SlideShare a Scribd company logo
1 of 1
Download to read offline
नहू
अध्य् 1
1 नीनवे कय बोझ। एलकोोीी नहू के दो्न की पुसीक।
2 परूेशर जलन रखीय है, और ्होवय बदलय लेीय है; ्होवय बदलय लेीय है, और कोरोी होीय
है; ्होवय अपने दोरह्ि से पलटय लेगय, और अपने ोतुर पर कोो भडकयनय चयहीय है।
3 ्होवय रवलमब से कोो करनेवयलय, और परयकू ूे बडय है, और दुषि को कुछ भी रनद्द न
देगय; ्होवय बवण्र और ीूफयन ूे अपनय ूयग् ददखयीय है, और बयदल उसके पयंवि की ोूरल
ठहरीे है।
4 वह सूुद को घुडककर सुखय ्यलीय है, और सब ूहयनदिको सुखय ्यलीय है; बयोयन सूख
जयीय है, कमूमल और लबयनोन कय फू ल सूख जयीय है।
5 उसके कयरण पहयड कयंप उठीे है, और पहयरड्यं रपघल जयीी है, और उसके कयरण पृयवी, वरन
जगी और उस ूे रहनेवयले सब लोग जल जयीे है।
6 उसके कोो के सयमहने कौन ठहर सकीय है? और उसके कोो की पचण्ीय पर कौन रसथर रह
सकीय है? उसकय कोो आग की नयई भडक उठीय है, और चटयने उसके दयरय नीचे फे की जयीी है।
7 ्होवय भलय है, संकट के ददन दृढ गढ है; और वह उन को जयनीय है जो उस पर भरोसय रखीे
है।
8 परनीु वह बयढ से उस स्यन को सत्यनयो कर ्यलेगय, और अरनो्यरय उसके ोतुर कय पीछय
करेगय।
9 ीुू ्होवय के रवरोो ूे क्य सोचीे हो? वह सत्यनयो कर देगय; दु:ख दूसरी बयर न उठेगय।
10 क्िदक वे कयंटिकी नयई इकटे हो जयएंगे, और ूीवयलिकी नयई ूीवयले हो जयएंगे, वे सूखी
खूंटी की नयई भसू हो जयएंगे।
11 ीुझ ूे से एक दुष ूनती रनकलय है, जो ्होवय के रवरोो ूे बुरी कलपनय करीय है।
12 ्होवय ्ि कहीय है; ्दरप वे ोयनी रहे, और वैसे ही बही से हि, ीौभी जब वह वहयं से
होकर रनकलेगय, ीो इसी रीरी से कयट ्यलय जयएगय। ्दरप ूै ने ीुझे दु:ख दद्य है, ीौभी अब
ीुझे दु:ख न दूंगय।
13 क्िदक अब ूै उसकय जूआ ीेरे ऊपर से ीोड ्यलूंगय, और ीेरे बनोनिको टुकडे टुकडे कर
्यलूंगय।
14 और ्होवय ने ीेरे रवद् ूे ्ह आजय दी है, दक ीेरे नयू कय दफर कोई बीज न बो्य जयए; ूै
ीेरे देवीयर के भवन ूे से खोदी हई और ढयली हई ूूरीि को नयो कर
ं गय; ूै ीेरी कब बनयऊ
ं गय;
क्िदक ीू नीच है।
15 देखो, पहयडि पर उसके पयंव खडे है जो ोुभ सूयचयर सुनयीय, और ूेल कय पचयर करीय है! हे
्हदय, अपने परव् ूयननय, और अपनी ूनीे पूरी करनय; क्िदक दुष दफर ीेरे बीच से होकर न
रनकलेगे; वह पूरी ीरह से कटय हआ है।
अध्य् दो
1 जो टुकडे टुकडे करनेवयलय है, वह ीेरे सयमहने आ रहय है; हरथ्यर रखो, ूयग् की चौकसी करो,
