Need of unicode

453 views

Published on

Why you should use Unicode in typing

Published in: Education
  • Be the first to comment

Need of unicode

  1. 1. आपका सवागत है । कम्‍प् य ूट र पर टं क ण हे त ु ‍ यूि निकोड एन्‍क ोिडग कीी उपयोिगता - इन्‍द्रे श सचदे व ा भारत के महासवेक्ष क का कायार्याल य भारतीय सवेक्ष ण िवभाग दे ह रादू नि
  2. 2. मैं यूि निकोड क्‍य ों प्रयोग करुं ? Why Should I Use Unicode? े चल ीक स तो ठ क ा य र्या म ेर ा अभी है । रहा ही My appli cation w orks fine now! ?
  3. 3. 0xFFFF Compatibility Private use ™ Unicode / ISO 10646 Future use Ideographs (Hanzi, Kanji, Hanja) Hangul Kana Symbols Punctuation Thai Indian Arabic, Hebrew Greek 0x0000 Latin ASCII 16-bit international character encoding  Windows 2000 uses Unicode version 2.0  A (null) 0041 9662 FF96 4F85 0000
  4. 4. यूि निकोड क्‍य ा है ?     कम्प्यूट र, मूल रूप से, निंब रों से सम्बंध रखते हैं । ये प्रत्येक अक्षर और वणर्या के िलए एक निंब र िनिधार्याि रत करके अक्षर और वणर्या संग्रह िहत करते हैं । यूि निकोड का आिवष्कार होनिे से पहले , ऐसे निंब र दे नि े के िलए सैंक डों िविभन्न संके त िलिप प्रणािलयां थीं। यूि निकोड प्रत्येक अक्षर के िलए एक िवशेष निम्बर प्रदानि करता है , चाहे कोई भी प्लेट फॉर्मर्या / प्रोग्रहाम या भाषा हो। यूि निकोड सटैं ड डर्या को Apple , HP , IBM , GIST System , Microsoft , Oracle , SAP , SUN , Sybase , Unisys जैस ी अन्‍य प्रमुख कम्पिनियों निे अपनिाया है । यूि निकोड सटैं ड डर्या की उत्पित और इसके सहायक उपकरणों की उपलब्धता , हाल ही के अित महत्वपूण र्या िवश्वव्यापी सॉर्फ्टवेय र टे क्न ोलॉर्जी रुझानिों में से हैं ।
  5. 5. यूि निकोड क्‍य ा है ?     यूि निकोड को ग्रहाहक - सवर्यार अथवा बह - आयामी उपकरणों और वेब साइटों में शािमल करनिे से, परं परागत उपकरणों के प्रयोग की अपेक्ष ा खचर्या में अत्यिधक बचत होती है । यूि निकोड एक ऐसा अके ला सॉर्फ्टवेय र उत्पाद है जो वेब साइट में िमल जाता है , िजसे री - इं जीिनियिरग के िबनिा िविभन्न प्लैट फॉर्मो , भाषाओं और दे श ों में उपयोग िकया जा सकता है । इससे डाटा को िबनिा िकसी बाधा के िविभन्न प्रणािलयों से होकर ले जाया जा सकता है । सबसे प्रमुख , यूि निकोड का आधार ISO 10646 अन्‍त रार्याष् ‍ट्र ीय मानिक के अनिुस ार है , इसे प्रयोग कर हम अन्‍त रार्याष् ‍ट्र ीय स‍त र पर कायर्या करते हए अपनिे गौरवशाली समझते हैं ।
  6. 6. यूि निकोड की समकक्षता  ISO/IEC 10646    32 bit ISO standard of 64K x 64K “planes” Unicode repertoire is plane 0 UTF-8   8 bit transformation format Used in web pages and some email
