Your SlideShare is downloading. ×
0
प्यारे बेटे,
मैं आशा करता हूँ की जब मैं बूढा हो रहा हूँ,
तब तुम मेरी इस अवस्था को समजोगे
और मेरे साथ धैर्यर्य से बात करोगे...
मेरी कमजोर हो रही
नजर के कारण
जब मुजसे प्लेट टूट जाये
या पानी गीर जाये तो
तुम मुज पर गुस्सा नही
होना
वृध्ध लोग ज्यादा
भावुक होते हैर्
वे जल्द ही दु:खी
हो जाते हैर्
बेटे मुजे माफ करना, मैं बूढा हो रहा हूँ
जब तुम छोटे थे
तब में तुम्हे
बीना थके धीरे धीरे
चलना िशखाता था
आज जब मैं बूढा हो रहा
हूँ तब
तुम मुजे चलने में मदद
तो करोगे ना?
तुम्हे याद है बचपन मे
जब तुम्हे गुब्बारा लेना
था?
तुम एक ही बात
दोहराया करते थे जब
तक के तुम्हे गुब्बारा
नही िमलता था
जब मै घीसी हुई केसेट की
तरह एक ही बात
दोहराउं
तब तुम मुजे िबना गुस्सा
हुए सुनोगे
मैं आशा करता हूँ
के तुम मेरा मजाक
नही उडाओगे
और मुज पर
गुस्सा नही करोगे

तुम्हेयादहैबचपन
में
तुम्हेनहानाअच्छा
नही
लगताथा
औरतुमउससेहमे
शा
भागतेरहतेथे
मेरी बदबू को अनदेखा
करना, ओर मुजे
नहाने के िलये मजबूर
मत करना
मैं कमजोर हो गया हूँ
और बूढे लोग ठंड से
जल्द बीमार होते है
अगर मैं िचिढ जाऊं तो
मुज पे गुस्सा मत होना
बूढे लोग जल्द िचिढ जाते है,
जब तुम बूढे होगे
तब ये बात समजोगे
ओर हां जब तुम्हारे पास थोडा
समय हो तब मैं चिाहूंगा के
हम थोडी बातें करें,
मैं ज्यादातर अकेला ही होता हूँ
और मुजे सुनने वाल...
तुम्हे याद है?
जब तुम छोटे थे
तब तुम तुम्हारी एक
ही पसंदीदा
कहानी बार बार
सुनाया करते थे?
जब मैं बीमार हो
जाऊं
तब तुम मेरा
खयाल तो
रखोगे?
मुजे माफ करना अगर
मैं गलती से िबस्तर िगला करुं
मेरे अंितम समय में मेरा
खयाल रखना
वैसे भी अब ज्यादा समय नही है
मेरे आखरी पलों में
मुजे मृत्यु से
गले िमलने की
शकिकत देना
मै जब स्वर्गर्ग में भगवर्ान से िमलूंगा तो कहूंगा
तुम्हे आिशकवर्ार्गद दें
क्योंकी
तुम अपने माता िपता का खयाल रखते हो
और हां आखरी बात
हमारे बाद हमारी यादों को सम्भाल
के रखोगे ना?
-तुम्हारे मम्मी पापा
की ओर से समाज को
सप्रेम उपहार
This slide does not carry any commercial value
Image courtesy Google images
Issued in the pu...
Parents letter to child -Hindi
Upcoming SlideShare
Loading in...5
×

Parents letter to child -Hindi

188

Published on

The slide explains about the pain of the parents of old age and illustrates the kind of hardship they have faced for their kids.

Published in: Spiritual
0 Comments
0 Likes
Statistics
Notes
  • Be the first to comment

  • Be the first to like this

No Downloads
Views
Total Views
188
On Slideshare
0
From Embeds
0
Number of Embeds
1
Actions
Shares
0
Downloads
3
Comments
0
Likes
0
Embeds 0
No embeds

No notes for slide

Transcript of "Parents letter to child -Hindi"

  1. 1. प्यारे बेटे, मैं आशा करता हूँ की जब मैं बूढा हो रहा हूँ, तब तुम मेरी इस अवस्था को समजोगे और मेरे साथ धैर्यर्य से बात करोगे l
  2. 2. मेरी कमजोर हो रही नजर के कारण जब मुजसे प्लेट टूट जाये या पानी गीर जाये तो तुम मुज पर गुस्सा नही होना
  3. 3. वृध्ध लोग ज्यादा भावुक होते हैर् वे जल्द ही दु:खी हो जाते हैर्
  4. 4. बेटे मुजे माफ करना, मैं बूढा हो रहा हूँ
  5. 5. जब तुम छोटे थे तब में तुम्हे बीना थके धीरे धीरे चलना िशखाता था
  6. 6. आज जब मैं बूढा हो रहा हूँ तब तुम मुजे चलने में मदद तो करोगे ना?
  7. 7. तुम्हे याद है बचपन मे जब तुम्हे गुब्बारा लेना था? तुम एक ही बात दोहराया करते थे जब तक के तुम्हे गुब्बारा नही िमलता था
  8. 8. जब मै घीसी हुई केसेट की तरह एक ही बात दोहराउं तब तुम मुजे िबना गुस्सा हुए सुनोगे
  9. 9. मैं आशा करता हूँ के तुम मेरा मजाक नही उडाओगे और मुज पर गुस्सा नही करोगे
  10. 10.  तुम्हेयादहैबचपन में तुम्हेनहानाअच्छा नही लगताथा औरतुमउससेहमे शा भागतेरहतेथे
  11. 11. मेरी बदबू को अनदेखा करना, ओर मुजे नहाने के िलये मजबूर मत करना मैं कमजोर हो गया हूँ और बूढे लोग ठंड से जल्द बीमार होते है
  12. 12. अगर मैं िचिढ जाऊं तो मुज पे गुस्सा मत होना बूढे लोग जल्द िचिढ जाते है, जब तुम बूढे होगे तब ये बात समजोगे
  13. 13. ओर हां जब तुम्हारे पास थोडा समय हो तब मैं चिाहूंगा के हम थोडी बातें करें, मैं ज्यादातर अकेला ही होता हूँ और मुजे सुनने वाला भी कोई नही है
  14. 14. तुम्हे याद है? जब तुम छोटे थे तब तुम तुम्हारी एक ही पसंदीदा कहानी बार बार सुनाया करते थे?
  15. 15. जब मैं बीमार हो जाऊं तब तुम मेरा खयाल तो रखोगे?
  16. 16. मुजे माफ करना अगर मैं गलती से िबस्तर िगला करुं मेरे अंितम समय में मेरा खयाल रखना
  17. 17. वैसे भी अब ज्यादा समय नही है
  18. 18. मेरे आखरी पलों में मुजे मृत्यु से गले िमलने की शकिकत देना
  19. 19. मै जब स्वर्गर्ग में भगवर्ान से िमलूंगा तो कहूंगा तुम्हे आिशकवर्ार्गद दें क्योंकी तुम अपने माता िपता का खयाल रखते हो
  20. 20. और हां आखरी बात हमारे बाद हमारी यादों को सम्भाल के रखोगे ना? -तुम्हारे मम्मी पापा
  21. 21. की ओर से समाज को सप्रेम उपहार This slide does not carry any commercial value Image courtesy Google images Issued in the public interest
  1. A particular slide catching your eye?

    Clipping is a handy way to collect important slides you want to go back to later.

×