अपनी कूर दृढ करो, अपनय बल दृढ करो।
2 क्िदक ्होवय ने ्यकूब की ूरहूय को इसयएल की ूरहूय के सूयन दूर कर दद्य है; क्िदक
उजयडनेवयलिने उनको उजयड दद्य है, और उनकी दयखलीय की ्यरल्िको रबगयड दद्य है।
3 उसके ोूरवीरि की ढयल लयल रंग की बनी है, वीर लयल रंग के वस परहने हए है; उसकी ीै्यरी
के सू् रथि ूे ूोयले जलीी रहेगी, और सनोवर के वृक बही ही घबरयए हए हिगे।
4 रथ सडकिपर दौडेगे, वे चौकिूे एक दूसरे पर न्य् करेगे; वे ूोयलिकी नयई पगट हिगे, और
रबजली की नयई दौडेगे।
5 वह अपके गुणिकय वण्न करेगय; वे चयल ूे ठोकर खयएंगे; वे उसकी ोहरपनयह पर ोीघीय से
चढे, और बचयव ीै्यर दक्य जयए।
6 ूहयनदि के फयटक खोल ददए जयएंगे, और रयजूहल ढय दद्य जयएगय।
7 और हुयब को बनोुवयई ूे ले जय्य जयएगय, और वह लयई जयएगी, और उसकी दयरस्यं छयीी
पर गुरय्ीी हई कबूीरि कय सय ोबद बोलकर उसे ले चलेगी।
8 परनीु नीनवे जल के ीयल के सूयन पयचीन है; ीौभी वे भयग जयएंगे। खडे रहो, खडे रहो, क्य
वे रोएँगे; परनीु कोई पीछे ूुडकर न देखेगय।
9 चयनदी की लूट ले लो, सोने की लूट ले लो; क्िदक भण्यर और सब ूनभयवने सयूयन की
ूरहूय कय अनी नही होीय।
10 वह सुनसयन, और सुनसयन, और उजयड है; और हद् रपघल जयीय है, और घुटने आपस ूे
रचपक जयीे है, और सब कूर ूे बडय दद् होीय है, और उन सभि के ूुख पर कयलयपन छय जयीय
है।
11 रसंहि कय रनवयस और जवयन रसंहि कय चरयगयह कहयं रहय, जहयं रसंह और बूढय रसंह और
उनके बचे भी रवचरीे थे, और कोई उनहे ्रयीय नही थय?
12 रसंह ने अपने बचिके रल्े टुकडे टुकडे दकए, और अपनी रसंहरन्िके रल्े उनकय गलय घिट
्यलय, और अपनी रबलिको अहेर से, और अपनी ूयंदिको खडिसे भर रल्य।
13 सेनयर के ्होवय की ्ही वयणी है, देख, ूै ीेरे रवरू हं, और उसके रथिको ोूएं ूे जलय
दूंगय, और ीेरे जवयन रसंह ीलवयर से भसू कर ्यलूंगय; और ीेरे अहेर को पृयवी पर से और ीेरे
दूीिकी वयणी को भी पृयवी पर से नयो कर ्यलूंगय अब और नही सुनय जयएगय
अध्य् 3
1 खूनी नगर पर हय्! ्ह सब झूठ और ्कैीी से भरय है; रोकयर नही छूटीय;
2 कोडे कय ोबद, और परह्ि की घडघडयहट, और उछलनेवयले घोडि, और उछलनेवयले रथिकय
ोबद।
3 सवयर ीेज ीलवयर और भयलय दोनि उठयीय है; और बही से ूयरे हए लोग, और बही सी लो्े
फै ल जयीी है; और उनकी लोथि कय अनी नही; वे उनकी लयोि पर ठोकर खयीे है:
4 क्िदक वह सुनदर वेश्य, और टोनही की सवयरूनी, जो वरभचयचरणी होकर जयरी जयरी को,
