुक ही लेप िे ठीक महीव होत्; टनद रोग क् पकोप तीव हो, तो उिे हलक े उपच्र िे ठीक करो; िि ि्तोव मे िपर क े िम्म िरसदम्म िमो, परनर किूतर क े िम्म ह्नमरनहत िमो। 9 इिी क्रण तू शरीर और आत् िे िम् है; त्नक तू उम चीजोव को िदल िक े िो तेरे ि्ममे आती है। 10 और िो अदृ है, उम क े नयषट मे परमेशर िे प्िरम् करो, नक यह उने तरम पर पगा कर दे, नक तरमे नकिी ि्त की घाी म हो, परनर हर ुक यरद्म मे िहत्टत हो। 11 िैिे पयम क े चल्मेय्लोवको िमट तरझ िे म्वग करत् है; और िो आँधी मे फ े क नदट् ि्ुग्, यही आशट है; नक तू ईशर को प्र कर िक े । 12 परमेशर क े टोद् क े िम्म िचेत रहो; िो मरक र ा तरमे नदट् गट् है यह अमरत् और अमन िीयम है; नििक े नयषट मे आप भी पूरी तरह आश् है। मै िि य्रओव मे, और अपमे िनमोव मे, निम िे तू मे पेम रख् है, तेर् िम्मतद्र िमूवग्। 13 िो लोग शेट क े टोग ि्म पडते है, परनर पर्ई नशे्ुव निख्ते है, ये तरमे परेश्म म करे। िि नकिी पर पह्र नकट् ि्ु तो नमह्ई की तरह दढ और अचल खडे रहे। 14 टह ुक िह्दरर लड्क े क् नहस् है िो घ्टल हो ि्त् है और नफर भी िीत ि्त् है। परनर नयशेष करक े हमे परमेशर क े नलटे िि क र छ िहम् च्नहु, नक यह हमे िह िक े । 15 हर ुक नदम को दू िरे िे उतम िम्ओ; िमटोव पर नयच्र करो; और उिकी आश् करो, िो हर िमट िे ऊपर है, श्शत है, अदृ है, टदनप हम्रे नलु दृम्म िम्ट् गट् है: अभेद, और अगम, नफर भी हम्रे नलु कषोव क े अधीम है; हम्रे उद्र क े नलु िभी पक्र क े तरीकोव को िहम करम्। अधाट दो 1 नयधय्ओव को तरच म ि्म् ि्ु; तू उमक े िवरेक परमेशर क े पीछे हो ले। 2 तेरी ि्मक्री और िमनत क े निम् कोई क्म म नकट् ि्ु; म तो तरम परमेशर की इच् क े अमरि्र क र छ करते हो; िैि् नक आप भी करते है, पूरी दढत् क े ि्ि। 3 तरम्री िभ्ुव भरी रहे: िि िे म्म ले लेकर पूछत्छ करो। 4 द्िोवऔर द्निटोवको म देखम्; म तो ये फ ू ले, परनर ये परमेशर की मनहम् क े अनधक आधीम रहे, नक ये उि िे अची सतवतत् प्ुव । 5 ये ि्यरिनमक कीमत पर सतवत होमे की इच् म करे, और अपमी ही अनभल्ष्ओव क े द्ि म िमे। 6 िररी कल्ओव िे दू र भ्गो; ट् िस्, उमक् कोई उलेख म करे। 7 मेरी िनहमोव िे कह, नक ये टहोय् िे पेम रखती है; और शरीर और आत् दोमोव िे अपमे अपमे पनतटोव िे िवतरष रहे। 8 इिी पक्र, टीशर मिीह क े म्म पर मेरे भ्इटोव िे आगह करो, नक ये अपमी पनतटोव िे, चचर क े पभर क े िम्म पेम रखे। 9 टनद कोई मिीह क े शरीर क े आदर क े नलटे क र य्वरी अय्् मे रह िक े , तो यह घमवड म करे; परनर टनद यह घमण करत् है, तो उिक् ित्म्श हो ि्त् है। और टनद यह निशप िे अनधक ध्म आकनषरत करमे की इच् रखत् है तो यह भष है। 10 परनर च्हे पररष होव ट् स्ट्व, िभी नयय्नहतोव को निशप की िहमनत िे ुक ि्ि आम् आयृक है, त्नक उमक् नयय्ह भस् क े अमरि्र हो, म नक य्िम् क े अमरि्र। 11 िि क्म परमेशर क े आदर क े नलटे नकट् ि्ु। 