SlideShare a Scribd company logo

Drugsppt by Simran.pptx

Interns of Directorate of Education GNCT of Delhi

1 of 9
Download to read offline
Drugsppt by Simran.pptx
(Drugs) का मतलब होता है दवाईयाां, ऐसी दवाईयाां जो ककसी खास रोग में ली जाती हैं और इन्हें लेने क
े कलए डॉक
् टर की सलाह की
जरूरत होती है। लेककन जब लोग ड
र ग को अपनी मजी से कबना ककसी वजह क
े लेने लगते हैं तो इसे नशा (Drug Addiction) कहते हैं।
भारत में कबना डॉक
् टर या एक
् सपटट की सलाह क
े कबना ड
र ग लेना कानून क
े खखलाफ है। हाल ही बॉलीवुड क
े सुपरस्टार (ShaRukh
Khan Son Aryan Khan Drugs Case) क
े साथ जुड़ रहा है, कजसक
े चलते उन्हें कहरासत में ले कलया गया है। दरअसल, जब से बॉलीवुड
क
े पूवट एक्टर सुशाांत कसांह राजपूत) की मौत मामले की जाांच में ड
र ग एां गल सामने आया है तब से बॉलीवुड क
े कई बड़े स्टासट भी ड
र ग जाल
में फ
ां सते जा रहे हैं। कई ऐसे A कलस्ट एक्टर हैं कजन पर ड
र ग लेने की बात सामने आ चुकी है। बॉलीवुड सेकलकिटी काफी कडकसप्लेन
लाइफस्टाइल जीने क
े कलए जाने जाते हैं। इसकलए आम लोग भी उनसे प्रभाकवत होकर उन्हें अपना आइडल मान लेते हैं। ऐसे में जब यह
बात सामने आए कक वे लोग ड
र ग ले रहे हैं तो फ
ै न्स को धक्का लगना लाजमी है।
ड
र ग्स का मतलब दवाइ/औषधी होता है औषकधयााँ रोगोां क
े इलाज में काम आती हैं। प्रारम्भ में औषकधयााँ, पेड़-पौधोां, जीव-
जन्तुओां से प्राप्त की जाती थी लेककन जैसे-जैसे रसायन कवज्ञान का कवस्तार होता गया, नये-नये तत्ोां की खोज हुई तथा उनसे
नई-नई औषकधयााँ क
ृ किम कवकध से तैयार की गई। आज औषकधयााँ कवकभन्न स्रोतोां जैसे, जन्तु, वनस्पकत,खकनज पदाथों से प्राप्त
की जाती हैं। खकनजोां से प्राप्त औषकधया काओकलन, पैराकफन, टर ाई कसकलफ
े ट आकद प्रमुख हैं
इसी प्रकार वनस्पकतयोां से मारफीन, खिनीन, ररसरपीन, कडकजटॉकफसन व जतु से इन्सुकलन, एन्टीटॉखिन व गोनेडोटाकफन्स
आकद औषकधयााँ प्राप्त की जाती है। रसायन कवकध में अकधकतर औषकधयााँ काबाटकनक पदाथों से तैयार की जाती है। एसीकटक
एनहाइटर ाइड से एस्प्रीन, यूररया से वेरोनल, बेन्जोइक अम्ल से सैकरीन व क्लोरकमन, कफनाल से फ
े नेकसकटन, ऐखस्पररन,
सैलोल, व सैकलकसकलक अम्ल आकद दवायें बनायी जाती है। बेन्जीन सल्फोकनक अम्ल से कई प्रकार की सल्फा-ड
र ग्स आकद
दवायें तैयार की जाती हैं।
ड
र ग्स' आमतौर पर दो प्रकार क
े हो सकते हैं। पहला, कजनका इस्तेमाल हम ककसी बीमारी या ककसी रोग को दू र करने
