SlideShare a Scribd company logo

मुट्‍ठी_में_तकदीर_रॉबिन_शर्मा_THE1.pdf

Motivational Books

1 of 109
Download to read offline
मुट्‍ठी_में_तकदीर_रॉबिन_शर्मा_THE1.pdf
मुट्‍ठी_में_तकदीर_रॉबिन_शर्मा_THE1.pdf
मुट्‍ठी_में_तकदीर_रॉबिन_शर्मा_THE1.pdf
मुट्ठी म तकदीर
यि तगत तथा पेशेवर महानता क
े िलए
जीवन बदल देनेवाली मागदिशका
The Mastery Manual
राॅिबन शमा
जयकाे पि लिशंग हाऊस
अहमदाबाद बगलोर भोपाल भुबने वर चे नई
िद ली इैदराबाद कोलकाता लखनऊ मु बई
प्रकाशक
जयको पि लिशंग हाउस
ए-2 जश चबस, 7-ए सर िफ रोजशाह मेहता रोड
फोट, मु बई - 400 001
jaicopub@jaicobooks.com
www.jaicobooks.com
© रॉिबन शमा
शमा लीडरिशप इंटरनेशनल इंक.
92 कोलाड ट्रीट, दूसरी मंिजल
टोर टो, ON M5R 1G2, कनाडा
क
े साथ यव था क
े अंतगत प्रकािशत
THE MASTERY MANUAL
मुट्ठी म तकदीर
ISBN 978-81-8495-832-4
अनुवादकः िवजय नंदन
पहला जयको सं करण: 2016
दुसरा जयको सं करण: 2016
िबना प्रकाशक की िलिखत अनुमित क
े इस पु तक का कोई भी भाग, िकसी भी प्रकार से
इ तेमाल नहीं िकया जा सकता, न कॉपी िकया जा सकता है, न िरकािडंग और न ही
क यूटर या िकसी अ य मा यम से टोर िकया जा सकता है।
अ यायसूची
मॉड ूलः 1 अब पूरी तरह जीएं
मॉड ूलः 2 िकस आधार पर कोई उ क
ृ ट प्रदशनकता बनता है?
मॉड ूलः 3 सफलता क
े िलए एक संतुिलत नजिरया
मॉड ूलः 4 िव व तरीय प्रदशन कर
मॉड ूलः 5 टीव जॉ स का सवाल
मॉड ूलः 6 महानता क
े छोटे-छोटे रोजाना काम
मॉड ूलः 7 आजीवन सीखनेवाला बने रह
मॉड ूलः 8 िनयित एवं नेतृ व
मॉड ूलः 9 आपकी संगित की शि त
मॉड ूलः 10 मेरे नायक को सलाम
मॉड ूलः 11 इस माह क
े नेतृ व सबक
मॉड ूलः 12 िनभयता क
े ारा नेतृ व
मॉड ूलः 13 धन क
े अनेक प
मॉड ूलः 14 नवीकरण की शि त
मॉड ूलः 15 अपने व न की एक पु तक रच
मॉड ूलः 16 प्रभावशाली प्रदशनकता क
े 5 तरीक
े
मॉड ूलः 17 अपनी छाप छोड़
मॉड ूलः 18 सवो म पारी खेलने की चुनौती
मॉड ूलः 19 खुशी की शा वत खोज
मॉड ूलः 20 जीवनकला म िनपुणता क
े पांच अ यास
मॉड ूलः 21 अ यंत मह वपूण पल
मॉड ूलः 22 खाई पाटना
मॉड ूलः 23 क
ृ त ता
मॉड ूलः 24 उ क
ृ टता क
े प्रित समपण
मॉड ूलः 25 खुदको नया कर
मॉड ूलः 26 या आप अ छे ह?
मॉड ूलः 27 एक महान िदन का िनमाण कर

Recommended

How to-boost-self-confidence-hindi
How to-boost-self-confidence-hindi How to-boost-self-confidence-hindi
How to-boost-self-confidence-hindi lovedefine
 
Lhow to-calm-your-mind-%e0%a4%ae%e0%a4%a8-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%b6%e0%a4%...
Lhow to-calm-your-mind-%e0%a4%ae%e0%a4%a8-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%b6%e0%a4%...Lhow to-calm-your-mind-%e0%a4%ae%e0%a4%a8-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%b6%e0%a4%...
Lhow to-calm-your-mind-%e0%a4%ae%e0%a4%a8-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%b6%e0%a4%...lovedefine
 
BOOK SUMMARY OF START WITH WHY.pdf
BOOK SUMMARY OF START WITH WHY.pdfBOOK SUMMARY OF START WITH WHY.pdf
BOOK SUMMARY OF START WITH WHY.pdfDeepGyan2
 
Quots in hindi [www.e-gyan.tk]
Quots in hindi [www.e-gyan.tk]Quots in hindi [www.e-gyan.tk]
Quots in hindi [www.e-gyan.tk]haresh89
 
believe in yourself.pdf
believe in yourself.pdfbelieve in yourself.pdf
believe in yourself.pdfDeepaKalwani1
 

More Related Content

Similar to मुट्‍ठी_में_तकदीर_रॉबिन_शर्मा_THE1.pdf

Your questions can change your life.
Your questions can change your life.Your questions can change your life.
Your questions can change your life.Suresh Kumar Sharma
 
Hamare adarsh
Hamare adarshHamare adarsh
Hamare adarshgurusewa
 
What are-needs-and-dreams
What are-needs-and-dreams What are-needs-and-dreams
What are-needs-and-dreams lovedefine
 
दीपक बर्फीवाला का आपके लिए एक अनमोल उपहार
दीपक बर्फीवाला का आपके लिए एक अनमोल उपहारदीपक बर्फीवाला का आपके लिए एक अनमोल उपहार
दीपक बर्फीवाला का आपके लिए एक अनमोल उपहारDeepak Kumar
 
दीपक बर्फीवाला का आपके लिए एक अनमोल उपहार
दीपक बर्फीवाला का आपके लिए एक अनमोल उपहारदीपक बर्फीवाला का आपके लिए एक अनमोल उपहार
दीपक बर्फीवाला का आपके लिए एक अनमोल उपहारDeepak Kumar
 
आप एक वरदान हैं, आपका जीवन सचमुच एक वरदान हैं : दीपक बर्फीवाला
आप एक वरदान हैं, आपका जीवन सचमुच एक वरदान हैं : दीपक बर्फीवालाआप एक वरदान हैं, आपका जीवन सचमुच एक वरदान हैं : दीपक बर्फीवाला
आप एक वरदान हैं, आपका जीवन सचमुच एक वरदान हैं : दीपक बर्फीवालादीपक बर्फीवाला
 
Jivan vikas
Jivan vikasJivan vikas
Jivan vikasgurusewa
 
The power of positive thinking By Kuldeep kumar
The power of positive thinking By Kuldeep kumarThe power of positive thinking By Kuldeep kumar
The power of positive thinking By Kuldeep kumarmindpower12
 
खुशहाल जीवन जीने के रहस्य
खुशहाल जीवन जीने के रहस्यखुशहाल जीवन जीने के रहस्य
खुशहाल जीवन जीने के रहस्यthinkwithniche
 
चिंता-से-मुक्ति
चिंता-से-मुक्तिचिंता-से-मुक्ति
चिंता-से-मुक्तिSoulvedaHindi
 
Untitled document (2).pdf
Untitled document (2).pdfUntitled document (2).pdf
Untitled document (2).pdfBloggingK
 
Motivation ppp-हरीश बरनाला
Motivation ppp-हरीश बरनालाMotivation ppp-हरीश बरनाला
Motivation ppp-हरीश बरनालाharish sharma
 
13. मुखौटे के पीछे छिपे, दोगलापन पहचाने Find the Real face .pptx
13. मुखौटे के पीछे छिपे, दोगलापन पहचाने  Find the Real face .pptx13. मुखौटे के पीछे छिपे, दोगलापन पहचाने  Find the Real face .pptx
13. मुखौटे के पीछे छिपे, दोगलापन पहचाने Find the Real face .pptxSumat Singhal
 
श्रीमद् भगवद्गीता की मदद से पाएं जीवन में सफलता
श्रीमद् भगवद्गीता की मदद से पाएं जीवन में सफलताश्रीमद् भगवद्गीता की मदद से पाएं जीवन में सफलता
श्रीमद् भगवद्गीता की मदद से पाएं जीवन में सफलताDr Vivek Bindra
 
superhuman by habit.pdf
superhuman by habit.pdfsuperhuman by habit.pdf
superhuman by habit.pdfDeepaKalwani1
 
सफलता का अमृत 2 BY SEEMA BRAIN OPENERS
सफलता का अमृत 2  BY SEEMA BRAIN OPENERSसफलता का अमृत 2  BY SEEMA BRAIN OPENERS
सफलता का अमृत 2 BY SEEMA BRAIN OPENERSDeepak Kumar
 

Similar to मुट्‍ठी_में_तकदीर_रॉबिन_शर्मा_THE1.pdf (20)

Your questions can change your life.
Your questions can change your life.Your questions can change your life.
Your questions can change your life.
 
Hamare adarsh
Hamare adarshHamare adarsh
Hamare adarsh
 
HamareAdarsh
HamareAdarshHamareAdarsh
HamareAdarsh
 
What are-needs-and-dreams
What are-needs-and-dreams What are-needs-and-dreams
What are-needs-and-dreams
 
दीपक बर्फीवाला का आपके लिए एक अनमोल उपहार
दीपक बर्फीवाला का आपके लिए एक अनमोल उपहारदीपक बर्फीवाला का आपके लिए एक अनमोल उपहार
दीपक बर्फीवाला का आपके लिए एक अनमोल उपहार
 
दीपक बर्फीवाला का आपके लिए एक अनमोल उपहार
दीपक बर्फीवाला का आपके लिए एक अनमोल उपहारदीपक बर्फीवाला का आपके लिए एक अनमोल उपहार
दीपक बर्फीवाला का आपके लिए एक अनमोल उपहार
 
आप एक वरदान हैं, आपका जीवन सचमुच एक वरदान हैं : दीपक बर्फीवाला
आप एक वरदान हैं, आपका जीवन सचमुच एक वरदान हैं : दीपक बर्फीवालाआप एक वरदान हैं, आपका जीवन सचमुच एक वरदान हैं : दीपक बर्फीवाला
आप एक वरदान हैं, आपका जीवन सचमुच एक वरदान हैं : दीपक बर्फीवाला
 
Jivan vikas
Jivan vikasJivan vikas
Jivan vikas
 
JivanVikas
JivanVikasJivanVikas
JivanVikas
 
The power of positive thinking By Kuldeep kumar
The power of positive thinking By Kuldeep kumarThe power of positive thinking By Kuldeep kumar
The power of positive thinking By Kuldeep kumar
 
खुशहाल जीवन जीने के रहस्य
खुशहाल जीवन जीने के रहस्यखुशहाल जीवन जीने के रहस्य
खुशहाल जीवन जीने के रहस्य
 
चिंता-से-मुक्ति
चिंता-से-मुक्तिचिंता-से-मुक्ति
चिंता-से-मुक्ति
 
Untitled document (2).pdf
Untitled document (2).pdfUntitled document (2).pdf
Untitled document (2).pdf
 