  7. 7. यूनि निकोड प्रयोग करनिे के लाभ  िकसी भी भाषा में टं क ण करनिे के िलए िविशिशिष्‍ट फॉण्ट पर िनिभर्भर ता समाप्‍त अर्थार्भत सभी भाषाओं में एक सार टं क ण विशो भी िबिनिा फॉण्ट बिदले, मात्र Language Bar से आपको भाषा का चयनि करनिा है , जैस े िहन्‍द ी, English, ਪੰਜ ਾਬੀ , ગુજા રાતી , ♕♖♗♘♙  एक बिार टं क ण करके फाईल को सुर िक्षित कर लें , अर्बि इसे ईमेल के माध्यम से कहीं पर भी भेज ें इसे पढ़निे में उस कम्प्यूनट र पर कोई किठिनिाई निही आयेग ी। हां, यिद पढ़निे विशाले कम्प्यूनट र पर यूनि निकोड एन्कोिडग active निही है तो उसे edit करनिे में किठिनिाई अर्विशश्य हो सकती है । इसके द्वारा फे सबिुक , िट्विशटर आिद सोशिल निेट विशकर्भ पर भी अर्पनिी भाषा में भाविश व्यक्त करनिे के िलए 
  8. 8. यूनि निकोड प्रयोग करनिे के लाभ   एक भाषा में टं क ण करनिे के बिाद text पर Spelling, Grammar, Thesaurus, etc tools भी कायर्भ करते है , मात्र आविशश्यकता रहती है उस भाषा की dictionary को डाउनिलोड कर अर्पनिे िसस्टम में install करनिे की । एक भाषा में टं क ण करनिे के बिाद text को आप दून स री भाषा में पिरविशितत (translate या transliterate) भी कर सकते हैं । इसके िलए कईं online application िनिःशिुल् क प्रयोग हे त ु उपलब्ध हैं । जबि िकसी दून स री भाषा में टं ि कत ईमेल या फे सबिुक संदे शि आपको प्राप्त हो तो उसे पढ़निे के िलए online translation tools बिहुत सहायक होते हैं ।
  9. 9. यूनि निकोड प्रयोग करनिे के लाभ  एक भाषा में टं क ण करनिे के बिाद text पर text to speech अर्थविशा screen reader tools भी कायर्भ करते है , मात्र आविशश्यकता रहती है उस tool को डाउनिलोड कर अर्पनिे िसस्टम में install करनिे की । इसके प्रयोग से आप िलखा हुआ text (in voice form) digital sound में सुनि सकते हैं , दृष्ट ि ष्टि बिािधताथर्भ व्यिक्त इसी सुि विशधा के कारण कम्प्यूनट र पर कायर्भ करनिें मे सक्षिम हो पाते हैं । अर्ंग्र ेज ी भाषा के अर्ितिरक्त अर्न्य भाषा में िलखा text यिद यूनि निकोड के अर्ितिरक्त िकसी फॉण्ट के उपयोग द्वारा टं ि कत िकया जाये तो सम्भविशतः यह tool कायर्भर त निही होगा।
  10. 10. यूनि निकोड प्रयोग करनिे के लाभ   भारतीय रूपया का मानिक िचन्ह ( `) का यूनि निकोड भी MS-Window 7.0 में उपलब्ध है , इसके िलए KB2496898 patch माइक्रोसॉफ्ट की विशेबि साईट से डाउनिलोड कर अर्पनिे िसस्टम में install करें । इसके उपरान्त 20b9 ​ि लख कर Alt+X कमाण्ड दें ( `) का यूनि निकोड भी उपलब्ध रहे ग ा , लेि कनि यह विशतर्भम ानि में टं क ण/मुद्र ण तक ही सीिमत है । ई -मेल द्वारा भेज े जानिे पर यिद पानिे विशाले िसस्टम पर यह patch install निही है तो िदखाई निही दे ग ा और नि ही मुि द्रत होगा। आप िकसी फाईल का निाम भी िहन्दी में रख सकते हैं , लेि कनि ई-मेल द्वारा भेज े जानिे पर यिद पानिे विशाले िसस्टम पर Unicode activate निही है तो फाईल का निाम पढ़निे योग्य निही होगा, परन्तु फाईल को खोल कर अर्न्दर िलखा text पढ़ा अर्विशश्य जा सके गा।
  11. 11. Limitations of Unicode present)  (at विशतर्भम ानि में Adobe PhotoShop, CorelDraw, PageMaker आिद graphical interface विशाले सॉफ्टविशेय र एिप्लके शिनि पर यूनि निकोड एन्कोिडग कायर्भर त निही है ।
