SlideShare a Scribd company logo
1 of 15
Download to read offline
समूह के सदस्य:
•श्रेया
•दृष्टि
•वंदना
•ड ंपी
•योग्यता
•दीपपका
•सोननका
•साहहबा
•प्रनतमा
परिचय
उपयोग दुरूपयोग
•जीवन को सहािा देना,
•पवभिन्न गनतपवधियों के भिए पानी
उपिब्ि किाना,
•खेतों की भसंचाई
•िाजनीनतक सीमाओं के ननिाािण औि
देशों की िक्षा किने में महत्वपूणा
•नौसंचािन
• नदी के मोिे अवसादों का ननमााण में
उपयोग ककया जाता है
•क्षय व्यवस्था
•बांि का पानी
•दुरूपयोग तब होता है जब नहदयों से
साफ पानी ननकािकि व्यथृ ष्स्तथी में
िौिा हदया जाता है
•खेतों में भसंचाई का पानी अक्सि
िवण, कीिनाशकों आहद से दूपित
होता है, जो जीव जंतुओं के भिए
हाननकािक होता है
•बाढ़ इमाितों औि फसिों को नटि
कि सकती है
• सबसे िंबी नदी :-
नील नदी 6650 किलोमीटर िी लंबाई िे साथ दुननया िी
सबसे लंबी नदी मानी
जानि है I
• कम से कम नदी :-
ग्रेट फॉल्स,मोंटाना में छोटी हहरन नदी िे वल 201 फीट लंबी
है I छोटी हहरन नदी ने दुननया िी सबसे छोटी नदी िे रूप
में गिनीज बुि में ववश्व ररिार्ड िायम किया है
• गहिी नदी :-
िांिो नदी ,अफ्रीिा में एि नदी है, यह 220 मीटर (720 फु ट)
से अगिि मापा िहराई िे साथ दुननया िी सबसे िहरी नदी
हैI
नहदयों िे बारे में आश्चयडजनि िथ्य!
• सबसे तेज नदी :-
बाढ़ चिण के दौिान दुननया में सबसे तेजी से बह िही नदी पैििसन न्यू
जसी में पास्सैक है I पास्सैक नदी के ग्रेि फॉल्स जो कण्ठ के भसि पि एक
अनत संकीणा कण्ठ में 77 फु ि धगि जाता है , नदी चैनि से 25-30 फु ि चौडी
है I यह एक मानव ननभमात चैनि नहीं है, यह स्वािापवक है,
ताकक बाढ़ के दौिान प्रवाह वेग सबसे तेज़ हो I
• प्राचीनतम नदी :-
क ं क नदी कें द्रीय ऑस्रेभिया में सबसे बडी नहदयों में से एक है I नदी िंबे
समय पवशेि रूप से िूि ऑपिेििों द्वािा, औि िोकपप्रय ककताबें औि ब्रोशि
में, "दुननया में सबसे पुिानी नदी" के रूप में उद्िृत की गयी है है I
• पानी के नीचे नदी :-
रियो भसक्रीिो, मेष्क्सको अपवश्वसनीय पानी के नीचे नदी है I यह एक
पयािक आकिाण है I यह खननज के कािण गुफा गठन हो गयी है I यह सिी
पयािकों के भिए एक जादुई अनुिव है I
• सबसे सुंदि नदी :-
उत्तिी कोिष्बबया में कै न्यो कृ स्िेल्स,अक्सि दुननया में सबसे सुंदि नदी
मानी जानत है I
तत्रापश्यत िमाात्मा देव देवपिापूष्जतम
निनािायण-स्थान िागीिथ्यों पशोभितम ्।।
• आज के आिूननक युग की बात किे तो मनुटय जानत ने इन नहदयों
को दूपित बना हदया है। जो नहदयााँ पपवत्रता के नाम से जानी जाती
थी। उन्हीं नहदयों में कू डा-किकि ाि के उन्हे दूपित कि हदया।
मनुटय उन नहदयों की पपवत्रता को िीिे-िीिे नटि किता जा िहा है।
• मैं आज आपको (िागीिथी) गंगा नदी के बािे में बताना चाहती हूाँ।
ष्जसको िोग आज िी एक पपवत्रता की देवी का दजाा देते हैं। उनकी
िािणा यह है कक गंगा में स्नान किने से सािे पाप िुि जाते हैं।
अथाडि- वहााँ एि िमाडत्मा ने देव और देवऋवियों द्वारा पूजजि
भािीरथ,नदी िे समान शोभायमान नरनारायण स्थान िो देाा
िाधगिथी का अवतिण
पुिोहहत के कु ि में बाहुक का जन्म हुआ I बडे होने पि
शत्रुओ ने उसका िाज्य छीन भिया औि वह अपनी
पष्त्न के साथ वन चिा गया I वन में बुढापे के कािण
उसकी मृत्यु हो गयी I उसके गुरू ओवा ने उसकी पष्त्न
को सनत नहीं होने हदया क्योंकक वह जानते थी कक वो
गिावनत थी उसकी सौतों को जब ज्ञात हुआ तो
उन्होने उसे पवि दे हदया I पवि का गिा पि कोई
प्रिाव नहीं पडा I बािक पवि (गि) के साथ ही
उत्पन्न हुआ,इसभिए 'स+गि = सगि' कहिाया। बडा
हने पि उसका पववाह दो िाननयों से हुआ-
1 सुमनत- ष्जसके गिा से एक तुंबा ननका ष्जसके
फिने पि साठ हज़ाि पुत्रों का जन्म हुआ।
2 कोभशनी- ष्जसका असमंजस नामक पुत्र हुआ।
सगि ने अश्वमेि यज्ञ ककया। इंद्र ने उसके यज्ञ का घोडा चुिाकि तपस्वी
कपपि के पास िे जाकि खडा कि हदया। उिि सगि ने सुमनत के पुत्रों को घोडा
ढूढने के भिए िेजा। िाजकु माि ने सब जगह घोडे को हि जगह देखा पि कही नहीं