BJS e-Bulletin
BJS e-Bulletin BJS e-Bulletin
BJS e-Bulletin
 
Motivation ppp-हरीश बरनाला
Motivation ppp-हरीश बरनालाMotivation ppp-हरीश बरनाला
Motivation ppp-हरीश बरनाला
 
13. मुखौटे के पीछे छिपे, दोगलापन पहचाने Find the Real face .pptx
13. मुखौटे के पीछे छिपे, दोगलापन पहचाने  Find the Real face .pptx13. मुखौटे के पीछे छिपे, दोगलापन पहचाने  Find the Real face .pptx
13. मुखौटे के पीछे छिपे, दोगलापन पहचाने Find the Real face .pptx
 
श्रीमद् भगवद्गीता की मदद से पाएं जीवन में सफलता
श्रीमद् भगवद्गीता की मदद से पाएं जीवन में सफलताश्रीमद् भगवद्गीता की मदद से पाएं जीवन में सफलता
श्रीमद् भगवद्गीता की मदद से पाएं जीवन में सफलता
 
superhuman by habit.pdf
superhuman by habit.pdfsuperhuman by habit.pdf
superhuman by habit.pdf
 
BJS e-Bulletin
BJS e-Bulletin BJS e-Bulletin
BJS e-Bulletin
 
सफलता का अमृत 2 BY SEEMA BRAIN OPENERS
सफलता का अमृत 2  BY SEEMA BRAIN OPENERSसफलता का अमृत 2  BY SEEMA BRAIN OPENERS
सफलता का अमृत 2 BY SEEMA BRAIN OPENERS
 

More from Jahanzeb Khan

नैतिकता_का_सुख_Joy_of_Ethics_हिंदी.pdf
नैतिकता_का_सुख_Joy_of_Ethics_हिंदी.pdfनैतिकता_का_सुख_Joy_of_Ethics_हिंदी.pdf
नैतिकता_का_सुख_Joy_of_Ethics_हिंदी.pdfJahanzeb Khan
 
सामुद्रिक_शास्‍त्र_भाग्‍य_निर्णय.pdf
सामुद्रिक_शास्‍त्र_भाग्‍य_निर्णय.pdfसामुद्रिक_शास्‍त्र_भाग्‍य_निर्णय.pdf
सामुद्रिक_शास्‍त्र_भाग्‍य_निर्णय.pdfJahanzeb Khan
 
आखिरी_शिकार_आशीष_गौतम_सीरीज_Book.pdf
आखिरी_शिकार_आशीष_गौतम_सीरीज_Book.pdfआखिरी_शिकार_आशीष_गौतम_सीरीज_Book.pdf
आखिरी_शिकार_आशीष_गौतम_सीरीज_Book.pdfJahanzeb Khan
 
सम्पूर्ण चिकित्सा-1.pdf
सम्पूर्ण चिकित्सा-1.pdfसम्पूर्ण चिकित्सा-1.pdf
सम्पूर्ण चिकित्सा-1.pdfJahanzeb Khan
 
सकारात्मक_और_प्रेरक_लघुकथाएं_बालकृष्ण_गुप्ता_गुरु.pdf
सकारात्मक_और_प्रेरक_लघुकथाएं_बालकृष्ण_गुप्ता_गुरु.pdfसकारात्मक_और_प्रेरक_लघुकथाएं_बालकृष्ण_गुप्ता_गुरु.pdf
सकारात्मक_और_प्रेरक_लघुकथाएं_बालकृष्ण_गुप्ता_गुरु.pdfJahanzeb Khan
 
नमक_स्वाद_अनुसार@All_in_one_noval.pdf
नमक_स्वाद_अनुसार@All_in_one_noval.pdfनमक_स्वाद_अनुसार@All_in_one_noval.pdf
नमक_स्वाद_अनुसार@All_in_one_noval.pdfJahanzeb Khan
 
चंद्र_गुप्त_मौर्य_Chandragupta_Maurya_Hindi.pdf
चंद्र_गुप्त_मौर्य_Chandragupta_Maurya_Hindi.pdfचंद्र_गुप्त_मौर्य_Chandragupta_Maurya_Hindi.pdf
चंद्र_गुप्त_मौर्य_Chandragupta_Maurya_Hindi.pdfJahanzeb Khan
 
तेजस्वी मन.pdf
तेजस्वी मन.pdfतेजस्वी मन.pdf
तेजस्वी मन.pdfJahanzeb Khan
 
कर्म_का_सिध्दांत_दादा_भगवान.pdf
कर्म_का_सिध्दांत_दादा_भगवान.pdfकर्म_का_सिध्दांत_दादा_भगवान.pdf
कर्म_का_सिध्दांत_दादा_भगवान.pdfJahanzeb Khan
 
दुनिया_का_सबसे_अनमोल_रत्न_प्रेमचंद.pdf
दुनिया_का_सबसे_अनमोल_रत्न_प्रेमचंद.pdfदुनिया_का_सबसे_अनमोल_रत्न_प्रेमचंद.pdf
दुनिया_का_सबसे_अनमोल_रत्न_प्रेमचंद.pdfJahanzeb Khan
 
Calculation of Turbine Efficiency
Calculation of Turbine EfficiencyCalculation of Turbine Efficiency
Calculation of Turbine EfficiencyJahanzeb Khan
 
Developments in Ammonia Production Technology
Developments in Ammonia Production TechnologyDevelopments in Ammonia Production Technology
Developments in Ammonia Production TechnologyJahanzeb Khan
 
Safe work procedure1
Safe work procedure1Safe work procedure1
Safe work procedure1Jahanzeb Khan
 

More from Jahanzeb Khan (13)

नैतिकता_का_सुख_Joy_of_Ethics_हिंदी.pdf
नैतिकता_का_सुख_Joy_of_Ethics_हिंदी.pdfनैतिकता_का_सुख_Joy_of_Ethics_हिंदी.pdf
नैतिकता_का_सुख_Joy_of_Ethics_हिंदी.pdf
 
सामुद्रिक_शास्‍त्र_भाग्‍य_निर्णय.pdf
सामुद्रिक_शास्‍त्र_भाग्‍य_निर्णय.pdfसामुद्रिक_शास्‍त्र_भाग्‍य_निर्णय.pdf
सामुद्रिक_शास्‍त्र_भाग्‍य_निर्णय.pdf
 
आखिरी_शिकार_आशीष_गौतम_सीरीज_Book.pdf
आखिरी_शिकार_आशीष_गौतम_सीरीज_Book.pdfआखिरी_शिकार_आशीष_गौतम_सीरीज_Book.pdf
आखिरी_शिकार_आशीष_गौतम_सीरीज_Book.pdf
 
सम्पूर्ण चिकित्सा-1.pdf
सम्पूर्ण चिकित्सा-1.pdfसम्पूर्ण चिकित्सा-1.pdf
सम्पूर्ण चिकित्सा-1.pdf
 
सकारात्मक_और_प्रेरक_लघुकथाएं_बालकृष्ण_गुप्ता_गुरु.pdf
सकारात्मक_और_प्रेरक_लघुकथाएं_बालकृष्ण_गुप्ता_गुरु.pdfसकारात्मक_और_प्रेरक_लघुकथाएं_बालकृष्ण_गुप्ता_गुरु.pdf
सकारात्मक_और_प्रेरक_लघुकथाएं_बालकृष्ण_गुप्ता_गुरु.pdf
 
नमक_स्वाद_अनुसार@All_in_one_noval.pdf
नमक_स्वाद_अनुसार@All_in_one_noval.pdfनमक_स्वाद_अनुसार@All_in_one_noval.pdf
नमक_स्वाद_अनुसार@All_in_one_noval.pdf
 
चंद्र_गुप्त_मौर्य_Chandragupta_Maurya_Hindi.pdf
चंद्र_गुप्त_मौर्य_Chandragupta_Maurya_Hindi.pdfचंद्र_गुप्त_मौर्य_Chandragupta_Maurya_Hindi.pdf
चंद्र_गुप्त_मौर्य_Chandragupta_Maurya_Hindi.pdf
 
तेजस्वी मन.pdf
तेजस्वी मन.pdfतेजस्वी मन.pdf
तेजस्वी मन.pdf
 
कर्म_का_सिध्दांत_दादा_भगवान.pdf
कर्म_का_सिध्दांत_दादा_भगवान.pdfकर्म_का_सिध्दांत_दादा_भगवान.pdf
कर्म_का_सिध्दांत_दादा_भगवान.pdf
 
दुनिया_का_सबसे_अनमोल_रत्न_प्रेमचंद.pdf
दुनिया_का_सबसे_अनमोल_रत्न_प्रेमचंद.pdfदुनिया_का_सबसे_अनमोल_रत्न_प्रेमचंद.pdf
दुनिया_का_सबसे_अनमोल_रत्न_प्रेमचंद.pdf
 
Calculation of Turbine Efficiency
Calculation of Turbine EfficiencyCalculation of Turbine Efficiency
Calculation of Turbine Efficiency
 
Developments in Ammonia Production Technology
Developments in Ammonia Production TechnologyDevelopments in Ammonia Production Technology
Developments in Ammonia Production Technology
 
Safe work procedure1
Safe work procedure1Safe work procedure1
Safe work procedure1
 