  12. 12. प्रश्न काल  आशा करते है , अब तक जो आपको बताया वह समझ आ गया होगा। यिदि कोई तथ्य स्पष्ट नही हु आ अथवा कोई शं क ा है तो हमारे सं ज्ञ ान मे लाये तािक उसका िनवारण िकया जा सके । इन्‍द्रे शि सचदे विश ा , मो . +91-9259586059, ई - मेल – technical_sgo@hotmail.com
  13. 13. यूनि निकोड की उपयोिगिता का  Use Unicode – It is the ultimate सारांश      character encoding Represent all text with one unambiguous encoding Support multilingual text easily Avoid special processing for variable bytelength characters Use standard encoding recognized throughout the industry and the world Support new scripts that are only supported through Unicode
  14. 14. यूनि निकोड को िसस्टम पर कै से प्रभावी करें ? How toXP / Vista activate Unicode on For Windows system ? ::    Start >> Control Panel >> Regional and Language Options >> Languages >> Check both then click Apply यहां आपको अपनिी MSWindows installation CD की आवश्यकता पडे गि ी। इसप्रकार यूनि निकोड तो
  15. 15. यूनि निकोड िहन्दी को प्रभावी करनिा Activate Unicode Hindi on system For Windows XP / Vista :: Step-1#  सारांश सॉफ्टवेय र जो िक समस्त के न्द्रों में SGO द्वारा िवतिरत िकया गिया था , उसे install करें । आपको ऐसा icon िमलेगि ा । इस पर double click करें , ऐसा कीबोडर्ड आपकी स्क्रिीनि पर आयेगि ा -
  16. 16. यूनि निकोड िहन्दी को प्रभावी करनिा Activate Unicode Hindi on system For Windows XP / Vista ::  Step 2– जो िहन्दी टाईपिपगि के जानिकार हैं वें "Layout" menu से "Remington Typewriter“ चयनि करें , अन्यथा “Executive” का चयनि करें ।  Step 3– "FontType" menu से "AryanUnicode“ को चुनि ें।  Step 4 –"File" menu में "Save Defaults" पर िक्लक करें ।  Step 5 – “Saransh Icon“ को िनिम्न स्थानि पर कॉपी करें - Start > All Programs > Startup. ( तािक जब भी कम्प्यूनट र खुल े तो यह इं जनि स्वतः ही शुरू हो जाये )  अब आपका कम्प्यूनट र यूनि निकोड िहन्दी एन्कोिडगि के िलए
  17. 17. यूनि निकोड िहन्दी संगि कायर्ड करनिा Working with Unicode Hindi For Windows XP / Vista ::   अब कायर्ड प्रारम्भ करनिा है , िजस एप्लीके शनि (Word/ Excel etc) पर कायर्ड करनिा है उसे शुरू कर सवर्डप्र थम "Arial Unicode MS" फॉण्ट को चुनि । े "Scroll Lock" key अंग्रि ज ी / िहन्दी के मध्य भाषा े चयनि हे त ु कायर्ड करे गिी।  द, ष, ड , द , क्रि , ऊ , त , क , श , आिद ऐसे कईप अक्षर हैं , िजन्हे बनिानिे के िलए फॉण्ट के उपयोगि में हमें उनिके Alt+<chr no.> याद करनिे पडते हैं , लेि कनि यूनि निकोड में ऐसा निही है ।
  18. 18. यूनि निकोड िहन्दी संगि कायर्ड करनिा Working with Unicode Hindi For Windows XP / Vista ::  जब आप सारांश इं जनि अपनिे कम्प्यूनट र पर प्रभावी करते हैं तो वह आपके MSWord के menu bar में कु छ बदलाव करता है । जैस े – आपको एक Security Warning िमलेगि ी ले​कि कनि इसे आपको Option पर जाकर