12 निशप की िरमो, नक परमेशर भी तरम्री िरम िक े । मेरी आत् उमक े नलु िररे् हो िो अपमे निशप, अपमे पेसेािर और डीकमोव क े पनत िमपरण करते है। और परमेशर मे मेर् भ्ग उम क े िर्िर हो। 13 ुक दू िरे िे पररशम करो; ुक ि्ि िवघषर करे, ुक ि्ि दौडे, ुक ि्ि कष िहे; ुक ि्ि िोुव और ुक ि्ि उठे; भण्री, और मूल्वकमकत्र, और परमेशर क े िेयकोव क े रप मे। 14 निि क े अधीम होकर तरम टरद करते हो, और निि िे तरम अपमी मिदू री प्ते हो, उिे पिर करो। तरम मे िे कोई भी भगोड् म प्ट् ि्ु; परनर तरम्र् िपनत्् तरम्री भरि्ओव क े िम्म िम् रहे; आपक् नयश्ि, आपक े हेलमेा क े रप मे; तेर् द्म, तेरे भ्ले क े िम्म; आपक् धैटर, आपक े िवपूणर कयच क े रप मे। 15 अपमे क्म को अपम् अभ्ज ठहर्ओ, नक तरम उनचत पनतफल प्ओ। इिनलटे ुक दू िरे क े पनत ममत् िे धीरि रखो: िैिे परमेश्‍ यर तरम्रे पनत है। 16 मरझे िि ि्तोव मे तरम्रे क्रण आमस्त होमे दो। अधाट 3 1 अि िीररट् मे अन्नकट् की कलीनिट्, िैि् मरझे ित्ट् गट् है, तरम्री प्िरम्ओव क े द्र् है; मरझे भी ईशर मे अनधक ि्वतम् नमली है और कोई परय्ह महीव है; टनद ऐि् है तो कष िहकर मै ईशर को प्र कर लूवग्; नक तेरी प्िरम्ओव क े द्र् मै मिीह क् नशष िमूव। 2 टह िहत उनचत होग्, हे िििे टोग पॉलीक्पर, ुक चरनमवद् पररषद को िरल्ुव , और नकिी ऐिे वस् को चरमे नििे आप नयशेष रप िे प्र करते है, और िो पिय क े नलु धैटरय्म है; नक यह परमेशर क् दू त हो; और िीररट् ि्कर, यह मिीह की ्रनत क े नलु तरम्रे नमरवतर पेम की मनहम् करेग्। 3 ुक ईि्ई क े प्ि सटव की शस् महीव है: लेनकम उिे हमेश् भगय्म की िेय् क े नलु फ र िरत मे रहम् च्नहु। अि टह क्म परमेशर क् और तरम्र् भी है: िि तरम इिे पूर् करोगे। 4 कोवनक परमेशर क े अमरगह क े क्रण मै मे भरोि् रख् है, नक तरम पभर मे तरम्रे नलटे िि अचे क्म करमे को तैट्र हो। 5 इिनलटे ित क े पनत तेरी गहरी पीनत ि्मकर मै मे इम छोाे पतोव क े द्र् तरझे उपदेश नदट् है। 6 परनर मै िि कलीनिट्ओवको इिनलटे महीव नलख िक्, नक मरझे अच्मक तोआि िे मेपरनलि तक िह्ि िे ि्म् होग्; कोवनक निमकी इच् क े मै अधीम हव, उमकी टही आज् है; क् तरम अपमे नमका की कलीनिट्ओव को परमेशर की इच् क े अमरि्र नशे् प्कर नलखते हो, नक ये भी यैि् ही करे। 7 िो िमिर होव ये दू त भेिे; और ि्की लोग अपमे भेिे हु लोगोव क े ह्ि िे अपमी नचन्ट्व भेिे, निि िे तू अमन क्ल तक मनहम् प्त् रहे, नििक े तू टोग है। 8 मै म्म लेकर िि को ममस्र करत् हव, नयशेषकर ुनपा्ोपि की पती को, उिक े ि्रे घर्मे और ि्लकोव िमेत। मै अपमे परम नपट अा्लरि को ममस्र करत् हँ। 9 िो तरम िीररट् मे भेिमे क े टोग िमझोगे, उिे मै ममस्र करत् हव। अमरगह िदैय उिक े ि्ि रहे, और पॉलीक्पर क े ि्ि िो उिे भेित् है। 10 मै च्हत् हव नक हम्रे परमेशर टीशर मिीह मे तरम िि िरखी रहो; नििमे ईशर की ुकत् और िररे् िमी रहे। 11 मै अपमे नपट ऐनलि को ममस्र करत् हव। पभर मे नयद्ई.