भमिा। पूवा-उत्ति हदशा में कपपि मुनी के पास घोडा देखकि उन्होने मुनी को ििा-
बुिा कहा। फिस्वरूप इस सब से वे िस्म हो गए। कोभशनी के पुत्र का नाम
असमंजस, तथा असमंजस के पुत्र का नाम अंशुमन था। असमंजस पूवा जन्म से
योगभ्रटि हो गया था। उसकी स्मृनत खोई नहीं थी। एक बाि उसने बच्चों को सियु
में ाि हदया। पपता ने रूटि होकि उसे त्याग हदया। उसने अपने योगबि से बच्चों
को जीपवत कि हदया तथा स्वयं वन चिा गया। यह देखकि सबको बहुत पश्चाताप
हुआ। िाजा सगि ने पौत्र अंशुमन को घोडा खोजने िेजा। वह ढूंढता-ढूंढता कपपि
से प्रसन्न होकि उसे घोडादे हदया तथा कहा कक िस्म हुए चाचाओं का उद्िाि
गंगाजि से होगा। अंशुमन ने जीवन पयात तपस्या की ककं तु ह गंगा को पृथ्वी पि
नहीं िा पाया। तदनंति उसके पुत्र हदिीप ने िी असफि तपस्या की। हदिीप के
पुत्र िागीिथी के तप से प्रसन्न होकि गंगा के वेग को भशव ने अपनी जिाओं से
संिािा। िागीिथ के पीछे-पीछे चिकि गंगा समुद्र तक पहुाँची। िागीिथ के द्वािा
गंगा को पृथ्वी पि िाने का कािण यह िागीिथी कहिाई।
नदी
नदी ननिलिी है पवडि से,
मैदानों में बहिी है I
और अंि में ममल सािर से,
एि िहानी िहिी है I
बचपन में छोटी थी पर मैं,
बडे वेि से बहिी थी I
आाँिी-िूफान, बाढ़-बवंर्र,
सब िु छ हाँसिर सहिी थी I
मैदानों में आिर मैने,
सेवा िा संिल्प मलया I
और बना जैसे भी मुझसे,
मानव िा उपिार किया I
अंि समय में बचा शेि जो,
सािर िो उपहार हदया I
सब िु छ अवपडि िरिे अपने,
जीवन िो सािार किया I
बच्चों मशक्षा लेिर मुझसे,
मेरे जैसे हो जाओ I
सेवा और समपडण से िुम,
जीवन बगिया महिाओ I
यमुना की आत्मकथा
मैं यमुना हूं I हहमालय िी िोद में जन्मी, मैं ममलने चली हूाँ सािर से I
मैं भारि िे स्वर्णडम ववरासि िा हहस्सा हूाँ I स्पष्ट और शुद्ि मैं ्रववाह
होिी हूाँ देिे हुए जीवन िा आसरा I सुनेहरी वाहदयों और ाुले मैदानों
िे बीच से सभी िा प्यार समेटिे हुए बहिी हूाँ I सहदयों से ऋवि-
मुननयों ने अपनी पववत्रिा दशाडिे हुए मुझमें ्रवक्षालन किया है I
देाो आज क्या दशा है मेरी ! मानो मेरा दूविि नीर मुझमें बसे
जीवन िा ववनाश िर रहा हो I ऐसा ्रविीि होिा है जैसे मैं मात्र
अपवाहहिा बनिे रह िई हूाँ I मैं हैरान हूाँ िुम्हारी छोटी सोच
पे,िुम्हारे अज्ञानी मन और मनोभाव से…मसर्फड कििाबी ग्यान िुम्हे ववद्वान
नहीं बनािा- देाो अपने पयाडवरण िो- जािो और चेिना फै लाओ I लौटादो
मेरा सुनेहरा पानी, बहने दो मुझे उसी िनि से, सुनो मेरी आवाज़ और पूरी
िरो मेरी लालसा I
मुझे एि िंदे अपवाहहिा िी िरह नहीं मरना है;
मुझे एि बार कफर से अपने िौरवशाली अिीि िा
्रवनिननगित्व िरना है I
्रविृ नि िा ्रविोप…उत्तराांर् में ्रवलय
• जून 2013 में, उत्तर भारि में भारी बाररश िे िारण हहमाचल ्रवदेश और
उत्तरााण्र् में बाढ़ और भूस्ालन िी जस्थनि पैदा हो ियी इससे ्रवभाववि
अन्य राज्य हररयाणा, हदल्ली और उत्तर ्रवदेश हैं बाढ़ िे िारण जान-माल
िा भारी नुिसान हुआ और बहुि से लोि बाढ़ में बह िए…हजारों लोि
बेघर हो िये
24 जून 2013 िे अनुसार इस भयानि आपदा में 5000 से ज्यादा
लोि मारे जा चुिे हैं
• कु दरि िा कहर सबसे ज़्यादा पहाडी राज्यों उत्तराांर् और हहमाचल ्रवदेश
में बरपा हुआ सबसे ज़्यादा िबाही रूद्र्रवयाि जज़ले में जस्थि मशव िी
निरी िे दारनाथ में हुई िे दारनाथ मंहदर िा मुख्य हहस्सा और सहदयों
पुराना िुंबद िो सुरक्षक्षि है लेकिन ्रववेश द्वार और आस-पास िे सारे
इलाके या िो बह िए हैं या पूरी िरह िबाह हो िए हैं
• उत्तराांर् िे िे दारनाथ, रामबाडा, सोन्रवयाि, चंद्रापुरी और िौरीिुं र् में भारी नुिसान हुआ है
िु माऊाँ मंर्ल में वपथौरािढ़ जज़ला सबसे ज़्यादा ्रवभाववि हुआ है सैिडों िााँव वाढ में बह िए
हैं उत्तराांर् में हुयी बाररश िा असर उत्तर्रवदेश िे सहारनपुर में भी पडा जहां से 15 से
ज्यादा लोिों िे मारे जाने िी ख़बर है
• सेना, आईटीबीपी, बीएसएफ, एनर्ीआरएफ, लोि ननमाडण ववभाि और स्थानीय ्रवशासन बचाव
