Successfully reported this slideshow.
We use your LinkedIn profile and activity data to personalize ads and to show you more relevant ads. You can change your ad preferences anytime.

Geography (भूगोल)

1,099 views

Published on

Geography (भूगोल)

Published in: Education
  • Be the first to comment

Geography (भूगोल)

  1. 1. www.rrbportal.com RRB PORTAL Online Coaching For RRB Exam Subject: सामान्य ज्ञान Chapter: Geography (भूगोल)
  2. 2. www.rrbportal.com सौरमंडल • ब्रह्माण्ड का विकासिादी ससद्धान्त जिसे महाविस्फोट ससद्धान्त भी कहते हैं, को प्रस्तुत करने का श्रेय बेजजियम के विद्िान सिमैत्रो को िाता है। • चेबरिीन और माजटन नामक िैज्ञाननकों ने ग्रहाणु पररकजपना प्रस्तुत की जिसके मुताबबक सौरमंडि की उत्पवि ठंडे और ठोस वपंडांेे से हुयीं। • रूसी विद्िान सिसमट ने सन् 1943 में कोट और िाप्िास के विचारों से प्रेररत होकर सौर पररिारों की उत्पवि गैस और धूिकणों से मानी।
  3. 3. www.rrbportal.com • सौरमंडि में सूयय ग्रह, उपग्रह, उजकाएं, धूमके तु आदद आते हैं। सूयय सौयमंडि पररिार का मुखिया है जिसिे$ चारों ओर सभी चक्कर िगाते हैं जिसे भौगोसिक भाषा में पररक्रमा कहते हैं। ग्रहों का अपना प्रकाि नहीं होता है, िबकक तारों का अपना प्रकाि होता है। ग्रहों की संख्या आठ है। पहिे ग्रहों की संख्या 9 थी, बुध, िुक्र, मंगि, बृहस्पनत, िनन अरूण, िरूण एिं प्िूटो। ककन्तु अन्तरायष्ट्रीय िगोििास्त्राीय संघ ने 24 अगस्त 2006 को यह घोषणा की कक सौरमेंडि में के िि 8 ग्रह रहेंगे और प्िूटों के ग्रह का दिाय समाप्त कर ददया गया।
  4. 4. www.rrbportal.com ग्रह बुध - यह ग्रह सूयय के सिायधधक ननकट एिं सौरमंडि का सबसे छोटा ग्रह है। यह िुक्र और सूयय के मध्य जस्थत हैं। यहााँ पर ददन ि रात के ताप में अंतर बहुत अधधक होता है। यह सूयय का चक्कर 88 ददन में पूरा कर िेता है। यह अपने अक्ष के चारों ओर 59 ददन में एक चक्कर पूरा कर िेता है।
  5. 5. www.rrbportal.com शुक्र - बुध ग्रह के बाद सूयय के ननकटतम यह दूसरा ग्रह है। यह सूयय का चक्कर 225 ददन में िगाता है। अपने अक्ष से पररतः 243 ददन में एक चक्कर पूरा करता है। इसे सौंदयय का देिता भी कहते हैं। यह सिायधधक चमकीिा ग्रह है। इसे ‘भौर का तारा’ ‘संध्या का तारा’ के नाम से भी िाना िाता है। यह सिायधधक गमय ग्रह है। इस ग्रह पर ददन एिं रात का तापमान िगभग एक समान रहता है। यह पृथ्िी के सिायधधक ननकट जस्थत ग्रह है। इस ग्रह का कोई उपग्रह नहीं है। आकार एिं द्रव्यमान में पृथ्िी के समान होने के कारण इसे पृथ्िी का िुड़िा ग्रह कहा िाता है।