और जयदू करके कुलि को बेच ्यलीी है, उसके बही से वरभचयर के कयरण।
5 सेनयर के ्होवय कय ्ही वचन है, देख, ूै ीेरे रवरू हं; और ूै ीेरे चेहरे पर ीेरय घयघरय
देखूंगय, और जयरी जयरी के लोगि को ीेरय ीन और रयज् रयज् के लोगि को ीेरी लुय पगट
कर
ं गय।
6 और ूै ीुझ पर घृरणी गंदगी फै लयऊ
ं गय, और ीुझे घृरणी बनयऊ
ं गय, और ीुझे घूरे कय सय बनय
दूंगय।
7 और ऐसय होगय, दक रजीने ीुझे देखीे है वे सब ीेरे सयमहने से भयगकर कहेगे, नीनवे उजयड हो
ग्य है; उसके रलथे कौन ोोक ूनयएगय? ूै ीेरे रल्े ोयरनी देनेवयले कहयं से ढूंढूं?
8 क्य ीू उस आबयदी से बेहीर है, जो नदद्ि के बीच ूे बसी थी, रजसके चयरि ओर पयनी थय,
रजसकी दीवयर सूुद थी, और उसकी ोहरपनयह सूुद से बनी थी?
9 कूो और रूस उसकी ोर् थे, और वह अननी थी; पूी और लूबीू ीेरे सहय्क थे।
10 ीौभी वह पकडी गई, और बनोुवयई ूे गई; उसके छोटे लडके-बयलिको भी सब सडकिके
रसरिपर पटक दद्य ग्य; और उसके परीरिी पुरदिके रलथे रचटी ्यली गई, और उसके सब
बडे पुरद जंजीरिूे बनोे गए।
11 ीू भी ूीवयलय हो जयएगय, ीू रछप जयएगय, ीू भी ोतु के कयरण बल ढूंढेगय।
12 ीेरे सब गढ परहले पके अंजीर के वृकिके सूयन हिगे; ्दद वे रहलयए जयएं, ीो खयनेवयले के
ूुंह ूे रगर पडेगे।
13 देख, ीेरे बीच ूे ीेरी पजय की रस्यं है; ीेरे देो के फयटक ीेरे ोतुरके रल्े खोल ददए
जयएंगे; ीेरे बेण्िको आग भसू कर देगी।
14 घेरने के रलथे जल खीच ले, अपके गढ दृढ कर; रूटी ूे घुस जय, गयरय रौद, ईट भटे को दृढ
कर।
15 वहयं आग ीुझे भसू कर देगी; ीलवयर ीुझे कयट ्यलेगी, वह ीुझे नयसूर के सूयन खय जयएगी;
अपने आप को नयसूर के सूयन बही बनय ले, और अपने आप को चटरड्ि के सूयन बही कर ले।
16 ीू ने अपने वयपयचर्ि को आकयो के ीयरयगण से भी अरोक बढय रल्य है; नयसूर लूटकर उड
जयीय है।
17 ीेरे ूुकुटोयरी चटरड्िके सूयन है, और ीेरे सेनयपरी बडी चटरड्िके सूयन है, जो जयडे के
ददन बयडिूे ्ेरय ्यले रहीे है, परनीु सू्् रनकलीे ही भयग जयीे है, और अपनय स्यन न जयनीे
है।
18 हे अशोूर के रयजय, ीेरे चरवयहे ऊ
ं घ रहे है; ीेरे पोयन लोग रूटी ूे बसे रहेगे; ीेरी पजय
पहयडि पर रीीर-रबीर हो गई है, और कोई उनहे इकटय नही करीय।
19 ीेरे घयव कय कोई इलयज नही; ीेरय घयव गंभीर है; रजीने ीेरय दुःख सुनेगे वे सब ीुझ पर
ीयली बजयएँगे; क्िदक ीेरी दुषीय दकस पर रनरनीर नही भडकी?