मुट्‍ठी_में_तकदीर_रॉबिन_शर्मा_THE1.pdf

  • 4. मुट्ठी म तकदीर यि तगत तथा पेशेवर महानता क े िलए जीवन बदल देनेवाली मागदिशका The Mastery Manual राॅिबन शमा जयकाे पि लिशंग हाऊस अहमदाबाद बगलोर भोपाल भुबने वर चे नई िद ली इैदराबाद कोलकाता लखनऊ मु बई
  • 5. प्रकाशक जयको पि लिशंग हाउस ए-2 जश चबस, 7-ए सर िफ रोजशाह मेहता रोड फोट, मु बई - 400 001 jaicopub@jaicobooks.com www.jaicobooks.com © रॉिबन शमा शमा लीडरिशप इंटरनेशनल इंक. 92 कोलाड ट्रीट, दूसरी मंिजल टोर टो, ON M5R 1G2, कनाडा क े साथ यव था क े अंतगत प्रकािशत THE MASTERY MANUAL मुट्ठी म तकदीर ISBN 978-81-8495-832-4 अनुवादकः िवजय नंदन पहला जयको सं करण: 2016 दुसरा जयको सं करण: 2016 िबना प्रकाशक की िलिखत अनुमित क े इस पु तक का कोई भी भाग, िकसी भी प्रकार से इ तेमाल नहीं िकया जा सकता, न कॉपी िकया जा सकता है, न िरकािडंग और न ही क यूटर या िकसी अ य मा यम से टोर िकया जा सकता है।
  • 6. अ यायसूची मॉड ूलः 1 अब पूरी तरह जीएं मॉड ूलः 2 िकस आधार पर कोई उ क ृ ट प्रदशनकता बनता है? मॉड ूलः 3 सफलता क े िलए एक संतुिलत नजिरया मॉड ूलः 4 िव व तरीय प्रदशन कर मॉड ूलः 5 टीव जॉ स का सवाल मॉड ूलः 6 महानता क े छोटे-छोटे रोजाना काम मॉड ूलः 7 आजीवन सीखनेवाला बने रह मॉड ूलः 8 िनयित एवं नेतृ व मॉड ूलः 9 आपकी संगित की शि त मॉड ूलः 10 मेरे नायक को सलाम मॉड ूलः 11 इस माह क े नेतृ व सबक मॉड ूलः 12 िनभयता क े ारा नेतृ व मॉड ूलः 13 धन क े अनेक प मॉड ूलः 14 नवीकरण की शि त मॉड ूलः 15 अपने व न की एक पु तक रच मॉड ूलः 16 प्रभावशाली प्रदशनकता क े 5 तरीक े मॉड ूलः 17 अपनी छाप छोड़ मॉड ूलः 18 सवो म पारी खेलने की चुनौती मॉड ूलः 19 खुशी की शा वत खोज मॉड ूलः 20 जीवनकला म िनपुणता क े पांच अ यास मॉड ूलः 21 अ यंत मह वपूण पल मॉड ूलः 22 खाई पाटना मॉड ूलः 23 क ृ त ता मॉड ूलः 24 उ क ृ टता क े प्रित समपण मॉड ूलः 25 खुदको नया कर मॉड ूलः 26 या आप अ छे ह? मॉड ूलः 27 एक महान िदन का िनमाण कर
  • 7. मॉड ूलः 28 कौन-सी चीज प्रभावशाली प्रदशनकता बनाती है? मॉड ूलः 29 अपनी जाग कता का िनमाण कर मॉड ूलः 30 नेतृ व की चुनौती मॉड ूलः 31 बगैर िखताब क े नेतृ व कर मॉड ूलः 32 नजिरए की ताकत मॉड ूलः 33 यवसाय का मानवीय प मॉड ूलः 34 यात्रा क े ारा िफर से नया होना मॉड ूलः 35 अपनी राह समृ करने का जीवन िववेक मॉड ूलः 36 सवो म पारी खेलने की ज रत
  • 8. 1 अब पूरी तरह जीएं बहुत बड़ी सं या म लोग जीवन जीना टालते रहते ह । हम यह कहा करते ह िक जब हमारे पास यादा व त होगा अथवा जब हम अपने उन काम से िनबट लगे, िजनसे हम अभी जूझ रहे ह, तब हम अपना सवो म जीवन जीएंगे । हम अपने आसपास क े लोग से कहा करते ह िक जब जीवन म थोड़ी ि थरता आएगी, तो हम यादा यार तथा भावना क े साथ जीएंगे । हम खुदको यह वचन देते ह िक जब हमारे पास थोड़ा और व त होगा, तो हम यादा सेहतमंद आहार लगे तथा िव व तरीय शारीिरक दशा हािसल करगे । जबिक, अपनी गहराई म, हमम से हरएक यह जानता है िक अपना सवो म जीवन जीने क े िलए अब से बेहतर व त कभी नहीं होगा । और यिद अब नहीं, तो िफर कब? हमम से यादातर लोग इस तरह जीते ह, जैसे हमारे पास दुिनयाभर का व त हो । हम जीना और अपने िशखर तथा सवो म तक पहुंचने की कोिशश टाल देते ह । और इस तरह िदन स ताह म, स ताह महीन म और महीने वषों म बदल जाते ह । जबतक आप इसे समझ सक, आपका जीवन तमाम हो चुका होगा । और अपनी मृ युशैया पर पड़े यादातर लोग उ हीं पछताव की पीड़ा भोगते ह िक उ ह ने और यादा जोिखम नहीं उठाई, िक उ ह ने अपनी यि तगत संभावनाओं क े िशखर साकार नहीं िकए, िक उ ह ने और यादा यार नहीं बांटा । कभी अितिर त िदन नहीं आते । कभी अथहीन िदन नहीं होते । आज का यही िदन वह िदन है, जब आप िकसी यादा ऊ ं ची चीज की चे टा का िवक प चुन सकते ह और वह यि त हो सकते ह, िजसे होने का सपना आप िदल ही िदल म देखते रहे ह । आज ही वह िदन है, जब आप असाधारण शारीिरक ि थित हािसल करने अथवा काम म एक स चा नेतृ वकता बनने या एक अिधक शु मानवप्राणी होने अथवा और यादा जोिखम उठाते हुए अपने भय की ओर भागने का फ ै सला ले सकते ह । मेरे िलए तो नेतृ व का पूरा मतलब बस यही है । इस पल को पकड़ लेना और अपने जीवन को इस तरह जीना िक वह दूसर क े िलए इसकी िमसाल बन जाए िक एक मनु य क े िलए क ै सी चीज का सृजन कर पाना मुमिकन है । यह सोचते रह िक आपका सवो म जीवन क ै सा िदखेगा । जैसा म अपने या यान तथा कायशालाओं म कहा करता हूंः ‘‘बेहतर जानकारी क े साथ आप बेहतर िवक प चुन सकते ह और जब आप बेहतर िवक प चुनगे, तो बेहतर नतीजे देखगे ।’’ प्रेरक उ रण ‘‘आप पानी म िगरने से नहीं डूबते, आप उसी म रह जाने की वजह से डूबते ह ।’’ एडिवन लुइस कोल
  • 9. ‘‘एक बड़ी पहाड़ी पर चढ़ने क े बाद एक यि त हमेशा यह पाता है िक चढ़ने को और भी कई पहािड़यां बाकी ह । म िवश्राम क े िलए एक पल का हूं, तािक म अपनी चार ओर फ ै ली शानदार दृ यावली की एक झलक ले सकूं और अपने ारा अब तक तय गई दूरी पर नजर फ े र सकूं । िक ं तु म क े वल एक पल ही क सकता हूं, य िक आजादी क े साथ िज मेदािरयां भी आती ह । म क े रहने की जोिखम नहीं ले सकता, य िक मेरा लंबा सफर अभी समा त नहीं हुआ है ।’’ ने सन मंडेला ‘‘िजतना तेज चमकना आपकी िनयित रही है, यिद आप उतनी तेजी से नहीं चमक सकते, तो आप न क े वल खुदक े साथ िव वासघात करते ह, बि क इस दुिनया को उससे कमतर छोड़ देते ह, िजतनी यह हो सकती थी ।’’ रॉिबन शमा यि तगत महानता हािसल करने क े 6 तरीक े 1. अपने पेशेवर तथा यि तगत जीवन क े िलए 20 वषों की एक योजना िलख । महान क ं पिनयां यह सुिनि चत करती ह िक उनका प्रबंधन उनक े िमशन, िवजन एवं मू य क े एक सुिवचािरत कथन क े अनुसार हो । आपक े सबसे अहम मू य क े एक कथन क े साथ एक प ट योजना से आप यादा बुद्िधमानीभरे िवक प चुन सकगे, िजनसे कमतर नाकािमयां िमलगी । 2. िचंतन म यादा व त लगाएं । भारत की सबसे सफल आइटी क ं पिनय म एक मेरी लायंट है । उनकी प्रमुख कायप्रणािलय म एक यह है िक वे अपनी टीम क े सद य को अपने समय का 1/3 िह सा िचंतन म लगाने को प्रो सािहत करते ह । सबसे प्रभावी मानवप्राणी दूसर से यादा सोचते ह । आप इस संबंध म सोच िक आप अपने जीवन को िकसका प्रितिनिध व करते हुए देखना चाहते ह । इस बारे म सोच िक क ै से आप यादा मू य का सृजन कर सकते ह । यह सोच िक आपक े जीवन म वह या है, जो काम नहीं कर रहा, तािक आप उसे बदल सक । 3. संतुलन की ि थित म आएं । अपने काम और अपने यि तगत जीवन क े बीच संतुलन िबठाना आसान नहीं होता । यह प्रितिदन की चुनौती है । िक ं तु इस पर काम करने से आपका जीवन काफी बेहतर ढंग से काम करेगा । यायाम क े िलए व त तय कर । यह सुिनि चत कर िक आपक े पिरवार और आपकी िमत्रताओं को वह प्राथिमकता िमले, वे िजसक े यो य ह । अपने िलए भी क ु छ व त िनकाल, य िक जब आप बेहतर महसूस करगे, तो अपनी चार ओर क े लोग क े िलए सकारा मक ऊजा क े स्रोत बनगे । 4. सोची-समझी जोिखम िलया कर । हर सात िदन पर क ु छ ऐसा कर, जो आपको असहज महसूस कराए । िजन चीज को करने से आप डरते ह, उ ह आपको सबसे पहले करना चािहए । यह याद रख िक आपक े भय की दूसरी ओर आपका िवकास िनवास करता है । 5. यादा यार करनेवाले बन । महान टीम ऐसे स चे नेतृ वकताओं ारा बनाई जाती ह, जो सच बोलने से नहीं घबराते और भलापन प्रदिशत करते ह । यह कमजोरी की नहीं, शि त की िनशानी है । अपने आसपास क े सभी लोग क े िलए यार