  6. 6. www.rrbportal.com मंगल - यह सूयय का चैथा ननकटतम ग्रह है। यह सूयय का 1 चक्कर 687 ददन में िगाता हैं। अपने अक्ष पर घूणयन की अिधध 24.6 घण्टे हैं। इसकी समट्टी में िौह-आेक्साइड पाया िाता है जिससे इसका रंग िाि हो िाता है। इससिए इसे िाि ग्रह िे$ नाम से भी िाना िाता है। ननक्स ओिंवपया मंगि ग्रह पर जस्थत सिोच्च पियत है। फोबोस एिं डडमोस इसिे दो उपग्रह हैं। मंगि पर अब तक कई असभयान भेिे िा चुके हैं िैसेµिाइककं ग, पाथफाइंडर, मासय ओडडसी, बीगि-2 (2003) जस्पररट ि अपाेच्नूननट (2004)।
  7. 7. www.rrbportal.com पृथ्वी - यह सूयय का तीसरा ननकटतम ग्रह है। इसकी सूयय से औसत दूरी 148598000 ककमी. है। पृथ्िी को एकमात्रा उपग्रह चंद्रमा है। पृथ्िी का आकार जियाेड कहा िाता है इसकी पररक्रमा का मागय अंडाकार है। अतः सूयय और पृथ्िी के बीच की दूरी िषयभर एक भी नहीं रहती है। पृथ्िी 365 ददन, 5 घंटे, 48 सम. एिं 46 से. में सूयय का एक चक्कर िगाती है। पृथ्िी अपनी धूरी पर पजचचम से पूिय की ओर 23 घंटे 56 सम. 4 से. में एक चक्कर िगाती है।
  8. 8. www.rrbportal.com पृथ्िी का पररभ्रमण पथ दीघय िृिीय है एिं पृथ्िी तथा सूयय के बीच की दूरी में पररितयन होता रहता है। 21 िून को ककय रेिा पर सूयय की ककरणें 90° िंबित पड़ती है, अतः इस नतधथ को उिरी गोिाद्यध में ददन की अिधध सियधधक िंबी होती है। इसे ककय संक्रानत कहा िाता है। इसी प्रकार 22 ददसम्बर को मकर रेिा पर सूयय की ककरणें िंबित पड़ती है इसे मकर संक्रांनत कहा िाता है। 21 माचय एिं 23 ददसम्बर को विषुित रेिा पर सूयय की ककरणें िंबित पड़ती है। इस ददन पृथ्िी पर सभी िगह ददन एिं रात की अिधध समान (12.12 घंटों) होती है।
  9. 9. www.rrbportal.com पृथ्वी कु छ प्रमुख तथ्य • पृथ्िी की अनुमाननत आयु 4,60,00,00,000 िषय • सम्पूणय धरातिीय क्षेत्राफि 51,027100 िगय ककमी. • भूसम क्षेत्राफि (29.08%) 15,30,00,000 िगय ककमी. • ििीय क्षेत्राफि (सम्पूणय धराति का 70.92%) 35,7100,000 िगय ककमी. • औसत घनत्ि 5.52 ग्राम प्रनत घन सेमी. • विषुित रेिीय व्यास 12,755 ककमी. • ध्रुिीय व्यास 12,712 ककमी. • गुरुत्िाकषयण से बाहर 11.2 ककमी/सेकण्ड ननकिने के सिए आिचयक ननगयमन गनत
  10. 10. www.rrbportal.com • पृथ्िी का द्रव्यमान 5.880 × 1024 ककिोग्राम • पृथ्िी का आयतन 10,83,20,88,40,000 घन ककमी. • पृथ्िी के गुरुत्िाकषयण के विरुद्ध िाने के सिए 3 ककमी/सेकण्ड राके ट के सिए आिचयक िेि • चन्द्रमा से दूरी 3,84,365 ककमी • समुद्रति से पृथ्िी की सिायधधक ऊाँ चाई 8848 मीटर (माउण्ट एिरेस्ट) • समुद्रति से सागर की सिायधधक गहराई 11,033 मीटर (गररयाना डेन्च) प्रिान्त महासागर, कफिीपीन्स के पूिय में • पृथ्िी के घराति का सिायधधक ननचिा स्थान 396 मीटर (मृत सागर)
  11. 11. www.rrbportal.com • पृथ्िी द्िारा सूयय की पररक्रमा अिधध 365 ददन, 5 घंटे, 48 समनट, 45.51 सेकण्ड • पृथ्िी का उपग्रह चन्द्रमा • अक्ष का कक्षा की धरा पर झुकाि 23° 27' • सूयय से माध्य दूरी 14,95,97,887.5 ककमी. • ध्रुिीय पररधध 40,024 ककमी. • ििमण्डि की औसत गहराई 3,554 ककमी. • पृथ्िी द्िारा अपने अक्ष पर घूणयन अिधध 23 घंटे, 56 समनट, 4.091 सेकण्ड