More Related Content

Similar to HINDI - The Book of the Prophet Nahum.pdf

Similar to HINDI - The Book of the Prophet Nahum.pdf (20)

DOGRI - The Book of the Prophet Nahum.pdf
DOGRI - The Book of the Prophet Nahum.pdfDOGRI - The Book of the Prophet Nahum.pdf
DOGRI - The Book of the Prophet Nahum.pdf
 
Dogri - Wisdom of Solomon.pdf
Dogri - Wisdom of Solomon.pdfDogri - Wisdom of Solomon.pdf
Dogri - Wisdom of Solomon.pdf
 
Maithili - Testament of Benjamin.pdf
Maithili - Testament of Benjamin.pdfMaithili - Testament of Benjamin.pdf
Maithili - Testament of Benjamin.pdf
 
Hindi - Wisdom of Solomon.pdf
Hindi - Wisdom of Solomon.pdfHindi - Wisdom of Solomon.pdf
Hindi - Wisdom of Solomon.pdf
 
Maithili - Testament of Gad.pdf
Maithili - Testament of Gad.pdfMaithili - Testament of Gad.pdf
Maithili - Testament of Gad.pdf
 
Bhojpuri - 2nd Maccabees.pdf
Bhojpuri - 2nd Maccabees.pdfBhojpuri - 2nd Maccabees.pdf
Bhojpuri - 2nd Maccabees.pdf
 
Bhojpuri - Ecclesiasticus.pdf
Bhojpuri - Ecclesiasticus.pdfBhojpuri - Ecclesiasticus.pdf
Bhojpuri - Ecclesiasticus.pdf
 
Bhojpuri - Titus.pdf
Bhojpuri - Titus.pdfBhojpuri - Titus.pdf
Bhojpuri - Titus.pdf
 
Dogri - Testament of Benjamin.pdf
Dogri - Testament of Benjamin.pdfDogri - Testament of Benjamin.pdf
Dogri - Testament of Benjamin.pdf
 
Maithili - Tobit.pdf
Maithili - Tobit.pdfMaithili - Tobit.pdf
Maithili - Tobit.pdf
 
Dogri-Testament-of-Issachar.pdf
Dogri-Testament-of-Issachar.pdfDogri-Testament-of-Issachar.pdf
Dogri-Testament-of-Issachar.pdf
 
Dogri - The Gospel of the Birth of Mary.pdf
Dogri - The Gospel of the Birth of Mary.pdfDogri - The Gospel of the Birth of Mary.pdf
Dogri - The Gospel of the Birth of Mary.pdf
 
Maithili - Wisdom of Solomon.pdf
Maithili - Wisdom of Solomon.pdfMaithili - Wisdom of Solomon.pdf
Maithili - Wisdom of Solomon.pdf
 
Hindi - Dangers of Wine.pdf
Hindi - Dangers of Wine.pdfHindi - Dangers of Wine.pdf
Hindi - Dangers of Wine.pdf
 
Hindi - The Book of Prophet Zephaniah.pdf
Hindi - The Book of Prophet Zephaniah.pdfHindi - The Book of Prophet Zephaniah.pdf
Hindi - The Book of Prophet Zephaniah.pdf
 
Bhojpuri - The Book of Prophet Zephaniah.pdf
Bhojpuri - The Book of Prophet Zephaniah.pdfBhojpuri - The Book of Prophet Zephaniah.pdf
Bhojpuri - The Book of Prophet Zephaniah.pdf
 
Bhojpuri-Testament of Joseph.pdf
Bhojpuri-Testament of Joseph.pdfBhojpuri-Testament of Joseph.pdf
Bhojpuri-Testament of Joseph.pdf
 
Hindi - Ecclesiasticus.pdf
Hindi - Ecclesiasticus.pdfHindi - Ecclesiasticus.pdf
Hindi - Ecclesiasticus.pdf
 
Bhojpuri - Testament of Benjamin.pdf
Bhojpuri - Testament of Benjamin.pdfBhojpuri - Testament of Benjamin.pdf
Bhojpuri - Testament of Benjamin.pdf
 
Bhojpuri-Testament-of-Issachar.pdf
Bhojpuri-Testament-of-Issachar.pdfBhojpuri-Testament-of-Issachar.pdf
Bhojpuri-Testament-of-Issachar.pdf
 

More from Filipino Tracts and Literature Society Inc.

Spanish - La Preciosa Sangre de Jesucristo - The Precious Blood of Jesus Chri...
Spanish - La Preciosa Sangre de Jesucristo - The Precious Blood of Jesus Chri...Spanish - La Preciosa Sangre de Jesucristo - The Precious Blood of Jesus Chri...
Spanish - La Preciosa Sangre de Jesucristo - The Precious Blood of Jesus Chri...Filipino Tracts and Literature Society Inc.
 
