RS-CEL Course Brief

252 views
213 views

Published on

Published in: Education
0 Comments
0 Likes
Statistics
Notes
  • Be the first to comment

  • Be the first to like this

No Downloads
Views
Total views
252
On SlideShare
0
From Embeds
0
Number of Embeds
0
Actions
Shares
0
Downloads
6
Comments
0
Likes
0
Embeds 0
No embeds

No notes for slide

RS-CEL Course Brief

  1. 1. राजस्थान नॉलेज कॉर्पोरेशन लललिटेड (राज्य सरकार द्वारा प्रवर्तित कं र्पनी) की स्थार्पना 25 th April 2008 को राज्य िें ज्ञान आधाररत सिाज के र्निािण, युवाओं िें कौशल र्पररवद्िधन, प्रोध्योगीकी के सिावेश से जीवन-स्तर के उन्नयन के उद्देश्य से की गई | इंग्लिश को पढने, समझने व बोिने की क्षमता आज के दौर में बहुत ही अहम् है इंग्लिश को अंतरााष्ट्रीय भाषा का दजाा प्राप्त है व यह ववश्व के सवााधिक देशो में बोिी जाने वािी भाषाओँ में से एक है आज के समय इंग्लिश बोिना ससर्ा स्टेटस ससंबि ही नहीं अधिकतर बढ़िया जॉब्स पाने के सिए आवश्यक योलयता के रूप में भी देखा जाता है| इंग्लिश बोिना ससर्ा स्टाइि या इम्प्प्रैशन के सिए ही नहीं अपनी बात को कु शिता के साथ रखने के सिए भी बहुत उपयोगी है | आजकि इंग्लिश बोि सकने की योलयता पर पर ववशेष ध्यान ढ़दया जा रहा है व ववसशष्ट्ट दजाा ढ़दया जाता है उदाहरणत: अगर आप ककसी बढ़िया इंग्लिश माध्यम के स्कू ि में दाखखिा चाहते है वहां इंग्लिश में इंटरव्यू सिया जाना है तो ननग्श्चत तौर पर इंग्लिश बोिने वािे ववद्याथी/आशाथी को प्राथसमकता दी जाएगी| ववशेषतयः उच्च सशक्षा हेतु ववदेशी भाषाओ में सिखी गयी पुस्तकों के अध्यन के सिए है| इन्ही सब बातों को ध्यान िें रखते हुए राजस्थान नॉलेज कारर्पोरेशन लललिटेड द्वारा RS-CEL (राजस्थान स्टेट- सढ़टाकर्के ट इन इंग्लिश िैंलवेज) का संचालन ककया जा रहा है यह कोसि इंग्ललश लैंलवेज लसखने का उत्कृ ष्ट कोसि है इस कोसि के द्वारा ववद्यार्थियों को उनकी इंग्ललश बोलने की क्षिता व कु शलता को संवारने का िौका लिलता है साथ ही आत्िववश्वास िें बढ़ोतरी होती है इस प्रकार से इंग्ललश बोल सकने के कारण सािाग्जक, प्रर्तयोगी एवं अन्य व्यग्ततगत बहुत से िौके उन्हें लिल सकने की संभावना रहती है| वांछनीय पात्रता:- 1. इंग्ललश के बारे िें िुलभुत जानकारी व ज्ञान 2. RS-CIT अथवा उसके सिकक्ष कोसि के द्वारा कं प्यूटर फं डािेंटल की जानकारी होना वांछनीय व्यवसानयक मौका:- इस कोसि को करने के र्पश्चात् ववद्याथी स्वयं िें इंग्ललश लैंलवेज को उसे करने का आत्िववश्वास र्पाता है व अर्पने अनुरूर्प इसका उर्पयोग व्यवसार्यक िौके र्पर कर सकता है| कोसा अवधि:- लगभग 100 घंटे (10 सप्ताह, सप्ताह िें 5 ददन, प्रर्तददन 2 घंटे) पाठ्य सामग्री:- 1. RKCL के ज्ञान कें द्र र्पर उर्पलब्ध ई-कं टेंट एवं 2. कोसि के ललए तैयार ववशेष बुक 3. कोसि के ललए तैयार ववशेष वकि बुक
  2. 2. कोसा का माध्यम:- यह कोसि लसफि इंग्ललश िाध्यि द्वारा र्पढा जा सकता है र्ीस:- RS-CEL कोसि की फीस रु. 2500 प्रर्त लनिर है RS-CEL का पाठ्यक्रम इस कोसि िें र्नम्नललखखत modules है :- मीढ़टंग पीपि (Meeting People) मेककं ग फ्रें ड्स (Making Friends) गोइंग प्िेसेस (Going Places) माय र्ॅ समिी (My Family) बाइंग धथंलस (Buying Things) डू एंड डोंट (Do's and Don'ts) अग्स्कं ग क्वेश्चन (Asking Questions) अट द पाका (At the Park) पार्टास ऑफ़ बॉडी (Parts of the Body) किसा अराउंड यू (Colors Around You) होम इम्प्प्रूवमेंट (Home Improvement) बेटर देन द बेस्ट (Better than the Best) हॉसिडे गेटवे (Holiday Getaways) द कै िेंडर (The Calendar) अ िुक इनटू द फ्यूचर (A look into the Future) होम स्वीट होम (Home Sweet