  • 10. करनेवाले, िवनम्र और क णामय बन । इसका अथ यह नहीं है िक जब ज रत आन पड़े, तो आप कड़ाई न बरत । इसका असल अथ यह है िक आप अपने जीवन म अपनी मानवता का क ु छ यादा पुट लाएं । 6. क ु छ अलग बन । अपनी पिरभाषा से ही नेतृ वकता भीड़ का अनुकरण नहीं करते । जीवन को अपनी ही शतों पर जीएं । जो मू य आपक े िलए सबसे स चे ह , उ ह सुन । सृजना मक बन । एक आदशवादी बने रह । आपकी नेकनामी की कीमत मेरे िपता ने एक बार मुझसे कहा िक तु हारी नेकनामी क े िनमाण म 30 वष भी लग सकते ह, जबिक उसे 30 सेकड म गंवाया जा सकता है । म सचमुच यह यकीन करता हूं िक आपकी नेकनामी िजतनी अहम कोई भी चीज नहीं । अपने फोनकॉल क े जवाब म प्रा त कॉल का आप कोई मोल नहीं आंक सकते । िफर भी इस पृ वी पर इतनी बड़ी सं या म लोग छोटी अविध की सोच से ग्र त होते ह । ज दी मुनाफा हािसल करने क े च कर म वे यादा से यादा पैसे झपट लेने की जुगत म लगे रहते ह । मगर कारोबार की कामयाबी का पूरा मतलब संबंध की कामयाबी है और उसम व त लगता है । कम का वादा कर यादा देने से, क ु छ शु कर उसे पूरा करने से, एक बहुत अ छे श्रोता बनकर तथा अपने ग्राहक क े िलए असाधारण मू य चुकाकर आप उनका िव वास और स मान जीत लगे । यह आपक े यि तगत ब्रांड को बढ़ावा देगा, जो आपकी नेकनामी है । अपनी नेकनामी की िहफाजत अपनी सबसे िप्रय संपि म एक की तरह कर । त् िटहीन ढंग से ईमानदार बन और कभी ऐसा काम न कर, िजससे आपक े िस ांत पर कलंक लगे । यह यवसाय म आपका एक लंबा किरयर तथा एक अ यंत संतुि टदायक जीवन सुिनि चत करेगा ।
  • 11. 2 िकस आधार पर कोई उ क ृ ट प्रदशनकता बनता है? िपछले स ताह मने फॉ यून 500 संगठन , सरकारी एजिसय तथा िविभ न उ म का प्रितिनिध व करनेवाले वरीय ए जी युिटव क े एक दल क े साथ सुंदरता से प्रेिरत करनेवाले दो िदन िबताए । वे टोरंटो क े एक होटल क े कांफ् रस म म एलीट परफॉमस िसरीज क े एक कायक्रम म भाग लेने इकट्ठा हुए थे, िजसकी रचना मने लगभग एक वष पूव इस उ े य से की िक कारोबारी लोग को अपना पेशेवर तथा यि तगत जीवन कामयाबी तथा अहिमयत क े एक िबलक ु ल नए तर तक उठाने म मदद िमल सक े । उस सेिमनार म म उन दो िदन क े अंतगत मने इस िदशा म जो कामयािबयां देखीं, उसने मुझे गहराई से द्रिवत कर िदया । उसने मेरे इस यकीन को और मजबूती दी िक हमम से हरएक यि त क े अंदर महानता बसती है - कभी- कभी ज रत बस इसकी होती है िक हम एक सुरि त माहौल िमले, तािक हम उस तक पहुंच उसे चमकने द । जब मने उस कायक्रम क े प्रितभािगय को जाना, मेरे िलए यह और भी साफ हुआ िक हमम से हर कोई एक ही तरह क े बहुत सारे संघषों का सामना करता है । हमम से हर कोई अपने जीवन म यादा अथ पाना चाहता है । हमम से हर िकसी क े पास अपने सपने ह, हम िज ह साकार करना चाहते ह । हमम से हर कोई िविभ न भय का िशकार है, जो हम सीिमत करते ह । मुझे यह भी साफ हुआ िक जब हम काम तथा अपने यि तगत जीवन म अपनी सवश्रे ठ चे टा नहीं कर पाते, तो हम न क े वल खुदक े साथ िव वासघात करते ह, बि क हम िजनक े साथ काम करते ह और िजनकी सेवा करते ह, उ ह भी हमारी उ क ृ टता से पिरचय पाने क े मौक े से वंिचत कर देते ह । यह दुिनया तब सचमुच एक कमतर अ छी जगह रह जाती है, जब हमम से हरएक अपना तर ऊ ं चा कर वैसा यि त नहीं बनता, जो हम िदल ही िदल म जानते ह िक हम बन सकते ह । कौन-सी चीज एक उ क ृ ट प्रदशन करनेवाले का िनमाण करती ह, इस संबंध म अपने क ु छ िवचार म आपक े िचंतन क े िलए पेश करता हूंः 1. प्रभावशाली प्रदशन करनेवाले िवजेता बनाम पीिड़त का खेल खेलते ह । एक ए जी युिटव कोच, व ता तथा प्रबंधन परामशी क े प म िविभ न संगठन क े साथ अपने काम क े िसलिसले म पूरे िव व की अपनी यात्राओं क े दौरान म बहुत- सी ऐसी कॉरपोरेट सं क ृ ितयां देखता हूं, जहां यि तगत जवाबदेही की पूरी मनाही होती है । संगठन म जो क ु छ काम नहीं कर रहा है, उसक े िलए लोग दूसर क े माथे दोष डाल िदया करते ह । िकसी भी नाकामी क े िलए लोग अपने आसपास क े यि तय की ओर उंगली उठाते ह । िक ं तु जैसा मने ‘लीडरिशप िवजडम’ नामक अपनी पु तक म कहा
  • 12. है, ‘‘दूसर पर दोषारोपण खुदको बचाने से यादा और क ु छ भी नहीं है ।’’ हमम से हरएक क े पास वह शि त है, जो नतीजे दे सक े । एक यि त अपने प्रभाव ेत्र क े अंतगत बदलाव लाकर िकसी कॉरपोरेट सं क ृ ित को बदल सकता है । एक यि त नए तरीक से यवहार करना शु कर अपनी चार ओर क े यि तय को भी वैसा ही करने का नेतृ व प्रदान कर सकता है । इस तरह से एक टीम बदल सकती है, जो एक सं क ृ ित पर बदलाव क े िलए प्रभाव डाल पूरे संगठन को पांतिरत कर सकती है । यिद आपक े संगठन म क ु छ ऐसा है, जो बदल नहीं रहा, तो आप अपनी शि त का प्रयोग कर वह बदलाव लाएं, िजसे आप देखना चाहते ह । 2. प्रभावशाली प्रदशन करनेवाले मह वपूण पर किद्रत रहते ह । यादातर लोग सभी लोग क े िलए सभी चीज होने की कोिशश करते ह और ऐसे म कोई उपलि ध हािसल नहीं कर पाते । उ क ृ ट प्रदशन करनेवाले अपनी सबसे ऊ ं ची प्राथिमकताओं पर लेजर की तरह किद्रत रहते ह तथा उनम अपने व त क े सवो म इ तेमाल क े प्रित तीव्र जाग कता होती है । सच तो यह है िक वे अपना पूरा जीवन उन गितिविधय क े इदिगद िनिमत करते ह, जो उ ह उनक े िनवेश पर सबसे यादा लाभ देती है । वे न कहने म िनपुण होते ह । वे प्रितिदन सुबह क े पिवत्र घंट म क ु छ व त इसकी योजना बनाने तथा रणनीितक िचंतन म लगाते ह िक उस िदन उ ह या करने की ज रत है, तािक वे अपनी उ क ृ ट पारी खेल सक तथा सबसे यादा सेवा कर सक । 3. प्रभावशाली प्रदशन करनेवाले अपनी स चाई जीते ह । िबलक ु ल अभी, इस पल यह पु तक पढ़ते हुए आप अपने िदल की गहराइय म यह जानते ह िक आपक े पेशेवर तथा यि तगत जीवन को क ै सा िदखने की ज रत है, तािक आप स ची तरह जी सक । िबलक ु ल इस पल, आपका िदल यह जानता है िक या सही है । उ क ृ ट प्रदशन करनेवाले अपने यि तगत दशन का अपने संगठना मक िस ांत से तालमेल िबठाते हुए उसे य त करते ह और उस दशन को अपने जीवन क े हरएक िदन जीने का साहस रखते ह । यह उ ह बड़ी शि त और असाधारण आ मिव वास देता है, य िक वे इस त य क े प्रित जाग क होते ह िक वे अपने प्रित स चे ह । 4. प्रभावशाली प्रदशन करनेवाले मानवीय संपक का िनमाण करते ह । यवसाय का अथ संबंध है । अपने टीम-सािथय से, अपने आपूितकताओं से और अपने ग्राहक से एक भावना मक लगाव िनिमत करने से यादा अहम और क ु छ भी नहीं है । आज क े बाजार म पधा ‘बटु ए क े िह से’ क े िलए नहीं है, जैसा बहुत-से संगठन गलती से यकीन करते ह । सच तो यह है िक आज क े बाजार म यह पधा लोग की भावना क े िलए है । अपने संबंध म पूरी तरह िदख । लोग क े ज मिदन याद रखने का व त िनकाल और हर स ताह ध यवाद क े ह तिलिखत नोट िलखा कर । लोग को यह िदखाएं िक आप खयाल रखते ह । उनक े सामने अपना िदल खोल द और बदले म वे आपको अपनी वफादारी तथा प्रेम से पुर क ृ त करगे । 5. प्रभावशाली प्रदशन करनेवाले असाधारण मू य जोड़ते ह । म स चे प से यह यकीन करता हूं िक हम िजतना मू य जोड़ते ह, आज का बाजार हम उसी क े मुतािबक पुर क ृ त करता है । यिद आप यादा लाभ हािसल करना चाहते ह, तो यादा मू य जोड़ । अपने ग्राहक तथा लायंट्स को उससे यादा मू य द, िजतने की उ मीद करने का उनका अिधकार है । हमेशा कम का वादा कर और उससे यादा
  • 13. पूरा कर । रात म देर तक जागकर यह सोच िक िकस तरह आप उन लोग की सेवा कर सकते और उ ह अपने सपने पूरे करने म मदद पहुंचा सकते ह, िजनक े साथ कारोबार करने का सौभा य आपको हािसल है । इसक े बाद आपक े किरयर म िव फोट की शु आत हो जाएगी । 6. प्रभावशाली प्रदशन करनेवाले उ क ृ टता क े प्रित समिपत होते ह । अपने दो िदन क े एलीट परफॉमस िसरीज कायक्रम क े अंतगत म िजन चीज पर किद्रत रहता हूं, उनम से एक वह प्रिक्रया है, िकसी कमी को उसक े ारा िकए जानेवाले सभी काम म पूरी तरह शानदार बनाने म िजसकी मदद सािबत हो चुकी है । मेरे िलए ‘उ क ृ टता’ एक सुंदर श द है । प्रभावशाली प्रदशन करनेवाले खुदसे लगातार यह सवाल पूछते रहते हः ‘‘म िजस प म िदख रहा हूं, या वह स ची तरह शानदार है और िव व तरीय पैमाने पर काम कर रहे िकसी यि त जैसा है?’’ हम एक ऐसी दुिनया म रहते ह, िजसम दोयमपने का चलन है । जब आप खुदको अपनी सोच क े मुतािबक स ची तरह शानदार बनाने क े प्रित वयंको समिपत कर देते ह और वैसा ही बरताव करते ह, तो एक भीड़भरे बाजार म आप सबसे अलग िदखते ह । तब आप असल नेतृ व प्रदिशत करते ह । 7. प्रभावशाली प्रदशन करनेवाले खुदको गहरा करते ह । जब तक आप नहीं बदलते, क ु छ भी नहीं बदलता । हम एक बाहर की ओर किद्रत िव व म रहते और इस धारणा म यकीन करते ह िक जब हम यादा पैसे कमाने लगगे या एक बेहतर कार खरीद लगे अथवा अपना तर और ऊ ं चा कर लगे, तो हमारा जीवन बदल जाएगा । जबिक ये चीज हािसल कर लेने क े बाद भी हम खाली तथा असंतु ट ही रह जाते ह । स ची सफलता आंतिरक कामयाबी क े बाद आती है । आप सचमुच कौन ह, यह जानने क े िलए खुदको समिपत कर द । अपनी प्रितभा से जुड़ जाएं । अपने भय की ओर आगे बढ़ । अपने जीवन की गुणव ा तथा उन िस ांत का मू यांकन कर, िजनका आप समथन करना चाहते ह । उन िव वास पर िचंतन कर, जो आपको सीिमत कर रहे ह और यह सोच िक आपने उ ह कहां से अपनाया । आप कभी भी जो सबसे अ छा िनवेश कर सकगे, वह आपक े सबसे अ छे व प म िकया गया िनवेश होगा । प्रेरक उ रण ‘‘अपनी सभी सद्प्रवृि य को प्रो सािहत कर और जब भी कोई मौका िमले, यह भरोसा रखते हुए उनका इ तेमाल कर िक वे उस इ तेमाल से वैसे ही शि त हािसल करगी, जैसे उससे शरीर का एक अंग शि त हािसल करता है और यह इ तेमाल उ ह आदतन करने की चीज बना देगा ।’’ टॉमस जेफरसन ‘‘खुदसे यार करना न क े वल ज री और अ छा है, बि क यह दूसर से यार करने की एक पूवशत है ।’’ रोलो मे ‘‘हम हमेशा जीने क े िलए तैयार होते रहते ह, मगर कभी जीते नहीं ।’’