  12. 12. www.rrbportal.com बृहस्पनतकृ यह सौरमंडि का सबसे बड़ा एिं सबसे भारी ग्रह है। इसका पररक्रमण एिं घूणयन अिधध क्रमिः 12 िषय एिं 9.8 घण्टे है। इसकी सतह का ताप 123°C है। इसके िायुमंडि में हाइड्रोिन, हीसियम, समथेन एिं अमोननयााँ गैसे मौिूद है। बृहस्पनत ग्रह के 14 उपग्रह है। इस ग्रह पर ज्िािामुिी भी पाये गये हैं। गैनीमीड, आयो, यूरोपा, के सिस्टो आदद इसके उपग्रह है। इसका उपग्रह गेनीमीड सौरमंडि का सबसे बड़ा उपग्रह है।
  13. 13. www.rrbportal.com शनन - बृहस्पनत के पचचात ् सौरमंडि का यह दूसरा सबसे बड़ा ग्रह है। इस ग्रह के चारों ओर छजिे मौिूद हैं सपीिी तरंगों की पट्टी है। यह सूयय की पररक्रमा 29 िषय में करता है। इस ग्रह की अक्ष की घूणयन अिधध 10.3 घण्टे हैं। इस ग्रह के 22 उपग्रह हैं। फोबे टेधथस, ननमास आदद इसके उपग्रह हैं। टाइटन नाम का उपग्रह सबसे बड़ा उपग्रह है ि इसमें नाइरोिन युक्त िायुमंडि पाया िाता है।
  14. 14. www.rrbportal.com अरुणकृ अरुण सूयय से सातिां दूरतम ग्रह है। इस ग्रह की िोि 1781 में विसियम हिेि ने की थी। िनन की भांनत ही इस ग्रह के चारों ओर भी ििय पाये िाते हैं। इस ग्रह के 12 उपग्रह तथा 5 धुंधिी ििय है। इस ग्रह के िायुमंडि में समथेन गैस मौिूद है। इस ग्रह का प्रकाि हरे रंग का ददिाई देता है। यह सूयय की पररक्रमा 84 िषों में पूरा करता है। इसकी घूणयन अिधध 10.8 घण्टे हैं। िरुणकृ इस ग्रह की िोि 1946 में िाेन गैिे ने की थी। इसके िायुमंडि में मुख्य रूप से हाइड्रोिन गैस पायी िाती है यह सूयय की पररक्रमा 165 िषय में पूरा करता है।
  15. 15. www.rrbportal.com इस ग्रह के आठ उपग्रह हैं। दटरान, मेररड, N-1, N-2, N-3 आदद इसके प्रमुि उपग्रह हैं। प्िूटोकृ िैसा कक उ$पर कहा गया है कक यह अब ग्रह नहीं होकर बौना ग्रह है। ग्रह का दिाय समाप्त होने से पूिय तक यह सिायधधक छोटा सिायधधक ठंडा एिं सिायधधक अंधकारमय ग्रह था। • बुध, िुेुक्र, पृथ्िी, एिं मंगि ग्रह आंतररक ग्रह कहिाते हैं। इनका आकार छोटा एिं घनत्ि अधधक है। • बृहस्पनत, िनन, अरूण, िरूण एिं प्िूटो बाह्य ग्रह कहिाते हैं। इनका आकार बड़ा एिं घनत्ि कम है।
  16. 16. www.rrbportal.com • बुद्ध, सूयय के सबसे ननकट का ग्रह है। इसके बाद क्रमिः, िुक्र, पृथ्िी, मंगि, बृहस्पनत, िनन, अरूण एिं िरूण का स्थान आता है। • सूयय के काफी ननकट जस्थत होने के कारण बुद्ध िुक्र काफी गमय है, िबकक अन्य ग्रह ठंडे है। • प्रोजक्समा सेंचुरी सूयय के बाद पृथ्िी का सबसे ननकट का तारा है यह पृथ्िी से 4.5 प्रकाि िषय दूर है।
  17. 17. www.rrbportal.com Click Here to Join RRB Online Coaching: http://rrbportal.com/online-coaching Click Here to Buy RRB Study Kit in Hard Copy: http://www.rrbportal.com/study-kit

×