क
े कलए करते हैं। दू सरे वो हैं, कजनका इस्तेमाल आमतौर पर एक लत क
े तौर पर ककया जाता है, जैसे शराब, तांबाक
ू ,
कोकीन, अफीम, माररजुआना, हेरोइन, कसांथेकटक ड
र ग्स इत्याकद।इसक
े अलावा, अगर कोई ककसी तरह क
े उपचार क
े
कलए ककसी दवा का सेवन करता है लेककन, उपचार खत्म होने क
े बाद भी वो उस दवा का सेवन करता है, तो उसे
भी ड
र ग्स की श्रेणी में रखा जा सकता है। यानी कक अगर ककसी को ककसी भी चीज की लत लग जाए, जो स्वास्थ्य क
े
कलहाज से सुरकित नहीां है, उसे भी हम एक तरह का ड
र ग कह सकते हैं।
कानूनी दवाएां :
-क
ै फीन: क
ै फीन दुकनया की सबसे लोककप्रय कानूनी दवाओां में से एक
है। यह एक उत्तेजक है जो लोगोां को अकधक सतक
ट और जागृत
महसूस कराता है।
-कनकोटीन: कनकोटीन भी एक उत्तेजक है जो नशे की लत हो सकता
है। यह कसगरेट, कसगार, चबाने वाले तांबाक
ू और अन्य तांबाक
ू उत्पादोां
में पाया जाता है।
-अल्कोहल: शराब एक साइकोएखक्टव ड
र ग है जो लोगोां को आराम या
नीांद और नशे का एहसास करा सकती है।
अवैध दवा:
-माररजुआना: माररजुआना में डेल्टा 9 टेटर ाहाइड
र ोक
ै नाकबनोल (THC)
होता है, जो इसका इस्तेमाल करने पर लोगोां को ऊ
ां चा या पथरीला बना
देता है।
-हेरोइन: हेरोइन एक अफीम है
ड
र ग्स को आप शराब, कसगरेट या तांबाक
ू क
े सेवन की तरह समझ सकते हैं। कजस तरह ककसी व्यखि को शराब पीने
zzकी या धूम्रपान करने की आदत लग जाती है और चाहते हुए भी अपनी इस लत को नहीां छोड़ पाता है ठीक वैसा ही
ड
र ग लेने पर भी होता है। जब कोई व्यखि ड
र ग लेना शुरू करता है तो शुरू में वह इसक
े नशे को काफी इन्वॉय
करता है, लेककन धीरे-धीरे वह इसका इस कदर आकद हो जाता है कक उसे ड
र ग या मौत में से एक को चुनना पड़ता है।
याकन कक जीते जी ड
र ग एकडखक्टड अपनी आदत को छोड़ नहीां पाता और ककसी तरह छोड़ भी दे तो उसकी मौत हो
सकती हैदरअसल, ड
र ग लेने वाले व्यखि की बॉडी भयांकर नशे की इतनी आकद हो जाती है कक जब तक वह शरीर में न जाए उसे बेचेनी,
कचड़कचड़ाहट, गुस्सा और दौरे तक आने लगते हैं। क
ु छ लोग समझते हैं कक ड
र ग मानकसक समस्याओां जैसे की स्टरेस और एां ग्जाइटी को सही करने
का भी काम करती है। हालाांकक यह पूरी तरह से मेकडकल टमट है इसकलए इस बारे में ककसी स्पेशकलस्ट की सलाह लें और तभी कवश्वास करें। यूां तो
आज क
े समय में ड
र श की लत से छु टकारा पाने क
े कलए कई तरह क
े टर ीटमेंट उपलब्ध हैं। आइए जानते हैं ड
र ग्स से जुड़ी क
ु छ खास बातें।।

