Polity topic-aapatkalin-upbandh-4c

2,937 views
3,348 views

Published on

Polity topic-aapatkalin-upbandh-4c

Published in: Education
0 Comments
1 Like
Statistics
Notes
  • Be the first to comment

No Downloads
Views
Total views
2,937
On SlideShare
0
From Embeds
0
Number of Embeds
2,494
Actions
Shares
0
Downloads
27
Comments
0
Likes
1
Embeds 0
No embeds

No notes for slide

Polity topic-aapatkalin-upbandh-4c

  1. 1. आपातकालीन उपबंध भारतीय राजव्यवस्था एवं अभभशासन www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  2. 2. • संविधान के भाग XVIII में अनुच्छेद 352 से 360 तक आपातकालीन उपबंध उल्ललखित हैं। • आपातकालीन ल्थितत में कें द्र सरकार सिवशल्ततमान हो जाता है तिा सभी राज्य, कें द्र के पूर्व तनयंत्रर् में आ जाते हैं। Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  3. 3. संववधान में तीन प्रकार के आपातकाल को ननर्दिष्ट ककया गया है- • युद्ध, बाह्य आक्रमर् और सशथत्र विद्रोह के कारर् आपातकाल (अनुच्छेद 352 ), को राष्ट्रीय आपातकाल के नाम से जाना जाता है। ककं तु संविधान ने इस प्रकार के आपातकाल के ललए ‘ आपातकाल की घोषर्ा ’ िातय का प्रयोग ककया है । Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  4. 4. • राज्यों में संिैधातनक तंत्र की विफलता के कारर् आपातकाल को राष्ट्रपतत शासन (अनुच्छेद 356) के नाम से जाना जाता है। इसे दो अन्य नामों से भी जाना जाता है -राज्य आपातकाल अििा संिैधातनक आपातकाल। ककं तु संविधान ने इस ल्थितत के ललए आपातकाल शब्द का प्रयोग नहीं ककया है । • भारत की वित्तीय थिातयत्ि अििा साि के ितरे के कारर्. अधधरोवपत आपातकाल, वित्तीय आपातकाल (अनुच्छेद 360) कहा जाता है। Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  5. 5. संसदीय अनुमोदन तथा समयवधध • संसद के दोनों सदनों द्िारा आपातकाल की उदघोषर्ा जारी होने के एक माह के भीतर अनुमोददत होनी आिश्यक है। प्रारंभ में संसद द्िारा अनुमोदन के ललए दी गई समय सीमा दो माह िी ककं तु 1978 के 44िें संशोधन अधधतनयम द्िारा इसे घटा ददया गया। • ककं तु आपातकाल की उदघोषर्ा ऐसे समय होती है, जब लोकसभा का विघटन हो गया हो अििा लोकसभा का विघटन एक माह के समय में बबना उदघोषर्ा के अनुमोदन के हो गया होय तब उदघोषर्ा लोकसभा के पुनगवठन के बाद पहली बैठक से 30 ददनों तक जारी रहेगी, जबकक इस बीच राज्यसभा द्िारा इसका अनुमोदन कर ददया गया हो । Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  6. 6. उदघोषणा की समाप्तत राष्ट्रपतत द्िारा आपातकाल की उदघोषर्ा ककसी भी समय एक दूसरी उदघोषर्ा से समाप्त की जा सकती है। ऐसी उदघोषर्ा को संसदीय अनुमोदन की आिश्यकता नहीं होती। Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  7. 7. राष्रीय आपातकाल के प्रभाव आपात की उदघोषर्ा के राजनीततक तंत्र पर तीव्र तिा दूरगामी प्रभाि होते हैं। इन पररर्ामों को तनम्न तीन िगों में रिा जा सकता है। • कें द- राज्य संबंधों पर प्रभाि • लोकसभा तिा राज्य विधानसभा के कायवकाल पर प्रभाि, तिा • मौललक अधधकारों पर प्रभाि। Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  8. 8. कें द्र-राज्य संबंधों पर प्रभाव • जब आपातकाल की उदघोषर्ा लागू होती है, तब कें द्र-राज्य के सामान्य संबंधों में मूलभूत पररितवन होते हैं। इनका अध्ययन तीन शीषवकों के अंतगवत ककया जा सकता है-कायवपालक, विधायी तिा वित्तीय । Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  9. 9. लोकसभा तथा राज्य ववधानसभा के कायिकाल पर प्रभाव • जब राष्ट्रीय आपातकाल की उदघोषर्ा लागू हो तब लोकसभा का कायवकाल इसके सामान्य कायवकाल (5 िषव) से आगे संसद द्िारा विधध बनाकर एकसमय में एक िषव के ललए (ककतने भी समय तक) बढ़ाया जा सकता है। Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  10. 10. राष्रपनत शासन आरोपण का आधार- • अनुच्छेद 355 कें द्र को इस कतवव्य के ललए वििश करती हैं कक प्रत्येक राज्य सरकार संविधान की प्रबंध व्यिथिा के अनुरूप ही कायव करेंगी। इस कतवव्य के अनुपालन के ललए कें द्र, अनुच्छेद 356 के अंतगवत राज्य में संविधान तंत्र के विफल हो जाने पर राज्य सरकार को अपने तनयंत्रर् में ले सकता है। Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  11. 11. ववत्तीय आपातकाल उदघोषणा का आधार- • अनुच्छेद 360 राष्ट्रपतत को वित्तीय आपात की घोषर्ा करने की शल्तत प्रदान करता है, यदद िह संतुष्ट्ट हो कक ऐसी ल्थितत उत्पन्न हो गई है, ल्जसमें भारत अििा उसके ककसी क्षेत्र की वित्तीय ल्थितत अििा प्रत्यय ितरे में हो । Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  12. 12. संसदीय अनुमोदन एवं समयावधध • वित्तीय आपात की घोषर्ा को, घोवषत ततधि के दो माह के भीतर संसद की थिीकृ तत लमलना अतनिायव है। यदद वित्तीय आपातकाल की घोषर्ा करने के दौरान यदद लोकसभा विघदटत हो जाए अििा दो माह के भीतर से मंजूर करने मे पूिव लोकसभा विद्यदटत हो जाए तो यह घोषर्ा पुनगवदठत लोकसभा की प्रिम बैठक के बाद तीस ददनों तक प्रभािी रहेगी, परंतु इस अिधध में इसे राज्यसभा को मंजूरी लमलना आिश्यक है । Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  13. 13. ऑनलाइन कोध ंग के बारे में अधधक जानकारी के भलए यहां प्ललक करें http://iasexamportal.com/civilservices/courses/ias-pre/csat- paper-1-hindi हार्ि कॉपी में सामान्य अध्ययन प्रारंभभक परीक्षा (स्टर्ी ककट - पेपर - 1 (Paper - 1) खरीदने के भलए यहां प्ललक करें http://iasexamportal.com/civilservices/study-kit/ias-pre/csat- paper-1-hindi Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  14. 14. IASEXAMPORTAL Other Online Courses Online Course for Civil Services Preliminary Examination  सीसैट (CSAT) प्रारंलभक परीक्षा के ललए ऑनलाइन कोधचंग (पेपर - 2)  Online Coaching for CSAT Paper - 1 (GS)  Online Coaching for CSAT Paper - 2 (CSAT) Online Course for Civil Services Mains Examination General Studies Mains (NEW PATTERN - Paper 2,3,4,5) Public Administration for Mains For Know More Click Here: http://iasexamportal.com/civilservices/courses Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM

×