िायड िे मलए ममलिर एि साथ िाम किया िई हजार सैननिों िो बचाव अमभयान िे मलए
िैनाि किया िया
• लोिों िो बचाने िे मलए हेलीिाप्टर िा ्रवयोि किया िया, लेकिन पहाडी इलािे होने िे
िारण भारी िोहरे और बाररश िे बीच उनिे मलए िायड िरना बेहद चुनौिी भरा िायड था
10,000 से अगिि सैननिों और भारिीय वायुसेना िे िई ववमानों िी मदद से जस्थनि पर
ननयंत्रण पाने िा ्रवयास किया िया
• यमुना बचाओ आंदोलन पररयोजना यमुना िे ्रवदूिण िो रोिने िे मलए िैयार
िी िई है I हररयाणा में 12 शहरों िो नदी िे ्रवदूिण िे मलए पहचाना िया है I
यह पररयोजना 211 िरोड िी है व जापान भी हमारी सहायिा िर रहा है I
• आंदोलन िे िहि ननम्न िायड शुरू हो िए हैं-
• लिभि 15 किमी लंबी सीवर ट्रंि लाइन यमुनानिर और जिािरी शहरों में
बबछाई िई है I विडमान में सीवर लाइन िु रुक्षेत्र,सहारनपुर रोर् पर भी बबछाई
जाएिी I
• िीन मुख्य पंवपंि स्टेशन हैं जजनमें से एि िा जीणोद्िार किया िया है जो
जमुना िली में है सभी िीन पजम्पंि स्टेशनों िा िमीशन किया िया है
• िीन लिडी आिाररि शमशान भूमम िैं प क्षेत्र, सब्जी मंर्ी और बुररया
िेट,जिािरी में पूरे किए िए हैं I ये ्रवबंिन िे मलए ननजी संस्था िो सौंप हदए
िए हैं I
• वनीिरण िायड ्रविनि पर है I
• जािरूििा िे मलए झुग्िी क्षेत्रों में सावडजननि स्वास्थ्य सुवविाओं िे साथ चार
(20 ​​सीटर ) फ्लश शौचालयों िा चांदपुर , िैं प क्षेत्र, सब्जी बाजार और आजाद
निर में ननमाडण किया िया है I
• इस निगथ िि 2239 लाा रुपये पररयोजना पर ाचड किए िए हैं I
नई हदल्ली: यमुना मुजक्ि यात्रा िे दबाव में आर्ारिार सरिार ने यमुना िे समानांिर िंदे पानी
िे मलए अलि से नाला बनाने िी मांि मान ली है आंदोलनिाररयों िे साथ ममलिर इसिी
ववस्िृि योजना अिले दो महीने में िैयार िर ली जाएिी साथ ही सरिार ने हगथनीिुं र् बैराज से
छोडे जा रहे पानी िो भी बढ़ाने िा भरोसा हदया है हालांकि अंनिम ्रवस्िाव िे मलए
आंदोलनिाररयों से एि हदन िा और समय और मांिा िया है, जजस पर वे िैयार हो िए हैं
िें द्रीय पयाडवरण मंत्री जयंिी नटराजन और जल संसािन मंत्री हरीश रावि अंनिम ्रवस्िाव िे साथ
मंिलवार िो आंदोलनिाररयों िे पास ाुद पहुंचेंिे राज्य सरिारों से संपिड िरने िे बाद मलर्ाि
रूप में सरिारी ्रवस्िाव िैयार िरने िे मलए उन्होंने दोपहर 3:00 बजे िि िा समय मांिा है
माना जा रहा है कि आंदोलनिाररयों िो मनाने िा नया फामूडलासं्रवि अध्यक्ष सोननया िांिी िी
सहमनि से िैयार हुआ है सोमवार देर राि हरीश रावि और जयंिी नटराजन ने यमुना मुजक्ििरण
यात्रा िे नेिाओं से लंबी मुलािाि िी इस दौरान उन्हें िहा िया कि िें द्र सरिार यमुना िे
समांिर नाला बनाने िी उनिी मांि िो मानने िे मलए िैयार है इस नाले िा ्रवारूप बनाने वाली
सममनि में ििनीिी ववशेिज्ञों और पयाडवरणववदों िे साथ यमुना रक्षि दल िे दो ्रवनिननगि भी
शाममल किए जाएंिे यह अपना पूरा ्रवस्िाव दो महीने िे अंदर िैयार िर लेिी हररयाणा िे
हगथनीिुं र् बैराज से यमुना में छोडा जाने वाला पानी बढ़ाने िी मांि पर फै सला मंिलवार िो
हररयाणा सरिार िे साथ बािचीि िे बाद ही हो सिे िा बैठि में यमुना रक्षि दल िे अध्यक्ष
जय िृ ष्ण दास, संरक्षि स्वामी नारायण दास और पंिज बाबा सहहि आिा दजडन लोि शाममल थे
इससे पहले रावि ने हदल्ली, हररयाणा और उत्तर ्रवदेश िे जल संसािन मंत्रालय िे ्रवनिननगियों िे
साथ बैठि भी िी यह बैठि मंिलवार िो भी जारी रहेिी सरिार िे ्रवस्िावों पर
आंदोलनिाररयों ने अंनिम फै सला नहीं किया है दल िे अध्यक्ष जयिृ ष्ण दास ने िहा कि सरिार
अिर मंिलवार दोपहर िि हमारी दोनों ्रवमुा मांिें नहीं मानिी है िो हम संसद माचड शुरू िर
देंिे इसी िरह दल िे संरक्षि स्वामी नारायण दास ने िहा कि यमुना िे मलए अिर सरिार
जरूरी िदम उठािी है िो यात्रा िो समाप्ि िरने पर ववचार किया जा सििा है
िहहमन पानी िाखखए, बबन पानी सब सून।
पानी गए ना उबेि; मोती, मानुि चून।।