Recommended

तम्बाकू
तम्बाकूतम्बाकू
तम्बाकूAniket Dubey
 
लेप कल्पना.pptx
लेप कल्पना.pptxलेप कल्पना.pptx
लेप कल्पना.pptxShwetaJain877004
 
Treatments for hyperpigmentation
Treatments for hyperpigmentationTreatments for hyperpigmentation
Treatments for hyperpigmentationhealthspot
 
Health with welth
Health with welthHealth with welth
Health with welthamit143555
 
Flaxseed - Wonderful Food
Flaxseed  - Wonderful Food Flaxseed  - Wonderful Food
Flaxseed - Wonderful Food Om Verma
 
How to get rid of dark underarms (underarms
How to get rid of dark underarms (underarmsHow to get rid of dark underarms (underarms
How to get rid of dark underarms (underarmshealthspot
 

More Related Content

Similar to Drugsppt by Simran.pptx

Role of diet in our spiritual unfoldment
Role of diet in our spiritual unfoldmentRole of diet in our spiritual unfoldment
Role of diet in our spiritual unfoldmentSantsamaagam
 
Therapeutic Values Of Yoga
Therapeutic Values Of YogaTherapeutic Values Of Yoga
Therapeutic Values Of YogaDiksha Verma
 
नशीले पदार्थों का इस्तेमाल करने के दुष्प्रभाव (1).pdf
नशीले पदार्थों का इस्तेमाल करने के दुष्प्रभाव (1).pdfनशीले पदार्थों का इस्तेमाल करने के दुष्प्रभाव (1).pdf
नशीले पदार्थों का इस्तेमाल करने के दुष्प्रभाव (1).pdfOJASNeuropsychiatryC
 
नशीले पदार्थों का इस्तेमाल करने के दुष्प्रभाव.pdf
नशीले पदार्थों का इस्तेमाल करने के दुष्प्रभाव.pdfनशीले पदार्थों का इस्तेमाल करने के दुष्प्रभाव.pdf
नशीले पदार्थों का इस्तेमाल करने के दुष्प्रभाव.pdfOJASNeuropsychiatryC
 
Vitmin c benifit of skin
Vitmin c benifit of skinVitmin c benifit of skin
Vitmin c benifit of skinhealthspot
 
Diabetic Neuropathy
Diabetic NeuropathyDiabetic Neuropathy
Diabetic NeuropathyOm Verma
 
आयुर्वेद (Ayurveda) _ आयुर्वेद क्या है _ .pdf
आयुर्वेद (Ayurveda) _ आयुर्वेद क्या है _ .pdfआयुर्वेद (Ayurveda) _ आयुर्वेद क्या है _ .pdf
आयुर्वेद (Ayurveda) _ आयुर्वेद क्या है _ .pdfSameerHusain15
 
Nutrition for Students 27.01.2020 - Copy.pptx.ppt
Nutrition for Students 27.01.2020 - Copy.pptx.pptNutrition for Students 27.01.2020 - Copy.pptx.ppt
Nutrition for Students 27.01.2020 - Copy.pptx.pptDr.Chandrajiit Singh
 

Similar to Drugsppt by Simran.pptx (11)

Role of diet in our spiritual unfoldment
Role of diet in our spiritual unfoldmentRole of diet in our spiritual unfoldment
Role of diet in our spiritual unfoldment
 
Therapeutic Values Of Yoga
Therapeutic Values Of YogaTherapeutic Values Of Yoga
Therapeutic Values Of Yoga
 
Chakra sankalpana - energy source
Chakra sankalpana - energy sourceChakra sankalpana - energy source
Chakra sankalpana - energy source
 
नशीले पदार्थों का इस्तेमाल करने के दुष्प्रभाव (1).pdf
नशीले पदार्थों का इस्तेमाल करने के दुष्प्रभाव (1).pdfनशीले पदार्थों का इस्तेमाल करने के दुष्प्रभाव (1).pdf
नशीले पदार्थों का इस्तेमाल करने के दुष्प्रभाव (1).pdf
 
नशीले पदार्थों का इस्तेमाल करने के दुष्प्रभाव.pdf
नशीले पदार्थों का इस्तेमाल करने के दुष्प्रभाव.pdfनशीले पदार्थों का इस्तेमाल करने के दुष्प्रभाव.pdf
नशीले पदार्थों का इस्तेमाल करने के दुष्प्रभाव.pdf
 
Side effects of smoking
Side effects of smokingSide effects of smoking
Side effects of smoking
 
Side effects of smoking
Side effects of smokingSide effects of smoking
Side effects of smoking
 
Vitmin c benifit of skin
Vitmin c benifit of skinVitmin c benifit of skin
Vitmin c benifit of skin
 
Diabetic Neuropathy
Diabetic NeuropathyDiabetic Neuropathy
Diabetic Neuropathy
 
आयुर्वेद (Ayurveda) _ आयुर्वेद क्या है _ .pdf
आयुर्वेद (Ayurveda) _ आयुर्वेद क्या है _ .pdfआयुर्वेद (Ayurveda) _ आयुर्वेद क्या है _ .pdf
आयुर्वेद (Ayurveda) _ आयुर्वेद क्या है _ .pdf
 