  • 14. रै फ वाडा इमसन ‘‘आज आप थोड़ा और साहसी बन । थोड़ा ऊपर चढ़ । थोड़ा यादा दयालु बन । यादा बड़े सपने देख ।’’ रॉिबन शमा आप य एक जनल रख? जनल िलखने की िनयिमत आदत मेरे उन यवहार म एक है, िज ह ने मेरा जीवन बदल िदया है । मेरे या यान और मेरे कोिचंग कायक्रम म भाग लेनेवाल को म इस हेतु प्रो सािहत करता और चुनौती देता हूं िक वे मानवप्राणी क े प म अपनी सवो म पारी खेलने की चे टा म जनल िलखना शु कर । जनल िलखना य यि तगत खोज तथा प्रभावशाली प्रदशन का एक शि तशाली साधन है, इस िवषय पर मेरी सोच इस प्रकार हैः 1. जनल िलखने से आपको अपनी अ प ट-सी सोच को सटीक भाषा देते हुए साफ करने म मदद िमलती है । या आपको यह याद है िक जब आप कूल म थे और िकसी परी ा क े िलए अपनी तैयारी पूरी मान चुक े थे, तभी जब आपने एक टडी ग् प क े साथ बैठकर चरचा की, तो यह महसूस िकया िक आपकी तैयारी म किमयां रह गई ह? िकसी चीज क े बारे म बातचीत आपको इसक े िलए बा य करती है िक आप अपने िवचार को एक िनि चत भाषा म य त कर । जनल िलखना एक ऐसी बातचीत है, जो आप खुदसे करते ह । आप िजतना यादा जनल िलखते ह, अपने िवचार को उतनी ही सुिनि चतता देते ह । इससे आपक े जीवन म काफी प टता आती है और यादा प टता से आप नए िवक प का चयन करते ह, जो नए बदलाव लाने क े िलए ज री होता है । 2. जनल िलखना आपको एक ऐसी जगह उपल ध करता है, जहां आप उन भावनाओं से उबरते ह, िज ह आपने महसूस नहीं िकया है । अपने काम क े दौरान मने यह देखा है िक यादातर लोग क े अंदर (बहुत-से अ य िछपे हुए भावना मक बोझ क े साथ-साथ) बहुत यादा ऐसा गु सा होता है, िजसे उ ह ने महसूस नहीं िकया । महसूस न की गई ऐसी भावनाएं हमारे रोजाना िवक प को अवचेतन तर पर प्रभािवत करती ह । बहुत-से लोग अ यिधक आक्रामक तथा चोट पहुंचानेवाले तरीक े से यवहार करते ह, बजाए इसक े िक वे अपने ऐसे यवहार की यि तगत िज मेदारी ल और उनकी वजह तलाश । एक जनल िलखने से आपको महसूस न िकए गए ऐसे गु से या मायूसी अथवा अपनी जीवनयात्रा म पाए ज म से उबरने म मदद िमलेगी । यह आपको उ मु त करते हुए यादा आजादी हािसल करने तथा पेशेवर तथा यि तगत प से बेहतर िवक प का चयन करने म मदद करेगा । 3. जनल िलखने से आपको अपने सपने दज करने म मदद िमलती है । सपने आशावािदता को ज म देते ह । आप अपने सपन तथा िदली लालसाओं से िजतने ही करीब ह गे, अपने िदन म उतनी ही प्रेरणा भर पाएंगे । इससे सकारा मक ऊजा को बढ़ावा िमलता है, जो जीवन क े अिधक समृ अनुभव का सृजन करती है । 4. जनल िलखने से आपको अपनी समझ गहरी करने म मदद िमलती है । िकसी भी चीज को िलखने मात्र ारा जीवन की सीख से यादा प्रभावी ढंग से जुड़ने म मदद
  • 15. िमलती है । जब आप एक सेिमनार म जाते ह और वहां नोट लेते ह, तो नोट न लेने की तुलना म आपकी सीख आपसे अिधक ‘िचपक े गी ।’ इसी तरह जनल म िलखना आपको जीवन से सीखने म सहायता पहुंचाता है । आप प्रितिदन यादा िववेकवान होते जाते ह । 5. जनल िलखने से प्रितब ता गहरी होती है । चीज को िलखने से ही अपने जीवन म अ छी चीज घिटत करने का आपका िन चय गहरा होता है । इसे आज ही आजमाएं । आप िजस तरह क े शानदार िदन का सृजन करना चाहते और जैसे िवक प का चयन करने को समिपत ह, उसक े बारे म िलखने म 15 िमनट का व त लगाएं । यह सरल-सा काम आपको िदन क े बाकी बचे घंटे जीने म प्रितिक्रया मक बनने क े बजाए सिक्रय बनने म मदद पहुंचाएगा ।
  • 16. 3 सफलता क े िलए एक संतुिलत नजिरया मने अपने जीवन म स ची सफलता हेतु एक संतुिलत नजिरया तय करने की बहुत कोिशश की है । कभी-कभी मने अपने ल य तथा िदली वािहश का एक िमसाइल की तरह अपनी पूरी ताकत से पीछा िकया है । दूसरी ओर, यादा सहज तरीक े से काम करना और अपने इरादे तय करने क े बाद जीवन को यादा नैसिगक प से आगे बढ़ने देना भी मुझे काम करने का सबसे बुद्िधमानीभरा रा ता लगा है । अब म यह सोचता हूं िक सफलता क े िलए एक संतुिलत नजिरया अपनाना ही सबसे अ छा है । यादा जोर लगाने का अथ इससे अिधक और क ु छ भी नहीं है िक हम अपनी िनयित को िनयंित्रत कर नतीजे बलपूवक हािसल करना चाहते ह । और क े वल अपने इरादे य तकर (संभवतः उ ह अपने िमत्र से कहकर अथवा कागज क े एक टु कड़े पर िलखकर) उ ह समिपत कम क े ारा आगे न बढ़ाना आि मक उदासीनता क े िसवाय और क ु छ नहीं है (जो भय पर आधािरत होता है) । म यह यकीन करता हूं िक अपने जीवन म असली कामयाबी हािसल करने क े िलए हम यावहािरक तथा आ याि मक दोन बनने की आव यकता होती है । यावहािरक तर पर यह ज री होता है िक हम अपने इरादे य त कर, अपना िवजन साफ कर और तब अपने सपने साकार करने क े िलए कम म लग । एक बार जब हम इस ि थित से कम कर लेते ह, तो िफर यह भी ज री होता है िक हम अपने ल य को जरा ‘ढीली तरह’ पकड़ और वीकायता की एक ऐसी ि थित तक पहुंच, जहां आप यह जानते ह िक यिद सब क ु छ इि छत तरह से संप न न भी हुआ, िफर भी सब भले क े िलए ही हुआ । म स ची तरह यह यकीन करता हूं िक हमारे जीवन म एक अिव वसनीय सुसंगित होती है, जो प्रायः हमारे यान से छूट जाया करती है और हम नतीजे िनयंित्रत करने की कोिशश म लग जाते ह । िक ं तु यिद हमारी पूरी कोिशश क े बावजूद चीज हमारी योजना क े मुतािबक घिटत नहीं होतीं, तो यह यकीन रख िक सब क ु छ आपक े सवो म भले क े िलए ही हुआ । प्रेरक उ रण ‘‘एक अथहीन, ल यहीन तथा उ े यहीन जीवन जीने को सहमत होने जैसा अ य और क ु छ भी नहीं होता ।’’ हेलेन क े लर ‘‘ब्र ा ड की सृजना मक शि त नामक उस सबसे बड़ी शि त पर श्र ा रख, जो सभी चीज को िनदिशत करती और उनका इ तेमाल करती है । इसी तरह, आपको अपने अंतर की सबसे बड़ी शि त पर भी श्र ा रखनी चािहए, य िक वह भी उसी सृजना मक िक म की है । और वही आपक े वजूद की बाकी चीज का इ तेमाल और आपका जीवन िनदिशत करती है ।’’
  • 17. माकस औरेिलयस ‘‘मानवीय आ मा का ब मूल होना संभवतः उसकी सबसे अिधक अहम मगर सबसे कम वीकार की जानेवाली ज रत है ।’’ िसमोन वेल आपक े जीवन को समृद्िध से पूण करनेवाले 6 रा ते 1. अपने कारोबारी िर त म उससे यादा कीमत जोड़ने की एक यि तगत प्रितब ता कायम कर, िजतने क े िलए आपको भुगतान होता है । 2. खुदको लगातार इस तरह देखकर िक आपक े पास आपकी सारी इि छत चीज मौजूद ह, अपनी मृित से परे जीने क े बजाए अपनी क पना से परे जीएं । 3. अपने पैस म सदाशयता की भावना डाल मौन भाव से यह आशा करने की आदत िवकिसत कर िक आप उसे िजसको देते ह, यह उसकी मदद करेगा । 4. इस स ताह पैसे क े िवषय म अपने यकीन को जनल म िलखने क े िलए एक घंटे का व त लगाएं, तािक आप अपनी जाग कता को इतना ऊ ं चा उठा ल िक वह और अिधक पैसे आने की राह की बाधा और प्रितरोधक न बने । 5. अपने जनल म दूसरे यि तय ारा आपका इि छत जीवन जीते हुए िचत्र क े िमलेजुले प िचित्रत कर । 6. अपनी जानकारी म सबसे यादा देनेवाले यि त बन जाएं । अपने जनल म इन सवाल पर िलख 1. (अपना नाम िलख) तब क ै से िदखगे, जब आप अपने सबसे स चे प म कम करगे और अपने सबसे ऊ ं चे िवजन क े सबसे ऊ ं चे व प म जीएंगे? 2. आपक े सबसे पीड़ादायक अनुभव की या अहिमयत रही है और यिद उनका फायदा न िमला होता, तो आपका जीवन िकस तरह कमतर रह गया होता? 3. आप िकस चीज क े िलए अपनी जान भी देने को इ छुक रहगे? 4. अपने जीवन की वतमान घड़ी म आप िकन सबक का सबसे अिधक प्रितरोध करते ह? 5. आप जैसा जीवन जीने का सपना देखते ह, उसे इस पृ वी पर कौन जी रहा है और उसक े जीवन म कौन-सी ऐसी चीज है, जो आपको बहुत गहराई से क ु छ कहती है?