More Related Content

What's hot

भारत के ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक स्थल
भारत के ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक स्थलभारत के ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक स्थल
भारत के ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक स्थलNandita Kumari
 
वे दिन कहाँ से लाऊँ
वे  दिन कहाँ से लाऊँवे  दिन कहाँ से लाऊँ
वे दिन कहाँ से लाऊँBalaji Sharma
 

What's hot (8)

Udham singh
Udham singhUdham singh
Udham singh
 
Atmparichaya xii
Atmparichaya xiiAtmparichaya xii
Atmparichaya xii
 
भारत के ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक स्थल
भारत के ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक स्थलभारत के ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक स्थल
भारत के ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक स्थल
 
Sona hirni
Sona hirniSona hirni
Sona hirni
 
Surdas Ke Pad
Surdas Ke PadSurdas Ke Pad
Surdas Ke Pad
 
Vol.2, issue.15, may 2016 (special issue on water)
Vol.2, issue.15, may 2016 (special issue on water)Vol.2, issue.15, may 2016 (special issue on water)
Vol.2, issue.15, may 2016 (special issue on water)
 
Meera Bai
Meera BaiMeera Bai
Meera Bai
 
वे दिन कहाँ से लाऊँ
वे  दिन कहाँ से लाऊँवे  दिन कहाँ से लाऊँ
वे दिन कहाँ से लाऊँ
 

Viewers also liked

भारतीय मानसून
भारतीय मानसूनभारतीय मानसून
भारतीय मानसूनDinesh Gaekwad
 
Presentation of hindi (solar system)
Presentation of hindi (solar system)Presentation of hindi (solar system)
Presentation of hindi (solar system)Kunnu Aggarwal
 
ppt of our Solar system in hindi
ppt of our Solar system in hindippt of our Solar system in hindi
ppt of our Solar system in hindivethics
 
Earthquake ppt in hindi
Earthquake ppt in hindi Earthquake ppt in hindi
Earthquake ppt in hindi vethics
 
Solar System
Solar SystemSolar System
Solar Systemgoogle
 
Natural disaster (hindi}
Natural  disaster (hindi}Natural  disaster (hindi}
Natural disaster (hindi}Madhavi Mahajan
 
The Solar System Powerpoint
The Solar System PowerpointThe Solar System Powerpoint
The Solar System Powerpointoliverh
 

Viewers also liked (9)

भारतीय मानसून
भारतीय मानसूनभारतीय मानसून
भारतीय मानसून
 
Presentation of hindi (solar system)
Presentation of hindi (solar system)Presentation of hindi (solar system)
Presentation of hindi (solar system)
 
ppt of our Solar system in hindi
ppt of our Solar system in hindippt of our Solar system in hindi
ppt of our Solar system in hindi
 
जलवायु
जलवायुजलवायु
जलवायु
 
Earthquake ppt in hindi
Earthquake ppt in hindi Earthquake ppt in hindi
Earthquake ppt in hindi
 
Rivers
RiversRivers
Rivers
 
Solar System
Solar SystemSolar System
Solar System
 
Natural disaster (hindi}
Natural  disaster (hindi}Natural  disaster (hindi}
Natural disaster (hindi}
 
The Solar System Powerpoint
The Solar System PowerpointThe Solar System Powerpoint
The Solar System Powerpoint
 

Similar to Holy Rivers - Hindi

Uttrakhand and puducherry
Uttrakhand and puducherryUttrakhand and puducherry
Uttrakhand and puducherryTanujLohani
 
Rejitha power point
Rejitha power pointRejitha power point
Rejitha power pointrejithasr93
 
सौर सम्प्रदाय
सौर सम्प्रदाय सौर सम्प्रदाय
सौर सम्प्रदाय Virag Sontakke
 
Arunachal Pradesh Hindi AIP- Vanshika Kriti Singh class-10-D.pptx
Arunachal Pradesh Hindi AIP- Vanshika Kriti Singh class-10-D.pptxArunachal Pradesh Hindi AIP- Vanshika Kriti Singh class-10-D.pptx
Arunachal Pradesh Hindi AIP- Vanshika Kriti Singh class-10-D.pptxVedantVerma21
 
udaipur rajasthan
udaipur rajasthan udaipur rajasthan
udaipur rajasthan Abvp2
 
SHIVNA SAHITYIKI JANUARY- MARCH 2024.pdf
SHIVNA SAHITYIKI JANUARY- MARCH 2024.pdfSHIVNA SAHITYIKI JANUARY- MARCH 2024.pdf
SHIVNA SAHITYIKI JANUARY- MARCH 2024.pdfShivna Prakashan
 
पूर्व-मध्य कालीन अर्थव्यवस्था की विशेषताएँ .pptx
पूर्व-मध्य कालीन अर्थव्यवस्था की विशेषताएँ  .pptxपूर्व-मध्य कालीन अर्थव्यवस्था की विशेषताएँ  .pptx
पूर्व-मध्य कालीन अर्थव्यवस्था की विशेषताएँ .pptxVirag Sontakke
 
Rajasthan Paryatan.pdf
Rajasthan Paryatan.pdfRajasthan Paryatan.pdf
Rajasthan Paryatan.pdfNayi goonj
 
Largest Rivers of The World.pdf
Largest Rivers of The World.pdfLargest Rivers of The World.pdf
Largest Rivers of The World.pdfUPSCOnlineTyari
 
group work.en.hi.pdf
group work.en.hi.pdfgroup work.en.hi.pdf
group work.en.hi.pdfMayaSinha4
 
BJS E-Bulletin | Edition 35 | 05 June 2020 | Environment Protection
BJS E-Bulletin | Edition 35 | 05 June 2020 | Environment ProtectionBJS E-Bulletin | Edition 35 | 05 June 2020 | Environment Protection
BJS E-Bulletin | Edition 35 | 05 June 2020 | Environment ProtectionBharatiya Jain Sanghatana
 
Early Medieval Economy.pdf
Early Medieval Economy.pdfEarly Medieval Economy.pdf
Early Medieval Economy.pdfPrachiSontakke5
 
Dhartimata kisannarayan
Dhartimata kisannarayanDhartimata kisannarayan
Dhartimata kisannarayanDeepak Sharma
 
sikkim and nepal in hindi
sikkim and nepal in hindisikkim and nepal in hindi
sikkim and nepal in hindikishore shobana
 

Similar to Holy Rivers - Hindi (20)

Godess ganga
Godess gangaGodess ganga
Godess ganga
 
Uttrakhand and puducherry
Uttrakhand and puducherryUttrakhand and puducherry
Uttrakhand and puducherry
 
Rejitha power point
Rejitha power pointRejitha power point
Rejitha power point
 
Chipko movement - hindi
Chipko movement - hindiChipko movement - hindi
Chipko movement - hindi
 
सौर सम्प्रदाय
सौर सम्प्रदाय सौर सम्प्रदाय
सौर सम्प्रदाय
 
Arunachal Pradesh Hindi AIP- Vanshika Kriti Singh class-10-D.pptx
Arunachal Pradesh Hindi AIP- Vanshika Kriti Singh class-10-D.pptxArunachal Pradesh Hindi AIP- Vanshika Kriti Singh class-10-D.pptx
Arunachal Pradesh Hindi AIP- Vanshika Kriti Singh class-10-D.pptx
 
megh-aaye.ppt
megh-aaye.pptmegh-aaye.ppt
megh-aaye.ppt
 
Indus valley religion
Indus valley religionIndus valley religion
Indus valley religion
 
udaipur rajasthan
udaipur rajasthan udaipur rajasthan
udaipur rajasthan
 
SHIVNA SAHITYIKI JANUARY- MARCH 2024.pdf
SHIVNA SAHITYIKI JANUARY- MARCH 2024.pdfSHIVNA SAHITYIKI JANUARY- MARCH 2024.pdf
SHIVNA SAHITYIKI JANUARY- MARCH 2024.pdf
 