Nutrition for Students 27.01.2020 - Copy.pptx.ppt
Nutrition for Students 27.01.2020 - Copy.pptx.pptNutrition for Students 27.01.2020 - Copy.pptx.ppt
Nutrition for Students 27.01.2020 - Copy.pptx.ppt
 

More from Directorate of Education Delhi

Anjali SKV Sector16 Rohini SWOT Analysis Social Internship Program
Anjali SKV Sector16 Rohini SWOT Analysis Social Internship ProgramAnjali SKV Sector16 Rohini SWOT Analysis Social Internship Program
Anjali SKV Sector16 Rohini SWOT Analysis Social Internship ProgramDirectorate of Education Delhi
 
Social Internship Program. Report #directorateofeducation #ladlifoundation
Social Internship Program. Report #directorateofeducation  #ladlifoundation Social Internship Program. Report #directorateofeducation  #ladlifoundation
Social Internship Program. Report #directorateofeducation #ladlifoundation Directorate of Education Delhi
 
SWOT ANALYSIS by Vinita Joshi, G.S.K.V Sec-16 Rohini Delhi.pdf
SWOT ANALYSIS by Vinita Joshi, G.S.K.V Sec-16 Rohini Delhi.pdfSWOT ANALYSIS by Vinita Joshi, G.S.K.V Sec-16 Rohini Delhi.pdf
SWOT ANALYSIS by Vinita Joshi, G.S.K.V Sec-16 Rohini Delhi.pdfDirectorate of Education Delhi
 
WASH( Water Sanitation and Hygiene) by Dr Sushma Singh
WASH( Water Sanitation and Hygiene) by Dr Sushma Singh WASH( Water Sanitation and Hygiene) by Dr Sushma Singh
WASH( Water Sanitation and Hygiene) by Dr Sushma Singh Directorate of Education Delhi
 

More from Directorate of Education Delhi (20)

Intern Neha Kumari SWOT analysis .
Intern Neha Kumari SWOT analysis .Intern Neha Kumari SWOT analysis .
Intern Neha Kumari SWOT analysis .
 
Anjali SKV Sector16 Rohini SWOT Analysis Social Internship Program
Anjali SKV Sector16 Rohini SWOT Analysis Social Internship ProgramAnjali SKV Sector16 Rohini SWOT Analysis Social Internship Program
Anjali SKV Sector16 Rohini SWOT Analysis Social Internship Program
 
Bhoomi(Skv sector 16 rohini) SWOT Analysis
Bhoomi(Skv sector 16 rohini) SWOT AnalysisBhoomi(Skv sector 16 rohini) SWOT Analysis
Bhoomi(Skv sector 16 rohini) SWOT Analysis
 
Social Internship Program. Report #directorateofeducation #ladlifoundation
Social Internship Program. Report #directorateofeducation  #ladlifoundation Social Internship Program. Report #directorateofeducation  #ladlifoundation
Social Internship Program. Report #directorateofeducation #ladlifoundation
 
Neeru SWOTAnalysis.pdf
Neeru SWOTAnalysis.pdfNeeru SWOTAnalysis.pdf
Neeru SWOTAnalysis.pdf
 
SWOT ANALYSIS by Vinita Joshi, G.S.K.V Sec-16 Rohini Delhi.pdf
SWOT ANALYSIS by Vinita Joshi, G.S.K.V Sec-16 Rohini Delhi.pdfSWOT ANALYSIS by Vinita Joshi, G.S.K.V Sec-16 Rohini Delhi.pdf
SWOT ANALYSIS by Vinita Joshi, G.S.K.V Sec-16 Rohini Delhi.pdf
 
Mahak SWOTAnalysis.pptx
Mahak SWOTAnalysis.pptxMahak SWOTAnalysis.pptx
Mahak SWOTAnalysis.pptx
 
NaazmeenSWOTAnalysis.pptx
NaazmeenSWOTAnalysis.pptxNaazmeenSWOTAnalysis.pptx
NaazmeenSWOTAnalysis.pptx
 
MahiSWOTAnalysis.pdf
MahiSWOTAnalysis.pdfMahiSWOTAnalysis.pdf
MahiSWOTAnalysis.pdf
 
