Successfully reported this slideshow.
We use your LinkedIn profile and activity data to personalize ads and to show you more relevant ads. You can change your ad preferences anytime.

Child malnutrition in India-causes and solutions- hindi 2014

4,642 views

Published on

This is an overview of child malnutrition in India-causes, measurement, and approaches to overcome malnutrition. This is based on my study in 2014

Published in: Health & Medicine

Child malnutrition in India-causes and solutions- hindi 2014

  1. 1. कु पोषण-पहचान और रोकथाम डॉ शाम अ टेकर 1-अ ैल 2014 1
  2. 2. नयी अंगनबाडी 2
  3. 3. 1 कु पोषण-कै से पहचाने। 3
  4. 4. तोलना 4
  5. 5. तोलना 5
  6. 6. तोलना-इले ॉ नक मशीनपर 6
  7. 7. भारवृ ी चाट 7
  8. 8. भारवृ ी चाट-सामा य ेणी 8
  9. 9. भारवृ ी चाट-सामािजक 9
  10. 10. उंचाई-कद का मापन 10
  11. 11. उंचाई-कद के मापन हेतु इंफटोमीटर 11
  12. 12. उंचाई-कद के अनुसार भार और ेणीमापन 12
  13. 13. कु पो षत ब च का %%%% माण रा य कम भार वाले ब च का % माण कम कद वाले ब च का % माण कम कद-भार वाले ब च का % माण के रल 20.8 23.4 16.4 ता मऴनाड 28.6 21.7 26.4 महारा 31.5 43.9 15. आं 31.7 42.9 14.1 कनाटक 35.6 36.7 20.7 प. बंगाल 35.6 40.6 21.4 %%%% माण (आयु 0-2 बरस तक) 35.6 40.6 21.4 कु ल 37.7 41.3 22.3 ओ डसा 40.3 47.3 18.2 उ देश 47.8 44.9 31.7 गुजरात 48.4 54.9 27.7 म य देश 51.4 48.7 33 NNMB survey 2012 13
  14. 14. इन 3 मापदंडोके अलावा भुजा का घेरा नापने क भी प ती है। भुजा का घेरा नापने क प ी 14
  15. 15. भुजा का घेरा नापने क प ती (इस फोटोम म यम ेणी कु पोषण) 15
  16. 16. भुजा का घेरा नापने क प ती (इस फोटोम सामा य ेणी) 16
  17. 17. 2 कु पोषण-रोकथाम 17
  18. 18. बालकु पोषण क कारण परंपरा समझना ज र है कु छ बालमृ यू कु पोषण और बीमार का च , १०% ब चे ती कु पो षत म हला और कशोर लड कय म कु पोषण,म हला और कशोर लड कय म कु पोषण, ऍ न मया और दुबलापन| कम उ म शाद , सव, वा य सेवाओं क कमी, ज म वजन कम होना, तनपान म खा मयॉ ं और छ: मास बाद ठ क से खाना नह | गंदगी, कम पौि टक आहार, वा य णाल क कमी, अंध व वास, गलत धारणा, लंग भेद, पलायन, यातायात क मुि कले, कम रोजगार, महंगाई, सावज नक वतरण णाल क खा मयॉ ं आद 18
  19. 19. मह वपूण एक हजार दन गभाव था, 300 2रा वष, 365 के वल तनपान, 1807 से 12 म हनेतक, 145 2रा वष, 365 19
  20. 20. ज द या न 18 बरस के पहले लडक क शाद न करे। 21 के पहले ब चा क शाद न करे। 21 के पहले ब चा भी न हो। 20
  21. 21. समय समय पर गभाव था क जांच करे। र ता पता टाले। 21
  22. 22. सव के लये अ पताल जाय, 102 सेवा का उपयोग। 22
  23. 23. सव के लये अ पताल जाय, 102-108 सेवा का उपयोग। 23
  24. 24. कम भार या कमजोर शशुको खास लाज क ज रत होती है 24
  25. 25. सव आ द सेवाओंका उपयोग- घर म सव कराना टाल। 25
  26. 26. सव के बाद तुरंत तनपान, तथा 6 मास तक के वल तनपान करना अहम ् है। 26
  27. 27. ब चेक समय समय पर देखभाल 27
  28. 28. नजी व छता सखाना 28
  29. 29. गंदगी रोकना पाखाने 29
  30. 30. पाखाने 30
  31. 31. साफ पानीका और फ टर का उपयोग 31
  32. 32. हाथ धोनेसे सं मण कम होता है 32
  33. 33. अ छा भोजन और खानेक आदते 33
  34. 34. आहार और पोषणक क ब च को भी जानकार 34
  35. 35. 35
  36. 36. घर घर म ब च के लये खानेका खजाना 36
  37. 37. अंगनबाडी से पूरक खा या न का सह उपयोग 37
  38. 38. सोयाबीन और दाल का का थन के लये सरासर योग 38
  39. 39. दूध, अंडे और मूँगफल का मह व-- थन 39
  40. 40. माय ो यू यंट या न सू मपोषक त व भी ज र है 40
  41. 41. द त या बुखार बीमार का तुरंत इलाज 41
  42. 42. कु पो षत ब च का इलाज अंगनबाडीम ाम पोषण पुनवास क अ पताल म पोषण पुनवास क 42
  43. 43. ज म से लेकर शशु का वजन ठ क रहना चा हये। 43
  44. 44. कु पोषण मु ती के लये प रवार नयोजन भी ज र है। 44
  45. 45. ब च का खानपान सब क िज मेवार 45
  46. 46. सु ढ शशु ह कल का व थ नाग रक हो सकता है 46
  47. 47. शुभ कामनाऍ Dr Shyam Ashtekar (MD, Community Medicine) 21 Cherry Hills Society,Anandwalli, Nashik 422013 shyamashtekar@yahoo.com Cell +919422271544 Website: arogyavidya.org,arogyavidya.org, bharatswasthya.net 47

×