पूर्व-मध्य कालीन अर्थव्यवस्था की विशेषताएँ .pptx
पूर्व-मध्य कालीन अर्थव्यवस्था की विशेषताएँ  .pptxपूर्व-मध्य कालीन अर्थव्यवस्था की विशेषताएँ  .pptx
पूर्व-मध्य कालीन अर्थव्यवस्था की विशेषताएँ .pptx
 
Rajasthan Paryatan.pdf
Rajasthan Paryatan.pdfRajasthan Paryatan.pdf
Rajasthan Paryatan.pdf
 
Largest Rivers of The World.pdf
Largest Rivers of The World.pdfLargest Rivers of The World.pdf
Largest Rivers of The World.pdf
 
TRIBAL DIKUS AND VISION OF THE GOLDEN AGE..
TRIBAL DIKUS AND VISION OF THE GOLDEN AGE..TRIBAL DIKUS AND VISION OF THE GOLDEN AGE..
TRIBAL DIKUS AND VISION OF THE GOLDEN AGE..
 
BJS e-Bulletin
BJS e-Bulletin BJS e-Bulletin
BJS e-Bulletin
 
group work.en.hi.pdf
group work.en.hi.pdfgroup work.en.hi.pdf
group work.en.hi.pdf
 
BJS E-Bulletin | Edition 35 | 05 June 2020 | Environment Protection
BJS E-Bulletin | Edition 35 | 05 June 2020 | Environment ProtectionBJS E-Bulletin | Edition 35 | 05 June 2020 | Environment Protection
BJS E-Bulletin | Edition 35 | 05 June 2020 | Environment Protection
 
Early Medieval Economy.pdf
Early Medieval Economy.pdfEarly Medieval Economy.pdf
Early Medieval Economy.pdf
 
Dhartimata kisannarayan
Dhartimata kisannarayanDhartimata kisannarayan
Dhartimata kisannarayan
 
sikkim and nepal in hindi
sikkim and nepal in hindisikkim and nepal in hindi
sikkim and nepal in hindi
 

More from Drishti Bhalla

Propositions - Discrete Structures
Propositions - Discrete Structures Propositions - Discrete Structures
Propositions - Discrete Structures Drishti Bhalla
 
Physical Layer Numericals - Data Communication & Networking
Physical Layer  Numericals - Data Communication & NetworkingPhysical Layer  Numericals - Data Communication & Networking
Physical Layer Numericals - Data Communication & NetworkingDrishti Bhalla
 
Determinants - Mathematics
Determinants - MathematicsDeterminants - Mathematics
Determinants - MathematicsDrishti Bhalla
 
Matrices - Mathematics
Matrices - MathematicsMatrices - Mathematics
Matrices - MathematicsDrishti Bhalla
 
Mid point line Algorithm - Computer Graphics
Mid point line Algorithm - Computer GraphicsMid point line Algorithm - Computer Graphics
Mid point line Algorithm - Computer GraphicsDrishti Bhalla
 
Unix Memory Management - Operating Systems
Unix Memory Management - Operating SystemsUnix Memory Management - Operating Systems
Unix Memory Management - Operating SystemsDrishti Bhalla
 
Collections Api - Java
Collections Api - JavaCollections Api - Java
Collections Api - JavaDrishti Bhalla
 
Airline Reservation System - Software Engineering
Airline Reservation System - Software EngineeringAirline Reservation System - Software Engineering
Airline Reservation System - Software EngineeringDrishti Bhalla
 
Performance Management and Feedback - SHRM
Performance Management and Feedback - SHRMPerformance Management and Feedback - SHRM
Performance Management and Feedback - SHRMDrishti Bhalla
 
Computer System Architecture - BUN instruction
Computer System Architecture - BUN instructionComputer System Architecture - BUN instruction
Computer System Architecture - BUN instructionDrishti Bhalla
 
King of acids -Sulphuric Acid H2SO4
King of acids -Sulphuric Acid H2SO4King of acids -Sulphuric Acid H2SO4
King of acids -Sulphuric Acid H2SO4Drishti Bhalla
 
Information Technology - System Threats
Information Technology - System ThreatsInformation Technology - System Threats
Information Technology - System ThreatsDrishti Bhalla
 
Software Metrics - Software Engineering
Software Metrics - Software EngineeringSoftware Metrics - Software Engineering
Software Metrics - Software EngineeringDrishti Bhalla
 
Binary Search - Design & Analysis of Algorithms
Binary Search - Design & Analysis of AlgorithmsBinary Search - Design & Analysis of Algorithms
Binary Search - Design & Analysis of AlgorithmsDrishti Bhalla
 
CNF & Leftmost Derivation - Theory of Computation
CNF & Leftmost Derivation - Theory of ComputationCNF & Leftmost Derivation - Theory of Computation
CNF & Leftmost Derivation - Theory of ComputationDrishti Bhalla
 
Fd & Normalization - Database Management System
Fd & Normalization - Database Management SystemFd & Normalization - Database Management System
Fd & Normalization - Database Management SystemDrishti Bhalla
 

More from Drishti Bhalla (16)

Propositions - Discrete Structures
Propositions - Discrete Structures Propositions - Discrete Structures
Propositions - Discrete Structures
 
Physical Layer Numericals - Data Communication & Networking
Physical Layer  Numericals - Data Communication & NetworkingPhysical Layer  Numericals - Data Communication & Networking
Physical Layer Numericals - Data Communication & Networking
 
Determinants - Mathematics
Determinants - MathematicsDeterminants - Mathematics
Determinants - Mathematics
 
Matrices - Mathematics
Matrices - MathematicsMatrices - Mathematics
Matrices - Mathematics
 
Mid point line Algorithm - Computer Graphics
Mid point line Algorithm - Computer GraphicsMid point line Algorithm - Computer Graphics
Mid point line Algorithm - Computer Graphics
 
Unix Memory Management - Operating Systems
Unix Memory Management - Operating SystemsUnix Memory Management - Operating Systems
Unix Memory Management - Operating Systems
 
Collections Api - Java
Collections Api - JavaCollections Api - Java
Collections Api - Java
 