AyeshaSWOTAnalysis.PDF
AyeshaSWOTAnalysis.PDFAyeshaSWOTAnalysis.PDF
AyeshaSWOTAnalysis.PDF
 
AnnuSWOTAnalysis.pdf
AnnuSWOTAnalysis.pdfAnnuSWOTAnalysis.pdf
AnnuSWOTAnalysis.pdf
 
DeepaSWOTAnalysis.pdf
DeepaSWOTAnalysis.pdfDeepaSWOTAnalysis.pdf
DeepaSWOTAnalysis.pdf
 
soni SWOTAnalysis.pptx
soni SWOTAnalysis.pptxsoni SWOTAnalysis.pptx
soni SWOTAnalysis.pptx
 
Geetanjali SWOT Analysis.pdf
Geetanjali SWOT Analysis.pdfGeetanjali SWOT Analysis.pdf
Geetanjali SWOT Analysis.pdf
 
shivangi SWOTAnalysis.pdf
shivangi SWOTAnalysis.pdfshivangi SWOTAnalysis.pdf
shivangi SWOTAnalysis.pdf
 
JannatSWOTAnalysis.pptx
JannatSWOTAnalysis.pptxJannatSWOTAnalysis.pptx
JannatSWOTAnalysis.pptx
 
Sakshi SWOT Analysis S.K.V sec 16 rohini.pdf
Sakshi SWOT Analysis S.K.V sec 16 rohini.pdfSakshi SWOT Analysis S.K.V sec 16 rohini.pdf
Sakshi SWOT Analysis S.K.V sec 16 rohini.pdf
 
Khushboo SWOTAnalysis.pptx
Khushboo SWOTAnalysis.pptxKhushboo SWOTAnalysis.pptx
Khushboo SWOTAnalysis.pptx
 
Digital Empowerment. By Dr Sushma Singh
Digital Empowerment. By Dr Sushma SinghDigital Empowerment. By Dr Sushma Singh
Digital Empowerment. By Dr Sushma Singh
 
WASH( Water Sanitation and Hygiene) by Dr Sushma Singh
WASH( Water Sanitation and Hygiene) by Dr Sushma Singh WASH( Water Sanitation and Hygiene) by Dr Sushma Singh
WASH( Water Sanitation and Hygiene) by Dr Sushma Singh
 