Home) टाइम गोन बाय (Time Gone By) हाउ डू यू र्ीि (How do You Feel?) इर्टस माय िाइर् (It's my Life) क्नोव योर प्िेनेट (Know Your Planet) हु इज ढ़दस (Who's This?) फ़ू ड र्ॉर थॉट (Food for Thought) व्हाट डीड यू डू (What did You Do?) िेजर टाइम (Leisure Time) ऊर्पर दशािए गए module Teacher’s सॉफ्टवेर की िदद से तलासरूि िें करवाए जाते है परीक्षा का प्रकार :- र्पारंर्पररक तरीके से िूल्याङ्कन न करते हुए इस कोसि का िुल्यंकर ववलभन्न प्रकार के सतत/लगातार ई-लर्निंग के टूल्स की िदद से होता है प्रर्तददन अध्यार्पक एक घंटे ILT (Instructer Led Training) व एक घंटे CBT (Computer Based Training) को सिवर्पित करता है
  3. 3. अध्यापक : (ILT ) • अध्यार्पक हेतु ववशेष लॉग इन तैयार ककया जाता है • ILT के कं टेंट लगातार 24 सेशंस के ललए उर्पलब्ध रहता है • इस लॉग इन के द्वारा अध्यार्पक सविप्रथि स्वयं र्नम्न सािग्री देखता है • ककस प्रकार से हर सेशन ववद्यार्थियों का लेना चादहए र्पर आधाररत ववडडयो • Tutor सेशन एवं अलग अलग रोल्स का र्नष्र्पादन करना • • आर्पसी वातािलार्प एवं सािंजस्य बबठाने का अभ्यास यह ददखने के ललए की ककस प्रकार ककस ग्स्थर्त िें बातचीत करनी चादहए-वकि बुक का एक दहस्सा है • स्वयं एवं ववद्यार्थियों की ररर्पोर्टिस ववद्याथी : (CBT) ववद्यार्थियों हेतु भी ववशेष लॉग इन तैयार ककया जाता है •.ववद्याथी हेतु सािग्री लगातार 24 सेशंस के ललए एवं र्पहले से र्नधािररत ककये गए घंटो के दौरान उर्पलब्ध रहेगी. • ववडडयो tutor a. ककसी ववषय को सिझाने हेतु ववलभन्न उदाहरानो का प्रस्तुतीकरण •अभ्यास का ववकल्र्प व सुववधा a. िूल्याङ्कन (हर िूल्याङ्कन 100% का होता है) b. सािग्री : कोसि बुक एवं वकि बुक ररकॉर्डिंग सेशन • हर ववद्याथी की इंग्ललश बोलते हुए प्रेजेंटेशन हर तीसरे सेशन के बाद बबना ककसी अध्यार्पक की िदद से ररकॉडि की जाती है| इस हेतु उन्हें ककस ववषय र्पर बोलना है व ववषय ददया जाता है| व इसे ववद्याथी की कु शलता िें ककतना ववकास हो रहा है के प्रिाण हेतु स्टोर कर के रखा जाता है | • इस हेतु हर एक ववद्याथी को ग्जतनी भी बार चाहे ररकॉडडिंग करने की सुववधा प्रदान की जाती है व उनिे से जो सब से बदढ़या होती है उसको उस ववद्याथी का र्पोटिफोललयो हेतु स्टोर कर रखा जाता है| • इस प्रकार सभी ररकॉडडिंग को सेव कर रखा जाता है ववद्यार्थियों के र्पोटिफोललयो तैयार करवाने हेतु | कोसि के अंत िें कु ल 8 अलग अलग वीडडयोस को डीवीडी र्पर write कर स्टूडेंट को उसके र्पोटिफोललयो हेतु प्रदलशित करने के ललए ददया जाता है | एलजासमनेशन व सढ़टाकर्के शन :- RKCL व ACTUNIV द्वारा संयुक्त रूप से सढ़टाकर्के ट प्रदान ककया जायेगा पिाने का तरीका:- इस कोसि को िुख्य उद्देश्य “कायि आधाररत” लशक्षा को प्रदान करना है ग्जसका अथि है की कायि से शुरू करना (न की बुक से) उस कायि से ज्ञान को जोड़ना व इस ज्ञान का उर्पयोग अर्पने कायि को र्पूणि करने िें लेना अथाित उर्पयोगी एवं रोचक बनाना| साथ ही इसका यह भी उददेश्य है की ववद्याथी को इतना सबल बनाना की वह अर्पने आर्प को उस ज्ञान के साथ सािाग्जक रूर्प से उर्पयोगी कायो िें लगा सकें | इसका उर्पयोग अर्पने भववष्य के ललए व सिाज के उत्थान के ललए करें |
  4. 4.  सभी ववद्यार्थियों को सविप्रथि कोसि का र्पररचय ददया जाता है व यह ककस प्रकार से उनके कायि व सािाग्जक जीवन से सम्बंर्धत है के बारे िें बताया जाता है ववद्यार्थियों को लसखने हेतु ववशेष टूल्स से रु-बरु करवाया जाता है व वास्तववक जीवन िें इन टूल्स का ककस प्रकार उर्पयोग होता है सिझाया जाता है. इन ववलभन्न टूल्स िें र्पारंगत होने के र्पश्चात् ववद्याथी अर्पने अर्पने कायि क्षेत्रो िें अर्पने अनुरूर्प रोल का संचालन करते है.

×