  • 18. 4 िव व तरीय प्रदशन कर हाल ही मुझे डीवीडी पर यू2 (एक अॉक ट्रा) क े संगीत कायक्रम की लाइव प्र तुित देखने का सौभा य हािसल हुआ । यह एक अिव मरणीय अनुभव रहा । म बोनो क े जुनून से प्रेिरत हुआ । जहां तक एक टीम क े प म काम करने तथा एक अनूठा अनुभव कराने की बात है, म उ क ृ टता क े प्रित यू2 क े समपण से भी प्रेिरत हुआ । इस दल क े हरएक सद य ारा अपने प्रदशन म अपना िदल उड़ेल देने तथा इस कायक्रम आए अपने प्रशंसक क े िलए मू य सृिजत करने की स ची प्रितब ता ने मुझे द्रिवत कर िदया । उस लाइव कायक्रम ने मुझे उनक े बारे म यह धारणा बनाने को बा य कर िदया िक वे उ क ृ ट प्रदशन करनेवाली एक टीम ह । उन क ु छ घंट म उ ह ने िजस तरह काम िकया, उससे आपको पेशेवर तथा यि तगत प म अपने ारा खेली जानेवाली अपनी सवो म पारी क े िलए कई सबक िमल सकते ह । म आपको इसक े िलए आमंित्रत करता हूं िक आप भी यह संगीत कायक्रम देखने का व त िनकाल और इसपर सोच िक ये चार यि त अपने आनंदमय काम करते हुए अपनी प्रितभा से क ै से गुल िखलाते ह । उनक े प्रदशन म आप यह देखगे िक प्र येक सद य अपने खास काम म मािहर है । आप यह भी देखगे िक वे जो भी करते ह, उससे उ ह वा तिवक यार है और वे पूरी तरह ‘लय म’ ह । आप जब यू2 देखते ह, तो आपको व त क े गुजरने का अहसास नही होता । आप साफ तौर पर यह महसूस करते ह िक ये चार लोग अपने जीवनकम का अनुसरण और अपनी िनयित की पूरी पूित कर रहे ह । आपको यह साफ बोध होता है िक वे अपने काम करते हुए बहुत खुश ह तथा इसे मु त म करने को भी उतने ही इ छुक ह गे । और आपको यह भान हुए बगैर नहीं रह सकता िक वे अपने अंदर गहरे पैठकर अपनी प्रितभा को इस तरह चमकने का मौका दे रहे है िक उनक े आसपास क े सभी लोग को उसका फायदा िमल रहा है । मेरे एक िमत्र ने हाल ही मुझसे यह कहा िक ‘‘हमारे िदन हमारे जीवन क े लघु प क े िसवाय और क ु छ नहीं होते ।’’ यह िकतना सच है । एक महान जीवन महान िदन की श्रृंखला क े िसवाय और क ु छ नहीं होता, जो मोितय क े हार क े समान एक साथ गुंथे होते ह । हरएक कायिदवस को चमकने क े एक अवसर की तरह देख और अपना सवा च प्रदशन कर । अपने हरएक कायिदवस को एक ऐसे लेटफॉम की तरह देख, जहां आप खुदको गहरे करते ह, अपनी प्रितभा उ मु त करते ह और अपने टीम- सािथय , ग्राहक , आपूितकताओं और खासकर अपने घर म अपने पिरवार क े िलए- िजसक े पास आप रोज राित्र पहुंचते ह- यादा यारभरे होते ह । प्रायः अपने िलए सबसे ज री लोग को हम खुदक े िलए िनि चत मान बैठते ह । जीवन छोटा है और आज ही वह िदन है, जब आप अपने वजूद क े सबसे यादा यारभरे (और सबसे प्रितब ) यि त हो सकते ह ।
  • 19. प्रेरक उ रण ‘‘स चा यार तब शु होता है, जब बदले म कोई अपे ा नहीं की जाती ।’’ ऐ वाइन डी सट-ए सुपरी ‘‘हम जो पाते ह, उससे अपनी जीिवका चलाते ह; हम जो देते ह, उससे अपना जीवन बनाते ह ।’’ सर िवं टन चिचल ‘‘आप िजतने मददगार होते ह, लगभग उतने ही खुश रहते ह ।’’ काल रीलड ‘‘आप दूसर क े िलए िजतना ही यादा मू य सृिजत करगे, आपका जीवन उतना ही काम करेगा । भला करने क े िलए खुदको प्रितब कर । जीवन से यादा हािसल करने क े िलए आपको जीवन को यादा देना ही होगा ।’’ रॉिबन शमा अपने जनल म इन सवाल पर िलख 1. यिद कोई एक ऐसा श द है, म अपने जीवन को िजसका समथन करता देखना चाहूंगा, तो वह श द या होगा? 2. अपने जीवन म म िकसे अब और बदा त नहीं क ं गा? 3. यिद कोई एक ऐसी चीज है, िजसे बदलकर म अपना जीवन उसक े िशखर तक उठा सकता हूं, तो वह कौन-सी चीज होगी? 4. मेरे जीवन का सबसे बड़ा मोड़ या रहा है और उसने िकस तरह मुझे वह यि त बनने म मदद पहुंचाई है, जो म अभी हूं? 5. यिद मेरे पास जीने को 30 िदन बचे ह , तो म या क ं गा?
  • 20. 5 टीव जॉ स का सवाल ऐपल क े िदवंगत सीईओ टीव जॉ स क े िवषय म इधर म काफी क ु छ सोचता रहा हूं - आइपॉड को लेकर उनक े आकषक तौर-तरीक े , उनक े ारा ऐपल का पांतरण, िफ म टूिडयो िप सर क े साथ उनकी उपलि धयां । म उनक े िवषय म जो क ु छ जान सका हूं, उसक े मुतािबक वे बहुत िदलच प यि त थे । प्रितभाशाली । लगनशील । जुनूनी । वे एक दाशिनक भी थे । जॉ स ने अपने जीवन क े क ु छ असरदार व त भारत म िबताए थे । उ ह ने संत क े साथ रहकर अ ययन िकए । उ ह ने यानक े द्र क े भ्रमण िकए । उ ह ने जीवन क े क ु छ बड़े प्र न पर िचंतन िकए । सवाल का िजक्र चला है, तो मने यह सुना िक अपने जीवन म जब भी उनका सामना एक बड़े िनणय अथवा िवक प से हुआ, तो वे खुदसे एक सवाल िकया करते थेः ‘‘अगर यह मेरे जीवन की अंितम राित्र हो, तो म या क ं गा?’’ म इसका प्रशंसक हूं । अपनी मृ युशैया पर कभी िकसी को अपने ारा ली गई जोिखम पर अफसोस नहीं हुआ । सुर ा क े दायरे म ही दरअसल सबसे कम सुरि त जगह होती है । एक बड़ा जीवन जीने क े िलए यह ज री है िक आप सोची-समझी जोिखम िलया कर - प्रायः । साहस क े बगैर िवजय नहीं िमला करती । टीव जॉ स की अपनी प नी से मुलाकात भी इसी तरह हुई थी । वे एक िव विव ालय म या यान दे रहे थे, जब उ ह ने उ ह श्रोताओं क े बीच बैठी देखा । उस कायक्रम क े बाद उ ह ने उनसे मुलाकात की । वे उ ह खाने पर ले जाना चाहते थे - िक ं तु उ ह एक यावसाियक बैठक म भी उपि थत होना था । जब वे अपनी कार की ओर जा रहे थे, उ ह ने खुदसे पूछाः ‘‘यिद यह मेरे जीवन की अंितम राित्र हो, तो म या क ं गा?’’ वे दौड़ते हुए सभागार की ओर भागे और उ ह िफर तलाश िलया । तबसे वे दोन हमेशा साथ-साथ रहे । यह िचंतन क े िलए एक महान व त है । आप एक वष को छोड़कर दूसरे का वागत कर रहे ह । जरा गहरे जाएं । इस पर सोच िक िज ह आप िकसी भय की वजह से नहीं कर सक े , उनम से िकन-िकनको करने की ज रत है । इस पर सोच िक जीवन िकतनी तेजी से भाग रहा है और या क ु छ कर डालने की ज रत है, तािक आप यह महसूस कर िक एक मानवप्राणी क े प म आपने अपनी सवो म पारी खेल ली । और तब दुिनया क े सामने आकर चमक उठ । एक बार जब आप ऐसा कर लेते ह, तो हम सब बेहतर हो जाएंगे । प्रेरक उ रण ‘‘म यह कहना चाहूंगा िक जोिखम हमेशा फायदेमंद होती है । आप यह जान लेते ह िक या करना है और या नहीं करना है ।’’
  • 21. जोनस सा क ‘‘म यह जानता हूं िक यिद म िवफल रहा, तो मुझे उसका अफसोस नहीं होगा, मगर िजस एक चीज क े िलए मुझे अफसोस हो सकता है, वह है प्रयास नहीं करना ।’’ जेफ बेजोज, अमेजन.कॉम क े सं थापक ‘‘जो यि त सब क ु छ करने की कोिशश करता है, वह क ु छ भी हािसल नहीं करता ।’’ रॉिबन शमा आपका 4 िमनट प्रित मील दाशिनक आथर शॉपेनहावर ने एक बार कहाः ‘‘ यादातर लोग अपने िवजन की सीमा को िव व की सीमा मान बैठते ह । क ु छ लोग ऐसा नहीं िकया करते । उनक े साथ हो ल ।’’ एक गहरी बात । आप इस पल जो जीवन देख पा रहे ह, कोई ज री नहीं िक वही आपक े भिव य का जीवन हो । संभव है, आप अपने भय , सीमाओं और गलत मा यताओं क े च मे से चीज देख रहे ह । एक बार जब आप दुिनया देखने क े इस शीशे को साफ कर लेते ह, तो अंदाजा कर िक या होता है? संभावनाओं की एक पूरी श्रृंखला सामने आ जाती है । याद रख िक हम यह दुिनया वैसी नहीं देखते, जैसी यह है । हम इसे वैसी देखते ह, जैसे हम वयं ह । इस िवचार ने मेरी िजंदगी बदल दी है । वषों पहले यह यकीन िकया जाता था िक कोई भी मानवप्राणी चार िमनट प्रित मील दौड़ने की सीमा नहीं तोड़ सकता । िक ं तु जब एक बार रोजर बैिन टर ने इसे तोड़ िदया, तो उसक े बाद कई दूसर ने भी क ु छ स ताह क े अंदर ही यह कारनामा दुहरा िदया । य ? य िक रोजर ने लोग को यह िदखाया िक या संभव था । और तब उस यकीन क े बल पर लोग ने असंभव को संभव कर िदखाया । आपका ‘‘4 िमनट प्रित मील’’ या है? आप अपने िलए काम की िकस सूची को असंभव मान बैठे ह? आपने ऐसी कौन-सी गलत पूवधारणाएं पाल ली ह िक आप या क ु छ नहीं हािसल कर और बन सकते? आपकी सोच आपकी वा तिवकता का िनमाण करती है । यिद आपने यह सोच िलया है िक आपक े जीवन म कोई चीज नहीं घिटत हो सकती, तो िफर इसकी कोई सूरत नहीं बचती िक आप उस ल य को वा तिवकता म बदलने क े िलए ज री कम करगे । आपकी ‘असंभव सोच’ एक वयंपूरक भिव यवाणी बन जाती है । आपक े ारा देखी जा रही सीमाएं ही वह जंजीर बन जाती है, जो आपको उस महानता से वंिचत रखती है, िजसक े िलए आप बने थे । और उसम नेतृ व कहां है? सवतोमुखी नेतृ व मने इस माह की शु आत म आइबीएम इंिडया क े िलए मुंबई म दो या यान िदए । जब म वहां था, तो एक बार म उनक े एक ए जी युिटव क े साथ कॉफी पी रहा था । टीव जॉ स की तरह वह भी यवसायी क े वेश म एक दाशिनक थे । हमारे दूरगामी संवाद क े दौरान उ ह ने कई ऐसी बात कहीं, जो मुझे िदलच प लगीं । खासकर उनम से एक ने मुझे सोचने को मजबूर िकया । ‘‘दोन हाथ को इ तेमाल कर सकनेवाला नेतृ व सफलता और संतुि ट हािसल करने की क ुं जी है,’’ उ ह ने कहा । म समझता हूं िक उनक े कहने का अथ यह थाः महानता की क ुं जी एक ही श द म िनवास करती है,