Tagalog - Ang Mahalagang Dugo ng Panginoong Hesukristo - The Precious Blood o...
Tagalog - Ang Mahalagang Dugo ng Panginoong Hesukristo - The Precious Blood o...Tagalog - Ang Mahalagang Dugo ng Panginoong Hesukristo - The Precious Blood o...
Tagalog - Ang Mahalagang Dugo ng Panginoong Hesukristo - The Precious Blood o...Filipino Tracts and Literature Society Inc.
 

More from Filipino Tracts and Literature Society Inc. (20)

Inuinnaqtun - The Precious Blood of Jesus Christ.pdf
Inuinnaqtun - The Precious Blood of Jesus Christ.pdfInuinnaqtun - The Precious Blood of Jesus Christ.pdf
Inuinnaqtun - The Precious Blood of Jesus Christ.pdf
 
Thai - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdf
Thai - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdfThai - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdf
Thai - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdf
 
English - The Dangers of Wine Alcohol.pptx
English - The Dangers of Wine Alcohol.pptxEnglish - The Dangers of Wine Alcohol.pptx
English - The Dangers of Wine Alcohol.pptx
 
Luxembourgish Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
Luxembourgish Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptxLuxembourgish Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
Luxembourgish Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
 
Telugu - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdf
Telugu - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdfTelugu - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdf
Telugu - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdf
 
Fijian - The Precious Blood of Jesus Christ.pdf
Fijian - The Precious Blood of Jesus Christ.pdfFijian - The Precious Blood of Jesus Christ.pdf
Fijian - The Precious Blood of Jesus Christ.pdf
 
English - The Psalms of King Solomon.pdf
English - The Psalms of King Solomon.pdfEnglish - The Psalms of King Solomon.pdf
English - The Psalms of King Solomon.pdf
 
Luganda Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
Luganda Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptxLuganda Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
Luganda Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
 
Spanish - La Preciosa Sangre de Jesucristo - The Precious Blood of Jesus Chri...
Spanish - La Preciosa Sangre de Jesucristo - The Precious Blood of Jesus Chri...Spanish - La Preciosa Sangre de Jesucristo - The Precious Blood of Jesus Chri...
Spanish - La Preciosa Sangre de Jesucristo - The Precious Blood of Jesus Chri...
 
Tagalog - Ang Mahalagang Dugo ng Panginoong Hesukristo - The Precious Blood o...
Tagalog - Ang Mahalagang Dugo ng Panginoong Hesukristo - The Precious Blood o...Tagalog - Ang Mahalagang Dugo ng Panginoong Hesukristo - The Precious Blood o...
Tagalog - Ang Mahalagang Dugo ng Panginoong Hesukristo - The Precious Blood o...
 
The Precious Blood of the Lord Jesus Christ.pptx
The Precious Blood of the Lord Jesus Christ.pptxThe Precious Blood of the Lord Jesus Christ.pptx
The Precious Blood of the Lord Jesus Christ.pptx
 
Faroese - The Precious Blood of Jesus Christ.pdf
Faroese - The Precious Blood of Jesus Christ.pdfFaroese - The Precious Blood of Jesus Christ.pdf
Faroese - The Precious Blood of Jesus Christ.pdf
 
Tatar - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdf
Tatar - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdfTatar - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdf
Tatar - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdf
 
Lower Sorbian Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
Lower Sorbian Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptxLower Sorbian Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
Lower Sorbian Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
 
Lithuanian Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
Lithuanian Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptxLithuanian Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
Lithuanian Soul Winning Gospel Presentation - Only JESUS CHRIST Saves.pptx
 
Tamil - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdf
Tamil - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdfTamil - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdf
Tamil - Ecclesiasticus the Wisdom of Jesus the Son of Sirach.pdf
 
Dari Persian - The Precious Blood of Jesus Christ.pdf
Dari Persian - The Precious Blood of Jesus Christ.pdfDari Persian - The Precious Blood of Jesus Christ.pdf
Dari Persian - The Precious Blood of Jesus Christ.pdf
 