Drugsppt by Simran.pptx

  • 2. (Drugs) का मतलब होता है दवाईयाां, ऐसी दवाईयाां जो ककसी खास रोग में ली जाती हैं और इन्हें लेने क े कलए डॉक ् टर की सलाह की जरूरत होती है। लेककन जब लोग ड र ग को अपनी मजी से कबना ककसी वजह क े लेने लगते हैं तो इसे नशा (Drug Addiction) कहते हैं। भारत में कबना डॉक ् टर या एक ् सपटट की सलाह क े कबना ड र ग लेना कानून क े खखलाफ है। हाल ही बॉलीवुड क े सुपरस्टार (ShaRukh Khan Son Aryan Khan Drugs Case) क े साथ जुड़ रहा है, कजसक े चलते उन्हें कहरासत में ले कलया गया है। दरअसल, जब से बॉलीवुड क े पूवट एक्टर सुशाांत कसांह राजपूत) की मौत मामले की जाांच में ड र ग एां गल सामने आया है तब से बॉलीवुड क े कई बड़े स्टासट भी ड र ग जाल में फ ां सते जा रहे हैं। कई ऐसे A कलस्ट एक्टर हैं कजन पर ड र ग लेने की बात सामने आ चुकी है। बॉलीवुड सेकलकिटी काफी कडकसप्लेन लाइफस्टाइल जीने क े कलए जाने जाते हैं। इसकलए आम लोग भी उनसे प्रभाकवत होकर उन्हें अपना आइडल मान लेते हैं। ऐसे में जब यह बात सामने आए कक वे लोग ड र ग ले रहे हैं तो फ ै न्स को धक्का लगना लाजमी है।
  • 3. ड र ग्स का मतलब दवाइ/औषधी होता है औषकधयााँ रोगोां क े इलाज में काम आती हैं। प्रारम्भ में औषकधयााँ, पेड़-पौधोां, जीव- जन्तुओां से प्राप्त की जाती थी लेककन जैसे-जैसे रसायन कवज्ञान का कवस्तार होता गया, नये-नये तत्ोां की खोज हुई तथा उनसे नई-नई औषकधयााँ क ृ किम कवकध से तैयार की गई। आज औषकधयााँ कवकभन्न स्रोतोां जैसे, जन्तु, वनस्पकत,खकनज पदाथों से प्राप्त की जाती हैं। खकनजोां से प्राप्त औषकधया काओकलन, पैराकफन, टर ाई कसकलफ े ट आकद प्रमुख हैं इसी प्रकार वनस्पकतयोां से मारफीन, खिनीन, ररसरपीन, कडकजटॉकफसन व जतु से इन्सुकलन, एन्टीटॉखिन व गोनेडोटाकफन्स आकद औषकधयााँ प्राप्त की जाती है। रसायन कवकध में अकधकतर औषकधयााँ काबाटकनक पदाथों से तैयार की जाती है। एसीकटक एनहाइटर ाइड से एस्प्रीन, यूररया से वेरोनल, बेन्जोइक अम्ल से सैकरीन व क्लोरकमन, कफनाल से फ े नेकसकटन, ऐखस्पररन, सैलोल, व सैकलकसकलक अम्ल आकद दवायें बनायी जाती है। बेन्जीन सल्फोकनक अम्ल से कई प्रकार की सल्फा-ड र ग्स आकद दवायें तैयार की जाती हैं।
  • 4. ड र ग्स' आमतौर पर दो प्रकार क े हो सकते हैं। पहला, कजनका इस्तेमाल हम ककसी बीमारी या ककसी रोग को दू र करने क े कलए करते हैं। दू सरे वो हैं, कजनका इस्तेमाल आमतौर पर एक लत क े तौर पर ककया जाता है, जैसे शराब, तांबाक ू , कोकीन, अफीम, माररजुआना, हेरोइन, कसांथेकटक ड र ग्स इत्याकद।इसक े अलावा, अगर कोई ककसी तरह क े उपचार क े कलए ककसी दवा का सेवन करता है लेककन, उपचार खत्म होने क े बाद भी वो उस दवा का सेवन करता है, तो उसे भी ड र ग्स की श्रेणी में रखा जा सकता है। यानी कक अगर ककसी को ककसी भी चीज की लत लग जाए, जो स्वास्थ्य क े कलहाज से सुरकित नहीां है, उसे भी हम एक तरह का ड र ग कह सकते हैं।
  • 5. कानूनी दवाएां : -क ै फीन: क ै फीन दुकनया की सबसे लोककप्रय कानूनी दवाओां में से एक है। यह एक उत्तेजक है जो लोगोां को अकधक सतक ट और जागृत महसूस कराता है। -कनकोटीन: कनकोटीन भी एक उत्तेजक है जो नशे की लत हो सकता है। यह कसगरेट, कसगार, चबाने वाले तांबाक ू और अन्य तांबाक ू उत्पादोां में पाया जाता है। -अल्कोहल: शराब एक साइकोएखक्टव ड र ग है जो लोगोां को आराम या नीांद और नशे का एहसास करा सकती है। अवैध दवा: -माररजुआना: माररजुआना में डेल्टा 9 टेटर ाहाइड र ोक ै नाकबनोल (THC) होता है, जो इसका इस्तेमाल करने पर लोगोां को ऊ ां चा या पथरीला बना देता है। -हेरोइन: हेरोइन एक अफीम है