  • 22. जो संतुलन है । यह सब एक संतुलन ही है । काम क े साथ पिरवार का संतुलन िबठाएं । करने क े साथ सोचने का संतुलन कायम कर । िदमाग क े साथ िदल का संतुलन थािपत कर । िमत्रता क े साथ दृढ़ता का संतुलन तय कर । क णा और साहस का संतुलन िनि चत कर । एक चीज को घिटत करने तथा उसे घिटत होने देने क े बीच संतुलन लाएं । और आजादी तथा सहज होने क े साथ िज मेदार होने का संतुलन ि थर कर । जीवन तथा नेतृ व िवडंबनाओं से भरा है । म इनक े समाधान का जो एकमात्र तरीका जानता हूं, वह एक सुंदर संतुलन तक पहुंचना है । या यह आसान है? नहीं । या यह करने यो य है? िबलक ु ल ।
  • 23. 6 महानता क े छोटे-छोटे रोजाना काम महानता का जीवन क ु छ चुने हुए लोग क े िलए सुरि त नहीं हुआ करता - ऐसे मिहला-पु ष िजनकी वचा त् िटहीन हो, दांत िनदाष ह और जो राजसी खानदान क े ह । इस पृ वी पर कोई भी मानवेतर मनु य नहीं है और मेरा यह गहरा यकीन है िक हमम से हरएक यि त एक महान तथा असाधारण अथभरे जीवन का िनमाण कर सकता है । इन सबका िनचोड़ महानता क े छोटे-छोटे रोजाना काम म है । म प्रायः इस िस ांत का िश ण अपने एलीट परफॉमस िसरीज की नेतृ व कायशालाओं तथा अवेकिनंग बे ट से फ वीकड म िदया करता हूं और इसक े बहुत अ छे नतीजे िनकले ह । बुिनयादी तौर पर, एक महान जीवन महान और अ छी तरह जीए गए िदन की मोितय क े हार की तरह गुंथी हुई श्रृंखला से अिधक और क ु छ नहीं होता । आप िजस तरह अपने िदन को जीते ह, अपना जीवन भी उसी तरह का बनाते ह । वा तिवक बात यह है िक यिद आप अपने हरएक िदन पूरी तरह सामने आते ह और जगे रहने क े हरएक घंटे अपनी सवो म पारी खेलते ह, तो आपक े िलए एक असाधारण जीवन की गारंटी है । यिद आप प्रितिदन अपने वा य, अपने संबंध तथा अपने पेशेवर जानकारी म 1% का भी इजाफा करते ह, तो एक महीने बाद इनम 30% की बढ़ोतरी हो जाएगी । एक वष बाद यह वृद्िध 365% की होगी । हर िदन छोटे-छोटे तरीक े से खुदम लगातार बेहतरी और उ क ृ टता लाने क े प्रित वयं को समिपत करने से आपक े जीवन का वा तव म कायाक प हो सकता है । मेरे िलए महानता क े छोटे-छोटे रोजाना काम का िवचार बहुत शि तशाली है । इसका अथ है - अपना सवो म जीवन जीने को हमारे िलए यह कतई ज री नहीं िक हम पांतरण की एक लंबी छलांग लगाएं । इसक े बजाए, हम रोज-रोज (अपने जीवन क े प्र येक पहलू म) थोड़ा-थोड़ा बेहतर होते जाने पर किद्रत होने की ज रत है । म आपको इस पर सोचने क े िलए आमंित्रत करता हूं िक यिद आप एक मानवप्राणी क े प म अपनी सवो म पारी खेलते हुए अपनी सवो म संभावनाएं साकार नहीं करगे, तो आप खुदसे िव वासघात करगे । और यह मेरा पूरा यकीन है िक जीवन क े अंत म एक यि त क े िलए इससे बड़ी दयिवदारक अनुभूित और क ु छ भी नहीं होती िक उसने अपनी संभावनाओं क े रंचमात्र का ही उपयोग िकया । जैसे यि त बनने क े िलए आप यहां आए थे और वतमान म जो यि त ह, यिद दोन क े बीच एक बड़ा अंतर है, तो जीवन म खुशी नहीं हो सकती । इस फक को पाटने क े िलए रोजाना क ु छ छोटी-छोटी चीज अ छी तरह िकया कर । अपने बौद्िधक आधार को रोजाना थोड़ा िवकिसत कर । यादा यारभरे बन । क ु छ नया आजमानेवाले बन । यादा जोिखम ल । यादा गहरे संबंध का सृजन कर । और क े वल 1% भी अिधक सपने देख । आपक े महान िदन आपको आपक े महान जीवन तक ले जाएंगे । प्रेरक उ रण
  • 24. ‘‘आप अपने हाठ क े बजाए अपने जीवन से एक बेहतर प्रवचन कर सकते ह ।’’ ओिलवर गो डि मथ ‘‘यिद आप अपनी सम याओं को टालने क े बजाए उनका सामना कर, तो उनसे िनबटने की बेहतर ि थित म ह गे ।’’ परम पिवत्र दलाई लामा ‘‘काया वयन क े बगैर िवचार पैदा करना एक भ्रम क े िसवाय और क ु छ नहीं है ।’’ रॉिबन शमा अपने जनल म इन सवाल पर िलख 1. ऐसे 5 यि तय से, िजनक े साथ आप अपना यादातर व त िबताते ह, यिद यह पूछा जाए िक वे आपको एक मनु य क े प म क ै सा बताएंगे, तो वे या कहगे? 2. यिद मृ यु क े बाद आपकी कब्र क े िशलालेख म अथवा आपक े मारक पर क े वल एक ही पंि त िलखनी हो, तो वह पंि त या कहेगी? 3. आपक े जीवन म अक े ला सबसे अहम मोड़ या रहा है और आपने उससे 5 कौन- से प्राथिमक सबक सीखे? 4. वतमान क े इस पल म आप अपने जीवन की गुणव ा 1 से 10 तक क े पैमाने पर (10 असाधारण होगा) या बताएंगे? आप इस अंक पर क ै से पहुंचे? आपना सवो म जीवन जीने क े िलए 5 सवो म यवहार 1. 5.00 बजे सुबह जाग जाएं और खुदक े िलए 60 िमनट का व त िनकाल । 2. खुदको वैसे लोग से िघरा रख, जो आपका इि छत जीवन जी रहे ह । 3. अपनी जानकारी का सबसे भला यि त बन जाएं । 4. रोजाना कम से कम 30 िमनट िववेक बढ़ानेवाला सािह य पढ़ । 5. अपने भय की ओर भाग और िजसे करने से आप डरते ह, उसे कर ।
  • 25. 7 आजीवन सीखनेवाला बने रह जहां भी जाएं, एक पु तक साथ रख । हमलोग िकसी कतार म लग प्रती ा करते हुए, ट्रैिफक जाम म तथा िकसी से िमलने क े इंतजार म बहुत सारा समय लगाते ह । य नहीं उस व त का उपयोग अपने िदमाग को िव तािरत करने, महान सािह य पढ़ने अथवा शि तशाली सीडी सुनने म कर? यादातर लोग यह समझते ह िक उ ह पढ़ने का व त नहीं िमलता, िक ं तु थोड़ी सृजना मकता से आप यह समय िनकाल सकते ह । 1. तेजी से पढ़ना िसखानेवाला एक कोस कर ल । क ु छ घंट क े अ ययन से कई वषों क े अनुभव हािसल करने क े िलए पढ़ना एक शि तशाली तरीका है । मसलन, यादातर जीविनयां महान नेताओं अथवा साहसी यि तय की कायनीितय तथा दशन का िचत्रण करती ह । उ ह पढ़ और नमूने क े तौर पर ल । तेजी से पढ़ने से आपको कम समय म ही सामिग्रय की बड़ी मात्रा ग्रहण करने म मदद िमलेगी । 2. तेजी से पढ़नेवाले एक िदन म एक पु तक पढ़ जाया करते ह । जानकारी तथा सूचनाएं पाने का प्रयास कर । हम सचमुच िवराट सूचनाओं क े युग म प्रवेश कर चुक े ह और जो सिक्रय ह, वे इसे अपने फायदे क े िलए इ तेमाल कर सकते ह । आप िजतना यादा जानगे, उतना ही कम डरगे । 3. सभी सवाल क े सारे जवाब छपे पड़े ह । क ै से एक बेहतर सावजिनक व ता बन, दूसर क े साथ क ै से अपने संबंध सुधार, क ै से यादा चु त बन अथवा एक अ छी याददा त िवकिसत कर - िकताब म यि तगत िवकास क े सभी पहलुओं पर चरचा है । इसिलए अपनी अिधकतम संभावनाओं तक पहुंचने क े िलए आपको िन य पढ़ना ही चािहए । 4. जो क ु छ आपम पहले से ही मौजूद है, िकताब उसे समझने म आपकी सहायता करती ह । इसे ही प्रबु ता कहते ह । 5. यादा पढ़, यादा सीख, यादा हंसे और यादा यार कर । 6. संगित क े िस ांत को याद रखः ‘आज से 5 वषों बाद आप या ह गे, यह व तुतः 2 प्राथिमक प्रभाव म िसमट आता हैः आप िकन लोग क े साथ अपने िदन िबताते ह और कौन-सी िकताब पढ़ते ह ।’ प्रेरक उ रण ‘‘जीवन छोटा है । अपने जीवन की सबसे अहम चीज न भूल - लोग क े िलए जीना और उनका भला करना ।’’ माकस औरेिलयस