Airline Reservation System - Software Engineering
Airline Reservation System - Software EngineeringAirline Reservation System - Software Engineering
Airline Reservation System - Software Engineering
 
Performance Management and Feedback - SHRM
Performance Management and Feedback - SHRMPerformance Management and Feedback - SHRM
Performance Management and Feedback - SHRM
 
Computer System Architecture - BUN instruction
Computer System Architecture - BUN instructionComputer System Architecture - BUN instruction
Computer System Architecture - BUN instruction
 
King of acids -Sulphuric Acid H2SO4
King of acids -Sulphuric Acid H2SO4King of acids -Sulphuric Acid H2SO4
King of acids -Sulphuric Acid H2SO4
 
Information Technology - System Threats
Information Technology - System ThreatsInformation Technology - System Threats
Information Technology - System Threats
 
Software Metrics - Software Engineering
Software Metrics - Software EngineeringSoftware Metrics - Software Engineering
Software Metrics - Software Engineering
 
Binary Search - Design & Analysis of Algorithms
Binary Search - Design & Analysis of AlgorithmsBinary Search - Design & Analysis of Algorithms
Binary Search - Design & Analysis of Algorithms
 
CNF & Leftmost Derivation - Theory of Computation
CNF & Leftmost Derivation - Theory of ComputationCNF & Leftmost Derivation - Theory of Computation
CNF & Leftmost Derivation - Theory of Computation
 
Fd & Normalization - Database Management System
Fd & Normalization - Database Management SystemFd & Normalization - Database Management System
Fd & Normalization - Database Management System
 