  • 6. ड र ग्स को आप शराब, कसगरेट या तांबाक ू क े सेवन की तरह समझ सकते हैं। कजस तरह ककसी व्यखि को शराब पीने zzकी या धूम्रपान करने की आदत लग जाती है और चाहते हुए भी अपनी इस लत को नहीां छोड़ पाता है ठीक वैसा ही ड र ग लेने पर भी होता है। जब कोई व्यखि ड र ग लेना शुरू करता है तो शुरू में वह इसक े नशे को काफी इन्वॉय करता है, लेककन धीरे-धीरे वह इसका इस कदर आकद हो जाता है कक उसे ड र ग या मौत में से एक को चुनना पड़ता है। याकन कक जीते जी ड र ग एकडखक्टड अपनी आदत को छोड़ नहीां पाता और ककसी तरह छोड़ भी दे तो उसकी मौत हो सकती हैदरअसल, ड र ग लेने वाले व्यखि की बॉडी भयांकर नशे की इतनी आकद हो जाती है कक जब तक वह शरीर में न जाए उसे बेचेनी, कचड़कचड़ाहट, गुस्सा और दौरे तक आने लगते हैं। क ु छ लोग समझते हैं कक ड र ग मानकसक समस्याओां जैसे की स्टरेस और एां ग्जाइटी को सही करने का भी काम करती है। हालाांकक यह पूरी तरह से मेकडकल टमट है इसकलए इस बारे में ककसी स्पेशकलस्ट की सलाह लें और तभी कवश्वास करें। यूां तो आज क े समय में ड र श की लत से छु टकारा पाने क े कलए कई तरह क े टर ीटमेंट उपलब्ध हैं। आइए जानते हैं ड र ग्स से जुड़ी क ु छ खास बातें।।
  • 7. नशा छोड़ने पर भोजन का सही स्वाद कमलता है और इसमें शाकमल पौकिक तत्ोां का सही पाचन और अवशोषण होता है। इससे शरीर क े कवकभन्न अांग सकिय रहते हैं, कजससे रिसांचार सुव्यवखथथत रहता है। इससे इम्यून कसस्टम और मेटाबॉकलज्म में सुधार होने से ककसी बीमारी क े सांिमण से बचने की सांभावना काफी हद तक बढ़ जाती है। तांबाक ू उत्पादोां क े सेवन से मुि होने वाले लोगोां को टीबी, हाई बीपी, न्यूरो प्रॉब्लम और हृदय रोग क े अलावा बड़े स्तर पर क ैं सर से बचे रहने में मदद कमलती है। अगर इन रोगोां में से ककसी एक या ज्यादा रोग से पीकड़त हो चुक े हैं तो उकचत कचककत्सा द्वारा जल्दी ठीक होने की सांभावना भी बढ़ जाती है। इससे श्वसन तांि में भी काफी सुधार होता है। कसगरेट, गुटखा, खैनी, जदाट आकद क े सेवन से छु टकारा पाने पर खासकर मुांह और गले क े क ैं सर से बचे रहना आसान हो जाता है और पाचन तांि ठीक से काम करने लगता है। चरस, अफीम, कोकीन और हेरोइन की लत से मुि होने क े बहुत लाभ हैं। इन नशीली वस्तुओां क े उपयोग से गांभीर अवसाद और पागलपन की अवथथा में पहुांचे लोगोां क े कलए भी आगे एक सेहतमांद जीवन जीने क े रास्ते खुल जाते हैं, बेशक समय थोड़ा ज्यादा लगता हैं।
  • 8. शराब का अत्यकधक सेवन हमारे मखस्तष्क को नकारात्मक रूप से प्रभाकवत करता है। इससे हमारे िेन क े फ ां क्शन को मैनेज करने वाले न्यूरॉन बहुत ज्यादा प्रभाकवत होते है। इससे न्यूरॉन का आकर कम हो सकता है। साथ ही िेन में न्यूरॉन की सांख्या में भी तेजी से कमी आ सकती है। शराब क े अत्यकधक सेवन से हमारे कदमाग पर गहरा असर पड़ता है। इससे हमारी सोचने समझने की शखि कमजोर होती है। कम ककसी भी चीज पर ठीक से ध्यान क ें कित नही कर पाते। लांबे समय तक शराब क े सेवन से हमारे मखस्तष्क क े सांतुलन पर असर पड़ता है। साथ ही हमारी स्मृकत शखि भी प्रभाकवत होती है। डॉक्टर पूनम दुनेजा क े बताया कक शराब क े अत्यकधक सेवन से आपक े कदमाग क े कॉकिकटव फ ां क्शन पर भी असर पड़ सकता है। दरअसल िेन कॉकिकटव फ ां क्शन (cognitive function) मानकसक प्रकतकियाएां होती है कजसक े द्वारा हमारा कदमाग जानकारी लेने, साझा करने, कवककसत करने और स्टोर करने जैसे कायट करता है। शराब का अत्यकधक सेवन से क्या होगा करने से क्या होगा