  • 26. ‘‘जब एक यि त मरता है, तो वह अपनी सारी चीज अपने घर छोड़ देता है, मशान म अपना पिरवार छोड़ देता है और क े वल उसक े कम ही उसक े साथ जाते ह ।’’ पूरब की एक कहावत ‘‘अपने रा ते को एक िसतारे से जोड़ दो और तुम क ै सी भी आंधी म अपनी राह तलाश सकते हो ।’’ द िवंची ‘‘आपकी सबसे यादा मदद करनेवाली िकताब वे होती ह, जो आपको सबसे यादा सोचने पर मजबूर करती ह । सीखने का सबसे किठन तरीका आसानी से पढ़नेवाली चीज पढ़ना है । िक ं तु एक महान पु तक, जो एक महान िचंतक ारा िलखी गई है, िवचार का एक जहाज-जैसी होती है, स य और सुंदरता से गहरे प म बोिझल ।’’ िथयोडोर पाकर अपने जनल म इन सवाल पर िलख गरमी क े मौसम की समाि त इसक े िलए बहुत अ छा मौका है िक आप अपने पेशेवर तथा यि तगत जीवन को संचािलत करने क े अपने तौर-तरीक पर गहराई से सोच और उनम वे सभी ज री सुधार कर, जो आपको जीने क े अगले तर तक उठा सक े । अपने जीवन म मने यह पाया है िक यिद म हरएक स ताह क ु छ घंटे इसिलए िनकालूं िक अपने जनल क े प न पर खुदक े बारे म थोड़ा िचंतन क ं , तो मेरी प्राथिमकताएं यादा प ट हो जाती ह और खुदकी वृद्िध तथा बेहतरी क े नए अवसर सामने आते ह । जैसा मने अपनी पु तक म कहा है, मेरे यि तगत यवहार म एक यह है िक म खुदसे प ट सवाल पूछा करता हूं, जो मुझे गहराई म उतरने और उन चीज क े िवषय म सोचने को प्रो सािहत करते ह, जो मेरे िलए सचमुच अहम ह । ऐसे ही क ु छ सवाल िन निलिखत ह और मेरा यह यकीन है िक ये आपक े िलए भी मददगार िस ह गेः 1. एक समय आप जो ब चे थे, उसने उस वय क यि त क े िवषय म या सोचा होता, जो आप अब बन गए ह? 2. यिद आपको यह नहीं पता हो िक आपकी उम्र िकतनी है, तो आप अभी अपनी उम्र िकतनी बताएंगे? 3. अगले 30 िदन म आप ऐसी कौन-सी 3 चीज कर सकते ह, तािक अपना जीवन उसकी उ क ृ टता तथा आनंद क े अगले तर तक उठा सक (और अभी ऐसा करने से आपको कौन-सी चीज रोक रही है)? 4. अब से 24 महीने बाद आप अपना जीवन हरएक ेत्र (किरयर, यि तगत, आ याि मक) म क ै सा िदखना चाहते ह? 5. अपने जीवन म कौन-सी 5 चीज आपको सबसे यादा खुशी देती ह? एक गहरे संतुि टदायक जीवन क े िलए 11 िनयम
  • 27. 1. लोग को संपि से ऊपर रख । 2. िजसे करने से आपको प्रेम है, उसे करना न छोड़ । 3. हमेशा वयं क े प्रित स चे रह । 4. यह याद रख िक हम यह दुिनया वैसी नहीं देखते, जैसी यह है । हम इसे वैसी देखते ह, जैसे हम वयं ह । 5. अपने ज म को िववेक म बदल डाल और अपनी िवफलता क े उपहार की तलाश कर । 6. अपनी जानकारी म सबसे भले यि त बन जाएं । 7. हर िदन कम से कम एक ऐसी चीज ज र कर, जो आपकी हथेली पर पसीना ला दे । 8. प्रित िदन कम से कम 30 िमनट िववेक बढ़ानेवाले सािह य का अ ययन अव य कर । 9. प्रित स ताह कम से कम एक घंटा प्रक ृ ित की गोद म मौन बैठ खुद का नवीकरण कर । 10. अपने सवो म शारीिरक जीवन क े िलए यायाम क े एक गंभीर कायक्रम क े प्रित वचनब ह । 11. अपनी छाप डालने तथा एक िवरासत छोड़ने क े प्रित समिपत ह ।
  • 28. 8 िनयित एवं नेतृ व जैसा मने ‘िद सट, िद सफर ऐंड िद सीईओ’ म िलखाः ‘‘पृ वी पर कोई बेवजह लोग नहीं ह ।’’ इससे मेरा मतलब यह है िक हमम से हरएक यि त यहां एक वजह और खास िमशन से है । िव यात मनोवै ािनक अब्राहम मै लो की तरह म सचमुच यह यकीन करता हूं िक हरएक मानवप्राणी की आनुवंिशक बनावट म एक शि तशाली जीवनकाय और एक उ े य होता है । क ु छ लोग क े िलए यह एक देश, एक क ं पनी अथवा एक समूह चलाने क े प म िदखता है । दूसर क े िलए यह नेतृ वकताओं का एक पिरवार िवकिसत करना या अपनी कला, किवता अथवा सावजिनक सेवा क े ारा नेतृ व प्रदिशत करना हो सकता है । हमम से हरएक की एक िनयित होती है और हमारा जीवन अपने उ चतम तर पर काम करना तब शु करता है, जब हमारे िदन उस कद्रीय िमशन की एक अिभ यि त बन जाते ह । मेरे सेिमनार म बहुत-से लोग यह पूछते हः ‘‘रॉिबन, म अपनी िनयित की खोज िकस तरह क ं ?’’ मेरा जवाब हमेशा एक ही होता हैः ‘‘आप अपनी िनयित नहीं खोज सकते - आपकी िनयित आपको खुद ढूंढ़ लेगी ।’’ आप इस िदशा म सबसे अ छा काम यह कर सकते ह िक खुदको सबसे गहरे तौर पर जानने क े िलए की जानेवाली आतंिरक िक्रया कर । जनल म िलख, यान कर तथा धैयभरा गहन िचंतन कर, तािक आप यह समझ सक िक आपक े सबसे स चे मू य, सबसे ऊ ं चे यकीन या ह और आप वा तव म िकस तरह क े जीवन का सृजन करना चाहते ह । आप िजतनी गहराई म जाएंगे, उतना ही जानगे । और िजतना ही यादा जानगे, वैसे िच को पहचानना उतना ही आसान होता जाएगा, जो आपको अपनी िनयित तक पहुंचा सकगे । एक बार जब आप इसे पा जाएंगे, तो एक मनु य क े प म आपका सबसे अ छा प्रदशन सामने आने लगेगा । प्रेरक उ रण ‘‘और कौन-सी चीज ान िजतनी अहम है?’’ ‘‘मन ने पूछा । ‘िदल से खयाल रखना और देखना,’’ उसक े अंतर से आवाज आई । लेिवया ‘‘यिद हम जीवन क े स दय तथा रह य क े प्रित श्र ा तथा िव मय महसूस नहीं कर सकते, तो िफर हम मनु य नहीं ह ।’’ शािलन प्रेटनैक ‘‘ यवसाय का पहला और सबसे अहम मतलब पैसे या उ पाद बनाना अथवा सेवाएं देना नहीं है । वािण य की तरह यवसाय भी, सबसे बढ़कर, यि तगत तथा संगठना मक महानता हािसल करने का एक साधन है । इसका उ े य क ु छ सुयो य
  • 29. तथा महान हािसल करना होता है ।’’ पीटर कोए टेनबौम एक बड़ा जीवन क ै से जीएं म आपको इस हेतु िचंतन करने को आमंित्रत करता हूं िक आपका जीवन अपने सबसे ऊ ं चे और सबसे भ य तर पर क ै सा िदखेगा । आप इस िवषय पर िजतना यादा संवाद (दूसरे लोग से और जनल म िलखने क े ारा खुदसे) करगे िक जीवन क े अपने अनुभव क े बल पर आप या क ु छ सृिजत करना चाहते ह, आप इसे संप न करने की िदशा म उतनी ही यादा आ था ला सकगे । अपने िदन म, या आप ऐसे कम करते और ऐसे इरादे बढ़ाते ह, जो आपक े वजूद की उ चतम संभावनाएं प्रदिशत करते ह ? अथवा या आपक े िदन ही आप पर असर डालते ह और आपक े ारा अपने पल म सृजना मकता लाए बगैर तेजी से गुजर जाते ह? एक मनु य क े प म जो क ु छ संभव हो, उसका प्रितिनिध व करते अपने जीवन क े िलए प्रितब होकर आप खुदक े िलए एक महान पैमाना गढ़ सकते ह । इस िदशा म ये 5 दशन ह, जो आपकी मदद करगेः 1. अपने ारा तय िकए गए प्रमुख ल य का एक कथन तैयार कर । आप अपने जीवन म िजसका समथन करना चाहते ह, यह एक पैराग्राफ म उसका सार-सं ेप होगा । इसे िदन म 3 बार (सुबह, दोपहर और राित्र) पढ़ । इसम अपनी प्रितब ता गहरी करने क े िलए यथासंभव इसे यादा से यादा बोलकर भी पढ़ा कर । 2. अपने िलए अपने सपने की एक टीम बनाएं । ऐसे लोग की पहचान कर, िजनका जीवन काम कर रहा है औए वे वैसा ही जीवन जी रहे ह, जैसा आप खुदक े िलए सृिजत करना चाहते ह । उनक े साथ िनयिमत प से लंच ल । समय-समय पर उनसे िमल और उनसे गहरे तर पर संवाद िकया कर । उनक े िवचार तथा यि तगत आदत आपको प्रभािवत करगी तथा आपको उन संभावनाओं तक पहुंचाने म मदद करगी, िज ह आपका जीवन आपको पेश करता है । 3. सफलता का ढांचा सृिजत कर । प्र येक महान जीवन ऐसे ढांच की बुिनयाद पर खड़ा होता है, जो उसकी सफलता को सहारा देते ह । सफलता क े ऐसे क ु छ ढांचे, िज ह आप अपने स ताह म डालना चाह, इस प्रकार हो सकते हः स ताह म क ु छएक बार अपने यि तगत प्रिश क क े साथ समय देना, िकसी असाधारण बुद्िधजीवी क े साथ एक सा तािहक बैठक करना, एक जीवन-प्रिश क (लाइफ कोच) तय करना, प्रित िदन िवटािमन तथा स लीमट्स िलया करना, योजना बनाने तथा अपने िवजन साफ करने पर प्रित स ताह एक खास समय लगाना तथा िनयिमत प से सुबह की सैर करना । 4. बड़ी कोिशश िकया कर । चीज को घिटत करने और उ ह घिटत होने देने क े बीच एक नाजुक संतुलन होता है । जीवन हमेशा ही करने और होने क े बीच एक संतुलन है । एक बुद्िधमान नेतृ वकता एक आदश संतुलन थािपत करता है । कड़ी मेहनत क े पुराने सुनहरे िनयम तथा आपक े इि छत जीवन का अनुभव सृिजत करने हेतु ‘बड़ी कोिशश’ करने का कोई भी िवक प नहीं है । एक पुरानी कहावत यह कहती है िक ‘देवता उनकी मदद करते ह, जो अपनी मदद आप करते ह ।’ हरएक िदन क ु छ ऐसा कर, जो आपकी मता पर जोर आजमाइश करे और आपक े जीवन पी िमशन
  • 30. को आगे बढ़ा सक े । 5. अपने संसगों पर गौर कर । यिद आप यह जानना चाहते ह िक अब से 5 वषों बाद आपका जीवन क ै सा िदखेगा, तो आप ऐसे 10 लोग क े िवषय म िचंतन कर, िजनक े साथ आपका यादातर व त बीतता है । आप िजस दायरे (वे लोग, िजनक े साथ आप अपने व त िबताते ह) क े अंदर रहते ह, वही यह बताएगा िक आप क ै से यि त बनगे और क ै सा जीवन बनाएंगे । अपनी सवो म पारी खेल, खुदको ऐसे लोग से िघरा रख और वैसे लोग से संवाद करते रह, जो महानता, नेतृ व तथा यि तगत िज मेदारी क े िलए प्रितब ह ।