Polity topic-kendriya-mantriparisad-3 c

3,064 views

Published on

Polity topic-kendriya-mantriparisad-3c

Published in: Entertainment & Humor
0 Comments
1 Like
Statistics
Notes
  • Be the first to comment

No Downloads
Views
Total views
3,064
On SlideShare
0
From Embeds
0
Number of Embeds
2,355
Actions
Shares
0
Downloads
34
Comments
0
Likes
1
Embeds 0
No embeds

No notes for slide

Polity topic-kendriya-mantriparisad-3 c

  1. 1. कें द्रीय मंत्रिपरिषद भाितीय िाजव्यवस्था एवं अभभशासन www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  2. 2. • भारत के संविधान में सरकार की संसदीय व्यिस्था ब्रिटिश मॉडल पर आधाररत है। • हमारी राजनैततक और प्रशासतनक व्यिस्था का मुख्य काययकारी मंब्रिपररषद होती है, जजसका नेतृत्ि प्रधानमंिी करता है। • अनुच्छेद 74 मंब्रिपररषद से संबंधधत है, जबकक अनुच्छेद 75 मंब्रियों की तनयुजतत, काययकाल, उत्तरदातयत्ि, अहयताओं, शपथ एिं िेतन और भत्तों से संबंधधत है। Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  3. 3. संवैधाननक प्रावधान • अनुच्छेद- 74 : राष्ट्रपतत को सहायता एिं परामशय और सलाह देने के ललए मंब्रिपररषद । • अनुच्छेद- 75 : मंब्रियों के बारे में अन्य उपंबध ।
  4. 4. मंत्रियों की ननयुक्तत • प्रधानमंिी की तनयुजतत राष्ट्रपतत करता है तथा प्रधानमंिी की सलाह पर अन्य मंब्रियों की तनयुजतत करता है। • इसका अथय है कक राष्ट्रपतत के िल उन्हीं व्यजततयों को मंिी तनयुतत कर सकता है, जजनकी लसफाररश प्रधानमंिी करता है । • सामान्यत: लोकसभा राज्यसभा से ही संसद सदस्यों की मंब्रिपद पर तनयुजतत होती है। • कोई व्यजतत संसद की सदस्यता के ब्रबना मंब्रिपद पर सुशोलभत भी होता है तो उसे छह माह के भीतर संसद के ककसी भी सदन की सदस्यता लेनी होगी।
  5. 5. मंत्रियों के उत्तिदानयत्व • सरकार की संसदीय व्यिस्था की कायय प्रणाली का मौललक लसद्ांत उसके सामूटहक उत्तरदातयत्ि का लसद्ांत है। • अनुच्छेद 75 स्पष्ट्ि रूप से कहता है कक मंब्रिपररषद लोकसभा के प्रतत सामूटहक रूप से उत्तरदायी होगी।
  6. 6. मंत्रिपरिषद की संिचना • मंब्रिपररषद में मंब्रियों की तीन श्रेणणयां होती हैं-कै ब्रबनेि मंिी, राज्य मंिी ि उपमंिी । • उनके बीच का अंतर है-उनका पदक्रम. िेतन तथा राजनैततक महत्ि। • इन सभी मंब्रियों का प्रमुख्य प्रधानमंिी है, जो सरकार का उच्चतम काययकारी है ।
  7. 7. मंत्रिमंडल की भूभमका • यह हमारी राजनैततक-प्रशासतनक व्यिस्था में उच्चतम तनणयय लेने िाली संस्था है । • यह कें द्र सरकार की मुख्य नीतत तनधायरक अंग है । • यह कें द्र सरकार की उच्च काययकाररणी है । • यह कें द्रीय प्रशासन की मुख्य समन्ियक है । • यह राष्ट्रपतत की सलाहकारी संस्था है तथा इसका परामशय उस पर बाध्यकारी है । Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  8. 8. मंत्रिमंडलीय सभमनतयां कै ब्रबनेि विलभन्न सलमततयों के माध्यम से कायय करती है। मंब्रिमंडलीय सलमततयों के संबंध में तनम्न ब्रबंदु द्रष्ट्िव्य हैं- • ये संविधानेत्तर होती हैं तयोंकक संविधान में इनका उल्लेख नहीं है हालांकक उनके गठन हेतु कायय तनयम का प्रािधान ककया गया है । • ये दो प्रकार की होती हैं-स्थायी ि तदथय। स्थायी सलमतत स्थायी तथा तदथय सलमतत अस्थायी होती है। तदथय सलमततयां समय-समय पर विशेष मामलों के ललए गटठि की जाती हैं। Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  9. 9. ऑनलाइन कोचचंग के बािे में अचधक जानकािी के भलए यहां क्तलक किें http://iasexamportal.com/civilservices/courses/ias-pre/csat- paper-1-hindi हाडड कॉपी में सामान्य अध्ययन प्रािंभभक पिीक्षा (स्टडी ककट - पेपि - 1 (Paper - 1) खिीदने के भलए यहां क्तलक किें http://iasexamportal.com/civilservices/study-kit/ias-pre/csat- paper-1-hindi Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  10. 10. IASEXAMPORTAL Other Online Courses Online Course for Civil Services Preliminary Examination  सीसैि (CSAT) प्रारंलभक परीक्षा के ललए ऑनलाइन कोधचंग (पेपर - 2)  Online Coaching for CSAT Paper - 1 (GS)  Online Coaching for CSAT Paper - 2 (CSAT) Online Course for Civil Services Mains Examination General Studies Mains (NEW PATTERN - Paper 2,3,4,5) Public Administration for Mains For Know More Click Here: http://iasexamportal.com/civilservices/courses Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM

×