Holy Rivers - Hindi

  • 1. समूह के सदस्य: •श्रेया •दृष्टि •वंदना •ड ंपी •योग्यता •दीपपका •सोननका •साहहबा •प्रनतमा
  • 3. उपयोग दुरूपयोग •जीवन को सहािा देना, •पवभिन्न गनतपवधियों के भिए पानी उपिब्ि किाना, •खेतों की भसंचाई •िाजनीनतक सीमाओं के ननिाािण औि देशों की िक्षा किने में महत्वपूणा •नौसंचािन • नदी के मोिे अवसादों का ननमााण में उपयोग ककया जाता है •क्षय व्यवस्था •बांि का पानी •दुरूपयोग तब होता है जब नहदयों से साफ पानी ननकािकि व्यथृ ष्स्तथी में िौिा हदया जाता है •खेतों में भसंचाई का पानी अक्सि िवण, कीिनाशकों आहद से दूपित होता है, जो जीव जंतुओं के भिए हाननकािक होता है •बाढ़ इमाितों औि फसिों को नटि कि सकती है
  • 4. • सबसे िंबी नदी :- नील नदी 6650 किलोमीटर िी लंबाई िे साथ दुननया िी सबसे लंबी नदी मानी जानि है I • कम से कम नदी :- ग्रेट फॉल्स,मोंटाना में छोटी हहरन नदी िे वल 201 फीट लंबी है I छोटी हहरन नदी ने दुननया िी सबसे छोटी नदी िे रूप में गिनीज बुि में ववश्व ररिार्ड िायम किया है • गहिी नदी :- िांिो नदी ,अफ्रीिा में एि नदी है, यह 220 मीटर (720 फु ट) से अगिि मापा िहराई िे साथ दुननया िी सबसे िहरी नदी हैI नहदयों िे बारे में आश्चयडजनि िथ्य!
  • 5. • सबसे तेज नदी :- बाढ़ चिण के दौिान दुननया में सबसे तेजी से बह िही नदी पैििसन न्यू जसी में पास्सैक है I पास्सैक नदी के ग्रेि फॉल्स जो कण्ठ के भसि पि एक अनत संकीणा कण्ठ में 77 फु ि धगि जाता है , नदी चैनि से 25-30 फु ि चौडी है I यह एक मानव ननभमात चैनि नहीं है, यह स्वािापवक है, ताकक बाढ़ के दौिान प्रवाह वेग सबसे तेज़ हो I • प्राचीनतम नदी :- क ं क नदी कें द्रीय ऑस्रेभिया में सबसे बडी नहदयों में से एक है I नदी िंबे समय पवशेि रूप से िूि ऑपिेििों द्वािा, औि िोकपप्रय ककताबें औि ब्रोशि में, "दुननया में सबसे पुिानी नदी" के रूप में उद्िृत की गयी है है I • पानी के नीचे नदी :- रियो भसक्रीिो, मेष्क्सको अपवश्वसनीय पानी के नीचे नदी है I यह एक पयािक आकिाण है I यह खननज के कािण गुफा गठन हो गयी है I यह सिी पयािकों के भिए एक जादुई अनुिव है I • सबसे सुंदि नदी :- उत्तिी कोिष्बबया में कै न्यो कृ स्िेल्स,अक्सि दुननया में सबसे सुंदि नदी मानी जानत है I
  • 6. तत्रापश्यत िमाात्मा देव देवपिापूष्जतम निनािायण-स्थान िागीिथ्यों पशोभितम ्।। • आज के आिूननक युग की बात किे तो मनुटय जानत ने इन नहदयों को दूपित बना हदया है। जो नहदयााँ पपवत्रता के नाम से जानी जाती थी। उन्हीं नहदयों में कू डा-किकि ाि के उन्हे दूपित कि हदया। मनुटय उन नहदयों की पपवत्रता को िीिे-िीिे नटि किता जा िहा है। • मैं आज आपको (िागीिथी) गंगा नदी के बािे में बताना चाहती हूाँ। ष्जसको िोग आज िी एक पपवत्रता की देवी का दजाा देते हैं। उनकी िािणा यह है कक गंगा में स्नान किने से सािे पाप िुि जाते हैं। अथाडि- वहााँ एि िमाडत्मा ने देव और देवऋवियों द्वारा पूजजि भािीरथ,नदी िे समान शोभायमान नरनारायण स्थान िो देाा
  • 7. िाधगिथी का अवतिण पुिोहहत के कु ि में बाहुक का जन्म हुआ I बडे होने पि शत्रुओ ने उसका िाज्य छीन भिया औि वह अपनी पष्त्न के साथ वन चिा गया I वन में बुढापे के कािण उसकी मृत्यु हो गयी I उसके गुरू ओवा ने उसकी पष्त्न को सनत नहीं होने हदया क्योंकक वह जानते थी कक वो गिावनत थी उसकी सौतों को जब ज्ञात हुआ तो उन्होने उसे पवि दे हदया I पवि का गिा पि कोई प्रिाव नहीं पडा I बािक पवि (गि) के साथ ही उत्पन्न हुआ,इसभिए 'स+गि = सगि' कहिाया। बडा हने पि उसका पववाह दो िाननयों से हुआ- 1 सुमनत- ष्जसके गिा से एक तुंबा ननका ष्जसके फिने पि साठ हज़ाि पुत्रों का जन्म हुआ। 2 कोभशनी- ष्जसका असमंजस नामक पुत्र हुआ।
  • 8. सगि ने अश्वमेि यज्ञ ककया। इंद्र ने उसके यज्ञ का घोडा चुिाकि तपस्वी कपपि के पास िे जाकि खडा कि हदया। उिि सगि ने सुमनत के पुत्रों को घोडा ढूढने के भिए िेजा। िाजकु माि ने सब जगह घोडे को हि जगह देखा पि कही नहीं भमिा। पूवा-उत्ति हदशा में कपपि मुनी के पास घोडा देखकि उन्होने मुनी को ििा- बुिा कहा। फिस्वरूप इस सब से वे िस्म हो गए। कोभशनी के पुत्र का नाम असमंजस, तथा असमंजस के पुत्र का नाम अंशुमन था। असमंजस पूवा जन्म से योगभ्रटि हो गया था। उसकी स्मृनत खोई नहीं थी। एक बाि उसने बच्चों को सियु में ाि हदया। पपता ने रूटि होकि उसे त्याग हदया। उसने अपने योगबि से बच्चों को जीपवत कि हदया तथा स्वयं वन चिा गया। यह देखकि सबको बहुत पश्चाताप हुआ। िाजा सगि ने पौत्र अंशुमन को घोडा खोजने िेजा। वह ढूंढता-ढूंढता कपपि से प्रसन्न होकि उसे घोडादे हदया तथा कहा कक िस्म हुए चाचाओं का उद्िाि गंगाजि से होगा। अंशुमन ने जीवन पयात तपस्या की ककं तु ह गंगा को पृथ्वी पि नहीं िा पाया। तदनंति उसके पुत्र हदिीप ने िी असफि तपस्या की। हदिीप के पुत्र िागीिथी के तप से प्रसन्न होकि गंगा के वेग को भशव ने अपनी जिाओं से संिािा। िागीिथ के पीछे-पीछे चिकि गंगा समुद्र तक पहुाँची। िागीिथ के द्वािा गंगा को पृथ्वी पि िाने का कािण यह िागीिथी कहिाई।
  • 9. नदी नदी ननिलिी है पवडि से, मैदानों में बहिी है I और अंि में ममल सािर से, एि िहानी िहिी है I बचपन में छोटी थी पर मैं, बडे वेि से बहिी थी I आाँिी-िूफान, बाढ़-बवंर्र, सब िु छ हाँसिर सहिी थी I मैदानों में आिर मैने, सेवा िा संिल्प मलया I और बना जैसे भी मुझसे, मानव िा उपिार किया I अंि समय में बचा शेि जो, सािर िो उपहार हदया I सब िु छ अवपडि िरिे अपने, जीवन िो सािार किया I बच्चों मशक्षा लेिर मुझसे, मेरे जैसे हो जाओ I सेवा और समपडण से िुम, जीवन बगिया महिाओ I