English - The Lost Books of the Bible.pdf
English - The Lost Books of the Bible.pdfEnglish - The Lost Books of the Bible.pdf
English - The Lost Books of the Bible.pdf
 
English - The Book of the Secrets of Enoch.pdf
English - The Book of the Secrets of Enoch.pdfEnglish - The Book of the Secrets of Enoch.pdf
English - The Book of the Secrets of Enoch.pdf
 
Tagalog - Dangers of Wine Alcohol Liquor Whiskey.pdf
Tagalog - Dangers of Wine Alcohol Liquor Whiskey.pdfTagalog - Dangers of Wine Alcohol Liquor Whiskey.pdf
Tagalog - Dangers of Wine Alcohol Liquor Whiskey.pdf
 

HINDI - The Book of the Prophet Nahum.pdf

  • 1. नहू अध्य् 1 1 नीनवे कय बोझ। एलकोोीी नहू के दो्न की पुसीक। 2 परूेशर जलन रखीय है, और ्होवय बदलय लेीय है; ्होवय बदलय लेीय है, और कोरोी होीय है; ्होवय अपने दोरह्ि से पलटय लेगय, और अपने ोतुर पर कोो भडकयनय चयहीय है। 3 ्होवय रवलमब से कोो करनेवयलय, और परयकू ूे बडय है, और दुषि को कुछ भी रनद्द न देगय; ्होवय बवण्र और ीूफयन ूे अपनय ूयग् ददखयीय है, और बयदल उसके पयंवि की ोूरल ठहरीे है। 4 वह सूुद को घुडककर सुखय ्यलीय है, और सब ूहयनदिको सुखय ्यलीय है; बयोयन सूख जयीय है, कमूमल और लबयनोन कय फू ल सूख जयीय है। 5 उसके कयरण पहयड कयंप उठीे है, और पहयरड्यं रपघल जयीी है, और उसके कयरण पृयवी, वरन जगी और उस ूे रहनेवयले सब लोग जल जयीे है। 6 उसके कोो के सयमहने कौन ठहर सकीय है? और उसके कोो की पचण्ीय पर कौन रसथर रह सकीय है? उसकय कोो आग की नयई भडक उठीय है, और चटयने उसके दयरय नीचे फे की जयीी है। 7 ्होवय भलय है, संकट के ददन दृढ गढ है; और वह उन को जयनीय है जो उस पर भरोसय रखीे है। 8 परनीु वह बयढ से उस स्यन को सत्यनयो कर ्यलेगय, और अरनो्यरय उसके ोतुर कय पीछय करेगय। 9 ीुू ्होवय के रवरोो ूे क्य सोचीे हो? वह सत्यनयो कर देगय; दु:ख दूसरी बयर न उठेगय। 10 क्िदक वे कयंटिकी नयई इकटे हो जयएंगे, और ूीवयलिकी नयई ूीवयले हो जयएंगे, वे सूखी खूंटी की नयई भसू हो जयएंगे। 11 ीुझ ूे से एक दुष ूनती रनकलय है, जो ्होवय के रवरोो ूे बुरी कलपनय करीय है। 12 ्होवय ्ि कहीय है; ्दरप वे ोयनी रहे, और वैसे ही बही से हि, ीौभी जब वह वहयं से होकर रनकलेगय, ीो इसी रीरी से कयट ्यलय जयएगय। ्दरप ूै ने ीुझे दु:ख दद्य है, ीौभी अब ीुझे दु:ख न दूंगय। 13 क्िदक अब ूै उसकय जूआ ीेरे ऊपर से ीोड ्यलूंगय, और ीेरे बनोनिको टुकडे टुकडे कर ्यलूंगय। 