  19. 19. यूनि निकोड हिहिन्दी हसंग हकार्यर्य ह करनिार् Working हwith हUnicode हHindi For हWindows हXP ह/ हVista ह:: ह  नियार् ह कार्म ह करनिार् ह तो ह ठीक, ह ले​कि कनि ह पहिले ह से ह Paras ह / ह Krishna ह/ हKrutidev ह/ हKrutipad ह आदिद हफॉण्ट ह हके ह उपयोग ह से ह िकये ह हुए ह कार्यर्य ह को ह कै से ह यूनि निकोड ह में ह पिरवर्तितत ह करें ह ? ह घबरार्यें ह निहिी, ह ह MS-Word ह में ह यहि ह भी ह अब ह आदपके ह िलए ह उपलब्ध ह हिोगार् , ह दे ख ें ह – ह SaranshFontConverter
  20. 20. यूनि निकोड हिहिन्दी हसंग हकार्यर्य ह करनिार् Working हwith हUnicode हHindi For हWindows हXP ह/ हVista ह :: ह  पहिले ह उस ह text ह को ह select ह कर ह लें ह िजिसे ह एक ह फॉण्ट ह से ह यूनि निकोड ह में ह पिरवर्तितत हकरनिार् हहिै । ह  अब ह Saransh ह Font ह Converter ह पर ह िक्लक ह करते ह हिी ह यहि ह popup ह menu हआदयेग ार् ह–  दशार्र्यय े ह गये ह के ह अनिुस ार्र ह चयनि ह कर ह “Save ह Settings” ह कर ह लें ह तार्िक ह भिवर्तष्य ह में ह आदपको ह बार्र-2 ह यहि ह प्रक्रिक्रियार् ह नि ह करनिी ह पड़े । ह  अब ह हिो ह सकतार् ह हिै ह आदपको ह कु छ ह ऐसार् हिदखे ह – ह [] ह[] ह[], हअरे हकु छ ह खरार्ब ह निहिी ह हुआद ह हिै , ह इसे ह select ह कर ह "Arial ह Unicode ह MS" ह फॉण्ट ह apply हकर हलें। हआदपकार् हपुर ार्निार् ह
  21. 21. यूनि निकोड हिहिन्दी हको ह हप्रक्रभार्वर्ती हकरनिार् Activate हUnicode हHindi हon ह system For हWindows ह7.0 ह/ ह8.0 ह- ह32/64 हBit ह:: ह   अब ह आदपके ह िलए ह यूनि निकोड ह पहिले ह से ह हिी ह कम्‍प् ‍य ूनट र ह में ह ह एक्‍ट ीवर्तेट ह हिै , ह अत: ह Control ह Panel ह >> ह Regional ह Languages ह में ह जिार्निे ह की हआदवर्तश्‍य कतार् हनिहिी हहिै । http :// bhashaindia.com ह वर्तेब सार्इट ह पर ह जिार्ए ह तथार् ह अपनिी ह आदवर्तश्‍य कतार् ह के ह अनिुस ार्र ह भार्षार् ह एवर्तं ह Windows ह 7.0 ह – ह 32 ह / ह 64 हBit हआदिद हकार् हसहिी हचुनि ार्वर्त हकर ह zip हfile हअपनिे ह िसस्‍ट म हपर ह डार्उनिलोड हकरें , हअब हइसे ह upzip हकर हInstall ह/ हRun ह करें ।
  22. 22. यूनि निकोड हिहिन्दी हको ह हप्रक्रभार्वर्ती हकरनिार् Activate हUnicode हHindi हon ह system For हWindows ह7.0 ह- ह32/64 हBit ह:: ह ह (same हwill हwork हfor ह Windows ह8.0 हtoo)   आदपके ह िसस्‍ट म ह पर ह िनिम्‍नि ह प्रक्रकार्र ह से ह Language ह Bar ह िदखार्ई ह दे ग ार् ह–
  23. 23. यूनि निकोड हसे ह सम्बिन्धत हिवर्तिशष्ट ह वर्तेब सार्ईटें  http://translate.google.co.in/ ह  यहिार्ं ह आदपको हएक हभार्षार् हसे ह दून स री हभार्षार् हके हिलए ह translation ह/ हtransliteration ह की हसुि वर्तधार् ह उपलब्ध हहिोगी, हभार्रत हकी हिनिम्न ह9 हभार्षार्एं ह यहिार्ं ह पर ह हिैं ह - हHindi, हEnglish, हBengali, हGujarati, ह Kannada, हMarathi, हTamil, हTelugu हand ह Urdu http://www.shabdkosh.com/  http://www.unicode.org/ ह  http://bhashaindia.com ह 
  24. 24. आदपके हबहुमल्य हसमय हके हिलए ह धन्यवर्तार्द!

×