  • 10. यमुना की आत्मकथा मैं यमुना हूं I हहमालय िी िोद में जन्मी, मैं ममलने चली हूाँ सािर से I मैं भारि िे स्वर्णडम ववरासि िा हहस्सा हूाँ I स्पष्ट और शुद्ि मैं ्रववाह होिी हूाँ देिे हुए जीवन िा आसरा I सुनेहरी वाहदयों और ाुले मैदानों िे बीच से सभी िा प्यार समेटिे हुए बहिी हूाँ I सहदयों से ऋवि- मुननयों ने अपनी पववत्रिा दशाडिे हुए मुझमें ्रवक्षालन किया है I देाो आज क्या दशा है मेरी ! मानो मेरा दूविि नीर मुझमें बसे जीवन िा ववनाश िर रहा हो I ऐसा ्रविीि होिा है जैसे मैं मात्र अपवाहहिा बनिे रह िई हूाँ I मैं हैरान हूाँ िुम्हारी छोटी सोच पे,िुम्हारे अज्ञानी मन और मनोभाव से…मसर्फड कििाबी ग्यान िुम्हे ववद्वान नहीं बनािा- देाो अपने पयाडवरण िो- जािो और चेिना फै लाओ I लौटादो मेरा सुनेहरा पानी, बहने दो मुझे उसी िनि से, सुनो मेरी आवाज़ और पूरी िरो मेरी लालसा I मुझे एि िंदे अपवाहहिा िी िरह नहीं मरना है; मुझे एि बार कफर से अपने िौरवशाली अिीि िा ्रवनिननगित्व िरना है I
  • 11. ्रविृ नि िा ्रविोप…उत्तराांर् में ्रवलय • जून 2013 में, उत्तर भारि में भारी बाररश िे िारण हहमाचल ्रवदेश और उत्तरााण्र् में बाढ़ और भूस्ालन िी जस्थनि पैदा हो ियी इससे ्रवभाववि अन्य राज्य हररयाणा, हदल्ली और उत्तर ्रवदेश हैं बाढ़ िे िारण जान-माल िा भारी नुिसान हुआ और बहुि से लोि बाढ़ में बह िए…हजारों लोि बेघर हो िये 24 जून 2013 िे अनुसार इस भयानि आपदा में 5000 से ज्यादा लोि मारे जा चुिे हैं • कु दरि िा कहर सबसे ज़्यादा पहाडी राज्यों उत्तराांर् और हहमाचल ्रवदेश में बरपा हुआ सबसे ज़्यादा िबाही रूद्र्रवयाि जज़ले में जस्थि मशव िी निरी िे दारनाथ में हुई िे दारनाथ मंहदर िा मुख्य हहस्सा और सहदयों पुराना िुंबद िो सुरक्षक्षि है लेकिन ्रववेश द्वार और आस-पास िे सारे इलाके या िो बह िए हैं या पूरी िरह िबाह हो िए हैं
  • 12. • उत्तराांर् िे िे दारनाथ, रामबाडा, सोन्रवयाि, चंद्रापुरी और िौरीिुं र् में भारी नुिसान हुआ है िु माऊाँ मंर्ल में वपथौरािढ़ जज़ला सबसे ज़्यादा ्रवभाववि हुआ है सैिडों िााँव वाढ में बह िए हैं उत्तराांर् में हुयी बाररश िा असर उत्तर्रवदेश िे सहारनपुर में भी पडा जहां से 15 से ज्यादा लोिों िे मारे जाने िी ख़बर है • सेना, आईटीबीपी, बीएसएफ, एनर्ीआरएफ, लोि ननमाडण ववभाि और स्थानीय ्रवशासन बचाव िायड िे मलए ममलिर एि साथ िाम किया िई हजार सैननिों िो बचाव अमभयान िे मलए िैनाि किया िया • लोिों िो बचाने िे मलए हेलीिाप्टर िा ्रवयोि किया िया, लेकिन पहाडी इलािे होने िे िारण भारी िोहरे और बाररश िे बीच उनिे मलए िायड िरना बेहद चुनौिी भरा िायड था 10,000 से अगिि सैननिों और भारिीय वायुसेना िे िई ववमानों िी मदद से जस्थनि पर ननयंत्रण पाने िा ्रवयास किया िया
  • 13. • यमुना बचाओ आंदोलन पररयोजना यमुना िे ्रवदूिण िो रोिने िे मलए िैयार िी िई है I हररयाणा में 12 शहरों िो नदी िे ्रवदूिण िे मलए पहचाना िया है I यह पररयोजना 211 िरोड िी है व जापान भी हमारी सहायिा िर रहा है I • आंदोलन िे िहि ननम्न िायड शुरू हो िए हैं- • लिभि 15 किमी लंबी सीवर ट्रंि लाइन यमुनानिर और जिािरी शहरों में बबछाई िई है I विडमान में सीवर लाइन िु रुक्षेत्र,सहारनपुर रोर् पर भी बबछाई जाएिी I • िीन मुख्य पंवपंि स्टेशन हैं जजनमें से एि िा जीणोद्िार किया िया है जो जमुना िली में है सभी िीन पजम्पंि स्टेशनों िा िमीशन किया िया है • िीन लिडी आिाररि शमशान भूमम िैं प क्षेत्र, सब्जी मंर्ी और बुररया िेट,जिािरी में पूरे किए िए हैं I ये ्रवबंिन िे मलए ननजी संस्था िो सौंप हदए िए हैं I • वनीिरण िायड ्रविनि पर है I • जािरूििा िे मलए झुग्िी क्षेत्रों में सावडजननि स्वास्थ्य सुवविाओं िे साथ चार (20 ​​सीटर ) फ्लश शौचालयों िा चांदपुर , िैं प क्षेत्र, सब्जी बाजार और आजाद निर में ननमाडण किया िया है I • इस निगथ िि 2239 लाा रुपये पररयोजना पर ाचड किए िए हैं I
  • 14. नई हदल्ली: यमुना मुजक्ि यात्रा िे दबाव में आर्ारिार सरिार ने यमुना िे समानांिर िंदे पानी िे मलए अलि से नाला बनाने िी मांि मान ली है आंदोलनिाररयों िे साथ ममलिर इसिी ववस्िृि योजना अिले दो महीने में िैयार िर ली जाएिी साथ ही सरिार ने हगथनीिुं र् बैराज से छोडे जा रहे पानी िो भी बढ़ाने िा भरोसा हदया है हालांकि अंनिम ्रवस्िाव िे मलए आंदोलनिाररयों से एि हदन िा और समय और मांिा िया है, जजस पर वे िैयार हो िए हैं िें द्रीय पयाडवरण मंत्री जयंिी नटराजन और जल संसािन मंत्री हरीश रावि अंनिम ्रवस्िाव िे साथ मंिलवार िो आंदोलनिाररयों िे पास ाुद पहुंचेंिे राज्य सरिारों से संपिड िरने िे बाद मलर्ाि रूप में सरिारी ्रवस्िाव िैयार िरने िे मलए उन्होंने दोपहर 3:00 बजे िि िा समय मांिा है माना जा रहा है कि आंदोलनिाररयों िो मनाने िा नया फामूडलासं्रवि अध्यक्ष सोननया िांिी िी सहमनि से िैयार हुआ है सोमवार देर राि हरीश रावि और जयंिी नटराजन ने यमुना मुजक्ििरण यात्रा िे नेिाओं से लंबी मुलािाि िी इस दौरान उन्हें िहा िया कि िें द्र सरिार यमुना िे समांिर नाला बनाने िी उनिी मांि िो मानने िे मलए िैयार है इस नाले िा ्रवारूप बनाने वाली सममनि में ििनीिी ववशेिज्ञों और पयाडवरणववदों िे साथ यमुना रक्षि दल िे दो ्रवनिननगि भी शाममल किए जाएंिे यह अपना पूरा ्रवस्िाव दो महीने िे अंदर िैयार िर लेिी हररयाणा िे हगथनीिुं र् बैराज से यमुना में छोडा जाने वाला पानी बढ़ाने िी मांि पर फै सला मंिलवार िो हररयाणा सरिार िे साथ बािचीि िे बाद ही हो सिे िा बैठि में यमुना रक्षि दल िे अध्यक्ष जय िृ ष्ण दास, संरक्षि स्वामी नारायण दास और पंिज बाबा सहहि आिा दजडन लोि शाममल थे इससे पहले रावि ने हदल्ली, हररयाणा और उत्तर ्रवदेश िे जल संसािन मंत्रालय िे ्रवनिननगियों िे साथ बैठि भी िी यह बैठि मंिलवार िो भी जारी रहेिी सरिार िे ्रवस्िावों पर आंदोलनिाररयों ने अंनिम फै सला नहीं किया है दल िे अध्यक्ष जयिृ ष्ण दास ने िहा कि सरिार अिर मंिलवार दोपहर िि हमारी दोनों ्रवमुा मांिें नहीं मानिी है िो हम संसद माचड शुरू िर देंिे इसी िरह दल िे संरक्षि स्वामी नारायण दास ने िहा कि यमुना िे मलए अिर सरिार जरूरी िदम उठािी है िो यात्रा िो समाप्ि िरने पर ववचार किया जा सििा है
  • 15. िहहमन पानी िाखखए, बबन पानी सब सून। पानी गए ना उबेि; मोती, मानुि चून।।