14 और ्होवय ने ीेरे रवद् ूे ्ह आजय दी है, दक ीेरे नयू कय दफर कोई बीज न बो्य जयए; ूै ीेरे देवीयर के भवन ूे से खोदी हई और ढयली हई ूूरीि को नयो कर ं गय; ूै ीेरी कब बनयऊ ं गय; क्िदक ीू नीच है। 15 देखो, पहयडि पर उसके पयंव खडे है जो ोुभ सूयचयर सुनयीय, और ूेल कय पचयर करीय है! हे ्हदय, अपने परव् ूयननय, और अपनी ूनीे पूरी करनय; क्िदक दुष दफर ीेरे बीच से होकर न रनकलेगे; वह पूरी ीरह से कटय हआ है। अध्य् दो 1 जो टुकडे टुकडे करनेवयलय है, वह ीेरे सयमहने आ रहय है; हरथ्यर रखो, ूयग् की चौकसी करो, अपनी कूर दृढ करो, अपनय बल दृढ करो। 2 क्िदक ्होवय ने ्यकूब की ूरहूय को इसयएल की ूरहूय के सूयन दूर कर दद्य है; क्िदक उजयडनेवयलिने उनको उजयड दद्य है, और उनकी दयखलीय की ्यरल्िको रबगयड दद्य है। 3 उसके ोूरवीरि की ढयल लयल रंग की बनी है, वीर लयल रंग के वस परहने हए है; उसकी ीै्यरी के सू् रथि ूे ूोयले जलीी रहेगी, और सनोवर के वृक बही ही घबरयए हए हिगे। 4 रथ सडकिपर दौडेगे, वे चौकिूे एक दूसरे पर न्य् करेगे; वे ूोयलिकी नयई पगट हिगे, और रबजली की नयई दौडेगे। 5 वह अपके गुणिकय वण्न करेगय; वे चयल ूे ठोकर खयएंगे; वे उसकी ोहरपनयह पर ोीघीय से चढे, और बचयव ीै्यर दक्य जयए। 6 ूहयनदि के फयटक खोल ददए जयएंगे, और रयजूहल ढय दद्य जयएगय। 7 और हुयब को बनोुवयई ूे ले जय्य जयएगय, और वह लयई जयएगी, और उसकी दयरस्यं छयीी पर गुरय्ीी हई कबूीरि कय सय ोबद बोलकर उसे ले चलेगी। 8 परनीु नीनवे जल के ीयल के सूयन पयचीन है; ीौभी वे भयग जयएंगे। खडे रहो, खडे रहो, क्य वे रोएँगे; परनीु कोई पीछे ूुडकर न देखेगय। 9 चयनदी की लूट ले लो, सोने की लूट ले लो; क्िदक भण्यर और सब ूनभयवने सयूयन की ूरहूय कय अनी नही होीय। 10 वह सुनसयन, और सुनसयन, और उजयड है; और हद् रपघल जयीय है, और घुटने आपस ूे रचपक जयीे है, और सब कूर ूे बडय दद् होीय है, और उन सभि के ूुख पर कयलयपन छय जयीय है। 11 रसंहि कय रनवयस और जवयन रसंहि कय चरयगयह कहयं रहय, जहयं रसंह और बूढय रसंह और उनके बचे भी रवचरीे थे, और कोई उनहे ्रयीय नही थय? 12 रसंह ने अपने बचिके रल्े टुकडे टुकडे दकए, और अपनी रसंहरन्िके रल्े उनकय गलय घिट ्यलय, और अपनी रबलिको अहेर से, और अपनी ूयंदिको खडिसे भर रल्य। 13 सेनयर के ्होवय की ्ही वयणी है, देख, ूै ीेरे रवरू हं, और उसके रथिको ोूएं ूे जलय दूंगय, और ीेरे जवयन रसंह ीलवयर से भसू कर ्यलूंगय; और ीेरे अहेर को पृयवी पर से और ीेरे दूीिकी वयणी को भी पृयवी पर से नयो कर ्यलूंगय अब और नही सुनय जयएगय अध्य् 3 1 खूनी नगर पर हय्! ्ह सब झूठ और ्कैीी से भरय है; रोकयर नही छूटीय; 2 कोडे कय ोबद, और परह्ि की घडघडयहट, और उछलनेवयले घोडि, और उछलनेवयले रथिकय ोबद। 3 सवयर ीेज ीलवयर और भयलय दोनि उठयीय है; और बही से ूयरे हए लोग, और बही सी लो्े फै ल जयीी है; और उनकी लोथि कय अनी नही; वे उनकी लयोि पर ठोकर खयीे है: 4 क्िदक वह सुनदर वेश्य, और टोनही की सवयरूनी, जो वरभचयचरणी होकर जयरी जयरी को, और जयदू करके कुलि को बेच ्यलीी है, उसके बही से वरभचयर के कयरण। 5 सेनयर के ्होवय कय ्ही वचन है, देख, ूै ीेरे रवरू हं; और ूै ीेरे चेहरे पर ीेरय घयघरय देखूंगय, और जयरी जयरी के लोगि को ीेरय ीन और रयज् रयज् के लोगि को ीेरी लुय पगट कर ं गय। 6 और ूै ीुझ पर घृरणी गंदगी फै लयऊ ं गय, और ीुझे घृरणी बनयऊ ं गय, और ीुझे घूरे कय सय बनय दूंगय। 7 और ऐसय होगय, दक रजीने ीुझे देखीे है वे सब ीेरे सयमहने से भयगकर कहेगे, नीनवे उजयड हो ग्य है; उसके रलथे कौन ोोक ूनयएगय? ूै ीेरे रल्े ोयरनी देनेवयले कहयं से ढूंढूं? 8 क्य ीू उस आबयदी से बेहीर है, जो नदद्ि के बीच ूे बसी थी, रजसके चयरि ओर पयनी थय, रजसकी दीवयर सूुद थी, और उसकी ोहरपनयह सूुद से बनी थी? 9 कूो और रूस उसकी ोर् थे, और वह अननी थी; पूी और लूबीू ीेरे सहय्क थे। 10 ीौभी वह पकडी गई, और बनोुवयई ूे गई; उसके छोटे लडके-बयलिको भी सब सडकिके रसरिपर पटक दद्य ग्य; और उसके परीरिी पुरदिके रलथे रचटी ्यली गई, और उसके सब बडे पुरद जंजीरिूे बनोे गए। 11 ीू भी ूीवयलय हो जयएगय, ीू रछप जयएगय, ीू भी ोतु के कयरण बल ढूंढेगय। 12 ीेरे सब गढ परहले पके अंजीर के वृकिके सूयन हिगे; ्दद वे रहलयए जयएं, ीो खयनेवयले के ूुंह ूे रगर पडेगे। 13 देख, ीेरे बीच ूे ीेरी पजय की रस्यं है; ीेरे देो के फयटक ीेरे ोतुरके रल्े खोल ददए जयएंगे; ीेरे बेण्िको आग भसू कर देगी। 14 घेरने के रलथे जल खीच ले, अपके गढ दृढ कर; रूटी ूे घुस जय, गयरय रौद, ईट भटे को दृढ कर। 15 वहयं आग ीुझे भसू कर देगी; ीलवयर ीुझे कयट ्यलेगी, वह ीुझे नयसूर के सूयन खय जयएगी; अपने आप को नयसूर के सूयन बही बनय ले, और अपने आप को चटरड्ि के सूयन बही कर ले। 16 ीू ने अपने वयपयचर्ि को आकयो के ीयरयगण से भी अरोक बढय रल्य है; नयसूर लूटकर उड जयीय है। 17 ीेरे ूुकुटोयरी चटरड्िके सूयन है, और ीेरे सेनयपरी बडी चटरड्िके सूयन है, जो जयडे के ददन बयडिूे ्ेरय ्यले रहीे है, परनीु सू्् रनकलीे ही भयग जयीे है, और अपनय स्यन न जयनीे है। 18 हे अशोूर के रयजय, ीेरे चरवयहे ऊ ं घ रहे है; ीेरे पोयन लोग रूटी ूे बसे रहेगे; ीेरी पजय पहयडि पर रीीर-रबीर हो गई है, और कोई उनहे इकटय नही करीय। 19 ीेरे घयव कय कोई इलयज नही; ीेरय घयव गंभीर है; रजीने ीेरय दुःख सुनेगे वे सब ीुझ पर ीयली बजयएँगे; क्िदक ीेरी दुषीय दकस पर रनरनीर नही भडकी?